Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Showing posts with label Palwal News. Show all posts

पलवल में बाजार खोलने पर ऑड-इवन फार्मूला लागू, पहले दिन इवन नंबर की खुलेंगी दुकानें : DC


पलवल, 05 मई। उपायुक्त नरेश नरवाल ने कहा कि कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव के लिए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन-3 के दौरान जिला के बाजारों में दुकानें विषम-सम (ऑड-इवन) नंबर्स के आधार पर खोली जाएंगी। कैलेंडर में तारीख के अंतिम अंक के आधार पर ऑड-इवन का निर्धारण होगा। उन्होंने यह बात मंगलवार की सांय जिला सचिवालय स्थित सभागार में अधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए कही। पुलिस अधीक्षक दीपक गहलावत व अतिरिक्त उपायुक्त वत्सल वशिष्ठ सहित बैठक में सभी उपमंडल अधिकारी (ना.), ड्यूटी मजिस्ट्रेट्स व सुपरवाइजरी आफिसर्ज मौजूद रहें।

उपायुक्त श्री नरवाल ने लॉकडाउन-3 के पहले दो दिनों में खोले गए बाजारों में सोशल डिस्टेंस की पालना व जिलावासियों के स्वास्थ्य के लिए अन्य आवश्यक उपायों के बारे में संबंधित अधिकारियों से फीडबैक लिया। जिला के पलवल-होडल-हथीन के उपमंडल अधिकारियों ने सोमवार व मंगलवार को बाजारों के अनुभव व अलग-अलग मार्केट एसोसिएशन, व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों व सामान्य जन से आए सुझावों की जानकारी उपायुक्त को दी। उपायुक्त ने सुझाव सुनने के उपरांत अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि बुधवार को पलवल, होडल व हथीन शहरों की दुकानें ऑड-इवन फार्मूला के आधार पर खुलेंगी। इस कार्य के लिए शहर की सभी दुकानों को एक साथ नंबर देने की बजाए मार्केट वाइज दुकानों को नंबर दिए जाए ताकि जिलावासियों को अपने रोजमर्रा के कार्यों को लेकर किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े।
नरेश नरवाल ने कहा कि पलवल जिला में भले ही अब तक कोविड-19 महामारी के कम्यूनिटी संक्रमण के मामले न आए हो लेकिन अन्य जिलों में जिस तेजी से इस बीमारी का ग्राफ बढ़ा है उसे देखते हुए जिला प्रशासन को आवश्यक कदम उठाने पड़ेंगे। जिसके चलते नगर परिषद व पालिका के अधिकारी आज रात को ही सभी दुकानों पर नंबर अंकित कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि दुकानदार भी इस बात का अवश्य ध्यान रखें कि दुकान पर उस व्यक्ति को सामान न दे जिसने मास्क न लगाया हो। साथ ही दुकान पर हैंड सेनेटाइजर, साबुन रखने के साथ-साथ आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करने के बारे में लोगों को जागरूक करेंगे। उन्होंने कहा कि इस नियम के बावजूद भी अगर कहीं भीड़-भाड़ या अन्य गैरजरूरी कार्य मिले तो उस प्रतिष्ठान्न को बंद करा दिया जाएगा।
उन्होंने बैठक के दौरान यह भी निर्देश दिए कि जिला में बाहर से आने वाले लोगों पर भी निगरानी रखी जाए। साथ ही जिलावासियों से भी अपील करते हुए कहा कि यह निर्णय आपके स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए जरूरी है। अत: आप सब भी इस कार्य में जिला प्रशासन का सहयोग करें। उन्होंने कहा कि घर से बाहर निकलते समय मास्क का अवश्य प्रयोग करें ताकि हम खुद भी और दूसरों को भी सुरक्षित रख सकें। उन्होंने ई-दिशा पोर्टल पर जिला के भीतर व बाहर जाने वाले लोगों के पंजीकरण की स्थिति के बारे में भी जानकारी ली। जिला में बाहर से आने वाले लोगों की अनिवार्य मेडिकल जांच भी की जाएगी। सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट अगले दो दिनों तक इस कार्य की मॉनीटरिंग करेंगे।

इस अवसर पर एसडीएम होडल अमरदीप सिंह, सीटीएम जितेंद्र कुमार, एसडीएम पलवल कंवर सिंह, एसडीएम हथीन वकील अहमद, शुगर मिल के एमडी डा. नरेश कुमार, कंट्रोल रूम की प्रभारी अंकिता अधिकारी, जिला राजस्व अधिकारी नरेश कुमार जोवल, डीईटीसी स्नेहलता यादव, सैनिक एवं अद्र्घसैनिक कल्याण विभाग के सचिव केके यादव, जिला सूचना प्रौद्योगिकी अधिकारी डीपी कुलश्रेष्ठ सहित सभी ड्यूटी मजिस्ट्रेट व सुपरवाइजरी अधिकारी मौजूद रहें।  

पलवल हुआ ओरेंज जोन में शामिल, लॉकडाउन से राहत नहीं व एहतियाती उपायों में बढ़ोतरी


पलवल, 01 मई। पलवलवासियों के लिए अच्छी खबर है, कोविड-19 संक्रमण को रोकने में मिली सफलता के चलते अब हमारा जिला रेड से बाहर होकर ओरेंज जोन में आ गया है। भारत सरकार की ओर से हाल में जारी सूची में पलवल को ओरेंज जोन में दर्शाया गया है। हालांकि बीती 19 अप्रैल से जिला में भी एक भी संक्रमण का नया केस नहीं आया लेकिन आस-पास के जिलों में बढ़ते मामलों को लेकर अभी ओर सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। जिसके चलते जिला में किसी प्रकार की ढील नहीं दी जा रही।
हरियाणा की विभिन्न सब्जी मंडियों में कोविड-19 संक्रमण के केस आने के उपरांत जिला प्रशासन पलवल ने भी मंडियों में एहतियात के तौर पर सुरक्षा उपायों में बढ़ोतरी कर दी है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जहां एक ओर सब्जी विक्रेताओं की जांच की जा रही है वहीं नगर परिषद पलवल ने भी शुक्रवार को पलवल शहर की सब्जी मंडी को सेनेटाइज किया गया। पलवल जिला में कोरोना वारियर्स को सम्मान देने के लिए रोटरी क्लब पलवल संस्कार की ओर से आगरा चौक पर पेंटिंग बनाकर जनजागरुकता का अनूठा प्रयास भी किया गया है।

नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी हरदीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि नगर परिषद के कर्मचारियों द्वारा पलवल शहर को दो बार पूर्णतया सेनेटाइज किया जा चुका है। वहीं पार्क, सार्वजनिक शौचालय, बैंक, सरकारी कार्यालयों व अन्य सार्वजनिक स्थलों को दो से तीन दिन के अंतराल पर सेनेटाइज किया जा रहा है। इस कार्य में फायर ब्रिगेड के वाहनों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नगर परिषद के स्वच्छता कॢमयों ने भी कोरोना से लडऩे में लॉकडाउन के दौरान बहुमूल्य योगदान दिया है।
पलवल के अतिरिक्त होडल व हथीन के शहरी क्षेत्रों को भी दो बार सेनेटाइज का कार्य किया जा चुका है। इसके साथ शैल्टर होम, एवं क्वारंटीन किए गए क्षेत्रों में सेनीटाईजेशन का कार्य तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सेनेटाइजेशन टीमों द्वारा नगर परिषद क्षेत्र होडल के सभी 21 वार्ड और नगर परिषद क्षेत्र पलवल के सभी 31 वार्ड को सैनेटाइज किया गया है। इसी प्रकार पलवल में 02 तथा होडल व हथीन में एक-एक अग्रीशमन वाहन एवं पलवल में 6 और होडल में दो अथवा हथीन में एक ट्रेक्टर सैनेटाइजेशन के कार्य में लगाए गए है। हथीन नगर पालिका के सचिव देवेंद्र ने बताया कि हथीन क्षेत्र हथीन के सभी 13 वार्ड में भी सैनेटाइजेशन का कार्य किया गया है।
हरदीप सिंह ने बताया कि खुले स्पेस में ब्लीचिंग पाउडर व भवनों के भीतर सोडियम हाइपोक्लोराइड का छिडक़ाव किया जा रहा है। सेनेटाइजेशन वर्क में प्रतिदिन 20 से 22 कर्मचारी लगातार काम कर रहे हैं। वहीं जेई दिगंबर सिंह ने बताया कि पलवल नगर परिषद क्षेत्र में सेनेटाइज कार्य की नियमित रिपोर्टिंग की जा रही है। साथ ही करीब 350 स्वच्छता कॢमयों ने भी सफाई व्यवस्था को संभाला हुआ है। 

पलवल में कोरोना के 34 मरीजों में से 17 पूरी तरह स्वस्थ होकर घर पहुंचे 


पलवल, 19 अप्रैल। कोविड-19 वैश्विक महामारी के बीच पलवल जिला से अच्छी खबरों का सिलसिला लगातार जारी है। जिला में कोरोना संक्रमण से पीडि़त 34 मरीजों में से 17 पूरी तरह स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हो चुके हैं। वहीं दो दिन पहले कोरोना की चपेट में आए एक दूध विक्रेता की पहली रिपोर्ट भी नेगेटिव मिली है वहीं उसके परिवार के सदस्यों के सैंपल में किसी प्रकार का संक्रमण नहीं मिला। हालांकि दूध विक्रेता व उसके परिवार को अभी क्वारंटीन पर ही रखा गया है।

सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला में अब तक 1134 लोगों को सॢवलांस पर लिया गया जिनमें 113 अपने 14 दिन का पीरियड पूरा भी कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमण से पीडि़त लोगों के संपर्क में आए 556 लोगों को आइसोलेशन पर रखा गया। जिला से अब तक जांच के लिए 680 सैंपल भेजे गए जिनमें 576 की रिपोर्ट नेगेटिव मिली है। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन कोरोना वायरस से जिलावासियों के बचाव के लिए पूरी तरह गंभीर है। जिसके चलते कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के कांटेक्ट ट्रेसिंग का कार्य त्वरित ढंग से चला।

उन्होंने बताया कि जिला से अब तक भेजे जा चुके सैंपल्स में 64 की रिपोर्ट पेंडिंग है। कोरोना संक्रमण से पीडि़तों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि जिला में स्वास्थ्य जांच के लिए 17 मोबाइल यूनिट लगातार काम कर रही है। जिनमें सात यूनिट हथीन क्षेत्र के लिए तथा 10 जिला के बाकी हिस्सों में काम कर रही है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जल्द ही क्रोनिक डिसीज के लिए ओपीडी भी शुरू होने वाली है। वहीं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन से जुड़े डाक्टर्स भी अपने-अपने क्लिनीक में अपनी क्षमता के अनुसार जांच करेंगे। उन्होंने पुलिस, जिला प्रशासन व हेल्थ के साथ-साथ सामाजिक संस्थाओं व जिलावासियों को कोविड से निपटने में सहयोग की अपील की। बैंक या अस्पताल में सोशल डिस्टेंस का पूरा पालन करें। जिससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम अपने देश को विजयी बना सके।  

हथीन नपा क्षेत्र में वार्ड 11 कंटेनमेंट, बाकी वार्ड व पांच गांव बफर जोन घोषित


पलवल, 15 अप्रैल। जिलाधीश एवं उपायुक्त नरेश नरवाल ने हथीन नगर पालिका क्षेत्र में कोरोना संक्रमण का एक नया केस सामने आने पर वार्ड संख्या 11 को कंटेनमेंट जोन व अन्य 12 वार्डों सहित साथ लगते पांच गांव नामत: पचानका, अंधरौला, धीरनकी, दीनपुरा व बुराका को बफर जोन घोषित कर दिया है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने तथा जिलावासियों के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए जिलाधीश ने इस क्षेत्र में जिला कंटेनमेंट प्लान के तहत स्वास्थ्य विभाग के कोविड-19 प्रोटोकोल को लागू करने के आदेश जारी किए है।

उपायुक्त ने कंटेनमेंट व बफर जोन के लिए आशा व आंगनवाड़ी वर्कर्स की पांच टीमों को डोर टू डोर स्क्रीनिंग व थर्मल स्कैनिंग के लिए नियुक्त करने के आदेश जारी किए है। इन टीमों के सुपरविजन के लिए एक आंगनवाड़ी सुपरवाइजर व दो सीडीपीओ भी नियुक्त की गई है। सभी टीम सिविल सर्जन के दिशा-निर्देश पर कार्य करेंगी। वहीं नगर पालिका की ओर से शहरी क्षेत्र को व विकास एवं पंचायत विभाग की ओर से ग्रामीण क्षेत्र को पूरी तरह सेनेटाइज कराया जाएगा। इस क्षेत्र में लोगों की आवाजाही को प्रतिबंधित कर दिया गया है। साथ ही सभी विभागों को कंटेनमेंट प्लान में निर्धारित कार्य करने होंगे। वहीं एसडीएम हथीन वकील अहमद इस क्षेत्र के ओवर आल मजिस्ट्रेट होंगे।

राशन का भंडार होते हुए भी अधिकारियों को फोन कर मंगाया राशन, अब होगी कार्यवाही 


पलवल, 05 अप्रैल। खंड शिक्षा अधिकारी सुखबीर तंवर ने धौलागढ के वार्ड नंबर-10 की फूल विहार कॉलोनी निवासी अमर सिंह को कोरोना रिलिफ के द्वारा घर पर खाने की सामग्री उपलब्ध करवाने की झूठी सूचना देने के संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी किया है।
उल्लेखनीय है कि लॉक डाउन के दौरान सरकार की हिदायतानुसार जिन घरों में राशन नहीं है उन्हें राशन उपलब्ध करवाने की मुहिम चलाई हुई है। इस मुहिम के तहत धौलागढ के वार्ड नंबर-10 की फूल विहार कॉलोनी निवासी अमर सिंह ने कंट्रोल रूम में फोन करके बताया कि उसके घर में राशन उपलब्ध नहीं है। इस निर्धारित क्षेत्र के लिए नियुक्त किए गए खंड शिक्षा अधिकारी ने तुरंत संज्ञान लेते हुए इस क्षेत्र में लगाए गए एनजीओ कार्यकर्ता देवेंद्र कुमार को अमर सिंह के घर राशन पहुंचाने के लिए भेजा। अमर सिंह के घर पहुंचने पर एनजीओ कार्यकर्ता देवेंद्र कुमार ने पाया कि अमर सिंह के घर में पहले से ही काफी मात्रा में आटा व दूसरी अन्य खाद्य सामग्री उपलब्ध थी, जिसकी एनजीओ कार्यकर्ता देवेंद्र कुमार ने फोटोग्राफी की। ऐसी गंभीर हालात में अमर सिंह ने ऐसा करके आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 52 के तहत झूठा दावा करने पर अमर सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

पार्षद व सरपंच को देना होगा सत्यापन
कोरोना रिलिफ के द्वारा घर पर खाने की सामग्री उपलब्ध करवाने के लिए पार्षद व सरपंच अपने-अपने सबंधित क्षेत्रों के लोगों की खाद्य सामग्री संबंधी मांग के कागजात स्वयं सत्यापन करके देंवे। संबंधित पार्षद व सरपंच केवल पात्र व जरूरतमंद व्यक्तियों के ही आवेदन प्राप्त करें। झूठा दावा करने पर संबंधित के विरूद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 52 के तहत कानूनी कार्रवाही की जाएगी।

लॉकडाउन में  झूठे दावे करने पर सजा का प्रावधान
नगराधीश जितेंद्र कुमार ने बताया कि केंद्र सरकार, राज्य सरकार, राष्ट्रीय प्राधिकरण व राज्य के किसी भी अधिकारी या जिला प्राधिकारी से लॉक डाउन के दौरान राहत, सहायता, मरम्मत, पुनर्निर्माण या अन्य लाभ प्राप्त करने के लिए जो कोई जानबूझकर ऐसे झूठे दावे करता है जोकि पात्र नहीं है या दावा करने का कारण बनता है। ऐसे व्यक्तियों के दोषी पाए जाने पर उन्हें जुर्माना व इसके साथ-साथ दो साल तक का कारावास की सजा भी हो सकती है।

पलवल में एक ही केस कोरोना पॉजिटिव, 83 व्यक्तियों को सर्विलांस पर रखा गया


पलवल, 24 मार्च। पलवल जिला में कोरोना (कोविड-19) के अंदेशे को लेकर तीन व्यक्तियों के ब्लड सेंपल की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। साथ ही नखरौला व पेलक गांव में होम क्वांरटिन में रखे गए 10 व्यक्तियों ने 14 दिन की सर्विलांस अवधि पूरी कर ली है। अभी तक इन व्यक्तियों में किसी प्रकार के कोरोना संक्रमण के लक्ष्य नजर नहीं आया है।  

सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला में अब तक कोरोना को लेकर एहतियात के लिए 83 व्यक्तियों को सर्विलांस पर रखा गया है। जिनमें 82 को होम आइसोलेशन व एक व्यक्ति की रिपोर्ट पोजीटिव मिलने शहीद हसन खां मेवाती गवर्र्नमेंट मेडिकल कालेज नल्हड़ भेजा जा चुका है।  । स्वास्थ्य विभाग की ओर से चार ब्लड सैंपल जांच के लिए भिजवाया गया है। जिनमें तीन की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। वहीं 10 व्यक्तियों ने 14 दिन का सर्विलांस पीरियड पूरा कर लिया है जबकि 72 व्यक्ति भी अभी भी सर्विलांस पर है।
सिविल सर्जन ने जिलावासियों से अपील करते हुए साठ वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति घर से बाहर न निकले। साथ ही सभी समय-समय पर अपने हाथ साबुन, लिक्विड हैंडवाश या सेनेटाइजर से अवश्य साफ करते रहें।

पलवल पहुंचा कोरोना वायरस


पलवल, 23 मार्च। पलवल जिला में कोरोना (कोविड-19) के संक्रमण का एक केस सामने आया है। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा इस मामले की पुष्टि कर दी गई है। सिविल सर्जन डा. ब्रह्मदीप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पलवल जिला में विदेश से आए एक व्यक्ति के अंदर कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण मिले। स्वास्थ्य विभाग की ओर से संबंधित व्यक्ति का सैंपल लेकर जांच के लिए भिजवाया गया जिसकी रिपोर्ट पोजीटिव मिली। रिपोर्ट मिलने के उपरांत संक्रमित व्यक्ति को शहीद हसन खां मेवाती, गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, नल्हड़ (नूंह) रेफर कर दिया। हालांकि संक्रमित व्यक्ति की हालत अभी स्थिर है।  

उन्होंने बताया कि जिला में अब तक कोरोना को लेकर एहतियात के लिए 62 व्यक्तियों को सर्विलांस पर रखा गया है। जिनमें 58 को होम आइसोलेशन व एक व्यक्ति को अस्पताल में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से चार ब्लड सैंपल जांच के लिए भिजवाया गया है। जिनमें तीन की रिपोर्ट अभी नहीं आई है। वहीं 07 व्यक्तियों ने 28 दिन का सर्विलांस पीरियड पूरा कर लिया है और उन पर किसी प्रकार का संक्रमण नहीं मिला। जबकि 51 व्यक्ति भी अभी भी सर्विलांस पर है।
सिविल सर्जन ने जिलावासियों से अपील करते हुए साठ वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति घर से बाहर न निकले। साथ ही सभी समय-समय पर अपने हाथ साबुन, लिक्विड हैंडवाश या सेनेटाइजर से अवश्य साफ करते रहें।

जनता कर्फ्यू व कोरोना से बचाव के प्रति जागरूकता के लिए चला विशेष अभियान


पलवल, 21 मार्च। सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग, हरियाणा, विकास एवं पंचायत विभाग तथा नगर परिषद पलवल, होडल व नगर पालिका हथीन द्वारा शनिवार को पलवल जिला में माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा रविवार को आहूत जनता कफर््यू तथा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग के दिशा-निर्देशों के प्रति जिलावासियों को जागरूक करने के लिए विशेष अभियान चलाया गया। विभाग की भजन मंडलियों ने गांव-गांव व शहरों के सार्वजनिक स्थलों पर जाकर लोगों को कोरोना से बचाव के लिए क्या करें व क्या न करें की उपयोगी जानकारी दी।
जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी बिजेंद्र कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के वीडियो संदेश के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया। विभाग के निदेशक पी.सी. मीणा व उपायुक्त नरेश नरवाल से मिले जागरूकता संबंधी निर्देशों की पालना करते हुए विभाग की भजन मंडलियों ने पलवल जिला के विभिन्न गांवों में जाकर जनता कफ्र्यू के प्रति लोगों को जागरूक किया साथ ही लोगों से यह अपील भी की अपने आस-पास के लोगों को भी रविवार को घर में बने रहने के लिए प्रेरित करें। इस वायरस की रोकथाम के लिए सोशल डिस्टेंस बनाए रखना व स्वयं के साथ-साथ अपने आस-पास को भी स्वच्छ बनाए रखना बेहद आवश्यक है।

सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग, हरियाणा के जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी कार्यालय, पलवल से भजन पार्टी लीडर धर्मबीर सिंह, मेंबर भजन पार्टी फतेहराम व मांगेराम  ने स्थानीय ताऊ देवी लाल पार्क, न्यू कॉलोनी, कैंप कॉलोनी, पंचवटी कॉलोनी, गांव रहराना, चिरावटा व कुशलीपुर में जाकर लोगों को कोरोना फैलने से रोकथाम के उपाय तथा जनता कफर््यू के महत्व की जानकारी दी। वहीं हथीन में भजन पार्टी लीडर राजाराम रावत, मेंबर भजन पार्टी लल्लू राम आदि  बीडीपीओ कार्यालय, बस स्टेंड के बाहर, अनाज मंडी, गांव नांगल जाट आदि स्थानों पर जाकर लोगों को कोरोना से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी एडवाइजरी के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हम सब मिलकर एक दिन के जनता कफर््यू के माध्यम से अपना सुरक्षा चक्र मजबूत करने में सक्षम होंगे। वहीं पलवल, होडल व हथीन के विभिन्न स्थानों पर मुख्यमंत्री के वीडियो संदेश का भी प्रसारण किया गया। बड़ी संख्या में जिलावासियों ने सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के इस प्रयास की सराहना की।

गांव में मुनादी व शहरी क्षेत्रों में लाउड स्पीकर से किया जागरूक
जनता कफर््यू व कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए विकास एवं पंचायत विभाग ने गांव-गांव मुनादी कराकर लोगों को रविवार को घर में रहने के लिए जागरूक किया वहीं शहरी क्षेत्रों में स्थानीय निकाय संस्थाओं ने लाउडस्पीकर के माध्यम से लोगों को कोरोना से बचाव के लिए आवश्यक उपायों के प्रति प्रेरित किया। जिला की विभिन्न धाॢमक व सामाजिक संस्थाओं की ओर से शनिवार को जनता कफर््यू को सफल बनाने की अपील की गई। वहीं जिला प्रशासन ने शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में जागरुकता संदेश वाले बोर्ड भी लगाकर लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक बने रहने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। इसी प्रकार आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, आशा वर्कर, पंचायत सचिवों के माध्यम से भी लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

जस्टिस राज मोहन सिंह ने किया पलवल, हथीन व होडल की अदालती कार्यवाहियों का निरीक्षण


पलवल: पंजाब एंव हरियाणा हाई कोर्ट में न्यायधीश एवं पलवल डिवीजन के प्रशासनिक न्यायाधीश न्यायमूर्ति राज मोहन सिंह ने शुक्रवार को जिला एवं सत्र न्यायालय पलवल, होडल व हथीन की अदालतों की कार्यवाहियों का निरीक्षण किया। न्यायमूर्ति राजमोहन सिंह ने हथीन व होडल और उसके बाद पलवल की अदालतों की कार्यवाहियों के बारे में निरीक्षण किया। साथ ही न्यायिक परिसर पलवल व अधिवक्ता चेम्बर परिसर में पौधरोपण रोपण भी किया। इस अवसर पर वे जिला बार एसोसिएशन पलवल, होडल एंव हथीन में प्रेक्टिस करने वाले सदस्यों से भी रुबरू हुए। बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों व सदस्यों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत भी किया। इस मौके पर उन्होंने वरिष्ठ अधिवक्ताओं से भेंट की।

उन्होंने कहा कि पलवल बृज क्षेत्र में आता है। यहां के लोग मधुरभाषी और गहरी सोच वाले हैं। उन्होंने पलवल बार में बिताए पलों को यादगार बताया। उन्होंने अपने वक्तव्य में न्यायपालिका द्वारा न्यायिक प्रक्रिया में अधिवक्ताओं के अमूल्य व सराहनीय योगदान तथा विशेष रूप से वरिष्ठ अधिवक्ताओं द्वारा अपने बेहतर प्रयासों से सीख लेने की बात भी कही। उन्होंने नव अधिवक्ताओं से कहा कि वे सभी बधाई के पात्र हैं, जिन्हें वरिष्ठ अधिवक्ताओं का कुशल मार्गदर्शन प्राप्त होता है। उन्होंने नव अधिवक्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वे वरिष्ठ अधिवक्ताओं के ज्यादा संपर्क में रहें, क्योंकि एक किताब से ज्यादा वरिष्ठ अधिवक्ताओं से सीखने को मिलता है। उन्होंने कहा कि बार और बेंच दोनों एक दूसरे के पूरक हैं और न्यायिक व्यवस्था में दोनों का सराहनीय योगदान है।
उन्होंने कहा कि एडीआर सेंटर (वैकल्पिक विवाद समाधान केंद्र) के माध्यम से विभिन्न प्रकार के मसलों को राजीनामा के माध्यम से निपटाने में सहयोग करना चाहिए, ताकि न्यायालयों में विचाराधीन लंबित मामलों में कमी लाई जा सके, ताकि न्याय की सुलभता से जनमानस में विश्वास बढाया जा सके। उन्होंने अधिवक्ताओं की शिकायतों और समस्याओं को भी सुना और कहा कि अधिवक्ताओं की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर समाधान किया जाएगा। जिला बार एसोसिएशन ने अपनी समस्याओं संबंधी उन्हें ज्ञापन भी सौंपा। उन्होंने जिला बार एसोसिएशन पलवल के तत्वावधान में वकीलों के लिए निर्मित तीसरी मंजिल चेंबर का उद्घाटन भी किया। निरीक्षण के दौरान उनके साथ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रशेखर, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एंव सचिव पीयूष शर्मा सहित अन्य न्यायाधीशगण व जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह रावत विशेष रूप से मौजूद रहे।

अपने घर पहुँच जाओ, बहुत परेशान हैं आपके परिजन, पलवल के इस युवक को खोजने में मदद करें 


फरीदाबाद: पलवल जिले के रसूलपुर में रहने वाला युवक 5 मार्च से लापता है। युवक किसी बात को लेकर टेंशन में था और पलवल से आगरा गया और एक होटल में कमरा लेकर रुका जहाँ से उसने अपने भाई को फोन किया कि मैं अपनी जीवन लीला समाप्त करने जा रहा हूँ। भाई आगरा पहुँच गया तब  युवक होटल छोड़ चुका था।

भाई ने  गुमशुदगी का मामला भी दर्ज करवाया। आगरा में युवक की तलाश में पुलिस ने पूरा प्रयास किया और यहाँ तक कि गोताखोरों की टीम ने यमुना में भी तलाश की लेकिन अब तक युवक का कोई सुराग नहीं मिला है। परिजन बहुत परेशान हैं। कोई सुराग मिले तो इस नंबर पर संपर्क करें। 9915841586, 9213948065, 7011443558

पलवल के SP दीपक गहलावत ने ग्रहण किया पदभार, नरेंद्र की विदाई 


पलवल, 18 फरवरी। उपायुक्त नरेश नरवाल ने कहा कि कानून-व्यवस्था से हर नागरिक प्रभावित होता है और पुलिस बल के पास इस महत्वपूर्ण कार्य का दायित्व होता है। निवर्तमान पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारणिया का पलवल जिला में कार्यकाल बेहद सराहनीय रहा है। अपराध नियंत्रण के साथ-साथ पलवल जिलावासियों के मध्य प्रशासन के प्रति एक सकारात्मक माहौल बनाने में प्रशंसनीय योगदान रहा। उन्होंने यह बात मंगलवार को जिला सचिवालय स्थित सभागार में निवर्तमान पुलिस अधीक्षक नरेंद्र बिजारणिया की विदाई पार्टी को संबोधित करते हुए कही।
 नरेंद्र बिजारणिया का पलवल जिला से नूंह में पुलिस अधीक्षक पद पर स्थानांतरण हो गया। उनके स्थान पर दीपक गहलावत ने पुलिस अधीक्षक के पद पर पलवल जिला का पदभार ग्रहण कर लिया। जिला प्रशासन की ओर से मंगलवार को नए पुलिस अधीक्षक का स्वागत व निवर्तमान अधीक्षक को विदाई दी गई।
उपायुक्त ने दोनों पुलिस अधिकारियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सरकारी सेवा में स्थानांतरण सामान्य बात है लेकिन सदैव उन्हीं अधिकारियों को याद रखा जाता है जिनका कार्य सराहनीय रहता है। उन्होंने नए पुलिस अधीक्षक का स्वागत करते हुए कहा कि पलवल जिला में निवर्तमान अधीक्षक ने एक स्वस्थ विरासत छोड़ी है। इस विरासत को आगे बढ़ाना आपकी जिम्मेवारी है। इस कार्य में प्रशासन की ओर से पूर्ण सहयोग दिया जाएगा।
पलवल जिला में प्रशासन की ओर से हुए गर्मजोशी भरे स्वागत से नए पुलिस अधीक्षक ने उपायुक्त का आभार जताया। वहीं निर्वतमान पुलिस अधीक्षक ने पलवल जिला में अपने अनुभव अधिकारियों के साथ सांझा किए और सहयोग के लिए प्रशासनिक अधिकारियों का आभार भी जताया है। उपायुक्त ने स्मृति चिन्ह व शॉल भी नरेंद्र बिजारणिया को भेंट की। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त वत्सल वशिष्ठ, सीटीएम जितेंद्र कुमार, हथीन के एसडीएम वकील अहमद, पलवल के एसडीएम डा. नरेश कुमार, डीएसपी सुनील कादियान सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी उपस्थित रहें।

नियमों का उल्लंघन करने वाले प्रदूषण केंद्रों पर होगी कार्रवाई- DC, पलवल


पलवल, 27 दिसंबर।: उपायुक्त यशपाल ने जिला में सभी प्रदूषण जांच केंद्रों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए है। सभी एसडीएम, डीएसपी, तहसीलदार, एसएचओ हर महीने केंद्रों का निरीक्षण करते हुए अपनी रिपोर्ट देंगे। अगर कहीं पर नियमों का उल्लंघन पाया गया तो संबंधित संचालक के खिलाफ प्रदूषण नियंत्रण अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह निर्देश शुक्रवार को जिला सचिवालय स्थित सभागार में सडक़ सुरक्षा कमेटी की मासिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिए।
श्री यशपाल ने जिला की सीमा से गुजरने वाले कुण्डली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस वे तथा कुण्डली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस वे पर अवैध रूप से बनाए गए कट, दुकानों व ढाबों को हटाने के निर्देश दिए। एक्सप्रेस वे की रेलिंग पर खुली अवैध दुकानों व कट हादसे का कारण बन सकते हैं। जिसके चलते उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों से रिपोर्ट तलब करते हुए अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में कहा कि जिला में जिस भी विभाग की सडक़ पर एक्सीडेंट के स्पाट्स है उन स्पाट्स को समाप्त किया जाए ताकि हादसों की रोकथाम की जा सके।
उपायुक्त ने पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि यातायात नियमों को लेकर निर्धारित जीरो टोलरेंस डे पर सख्ती से नियमों का उल्लंघन करने वालों के चालान किए जाए। साथ ही शिक्षा विभाग, यातायात व क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण समय-समय पर चालकों के लिए विशेष सेमीनार व कार्यशाला आयोजित करें और स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से चालकों के स्वास्थ्य की जांच की जाए। उन्होंने कहा कि सडक़ों पर लगने संकेत चिन्हों की नियमित रूप से जांच की जाए और उनकी समय-समय पर मरम्मत व पेंट आदि कार्य किया जाए।
उन्होंने सुरक्षित स्कूल वाहन पॉलिसी पर चर्चा करते हुए कहा कि सभी क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण व एसडीएम नियमित रूप से स्कूल बसों की जांच करें और नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करें। क्षेत्रीय परिवहन प्राधिकरण के सचिव एवं अतिरिक्त उपायुक्त आरके सिंह ने बैठक के दौरान सडक़ सुरक्षा से संबंधित विभिन्न विषयों की उपायुक्त को जानकारी दी और विभिन्न विभागों के कार्यों को लेकर संबंधित अधिकारियों को निर्देश भी दिए।
इस अवसर पर पलवल के एसडीएम जितेंद्र कुमार, हथीन के एसडीएम वकील अहमद, डीएसपी सुरेश कुमार, जिला राजस्व अधिकारी नरेश कुमार जोवल, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी डा. विजयपाल सहित सडक़ सुरक्षा कमेटी के सदस्य अधिकारी उपस्थित रहे।

पलवल के सहकारी चीनी मिल्ज लिमिटेड में गन्ने की पिराई शुरू


पलवल, 12 दिसंबर। हरियाणा के सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने कहा कि शुगर मिल पलवल की क्षमता दो चरणों में बढ़ाई जाएगी। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा वर्ष 2018 में की गई घोषणा के अनुरूप पहले चरण में इसकी क्षमता 1600 से 1900 टीसीडी हो चुकी है और अगले चरण में इसे 1900 टीसीडी से बढ़ाकर 2200 टीसीडी किया जाएगा। उन्होंने यह बात गुरूवार को दी पलवल सहकारी चीनी मिल्ज लिमिटेड के वर्ष 2019-20 के लिए पिराई सत्र का शुभारंभ करने के उपरांत क्षेत्र से आए किसानों को संबोधित करते हुए कही।
डा. बनवारी लाल ने कहा कि शुगर मिल के संचालन में किसान, कर्मचारी व अधिकारी एक कड़ी के तौर पर होते हैं। जिनमें सबसे प्रमुख कड़ी किसानों की होती है। ऐसे में मिल प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए जा चुके हैं कि किसानों को किसी प्रकार की कठिनाई नहीं आनी चाहिए। साथ ही उन्होंने यह बात भी कही कि तीनों कड़ी आपस में एक सामंजस्य से काम करें तो यह पिराई सत्र अच्छा चलेगा। उन्होंने बताया कि पलवल शुगर मिल में रिकवरी पिछली बार 10.61 प्रतिशत रही है जोकि प्रशंसनीय है।

उन्होंने किसानों से आग्रह करते हुए कहा कि मिल में अपना गन्ना अच्छी तरह साफ कर लाए। इस दौरान कर्मचारी संगठन की ओर से रखी गई मांग पर भी सहकारिता मंत्री ने सहानुभूति पूर्वक विचार करने का भरोसा दिया। कार्यक्रम के उपरांत मीडियाकॢमयों से बातचीत में उन्होंने बताया कि राज्य सरकार सभी शुगर मिल में एथनाल प्लांट लगाने व मिल से निकलने वाले अपशिष्ट से ऊर्जा तैयार करने के कार्यक्रमों पर भी विचार कर रही है।  
पलवल से विधायक दीपक मंगला ने वर्ष 2019-20 के पिराई सत्र शुभारंभ कार्यक्रम में पहुंचने पर सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पलवल की शुगर मिल से उनका पुराना लगाव रहा है। यहां आकर एक अपनापन महसूस होता है। उन्होंने अपने संबोधन के दौरान कार्यक्रम एवं मुख्य अतिथि एवं सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल के संज्ञान में क्षेत्र के किसानों की विभिन्न मांगों व सडक़ों की हालत में सुधार की बात रखी। हथीन से विधायक प्रवीण डागर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की पहल पर पलवल की शुगर मिल इस बार बढ़ी हुई क्षमता से काम करेगी। जिसका क्षेत्र के किसानों को भी लाभ मिलेगा। उन्होंने कार्यक्रम में पहुंचे क्षेत्र के किसानों से भी अपील करते हुए कहा कि मिल में लेकर आने वाले गन्ने को अच्छी प्रकार से साफ करके लाए ताकि मिल अपनी क्षमता पर काम करती रहे। जिससे किसानों को भी भुगतान मिलने पर किसी प्रकार की परेशानी न हो।
दी पलवल सहकारी चीनी मिल्ज लिमिटेड के अध्यक्ष एवं उपायुक्त यशपाल ने कार्यक्रम में पहुंचे मुख्य अतिथि व अन्य अतिथिगण का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वे दी सहकारी चीनी मिल पलवल में बतौर प्रबंध निदेशक रह चुके हैं और उनकी इस परिसर से अच्छी यादें जुडी हुई हैं। उन्होंने कहा कि हम पुन: एक नए सत्र की शुरुआत कर रहें हैं ऐसे में मिल प्रबंधन व राज्य सरकार का प्रयास रहेगा कि किसानों को किसी प्रकार की कमी न हो। वहीं कार्यक्रम के उपरांत एमडी शुगर मिल जितेंद्र सिंह ने कार्यक्रम में पहुंचे अतिथिगणों व किसानों का आभार जताया साथ ही मुख्य अतिथि व विशिष्ठï अतिथियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।
सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल ने पिराई सत्र शुभारंभ अवसर यज्ञ में आहूति डाली, मिल में गन्ना लेकर पहुंचे किसानों की बैलगाड़ी-ट्रैक्ट्रर ट्राली का पूजन करते हुए मंगल चिंह बनाते हुए अभिषेक किया और मिल में पिराई के लिए लगी बेल्ट पर गन्ने भी चढ़ाए।
इस अवसर पर भाजपा के जिला अध्यक्ष जवाहर सिंह सोरोत, पशुधन विकास बोर्ड हरियाणा के उपाध्यक्ष मेहरचंद गहलोत, पूर्व विधायक सुभाष चौधरी, राजेंद्र बीसला, रामरत्न, विधायक नयनपाल रावत के भाई यशपाल रावत, शुगर मिल के उपाध्यक्ष देवी चरण मंगला, मुकेश सिंगला, गयालाल, शुगर मिल पलवल के निदेशक मण्डल के सदस्य उदय चंद, गीता देवी, प्रभु दयाल, बाबू राम, भावना, भीम सिंह, भूपेंद्र सिंह, रमेश चंद्र, सचेंद्र सिंह, समुंद्र सिंह, सोरन सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे। जिला प्रशासन की ओर से होडल के एसडीएम वत्सल वशिष्ठ, पलवल के एसडीएम जितेंद्र कुमार के अतिरिक्त देवेंद्र सिंह बैनीवाल एआरसीएस सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

हरियाणा शिक्षक पात्रता की परीक्षा के दृष्टिगत अपराधी प्रक्रिया 1973 के तहत धारा 144 लागू


पलवल, 13 नवंबर। जिलाधीश यशपाल ने जिला पलवल में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी द्वारा 16 व 17 नवंबर 2019 को विभिन्न सत्रों (लेवल-1, लेवल-2 तथा लेवल-3) में आयोजित की जाने वाली हरियाणा शिक्षक पात्रता की परीक्षा के लिए जिला क्षेत्र में स्थापित परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षाओं को पारदर्शी तरीके से सम्पन्न कराने के दृष्टिïगत तथा इस दौरान कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से परीक्षा केन्द्रों (डीएवी पब्लिक स्कूल, पलवल, ओम इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल रसूलपुर रोड़, पलवल, सरस्वती महिला महाविद्यालय, बाईपास रोड़, पलवल, गोस्वामी गणेशदत्त सनातन धर्म कॉलेज पलवल, दिल्ली पब्लिक स्कूल, पलवल (ब्लॉक-1), दिल्ली पब्लिक स्कूल, पलवल (ब्लॉक-2), एडवांस्ड एजूकेशनल इंस्टीट्यूशंस औरंगाबाद (ब्लॉक-1), एडवांस्ड एजूकेशनल इंस्टीट्यूशंस औरंगाबाद (ब्लॉक-2), एडवांस्ड एजूकेशनल इंस्टीट्यूशंस औरंगाबाद (ब्लॉक-3), सैंट एन्थोनिज कॉन्वेंट स्कूल, नूंह रोड़, कारना, एस.एन.डी. पब्लिक स्कूल, पलवल) के आस-पास 200 मीटर के दायरे में अपराधी प्रक्रिया 1973 के तहत धारा 144 लागू कर दी है। 

जिलाधीश ने परीक्षा केद्रों के आस-पास 200 मीटर के दायरे में अनावश्यक व्यक्तियों का आवागमन तथा फोटो स्टेट मशीनों का प्रयोग भी निषेध कर दिया है।
जिलाधीश द्वारा जारी आदेशानुसार यह आदेश डयूटी पर तैनात पुलिस व अन्य कर्मियों पर लागू नही होंगे। परन्तु यदि उक्त में से कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार की हिंसा व अशांति फैलाने के उद्देश्य से अपने हथियार का इस्तेमाल करता हुआ पाया जाऐगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करते हुए हथियार को जब्त कर लिया जाएगा।

हरियाणा विधानसभा चुनाव, पोस्टर या बैनर के लिए प्लास्टिक के प्रयोग पर बैन


पलवल, 27 सितंबर।  जिलाधीश यशपाल ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के तहत आदेश पारित कर आगामी विधानसभा आम चुनाव 2019 के मद्देनजर कानून एवं शांति व्यवस्था बनाए रखने के उद्देश्य से लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम-1951 की धारा-127ए के तहत प्रिंटिंग व प्रकाशन से संबंधित सभी प्रकार की प्रचार सामग्री पर मुद्रक, प्रैस व प्रकाशक का नाम व पता छापना अनिवार्य है। 

कोई भी प्रिंटर या प्रेस मालिक पोस्टर या बैनर के लिए प्लास्टिक का प्रयोग नहीं करेगा। प्रकाशक या मुद्रक को अपनी पहचान से संबंधित शपथ-पत्र भी देना होगा, जिसे व्यक्तिगत तौर पर जानने वाले दो व्यक्ति सत्यापित करेंगे। राज्य की राजधानी से संबंधित प्रकाशक या मुद्रक को मुख्य निर्वाचन अधिकारी व अन्य मामलों में जिलाधीश को इसकी एक कॉपी देनी होगी। यह आदेश पूरी चुनाव प्रक्रिया के दौरान लागू रहेंगे। आदेशों की अवहेलना पर भारतीय दंड प्रक्रिया की धारा-188 के तहत कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

भाजपा नेता दीपक मंगला ने पलवल में फोड़ा 70 लाख रुपये का नारियल 


पलवल, 18 सितंबर। मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला ने बुधवार को वार्ड नंबर-11 के राजपूत मौहल्ला में 70 लाख रुपये की लागत से बनाए जाने वाले कंकरीट रोड़ का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि इस रोड की बहुत पुरानी मांग थी। इस रोड के बनने से 36 बिरादरी के लोगों को फायदा होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मनोहर लाल के रूप में एक ईमानदार मुख्यमंत्री प्रदेश को मिला है। वर्तमान सरकार ने पलवल जिला को विकास की नई ऊचाइंयों पर पहुंचाया है, जिसमें जिला में इंडोर स्टेडियम, जिला स्तरीय स्टेडियम, आईटीआई में हाईटैक हॉस्टल का निर्माण, पलवल से सोनीपत तक केएमपी के साथ-साथ रेलवे लाइन का विस्तार सहित अनेक बड़ी-बड़ी योजनाएं की शुरूआत की है। वर्तमान सरकार ने युवा वर्ग को पारदर्शी तरीके से योग्यता के आधार पर नौकरियां देने का कार्य किया है। उन्होंने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए कहा कि विपक्ष के नेताओं से जब जनता विकास कार्य के बारे में पूछती है तो वह विपक्षी जनता को भाड़े के टट्टïू कहकर पुकारते हैं।

दीपक  मंगला ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जनता पांच वर्षों के विकास कार्यों की तुलना पिछले 20-25 वर्षों के कार्य से करें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सबका साथ-समान विकास की तर्ज पर हरियाणा के हर क्षेत्र का विकास करवाया है। सरकार ने बुजुर्गों के लिए सम्मान भत्ता में भी उल्लेखनीय बढ़ोत्तरी कर बुर्जुगों का मान-सम्मान बढाया। सरकार ने भ्रष्टïाचार पर अंकुश लगाया है तथा युवाओं को योग्यता के आधार पर नौकरियां देने का काम किया है। सिविल अस्पताल पलवल में डायलिसिस व सीटी स्कैन की सुविधा शुरू की है, जिससे यहां के गरीब लोगों को सीधा फायदा मिलेगा। इस अवसर पर वार्ड निवासियों ने फूलमालाओं से श्री मंगला का वार्ड में पहुंचने पर जोरदार स्वागत किया।
इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, जिल महामंत्री पवन अग्रवाल, निगरानी समिति के चेयरमैन मुकेश सिंगला, आरडब्ल्यूए के प्रधान ओमप्रकाश आहूजा, मोक्षधाम प्रधान सुनील बांगा, पार्षद प्रवीन ग्रोवर, केशव, सुनील ढकोलिया, सहित अन्य पार्षदगण व गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।  

भाजपामय हुआ पलवल, आसान नहीं अब कांग्रेस के करण दलाल की राह


पलवल, 29 अगस्त। हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि केएमपी के साथ-साथ करीब 5 हजार करोड़ रुपये से अधिक की लागत से ओरबीटल रेल नेटवर्क तैयार किया जाएगा, इसके लिए योजना बनाई जा चुकी है।  मुख्यमंत्री कल देर सायं जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान पलवल सेक्टर-2 में विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह नेटवर्क तैयार होने के बाद पलवल के लोगों को भारी सुविधा होगी, उनको फरीदाबाद और दिल्ली होकर जाने की बजाय रेल से सीधा चंडीगढ जाना सुविधाजनक होगा। उन्होंने बताया कि केएमपी के साथ नए औद्योगिक नगर भी बसाए  जाएंगे, जिससे इस क्षेत्र में युवाओं के लिए रोजगार के अवसर बढेंगे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पलवल विधानसभा क्षेत्र में वर्तमान सरकार द्वारा अन्य क्षेत्रों की भांति विकास के लिए भारी धनराशि दी गई। उन्होंने बताया कि इस विधानसभा क्षेत्र में पिछले पांच वर्ष के दौरान करीब 2500 करोड़ रुपये विकास कार्यों पर खर्च किए गए। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने अपने घोषणा-पत्र से बढकर कार्य किए हैं। उन्होंने बताया कि उन्होंने न तो राज्य में पढी लिखी पंचायत बनाने तथा न ही प्रदेश को केरोसीन मुक्त करने का वायदा किया था परंतु ये दोनो महत्वपूर्ण कार्य करके प्रदेश को प्रगति पथ पर आगे ले जाने का काम किया है। उन्होंने बताया कि आपके पलवल में नेशनल हाईवे का ऐलिवेटिड रोड भी बनकर जल्द पूरा हो जाएगा, जिससे इस क्षेत्र के लोगों को जाम जैसी समस्या से निजात मिलेगी। 

मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि कांग्रेस के अधिकतर नेता सीबीआई के राडार पर है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कांग्रेस पी वी चिदम्बरम, जो देश के गृह मंत्री और वित्त मंत्री रह चुके हैं सीबीआई के शिकंजे में आ चुके हैं और दुनिया के 12 देशों में उनकी संपत्ति मिली है। मुख्यमंत्री ने हरियाणा के एक कांग्रेसी नेता की ओर इशारा करते हुए कहा कि कि वह कभी कांग्रेस में कभी भाजपा में जाने की बात कहता है तो कभी सीएम बनने के सपने देखता है कभी वह विदेश चला जाता है, सीबीआई ने उसको हरियाणा में लपेटा है और 3 दिन पहले पता चला है कि गुडग़ांव में इनकम टैक्स विभाग ने करीब डेढ़ सौ करोड़ का उसका होटल ज़ब्त किया है।
उन्होंने कहा कि कांग्रेसी शासन के दौरान भ्रष्टाचार के अनेक किस्से हुए हैं जिस भी नेता को जहां से खाने को मिला वह जनता के गाडे खून पसीने की कमाई खाने से पीछे नहीं हटा। उन्होंने देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ चलाए गए अभियान की प्रशंसा करते हुए कहा कि मोदी जी ने कहा है ना खाऊंगा ना खाने दूंगा और हमने मोदी जी के नारे में एक लाइन और जोड़ते हुए कहा कि भरस्थचारियों ने जनता का जो पैसा खाया पिया है उसको निकाल देंगें और बापिस जनता को सौंप देंगें। 

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय  अध्यक्ष के मामले में आपसी द्वंद पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस को  गांधी परिवार से बाहर राष्ट्रीय  अध्यक्ष नहीं मिल रहा। उन्होंने कहा कि जब राहुल गांधी ने पिछले दिनों कहा था कि राष्टï्रीय अध्यक्ष पद को गांधी परिवार से बाहर किया जाएगा तो लोगों को लगा था कि अब कांग्रेस अपने संकट से उबर जाएगी और और वंशवाद को छोडक़र आगे बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि हरियाणा में भी कांग्रेस का ऐसा ही हाल है न तो प्रदेश अध्यक्ष स्थाई दिख रहा है और ना ही विधायक दल का नेता और उन्हें यह भी नहीं पता कि वे उस व्यक्ति को भावी मुख्यमंत्री प्रोजेक्ट करेंगे जिसके पीछे सीबीआई लगी हुई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार ने पिछले 5 वर्ष के दौरान हर वर्ग के लिए कल्याणकारी नीतियां लागू करके प्रदेश को खुशहाल किया है। राज्य के करीब 4100 गांव में 24 घंटे बिजली दी जा रही है हर घर में गैस का सिलेंडर दे दिया गया है और अगले कार्यकाल में राज्य के प्रत्येक व्यक्ति की रसोई में नल से जल पहुंचाने की योजना है ।
इस अवसर पर केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि पलवल क्षेत्र में जितने विकास कार्य वर्तमान मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हुए हैं उतने पहले कभी नहीं हुए। उन्होंने लोगों से आह्वïान करते हुए कहा कि वे मुख्यमंत्री के हाथ मजबूत करें क्योकिं मनोहर लाल ऐसे मुख्यमंत्री है, जिनकी सरकार में कोई भी भ्रष्टïाचार, परिवारवाद और क्षेत्रवाद का आरोप नहीं लगा है। उन्होंने भाई भतीजावाद से ऊपर उठकर प्रदेश का विकास करवाया है।

इस मौके पर करनाल से सांसद संजय भाटिया, पृथला के विधयाक टेकचंद शर्मा, हाउसिंग बोर्ड के चेयरमैन संदीप जोशी, हैफेड के चेयरमैन सुभाष कत्याल, भूमि सुधार आयोग के चेयरमैन अजय गौड़, पूर्व मंत्री जगदीश नायर, पूर्व विधायक शारदा राठौर, जिला भाजपा अध्यक्ष जवाहर सिंह सौरौत, फरीदाबाद जिला अध्यक्ष गोपाल शर्मा, नप की चेयरपर्सन इंदु भारद्वाज, पवन अग्रवाल, अशोक बैंसला सहित भाजपा के अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
पलवल की जनसभा में भीड़ देखकर ऐसा लगा कि अब पलवल भी भाजपामय हो चुका है और आने वाले चुनावों में अब यहाँ विधायक करण सिंह दलाल की राह आसान नहीं है। एक दिन पहले हरियाणा अब तक ने पलवल का दौरा किया था और वहां अन्य पार्टियों के एक भी होर्डिंग्स बैनर नहीं दिखे थे जिसे देख लगा कि इस बार पलवल में कमल खिल सकता है। 

जजपा-बसपा की ताकत देख भाजपा व कांग्रेस में घबराहट- दुष्यंत चौटाला


पलवल, 25 अगस्त। आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जननायक जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने प्रचार अभियान को तेज कर दिया है। हिसार में हुई संयुक्त बैठक में पदाधिकारियों में जोश भरने के बाद जजपा-बसपा गठबंधन के प्रदेश के सभी जिलों के सात दिवसीय दौरे के तहत आज पलवल में बैठक का आयोजन किया गया। 
   जजपा-बसपा की पलवल जिले में हुई जिला स्तरीय संयुक्त बैठक में जेजेपी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा कि जजपा-बसपा के गठबंधन की ताकत से प्रदेश में गरीब, किसान और कमेरे वर्ग के हक में एक लहर पैदा हुई है जिससे भाजपा व कांग्रेस में घबराहट है। 

जजपा-बसपा के कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए दुष्यंत चौटाला ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मात्र करीब 45 दिन ही बचे हुए है, अब इन 45 दिनों में सबको 450 दिन जितनी मेहनत करनी है ताकि प्रदेश में बदलाव लाते हुए 1987 का इतिहास दोहराया जा सके। साथ ही दुष्यंत चौटाला ने 25 सितंबर को महम में ताऊ देवीलाल के सम्मान में होने वाली जेजेपी-बीएसपी की रैली को लेकर सबको न्यौता दिया। 

वहीं इस दौरान जजपा प्रदेशाध्यक्ष सरदार निशान सिंह ने कहा कि आज जो हालात देश-प्रदेश में बने हुए है, वो भविष्य के लिए बहुत खतरनाक है इसलिए प्रदेश में बदलाव लाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि आज न महिला सुरक्षित, न युवाओं को रोजगार तो वहीं किसान, व्यापारी, कर्मचारी समेत तमाम वर्ग भाजपा की वादाखिलाफी से परेशान है। 

बैठक को संबोधित करते हुए जेजेपी के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री हर्ष कुमार ने कहा कि चौधरी देवीलाल छत्तीस बिरादरी के लोगों को एक साथ लेकर चलते थे, अब जजपा-बसपा वही इतिहास दोहराएगी और सरकार आने पर छत्तीस बिरादरी का एक सम्मान विकास करेगी। उन्होंने कहा कि जात-पात के नाम पर आपसी भाईचारे को खराब करने वाले लोगों की परख सबको करनी होगी और किसान, कमेरे को एक साथ आगे बढ़कर भाईचारे खराब करने वालों को करारा जवाब देना होगा।  

यमुना में बाढ़ की आशंका, प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद


पलवल, 19 अगस्त। हथनी कुंड बैराज से लगभग 8.14 लाख क्यूसिक पानी यमुना नदी में छोडे जाने के दृष्टिगत जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। 
उपायुक्त यशपाल ने यमुना नदी में जल स्तर बढने से जिला पलवल के यमुना के साथ लगते हुए गांवों में बाढ की संभावना के दृष्टिगत जिला अधिकारियों की एक बैठक ली। उपायुक्त ने बाढ के दृष्टिगत सभी अधिकारियों को जिला मुख्यालय न छोडने के आदेश दिए तथा संबंधित अधिकारी अपने-अपने विभाग की जिम्मेदारियों के अनुसार कार्य करना सुनिश्चित करें। बैठक के पश्चात एसडीएम पलवल जितेंद्र कुमार ने सोमवार को यमुना नदी के साथ लगते प्रभावित क्षेत्रों क्रमश: गांव गुरवाड़ी, राजपुर खादर, दोस्तपुर, थंथरी, हंसापुर, अतवा, मुस्तफाबाद, काशीपुर, रहीमपुर, सुलतापर, अच्छेजा, इंदिरा नगर, मोहब्लीपुर, माहौली का दौरा किया। होडल के एसडीएम वत्सल वशिष्ठï ने हसनपुर क्षेत्र के अंतर्गत यमुना के किनारे आने वाले गांवों वली माहम्मदपुर, मुर्तजाबाद, फास्टोनगर का दौरा कर जायजा लिया। इस संबंध में जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मुनयादी करके लोगों को बाढ के संबंध में सचेत किया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि यमुना नदी के लगते क्षेत्रों में संभावित बाढ के खतरे से बचाव के लिए प्रशासन द्वारा सभी आवश्यक प्रबंध कर लिए गए हैं। एसडीएम ने पशुपालन एवं डेयरी विभाग के उपनिदेशक द्वारा पशुओं के लिए उचित दवाओं की व्यवस्था करने, उपनिदेशक कृषि विभाग द्वारा पशुओं के लिए चारा आदि की व्यवस्था करवाने के निर्देश दिए गए। जिला खाद्य एवं आपूर्ति अधिकारी टैंट एवं खान-पान का प्रबंध करेंगे। सिविल सर्जन को प्रभावित क्षेत्र में अस्थाई सहायता कैंप में चिकित्सों की डयूटी लगाना एवं दवाईयों का उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने गांव में फोगिंग करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यकारी अभियंता सिंचाई विभाग को अपने क्षेत्रीय स्टाफ की डयूटी लगाना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि यमुना से लगते हुए गांवों में पुलिस गस्त जारी रहेगी और स्थानीय गोताखोरों को आपातकालीन स्थिति हेतु चयनित करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर होडल के तहसीलदार गुरूदेव सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे। 

पलवल में विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाले कई सम्मानित


पलवल, 15 अगस्त। जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली सामाजिक संस्थाओं, खिलाडिय़ों व विभिन्न विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। 
समारोह में खिलाड़ी अभिषेक वर्मा को 18वीं एशियन खेल में कांस्य पदक व 52वीं आईएसएसएफ वल्र्ड चैंपियनशिप निशानेबाजी में सिल्वर पदक प्राप्त करने पर उनके पिता व जिला एवं सत्र न्यायाधीश अशोक वर्मा को प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया। खिलाड़ी मंयक रावत को 39वीं जूनियर नेशनल तीरंदाजी प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक, अनुपमा को 62वें राष्टï्रीय स्कूल खेल में बॉक्सिंग में स्वर्ण पदक, जीतेन्द्र सोंलकी को 53वें जूनियर नेशनल वेटलिफटिंग प्रतियोगिता में कांस्य पदक, राहुल तंवर व सागर सिंह को तीरंदाजी में, पैरा एथलिटिक्स के खिलाड़ी मुकेश, दिगम्बर, धरमेन्द्र, नीरज पोसवाल, कीर्ति व कविता को, वेटलिफटिंग में हरजीत कौर, निशानेबाजी में देवेश डागर तथा नरेश कुमार को ताकवाईंडों प्रतियोगिता में पदक प्राप्त करने पर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। 

उद्योग मंत्री ने स्वतंत्रता दिवस समारोह में अंतराष्टï्रीय योग दिवस में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए योग गुरू सुधीर कुमार, चरण सिंह, सत्यवीर, कुमरवती व सुदेश आर्य तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति देने वाले सभी स्कूली बच्चों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इसी प्रकार उन्होंने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के लोक कलाकार लीडर भजन पार्टी राजाराम को लोकसभा आम चुनाव के दौरान वोटिंग ताऊ बनकर लोगों को वोट बनवाने व मतदान के लिए जागरूक करने पर सम्मानित किया। जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग पलवल के जल संरक्षण अभियान व ऑनलाईन हाउस होल्ड सर्वे में उत्कृष्टï कार्य करने व जल संरक्षण पुरस्कार के मापदण्ड पूरा करने पर ग्राम पंचायत मीरापुर व भोलड़ा को सम्मानित किया। 

श्री विपुल गोयल ने 100 प्रतिशत दिव्यांग होने के बावजूद भी मुख्य कार्यकारी डी.आर.डी.ए. के कम्प्यूटर आपे्रटर जगदीश चन्द  द्वारा मनरेगा के अंतर्गत सभी प्रोजेक्टस, बीपीएल, लोकसभा आमचुनाव, एमपी लैड व सीएम घोषणा आदि  में पूरी निष्ठïा व ईमानदारी से सराहनीय कार्य करने पर सम्मानित किया। 
उद्योग मंत्री ने जिले के बेसहारा गोवंश को समय-समय विभागीय कार्यवाही में उत्कृष्टï सहयोग कार्य के लिए  श्री अमर शहीद कान्हा गौशाला-बहीन, त्रिवेणी धाम गौशाला गांव गहलब, बाबा गोलमदास गौशाला सेवा समिति  गांव मर्रोली को तथा 23 जुलाई 2019 को 12वीं के छात्र तुषार की नहर में डूबने से जान बचाने पर व पिछले कई वर्षों से सामाजिक समस्याओं को सुलझाने व सामाजिक कार्यों में बढ़चढ़ कर भाग लेने वाले ग्राम छज्जूनगर के सतेन्द्र चौहान उर्फ कुल्लू को सम्मानित किया।

उन्होंने 10वीं की परीक्षा में 500 में से 494 अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान पर आने  जीवन ज्योति स्कूल पलवल के छात्र शिव कुमार तथा 500 में से 498 अंक प्राप्त करने पर बाल विद्या निकेतन खाम्बी के विद्यार्थी धीरज व बी.के. स्कूल की छात्रा हर्षिता को प्रस्तति पत्र देकर सम्मानित किया। 
पुलिस विभाग के उप निरीक्षक मौ. इलियास, एसआई कुलदीप सिंह,एएसआई हरीश कुमार, रामेश्वर, हैड कास्टेबल हेमराज, कर्मजीत, साबिर, सीआईए स्टाफ के रिंकू,एसपीओ रोहताश तथा वोमन सैल की इंदुबाला  के अतिरिक्त लोक निर्माण विभाग के कनिष्ठï अभियंता महेन्द्र ङ्क्षसह, जिला उद्योग केन्द्र के राजन धीमान, महिला राजकीय महाविद्यालय मिंडकोला के प्रिंसिपल डां. राकेश पाठक सहित अन्य विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को उल्लेखनीय कार्य करने पर प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। 
इस अवसर पर मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव दीपक मंगला, उपाध्यक्ष हरियाणा पशुधन विकास बोर्ड मेहरचन्द गहलोत ,भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, जिला परिषद की चेयरपर्सन चमेली देवी, उप प्रधान संतराम, उपायुक्त यशपाल, पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र बिजरानिया, अतिरिक्त उपायुक्त सुरेन्द्र सिंह, नगराधीश श्रीमती आशिमा सांगवान, जिला शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी एवं गणमान्य लोग मौजूद थे।