Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

किसानों को ''जल शक्ति अभियान टू'' के लिए DC जीतेन्द्र यादव ने किया जागरूक

DC-Jitendra-Yadav-made-farmers-aware-for-Jal-Shakti-Abhiyan-2

फरीदाबाद: डीसी जितेन्द्र यादव ने कहा कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में किसानों को चाहिए कि वो जल शक्ति अभियान टू के तहत स्वयं जागरूक होकर ज्यादा से ज्यादा लोगों को प्रेरित करें। इसी क्रम में उपायुक्त जितेन्द्र यादव के कुशल मार्गदर्शन में जिला फरीदाबाद में मेरा पानी मेरी विरासत योजना के बारे में किसानों को खूब जानकारी दी जा रही है।

उप निदेशक कृषि एवं किसान कल्याण विभाग विभाग डाक्टर वीरेंद्र आर्य किसानों को जल शक्ति अभियान टू के तहत मेरा पानी मेरी विरासत की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि प्रोजेक्ट ऑफिसर ललित कौशिक की अध्यक्षता में गांव भस्क कोला, मांगर ,भुआपुर, फतेहपुर सहित करीब 9 गावों में लगे कैंप जल शक्ति अभियान के तहत मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम के तहत किसानों को पानी बचाने बारे धान फसल को छोड़कर अन्य फसल बोने के लिए किसानों को प्रोत्साहित किया जा रहा है ।

सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वर्ष 2022 में भी फसल विविधीकरण योजना " मेरा पानी मेरी विरासत को लागू कर दिया गया है। मेरा पानी मेरी विरासत योजना गत वर्ष की भांति जिला फरीदाबाद में भी लागू की गई है। इस योजना के तहत किसानों को धान के स्थान पर वैकल्पिक फसलों में कपास, मक्का, दलहन में मूंग, अरहर, तिलहन में मूंगफली, तिल, ग्वार, एरण्ड और सब्जियां व फल की बिजाई करनी होगी।

 जिसके फलस्वरूप प्रति एकड़ 7000/-रुपये की प्रोत्साहन धनराशि दो किस्तों में दी जाएगी। यह राशि डीबीटी के माध्यम से किसान के बैंक खाते में डाली जायेगी। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए किसान को अपनी फसल का मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल fasalharyana.gov.in पर पंजीकरण करके मेरा पानी मेरी विरासत स्कीम से जुड़ना होगा। ताकि 7000/- रुपये की धनराशि प्रति एकड़ लाभार्थियों को पहली किश्त कृषि विकास अधिकारी/ उद्यान विकास अधिकारी/ पटवारी / नम्बरदार की कमेटी द्वारा Physical Verification उपरान्त मिले।

इस योजना के तहत जिन किसानों ने पिछले वर्ष अपने धान के क्षेत्र को वैकल्पिक फसलों द्वारा विविधिकरण किया था तथा चालू खरीफ सीजन में भी यदि वो उस क्षेत्र में वैकल्पिक फसलों की बिजाई करते है तो उन्हें भी प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत जो किसान पिछले वर्ष धान बिजित क्षेत्र में चारे की फसल लेते हैं व अपने खेत को खाली रखते हैं उन्हें भी प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत सभी वैकल्पिक फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा खरीदा जाएगा। इस फसल विविधीकरण योजना के अंतर्गत सभी वैकल्पिक फसलों का बीमा भी विभाग द्वारा करवाया जाएगा। जिसके प्रीमियम की अदायगी प्रोत्साहन राशि से की जाएगी।

इस योजना को क्रियान्वित करने की विस्तृत जानकारी देते हुए डॉ विरेन्द्र देव आर्य ने आगे विस्तार पूर्वक बताया कि फसल विविधीकरण को बढ़ावा देने तथा तकनीकी जानकारी के लिए किसानों को गांव स्तर पर कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा वैकल्पिक फसले बिजाई करने की पूर्ण जानकारी दी जा रही है। कृषि विभाग व कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा किसानों को वैकल्पिक फसलों की आधुनिक तकनीक से बिजाई करने व अच्छी पैदावार लेने के लिए प्रदर्शन प्लॉट भी आयोजित किए जाएंगे। इस योजना का लाभ लेने के लिए इच्छुक किसान "मेरा पानी मेरी विरासत" पोर्टल पर पंजीकरण करवाएं ।

ऑनलाइन कसीनो खिलाने व खेलने वालो को CIA 17 इंस्पेक्टर अशोक कुमार की टीम ने दबोचा

CIA-17-Inspector-Ashok-Kumar's-team-caught-those-who-feed-and-play-online-casinos

फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान द्वारा जुए के मामलों में  आरोपियों की धरपकड़ के दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच 17 प्रभारी अशोक कुमार की टीम ने जुए के मुकदमे में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में धीरज, आलोक, अरुण, संतु कथा चंद्रेश का नाम शामिल है। सभी आरोपी फरीदाबाद के रहने वाले हैं। 

क्राइम ब्रांच की टीम पुलिस थाना कोतवाली में गश्त कर रही थी कि गुप्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई की एनआईटी का रहने वाला आरोपी धीरज अपने घर पर ऑनलाइन जुआ खिलाता है और फिलहाल एनआईटी टाउन नंबर एक में स्थित अपने घर में ऑनलाइन कसीनो खिला रहा है। सूत्रों की सूचना पर तुरंत कार्रवाई करते हुए डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान निर्देशानुसार क्राइम ब्रांच की टीम आरोपी के घर पर पहुंची जहां आरोपी अलग-अलग कमरों में बैठकर पीसीएम क्लाइंट नामक ऐप में कसीनो खेल रहे थे। 

आरोपियों से जब पूछताछ की गई तो उन्होंने बताया कि धीरज उन्हें ऑनलाइन कसीनो खिलाता है जिसके लिए धीरज ने इस ऐप में अपनी आईडी बना रखी है और उस आईडी से वह बाकी लोगों को जुआ खिलाता है। पुलिस द्वारा आरोपियों के कब्जे से 03 लैपटॉप, 02 डेस्कटॉप कंप्यूटर तथा ₹67500 नकद बरामद किए गए। इसके पश्चात आरोपियों को काबू करके थाने लाया गया और उनके खिलाफ जुआ अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके पूछताछ शुरू की गई। 

पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी धीरज ने बताया कि उसे ऑनलाइन कसीनो खिलाने के लिए कमीशन मिलता है। यदि खेलने वाले जुए में जीत जाते हैं तो उसे रकम का 5% और यदि वह हार जाते हैं तो उसे 20% कमीशन प्राप्त होता है। इस प्रकार आरोपी ने बताया कि वह जुआ खिलाकर काफी पैसे कमाता है। पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है।

लाखों रुपए के 4 टन लोहा सरिया चोरी मामले में 3 आरोपियों को हथीन AVT स्टाफ ने धरदबोचा

AVT-staff-arrested-3-accused-in-the-theft-of-4-tonnes-of-iron-bars-worth-lakhs-of-rupees

हरियाणा:पलवल एवीटी स्टाफ इंचार्ज उप निरीक्षक सत्यवान ने बताया कि हथीन थाना अंतर्गत निर्माणाधीन डीएनडी हाईवे पर स्कियोरिटी सुपरवाईजर के पद पर कार्यरत ओमप्रकाश ने दिनांक 30 जून 2022 को अपनी थाना हथीन में शिकायत दर्ज कराई है कि नंगला असरोई, जिला इटावा (यूपी) निवासी ठेकेदार द्रोण पुत्र ज्ञान सिंह उन्नतीस जून की रात को ट्रैकटर-ट्राली में गांव की साइट से चार टन लोहा सरिया को चोरी कर ले जा रहा था। जिसको उनकी स्कियोरिटी ने पकड़ लिया और पुलिस को सूचित कर दिया।

आगे जानकारी देते हुए प्रभारी AVT ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए राजेश दुग्गल पुलिस अधीक्षक पलवल के द्वारा दिए गए प्रभावी दिशानिर्देश अनुरूप कार्य करते हुए स्टॉफ मे तैनात हेड कांस्टेबल रुकमुद्दीन/ जांच अधिकारी ने गहनता से जांच की गई।

 गहन पूछताछ व आरोपी द्रोण की निशानदेही पर वारदात में शामिल उसके साथी आरोपी आबीद पुत्र दिनू निवासी उल्हटा का नंगला, जिला नूंह व साहिल पुत्र रणवीर सिंह निवासी जीता खेड़ली (हथीन) गांव को भी मात्र चौबीस घंटे के अंदर गिरफतार कर लिया गया। 

आरोपियों के कबजे से ट्रैकटर-ट्राली व चोरी किए हुए चार टन लोहा सरिया को भी बरामद कर लिया गया। चोरीशुदा लोहा सरिया की किमत तीन लाख रुपये है। पुलिस ने आरोपियों को शुक्रवार को अदालत में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।

लाखों रुपयों से भरे ATM को उखाडक़र ले जाने वाले दो और ईनामी आरोपियों को पलवल CIA ने दबोचा

Palwal-CIA-arrested-two-more-bounty-accused-who-took-away-ATM-filled-with-lakhs-of-rupees

हरियाणा: पलवल सीआईए इंचार्ज विश्व गौरव ने प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि  राजेश दुग्गल आईपीएस पुलिस अधीक्षक पलवल द्वारा जिला पुलिस को वांछित एवं इनामी बदमाश धरपकड़ के बारे में निर्देश जारी किए हुए हैं जिनके तहत गत दिनांक 30 जून 2022 को उन्हें गुप्त सूचना प्राप्त हुई न्यू कॉलोनी से एटीएम उखाडक़र ले जाने वाले दो और आरोपी सिकरावा,नूह  में मौजूद है। जोकि कहीं बाहर जाने की फिराक में है। सूचना मिलते ही सहायक उप निरीक्षक कुशल कुमार के नेतृत्व में टीम गठित कर मौके पर दबिश दी गई और आरोपियों को काबू कर लिया गया।

पूछताछ में आरोपियों की पहचान फारुख पुत्र इदरीश निवासी वाजिदपुर थाना पिंनगवा, नूह एवं चांद खां पुत्र अहमद खान निवासी डरौली जिला सिवान बिहार के रूप में हुई

आगे जानकारी देते हुए प्रभारी सीआईए ने बताया कि आरोपियों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर  स्कॉर्पियो गाड़ी की मदद से एक मई की रात न्यू कॉलोनी स्थित पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम को उखाड़ कर ले गए थे। एटीएम में उस समय पच्चीस लाख रुपये थे। जिस संबध में बैंक मैनेजर की शिकायत पर मुकदमा दर्ज किया गया था। मामले में कप्तान महोदय द्वारा दिए गए दिशा निर्देश अनुरूप कार्य करते हुए पहले ही चार इनामी बदमाश सहित पांच आरोपियों को पहले ही गिरफतार किया जा चुका है। 

फिलहाल गिरफतार किए आरोपी फारुख व चांद को शुक्रवार को अदालत में पेश तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया हुआ है। रिमांड अवधि के दौरान आरोपियों से बरामदगी व फरार साथियों के बारे में गहन पूछताछ की जाएगी। आरोपियों पर इसी मामले में पांच-पांच हजार रुपये का ईनाम भी घोषित था। अपराधिक रिकॉर्ड के मुताबिक आरोपी फारुख के खिलाफ  पश्चिम बंगाल, हरियाणा एवं राजस्थान राज्यों में इसी प्रकार के दर्जनभर से अधिक संगीन मामले दर्ज हैं। आरोपियों से गहनता से पूछताछ जारी है।


ड्रग्स माफियाओं पर जारी है सिरसा के SP का चाबुक, 50 लाख रू के डोडा पोस्ट संग 2 दबोचे गए

सिरसा-01 जुलाई........ जिला पुलिस द्वारा मादक पदार्थ तस्करों के खिलाफ चलाए जा रहे विशेष अभियान "ऑपरेशन क्लीन" के तहत कार्रवाई करते हुए जिला की सीआईए कालांवाली पुलिस टीम ने गश्त व चेकिंग के दौरान महत्वपूर्ण सूचना के आधार पर गांव देसूजोधा क्षेत्र में खेत में बने एक मकान से करीब 50 लाख रुपए की 10 क्विंटल 50 किलोग्राम डोडा चूरापोस्त सहित दो व्यक्तियों को गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है । इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते पुलिस अधीक्षक डॉ.अर्पित जैन ने बताया कि गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों की पहचान सुरेंद्र सिंह उर्फ बबी पुत्र अंग्रेज सिंह व हर गोबिंद उर्फ घीला पुत्र हरदेव सिंह निवासियान देसुजोंधा जिला सिरसा के रूप में हुई है । उन्होंने बताया कि पकडे गए व्यक्तियों के खिलाफ थाना शहर डबवाली में मादक पदार्थ अधिनियम के तहत अभियोग दर्ज कर जांच शुरु कर दी है ।

 पुलिस अधीक्षक डॉ.अर्पित जैन ने बताया कि सीआईए कालांवाली प्रभारी उप निरीक्षक राजपाल सिंह के नेतृत्व में एक पुलिस टीम गश्त व चेकिंग के दौरान डबवाली क्षेत्र में मौजुद थी । उन्होंने बताया कि इसी दौरान पुलिस पार्टी को महत्वपूर्ण सूचना मिली की गांव देसूजोंधा स्थित खेत में बने एक मकान में भारी मात्रा में डोडा चूरापोस्त छिपाकर रखा हुआ है और तस्कर उसे सप्लाई करने की फिराक में है । उक्त सूचना को पाकर पुलिस पार्टी ने तुरंत प्रभाव से गांव देसूजोधा में उक्त स्थान पर दबिश देकर मौका से दो व्यक्तियों को काबू कर करीब 50 लाख रुपए का 10 क्विंटल 50 किलाग्राम डोडा चूरापोस्त बरामद कर लिया । उन्होंने बताया कि प्रारम्भिंक पूछताछ में पता चला है कि उक्त डोडा पोस्त मध्यप्रदेश से लाया गया था औऱ उसे डबवाली तथा उसके साथ लगते पंजाब के एरिया में सप्लाई किया जाना था ।

 पुलिस अधीक्षक डॉ.अर्पित जैन ने बताया कि पकड़े गए दोनों व्यक्तियों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा और रिमांड अवधि के दौरान डोडापोस्त तस्करी के इस नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों के बारे में नाम पता मालूम कर उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी । इस अवसर पर उन्होंने सीआईए कालांवाली पुलिस टीम के प्रभारी राजपाल सहित समूची पुलिस टीम की सराहना करते हुए उन्हें सम्मानित करने की भी घोषणा की । गौरतलब है कि सीआईए कालांवाली पुलिस टीम ने बीती 7 मार्च 2022 को लाखों रुपए की 12 क्विंटल 20 किलो डोडापोस्त बरामद करने में बड़ी सफलता हासिल की थी । पुलिस अधीक्षक डॉ.अर्पित जैन ने आमजन से भी आहावान किया है कि बेखौफ होकर नशा बेचने वालों की सूचना पुलिस को दें ताकि ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सके ।

दलेर मेंहदी, सपना चौधरी सहित कई कलाकारों ने CM के सामने की हरियाणा में हो रहे विकास कार्यों की तारीफ़

चंडीगढ़, 1 जुलाई – हरियाणा सरकार फिल्म निर्माताओं एवं कलाकारों की सुविधाओं के लिए फिल्म एवं एंटरटेनमेंट पॉलिसी बना रही है। इसके अलावा, पिंजौर में लगभग 60-70 एकड़ भूमि फिल्म सिटी के लिए चिह्नित की गई है। इस फिल्म सिटी के माध्यम से विशेष तौर पर हरियाणा और पंजाब की संस्कृति को बढ़ावा देने का प्रयास किया जाएगा। हरियाणा सरकार कलाकारों के साथ है, उनके हित के लिए आगे भी कार्य करते रहेंगे, कलाकारों को हरियाणा में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आएगी।

मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने यह बात आज चंडीगढ़ के होटल माउंट व्यू में पंजाब व हरियाणा के दिग्गज कलाकारों को आश्वस्त करते हुए कही। मौका प्रसिद्ध गायक  दलेर महेंदी द्वारा हरियाणा सरकार की उपलब्धियों पर बनाए गए गीतों को रिलीज़ करने का। इस दौरान मुख्यमंत्री  मनोहर लाल, दलेर मेहंदी व उनकी धर्मपत्नी, फिल्म अभिनेता हॉबी धालीवाल, गायक पम्मी बाई, अभिनेत्री निशा, दिलबाग सिंह, सपना चौधरी इत्यादि कलाकारों ने गीतों को रिलीज किया।

हरियाणा वासियों के संघर्ष और उनकी मेहनत की बदौलत आज प्रदेश कर रहा है विकास

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब-हरियाणा पहले एक ही प्रांत हुआ करता था, बाद में 1966 में हरियाणा अस्तित्व में आया। उस समय लगता था कि पंजाब बहुत विकसित है, हरियाणा विकास की राह पर कैसे आगे बढ़ पाएगा। लेकिन हरियाणावा‌सियों के संघर्ष और उनकी मेहनत के बलबूते आज हरियाणा विकास के मामले में पंजाब से कहीं आगे निकल चुका है। भारतीय सेना में संख्या बल के मामले में भी हरियाणा पंजाब से आगे है।

समाज को ‌सही दिशा दिखाने में कलाकार की होती है अहम भूमिका

 मनोहर लाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आज विश्व पटल पर भारत की जो छवि बनी है, उससे बड़े-बड़े देश भी अब यह मानने लगे हैं कि भारत ही दुनिया को शांति और सद्भाव की राह दिखा सकता है। इसलिए समाज को ‌सही दिशा दिखाने में एक कलाकार की बहुत अहम भूमिका होती है, क्योंकि कलाकार किसी जाति या प्रांत का नहीं होता, उसकी पहचान सिर्फ एक कलाकार के तौर पर होती है। कलाकारों को राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देते हुए आमजन को देश व समाज सेवा के प्रति जागरूक और प्रेरित करते रहना चाहिए।

राज्य के कल्याण के लिए मनोहर लाल की सोच व कार्यशाली  प्रभावित करने वाली

इस मौके पर प्रतिसद्ध गायक दलेर मेहंदी ने कहा कि जब वे हरियाणा से गुजरते थे तो रास्तों पर मुख्यमंत्री के हॉर्डिंग लगे हुए देखकर उन्हें बेहद अच्छा महसूस होता था। हालांकि वे कभी मुख्यमंत्री से मिले नहीं थे, परंतु उनके व्यक्तित्व और राज्य के कल्याण के लिए उनकी सोच और कार्यशाली से वे बहुत प्रभावित थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल को जानकर समझ आया कि वे मिट्टी से जुड़े व्यक्ति हैँ, इसलिए जरूरतमंदों से भावानात्मक रूप से जुड़कर उनके कल्याण के लिए कार्य कर रहे हैं।

राज्य सरकार ने महिलाओं के कल्याण के लिए किए कई कार्य

हरियाणवी कलाकार सपना चौधरी ने कहा कि राज्य सरकार ने पिछले 7 वर्षों में विकास के काफी कार्य किए हैं। 7 वर्ष पूर्व शौचालय न होने और खुले में शौच करने की आदत के कारण महिलाओं को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयासों से आज शौचालयों की व्यवस्था  के कारण महिलाओं को सही मायने में राहत मिली है। इसके लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का धन्यवाद।

हरियाणा सरकार जन कल्याण के कार्य कर रही है

कार्यक्रम में आए पंजाबी गायक पम्मी बाई ने कहा कि ऐसा पहली बार है कि किसी राज्य के मुख्यमंत्री सभी कलाकारों को इस प्रकार एक मंच पर लाकर उनसे मुलाकात कर रहे हैं। कलाकारों को अपनी बात रखने का मौका मिला है। हरियाणा विकास के नाते से निरंतर आगे बढ़ रहा है और इसका सबसे बड़ा कारण है कि राज्य सरकार हर वर्ग का ध्यान रखते हुए जन कल्याण के कार्य कर रही है।

हरियाणा के विकास को देखकर उन्नति की आस बनी है

इस अवसर पर गायिका डॉली गुलेरिया ने कहा कि मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के मागदर्शन में हरियाणा में हो रहे विकास को देखकर उन्नति की आस बनी है। हरियाणा में प्रवेश करते ही यहां के माहौल और प्रगति को देखकर दिल को ठंडक ‌महसूस होती है। पंचकूला में आते ही ऐसा भाव आता है कि मानो अपना ही प्रदेश हो। जिस तरह प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री  मनोहर लाल के नेतृत्व में देश व प्रदेश में तरक्की हो रही है, उसे देखकर गर्व महसूस होता है।

हरियाणा में सड़क नेटवर्क मजबूत

गायक कप्तान लाडी ने कहा कि हरियाणा में सड़कों का जाल बिछा है। किसी भी प्रदेश के विकास के लिए सड़क नेटवर्क का एक विशेष महत्व होता है। आज गांवों को आपस में जोड़ने वाली सड़कों की स्थिति बेहतर है, जिससे आवागमन में परेशानी नहीं होती। जमीनी स्तर पर हो रहा विकास नजर आ रहा है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रधान ओएसडी नीरज दफ्तुआर, बीजेपी नेता  तरुण भंडारी, सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक (प्रशासन) अमन कुमार सहित अन्य गणमान्य अतिथि उपस्थित रहे।

फरीदाबाद की सड़कों पर भरे पानी निकालने के लिए पुलिस ने संभाला मोर्चा, CP ने की तारीफ़

फरीदाबाद- पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा के दिशा निर्देश तथा डीसीपी ट्रैफिक सुरेश कुमार के मार्गदर्शन तथा एसीपी ट्रैफिक विनोद कुमार के नेतृत्व में फरीदाबाद की यातायात पुलिस ने जलभराव की समस्या से निपटने के लिए बहुत ही सराहनीय कदम उठाया है जिसके चलते आज भारी बारिश के बावजूद हाईवे अंडरपास में जलभराव नहीं हुआ और ट्रैफिक भी सुचारू रूप से चलता रहा। इसमें ट्रैफिक ड्यूटी में तैनात ट्रैफिक एसएचओ दर्पण, सभी टीआई तथा सहित सभी ट्रैफिक पुलिस कर्मियों का अहम योगदान रहा जिन्होंने पुलिस आयुक्त के इस प्रयास को सफल बनाया।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि मानसून में होने वाली बारिश के चलते फरीदाबाद पुलिस ने ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए अपनी तैयारियां पूरी कर ली है और नागरिकों को इस बारिश के मौसम में ट्रैफिक जाम से निजात दिलाने के लिए अपनी कमर कस ली है। पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने फरीदाबाद में बारिश के मौसम में होने वाली ट्रैफिक तथा जलभराव की समस्या का पहले से ही विश्लेषण करके यातायात पुलिस को इसके उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए थे जिसके तहत कार्य करते हुए फरीदाबाद की पूरी ट्रैफिक पुलिस ने बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। अक्सर देखने को मिलता है कि थोड़ी सी बारिश होने के बावजूद जगह जगह पर जलभराव हो जाता है जिसकी वजह से गाड़ियां अपनी सामान्य गति से नहीं चल पाती और जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है।

बरसात के मौसम में सड़कों पर गड्ढे हो जाते हैं परंतु उनमें जलभराव के कारण वाहन चालकों को गड्ढे दिखाई नहीं पड़ते और उनकी गाड़ी उस गड्ढे में टकराने की वजह से क्षतिग्रस्त हो जाती है और कई बार इसकी वजह से वाहन चालकों को शारीरिक रूप से बहुत नुकसान पहुंचता है। इसी को ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक पुलिस ने हाईवे पर स्थित सभी अंडरपास जिसमें बल्लभगढ़ फ्लाईओवर, गुडईयर,बाटा, अजरौंदा, ओल्ड, मेवला महाराजपुर, एनएचपीसी इत्यादि शामिल है उनमें वाटर पंप लगाकर जलभराव की समस्या को दूर कर दिया। इसके साथ ही ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने बारिश में खड़े होकर यातायात को सुचारू रूप से चलाने का सराहनीय कार्य किया। ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने वाहन चालकों को लगातार निर्देशित करते हुए जाम की समस्या उत्पन्न नहीं होने दी। पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने यातायात पुलिस द्वारा किए गए सराहनीय कार्य के लिए उनकी प्रशंसा की तथा आगे भी इसी प्रकार ट्रैफिक व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए कड़ी मेहनत करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया। 

CIA बॉर्डर इंस्पेक्टर सेठी मलिक की टीम ने 15 पेटी अवैध शराब सहित 2 को दबोचा

 फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान द्वारा नशा तस्करी के मामलों में संलिप्त आरोपियों की धरपकड़ के दिशा निर्देश के तहत कार्य करते हुए क्राइम ब्रांच बॉर्डर प्रभारी इंस्पेक्टर सेठी मलिक की टीम ने अवैध शराब तस्करी करते दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में राकेश तथा लवली का नाम शामिल है। दोनों आरोपी फरीदाबाद के सेक्टर 29 में किराए के मकान में रह रहे थे। क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर पुलिस थाना सेक्टर 31 एरिया से आरोपियों को अवैध शराब सहित काबू कर लिया। आरोपियों के कब्जे से अंग्रेजी शराब के विभिन्न ब्रांड की 161 बोतल तथा बियर की 24 बोतल बरामद की गई। 

आरोपियों से जब इसके बारे में पूछताछ की गई तो वह कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए जिसके पश्चात उन्हें काबू करके थाने लाया गया और उनके खिलाफ एक्साइज एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके पूछताछ शुरू की गई। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वह पैसे के लालच में अवैध शराब बेचने का काम करते थे जिनको पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों ने बताया कि यह शराब उन्हें उनका तीसरा साथी नानक लाकर देता था और वह इसे बेचने का काम करते थे। नानक अभी पुलिस गिरफ्त से बचने के लिए फरार चल रहा है जिसकी तलाश की जा रही है। पुलिस पूछताछ पूरी होने के पश्चात दोनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा आरोपियों के तीसरे साथी की तलाश करके उसे भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

पूर्व DGP शील मधुर ने गठित की तिरंगा सेना

 फरीदाबाद, 1 जुलाई  हरियाणा के पूर्व पुलिस महानिदेशक शील मधुर ने कहा है कि राष्ट्रीय ध्वज के महत्व, इतिहास और आदर्शो को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य भी तिरंगा सेना करेगी। श्री मधुर शुक्रवार को फरीदाबाद गोल्फ  क्लब में एक संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होने कहा कि तिरंगा सेना राष्ट्रीय ध्वज के सम्मान को सुनिश्चित करने के लिए इसके रख-रखाव से संबंधित ध्वज नियमों और प्रोटोकॉल की समुचित जानकारी देने के लिए भी तिरंगा सेना कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि हमारा राष्ट्रीय ध्वज देश प्रेम की भावना और देशवासियों की आकांक्षाओं का पवित्र प्रतीक है, तिरंगा सेना एक खुशहाल और सशक्त भारत के निर्माण के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए भी कार्य करेगी । श्री मधुर ने देशवासियों को आह्वान किया कि वे इस वर्ष 22 जुलाई का दिन भारतीय ध्वज दिवस के रूप में मनायें और तिरंगा मेरी शान मिशन को अपना समर्थन देकर राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित कराने में अहम भूमिका निभाए। उन्होने कहा कि हमारे देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने जा रहे हैं और हम आजादी का अमृत महोत्सव भी धूमधाम से मना रहे हैं लेकिन यह अत्यंत खेद का विषय है कि हमारे देश के गौरव के प्रतीक तिरंगें के सम्मान में अभी तक केन्द्र में सत्तारूढ़ रही सरकारों द्वारा राष्ट्रीय ध्वज दिवस की घोषणा नहीं की गयी है। उन्होंने कहा कि अपने देश भारत में लगभग 68 दिन विभिन्न विषयों पर राष्ट्रीय, विशेष दिवस के रूप में घोषित किये गये हैं, उन्होंने कहा कि विश्व स्तर पर अनेक देश और विशेष रूप से सर्वाधिक शक्तिशाली तथा विकसित देशों में भी उनके राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित है, जिन्हें वे प्रतिवर्ष राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाते हैं। श्री मधुर ने कहा कि वे अपनी सामाजिक संस्था सादर इंडिया के जरिये पिछले डेढ़ वर्ष से 22 जुलाई का दिन राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित कराने की मांग कर रहे हैं तथा तिरंगा मेरी शान मिशन के माध्यम से देश वासियों में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगें की गरिमा तथा महत्व और ध्वज को सम्मान के साथ फहराने के नियमों, प्रक्रियाओं और प्रोटोकॉल के बारें में समुचित जानकारी दे रहे हैं। उन्होने बताया कि अब एक एप तिरंगा मेरी शान, तिरंगा सेना के माध्यम से राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित कराने तथा तिरंगा सम्मान समारोह के लिए भी जनसमर्थन जुटा रहे हैं, उन्होने लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे इस एप के माध्यम से जुड़ कर 22 जुलाई का दिन राष्ट्रीय ध्वज दिवस के रूप में घोषित कराने की मांग का पुरजोर समर्थन करें । श्री मधुर ने कहा कि लाल किले पर 26 जनवरी 2021 की शर्मनाक घटना के पश्चात उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय ध्वज की शान बढ़ाने का संकल्प लिया और सादर इंडिया के तत्वाधान में 28 फरवरी 2021 को लाल किले पर तिरंगा सम्मान यात्रा निकाली और केन्द्र सरकार से राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित कराने की मांग भी कीए इसके साथ ही अन्य कई अवसरों पर आयोजित कार्यक्रमों के जरिये विभिन्न समाचार तथा संचार माध्यमों से राष्ट्रीय ध्वज दिवस घोषित कराने की मांग भी की, इसके साथ ही 26 जनवरी 2021 को हर-हर तिरंगा, घर-घर तिरंगा नारे को गुंजित कर तिरंगे में निहित आदर्शो को जन-जन तक पहुंचाने पर बल भी दिया गया। 

श्री मधुर ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय ध्वज 22 जुलाई 1947 को अपने वर्तमान स्वरूप और विशिष्ट मानदंडो के रूप में अस्तित्व में आया था, जिसे स्वतंत्र भारत के राष्ट्रीय ध्वज के रूप में भारत की संविधान सभा ने स्वीकार किया था और मान्यता दी थी, इसलिए 22 जुलाई का दिन राष्ट्रीय ध्वज दिवस के रूप में घोषित किया जाना सर्वाधिक उपयुक्त होगा, उन्होंने उम्मीद जताई की राष्ट्रीय ध्वज दिवस का प्रावधान देशभक्ति की भावना को आगे बढ़ाने, हर एक व्यक्ति का जीवन खुशहाल बनाने तथा देश की एकता व अखंडता को और अधिक मजबूत बनाने तथा विश्व स्तर पर एक अग्रणी देश के रूप में स्थापित होने में सशक्त भूमिका निभाए। उन्होंने कहा कि इस प्रकार विजयी विश्व तिरंगा प्यारा, झंडा ऊंचा रहे हमारा के सपने को साकार करने में हम अवश्य कामयाब होंगें।

इस प्रैस वार्ता में श्री मधुर के साथ इंटरनेशनल ताईक्वाड़ो कोच यासीन, इंटरनेशनल ताईक्वाड़ों खिलाड़ी यशिका व यूथ सोसायटी हरियाणा के अध्यक्ष सुरेश सिंह विशेष रूप से मौजूद थे।

दीपक हत्याकांड - CIA DLF ने दो आरोपियों को दबोचा

 फरीदाबाद: 4 दिन पहले पुलिस चौकी एनआईटी 3 एरिया में लड़ाई झगड़े व मारपीट के बाद इलाज के दौरान हुई दीपक की मृत्यु के मामले में क्राइम ब्रांच डीएलएफ प्रभारी इंस्पेक्टर योगवेंद्र सिंह की टीम ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में श्याम बाबू उर्फ मंगल तथा संदीप उर्फ चिंटू का नाम शामिल है जो फरीदाबाद के तिलक नगर में बनी ऑटोपिन झुग्गी में रहते हैं। 26 जून की रात पुलिस चौकी एनआईटी 3 एरिया में लड़ाई झगडा हुआ था जिसमें आरोपियों ने अपने 11-12 अन्य साथियों के साथ मिलकर 35 वर्षीय दीपक पर किसी रंजीश के चलते लाठी-डंडों से हमला किया था, जिसमें पीड़ित को काफी चोटें आई थी, पीड़ित युवक सफदरजंग हॉस्पिटल में एडमिट था जिसकी 28 जून को मृत्यु हो गई।

दीपक का किसी बात को लेकर अपने पड़ोसियों से काफी समय से झगड़ा चल रहा था जिसके चलते इनकी आपस में रंजिश हो गई थी। इसी रंजिश के चलते 26 जून की रात दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया जिसमें लाठी डंडों की चोट के कारण दीपक की हालत गंभीर हो गई। दीपक को इलाज के लिए बीके अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां से उसे वेदांता हॉस्पिटल और बाद में सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पीड़ित पक्ष की तरफ से पुलिस में शिकायत दी गई जिसके आधार पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई।

 सफदरजंग हस्पताल में इलाज के दौरान दीपक की मृत्यु हो गई जिसके पश्चात मुकदमे में हत्या की धाराएं लगाई लगाकर आरोपियों की तलाश शुरू की गई। क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने इस मामले में आगे कार्रवाई करते हुए कल गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर आरोपी श्यामबाबू तथा संदीप को बड़खल रेलवे पुल से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को अदालत में पेश करके 5 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है जिसमें पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उनका दीपक तथा उसके दोस्त अशोक से पहले से झगड़ा चल रहा था। आरोपियों ने बताया कि दीपक तथा उसके दोस्तों ने एक बार हमारे दोस्तों के साथ मारपीट की थी जिसके चलते इनका आपस में कई बार झगड़ा हुआ था और बढ़ते बढ़ते यह रंजिश में तब्दील हो गया। इसी रंजिश के चलते  बदला लेने के लिए आरोपियों ने दीपक के साथ मारपीट की थी जिसमें उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस रिमांड के दौरान आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग लाठी डंडे बरामद किए जाएंगे तथा फरार चल रहे आरोपी के साथियों की तलाश करके उनकी धरपकड़ की जाएगी।