Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

फरीदाबाद की डा. नेहा ने हरियाणा सिविल सर्विसज परीक्षा क्लीयर की


फरीदाबाद, 7 फरवरी। कोरोना काल में जब पूरा देश घर में बैठ कर मोबाइल फोन पर गेम्स व टेलिविजन में शो देखने में मशगूल था इसी बीच फरीदाबाद सैक्टर-21 निवासी डा. नेहा ने इन सबसे अलग रहकर केवल और केवल अपने मिशन को फोकस करते हुए हरियाणा सिविल सर्विसज की तैयार करने के लिए उड़ान आईएएस इंस्टीट्यूट सैक्टर-19 फरीदाबाद की डायरेक्टर डा. जयश्री चौधरी से सम्पर्क कर शिक्षा ग्रहण की।

शिष्या व अध्यापिका दोनों ही कोविड़ ग्रस्त हो चुकी थी। बावजूद इसके दोनों ने हार नहीं मानी जिसका परिणाम यह निकाला कि पहले ही प्रयास में डा. नेहा ने हरियाणा सिविल सर्विसज की परीक्षा क्लीयर कर ली है।

इसी प्रकार सैक्टर-55 निवासी अंकुश मंगला ने भी इस विषम परिस्थिति में उड़ान आईएएस इंस्टीट्यूट सैक्टर-19 में शिक्षा ग्रहण कर हरियाणा सिविल सर्विसज की परीक्षा पास की।

आज उड़ान आईएएस इंस्टीट्यूट सैक्टर-19 की डायरेक्टर डा. जयश्री चौधरी ने डा. नेहा का परीक्षा पास करने पर जोरदार स्वागत किया और इस मौके पर दोनों ही शिष्या व अध्यापिका एक-दूसरे को गले लगाकर रोयी।

डा. जयश्री चौधरी ने कहा कि आईएएस, आईपीसी करने वाले सभी छात्र-छात्राओं न कोरोना काल जैसे निकट परिस्थिति में भी अधिक से अधिक मेहनत कर अपने मुकाम को हासिल की।

अब डा. नेहा जैसे कई होनहार छात्र-छात्राएं परीक्षा पास कर देश व अन्य राज्यों की सेवाऐं देकर बेहतर कार्य जनता के लिए करेगें। उन्होंने कहा कि इस संस्थान से शिक्षा ग्रहण कर कई छात्र-छात्राऐं हरियाणा सहित पूरे देश के विभिन्न प्रदेशों में बड़े अधिकारी के रूप में देश की सेवा में लगे हुए है।

मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पर पंजीकरण होगा तभी मिलेगा सरकारी योजनाओं का लाभ : नेहा सिंह


पलवल, 07 फरवरी। उपायुक्त नेहा सिंह ने जिला के सभी किसानों से आह्वान किया है कि वे  15 फरवरी 2023 तक अपनी फसल का ब्यौरा मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पर अपने नजदीकी सी.एस.सी. सेंटर पर जाकर पंजीकरण करवा सकते हैं। मेरी फसल मेरा ब्यौरा पर पंजीकरण कराना सभी किसानों के लिए अनिवार्य है। 

जिन किसानों का पोर्टल पर पंजीकरण होगा वही किसान अपनी फसल को मार्किट कमेटी में बेच पाएंगे। इसके साथ कृषि विभाग की विभिन्न स्कीमों जैसे- भावान्तर भरपाई योजना, मेरा पानी-मेरी विरासत, इम्पलीमैन्ट आदि की योजना का लाभ भी तभी मिलेगा जब किसान की फसल का ब्यौरा-मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीकृत होगा। ई-फसल क्षतिपूर्ति की सूचना देने के लिए भी मेरी फसल-मेरा ब्यौरा पर फसल का पंजीकरण होना अनिवार्य है।

कृषि उपनिदेशक डा. पवन शर्मा ने किसानों से भी निवेदन किया कि वे अपने नजदीकी सी.एस.सी. सेंटर में जाकर अपनी फसल का पंजीकरण   https://fasal.haryana.gov.in पर जरूर कराएं। 

उन्होंने सभी फिल्ड स्टॉफ को निर्देश दिए कि वे अपने अधीन गांवो में जाकर मेरी फसल-मेरा ब्यौरा के बारे में मुनादी कराएं और सी.एस.सी. सेंटर पर शिविर भी लगाए जाएं। डा. पवन शर्मा ने किसानों से आग्रह किया है कि वे अधिक से अधिक संख्या में 15 फरवरी 2023 तक मेरी फसल मेरा ब्यौरा पर अपनी फसल का पंजीकरण जरूर करवा लें।

इसी कड़ी में गत दिवस कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के स्टॉफ द्वारा 38 गांवो की सी.एस.सी. सेंटर पर मेरी फसल-मेरा ब्यौरा जागरूकता कैम्प लगाए गए और कैंप में किसानों को पंजीकरण करवाने के बारे में प्रोत्साहित किया गया।


जाने डीसी विक्रम सिंह ने पिछड़े वर्गों के आरक्षण के बारे में क्या कहा


फरीदाबाद, 07 फरवरी। फरीदाबाद मंडल की शहरी स्थानीय निकायों में पिछड़े वर्गों के लिए आवश्यक आरक्षण के अनुपात के संबंध में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय माननीय न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) दर्शन सिंह की अध्यक्षता में जन सुनवाई 13 फरवरी को 11.30 बजे फरीदाबाद के एचएसवीपी कन्वेंशन सेंटर,सेक्टर -12 में होगी, जिसमें फरीदाबाद सहित पलवल और नूह जिलों के नागरिकों के पक्षों की सुनवाई की जाएगी।

डीसी विक्रम सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछड़े वर्गों के अनुपात संबंधित मुद्दे की जांच के लिए  फरीदाबाद मंडल की जन सुनवाई के लिए शैड्यूल जारी किया गया है। 

फरीदाबाद मंडल के तहत आने वाले जिला पलवल,फरीदाबाद और नुहं जिलों के शहरी निकायों में पिछड़े वर्गों से संबंधित मुद्दों के लिए 13 फरवरी को 11.30 बजे फरीदाबाद के एचएसवीपी कन्वेंशन सेंटर सेक्टर-12 में जन सुनवाई की जाएगी।

इस जन सुनवाई में संबंधित जिला नगर आयुक्त/ नगर निगम के आयुक्तों, संबंधित महापौरों/ अध्यक्षों/ प्रशासकों को के साथ-साथ संबंधित आजमन को आमंत्रित किया गया है ताकि वे आयोग के समक्ष अपना पक्ष रख सकें।


नौएडा के बहुचर्चित पेपर लिक केस के आरोपी को STF सोनीपत ने पकड़ा

 

7 फरवरी 2023- पुलिस अधीक्षक सुमित कुमार (भा.पु.से.) एस.टी.एफ. सोनीपत,  सन्दीप कुमार HPS उप पुलिस अधीक्षक सोनीपत के दिशा-निर्देशानुसार मे निरीक्षक प्रवीन इंचार्ज एस.टी.एफ यूनिट सोनीपत की टीम ने स्पेशल टास्क फोर्स (S.T.F.) हरियाणा द्वारा उच्च अधिकारियों के दिशा-निर्देशानुसार वांछित अपराधियों पर कार्यवाही करते हुए एसटीएफ यूनिट सोनीपत की टीम ने नितिन कुमार पुत्र बिजेन्द्र सिंह वासी गांव समसपुर, थाना सदर चरखी दादरी, जिला चरखी दादरी, हरियाणा को काबु किया है I 

आरोपी नितिन मुकदमा न0 611 दिनांक 28.11.2020 धारा 419,420,467,468, 120बी, 34 IPC, थाना सैक्टर 58 नौएडा, उत्तरप्रदेश में पिछले 2 साल से फरार चल रहा था I जो  आरोपी को आगामी कार्यवाही के लिए नोएडा, यूपी पुलिस के हवाले किया गया I आरोपी नौएडा के बहुचर्चित  पेपर लिक केस मामले मे 2 साल से फरार चल रहा था। 

जांच एजेंसियों को गुलाम बना अडानी से देश लुटवा रहे हैं मोदी शाह और RSS - विजय प्रताप

फरीदाबाद, 6 फरवरी। मोदी के पक्षपात की वजह से देश की जनता की गाढ़ी कमाई को नुकसान हुआ है। मोदी और अदानी की मिलीभगत से जनता की गाढ़ी कमाई को लुटा जा रहा है। यह बातें कांग्रेस के नेता विजय प्रताप ने प्रदर्शन के दौरान पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहीं। उन्होंने कहा कि आज पीएसयू का पैसा, एलआईसी का पैसा, मापदण्डों पर खरे न उतर कर ओवर प्राइज के जरिए बैंकों से ऋण करवा कर देश की जनता की गाढ़ी कमाई को लूटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि राजधर्म को भूल कर धोखा धर्म अपनाया हुआ है। राहुल गांधी के लगातार कहने के बावजूद भी उनके कान पर जूं नहीं रहेंगे । इस प्रकरण पर कांग्रेस पार्टी चुप नहीं बैठेगी और जब तक मामले पर निष्पक्ष कार्रवाई नहीं होगी तब तक कांग्रेस विरोध प्रदर्शन कर जनता की आवाज उठाती रहेगी।

 उन्होंने कहा कि दोनों की मिलीभगत से निवेशकों को भारी नुक़सान हो रहा है  बड़े संस्थागत निवेशकों का भी घाटा है और एलआईसी जिसने लगभग अपना एक प्रतिशत निवेश अदानी समूह में किया है उसको भी नुक़सान है. इसके अलावा छोटे निवेशक और शेयर ट्रेडर भी हैं जिन्हें नुक़सान हुआ हो रहा है।  गलत नितियों की वजह से आज देश आर्थिक संकट के कगार पर बैठा हुआ है अदानी प्रकरण की वजह से देश की नहीं पुरी दुनिया में देश साख पर बटटा लगा है।

उन्होंने कहा मोदी सरकार ने जांच एजेंसियों को गुलाम बना लिया है और विपक्षी नेताओं तक ही सीमित हैं देश की तमाम जांच एजेंसिया क्यू कि अडानी का घोटाला लाखों करोड़ का है और जांच एजेंसियां अब तक खामोश बैठी हैं, मोदी और शाम ने जांच एजेंसियों का मुँह बंद कर रखा है और हैरानी की बात ये है कि आरएसएस भी अडानी को बचाने में जुट गया है जो संगठन खुद को देश का सेवक कहता है और साथ देश के धोखेबाजों का दे रहा है जो देश को लूटकर अपनी जेबें भर रहे हैं, उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश की जनता के साथ है और लुटेरों के खिलाफ आवाज बुलंद करती रहेगी। उन्होंने कहा कि हजारों लोगों की कुर्बानियों के बाद देश आजाद हुआ है और देश के लुटेरों को देश के लगभग 135 करोड़ लोग कभी माफ़ नहीं करेंगे ,

ADC हितेश कुमार ने शिविर में जाकर पीपीपी की त्रुटियों की समस्याओं को दूर किया


हथीन(पलवल)6फरवरी। प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम के तहत सोमवार को खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी कार्यालय, हथीन के प्रांगण में परिवार पहचान-पत्र व्याप्त त्रुटियों को दूर करने के लिए एक  विशेष शिविर का आयोजन किया गया।

अतिरिक्त उपायुक्त हितेश कुमार ने शिविर में पहुंचकर गंभीरता पूर्वक लोगों की शिकायतें सुनी और उनका निदान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

अतिरिक्त उपायुक्त हितेश कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा परिवार पहचान पत्र में मौजूद खामियों को ठीक करने के लिए प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम के दृष्टिगत विशेष कैंपों का आयोजन किया जा रहा है। इन शिविरों का मुख्य उद्देश्य परिवार पहचान पत्र में व्याप्त त्रुटियों को ठीक करना है। 

उन्होंने कहा कि जिन परिवारों की फैमिली आईडी में इनकम वेरीफाई नहीं हुई है, उनकी इनकम वेरिफिकेशन क्रिड विभाग की टीम द्वारा प्राथमिकता के आधार पर की जाएगी। 

इस विशेष शिविर में क्रिड विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों ने फैमिली आईडी की त्रुटियों को दूर करने संबंधी समस्याओं को सुना और उनसे एप्लीकेशन प्राप्त की।

अतिरिक्त उपायुक्त हितेश कुमार ने बताया कि हरियाणा सरकार द्वारा आमजन की सुविधा को ध्यान में रखते हुए परिवार पहचान पत्र योजना के माध्यम से आमजन व गरीब कल्याण की सभी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं का लाभ सीधे लाभार्थी तक पहुंचाया जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि इस शिविर को आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य पात्र व जरूरतमंद परिवारों को योजना में शामिल करना है जिनकी वास्तविक वार्षिक आमदनी 1 लाख 80 हजार रुपए तक है, लेकिन फैमिली आईडी में उनकी वार्षिक आय अधिक दर्शाई हुई है। 

जिले का ऐसा कोई भी पात्र व जरूरतमंद परिवार इस योजना से वंचित न रहे, इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रशासन आपके द्वार कार्यक्रम की पहल शुरू की गई है।

इस मौके पर नगर पालिका हथीन के सचिव देवेन्द्र,पालिका अभियंता संजय उप्पल व क्रीड विभाग के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।

उपायुक्त नेहा सिंह ने बड़ी मस्जीद हथीन से टीकाकरण अभियान का किया शुभारंभ


पलवल,6 फरवरी। उपायुक्त नेहा सिंह ने सोमवार  को बड़ी मस्जीद,हथीन में खसरा-रूबेला बीमारियों की रोकथाम के लिए टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। उपायुक्त नेहा सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा खसरा और रूबेला जैसी बीमारियों के उन्मूलन के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग पलवल द्वारा हथीन क्षेत्र में खसरा, रूबेला बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए 9 महीने से 15 साल तक के सभी बच्चों का टीकाकरण शुरू कर दिया गया है। एएनएम,आशा वर्कर व आंगनवाडी वर्कर के सहयोग से जिले में इस अभियान को सफल बनाया जाएगा। 

हथीन क्षेत्र में यह टीकाकरण कार्यक्रम आगामी पांच सप्ताह तक चलेगा। जिसमें पहले दो सप्ताह स्कूलों में, उसके बाद दो सप्ताह आंगनवाड़ी केन्द्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। इसके पश्चात एक सप्ताह जो शेष बचे बच्चों को टीकाकरण स्थल पर स्वास्थय विभाग द्वारा टीकाकरण किया जाएगा।

इस मौके पर उपायुक्त ने बच्चों से भी बातचीत कर उन्हें शिक्षा व स्वास्थय के प्रति मोटिवेट भी किया और कहा कि वे अपने आस-पास पडोस व अपने भाई-बहनों को यह टीका लगवाने के लिए पे्ररित करें।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. योगेश मलिक ने बताया कि सरकार ने खसरे के फैलाव को रोकने के लिए 9 महीने से 15 साल तक के सभी बच्चों का टीका लगाने का निर्णय लिया है। जिसके तहत हथीन क्षेत्र में लगभग 74 हजार बच्चों को एमआर का टीका लगाया जा रहा है।

 उन्होंने कहा कि खसरा एक संक्रमण रोग है जो एक बच्चे से दूसरे बच्चे में फैलता है। इस संक्रमण को रोकने के लिए अपने बच्चों को एमआर का टीका अवश्य लगवाएं।

इस अवसर पर सिविल सर्जन डा. लोकवीर सिंह,जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.योगेश मलिक सहित विश्व स्वास्थ्य संगठन, मदरसा अबदिया हथीन कारी मोहम्मद हासिम, मुफ्ती आरिफ, पंचायत समिति सदस्य शौकत अली खान,हसन मौहम्मद नम्बरदार धीरनकी, जकरिया मलाई सहित स्वास्थ्य  विभाग के अन्य अधिकारीगण भी मौजूद रहे।

सूरजकुंड मेले में कलाकरों की प्रस्तुतियां देख पर्यटक झूमने को मजबूर


सूरजकुंड (फरीदाबाद), 6 फरवरी। 36 वें अंतरराष्टï्रीय सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला की मुख्य चौपाल पर एक ओर जहां देश के प्रसिद्ध कलाकारों ने अपनी-अपनी बेहतरी प्रस्तुतियां दी। वहीं दूसरी ओर सूरजकुंड के थीम राज्यों ने भी अपनी-अपने प्रदेश की लोक गीतों व नृत्यों से समां बांध दिया। 

सोमवार को मेले की मुख्य चौपाल पर पंजाब का भांगडा, कोमोरोस व अरमेनिया देश के कलाकारों ने नृत्य की बेहतरीन प्रस्तुति देकर पर्यटकों का मन मोह लिया। बता दें कि सूरजकुंड मेले में इस बार के 8 थीम राज्यों में से मेघालय भी एक हैं। मेघालय को मेघों का घर कहा जाता है।

जहां की ऐतिहासिक भूमि पर बहुत से सुंदर पेड-पौधे मौजूद हैं, जिसके कारण वहां अधिकतर समय बारिस होती रहती है। मेघालय की राजधानी शिलांग के वंगाला फेस्टिवल में टॉप आए कलाकारों ने नृत्य की भव्य प्रस्तुति दी।

तंजानिया 30 लाख लोगों की आबादी वाला देश है। तंजानिया के दार-एस-सलाम से आए कलाकारों ने पुरातन साजो-सामान जोकि इन कलाकारों ने अपने हाथों से बनाए हैं उनके साथ पारंपरिक वेशभूषा में हिलिंग गीत की प्रस्तुति दी। रूस देश से आए कलाकारों ने दो रंगों में अपनी प्रस्तुतियां देकर पर्यटकों का मन मोहा।

रूस के कलाकारों द्वारा उफा के माध्यम से अपने करीबी को प्रेम का भाव प्रदर्शित करने बारे तथा कुराई (बांसुरी) वाद्य यंत्र के साथ विभिन्न जीव-जंतुओं व वाद्य यंत्रों की ध्वनि सुनाकर पर्यटकों का मन जीत लिया।

सूड़ान की राजधानी खार्तूम से आए कलाकारों ने वर्षा के समय धरती पर बंूद के गिरने पर खेत में बोए गए बीज में से अंकुर निकलने पर खुशी जाहिर करने के दौरान गाए जाने वाले वहां के स्थानीय लोक गीत की प्रस्तुति दी। 

सूरजकुंड में पहली बार आए भारत से अच्छे संबंध रखने वाल व एशिया का सबसे छोटे देश मालदीव के एम.एस. गु्रप के आइडिल में टॉप पर रह चुके कलाकारों ने मेले की मुख्य चौपाल पर बेहतरीन नृत्य, गायन व वादन के साथ सुंदर प्रस्तुति दी। 

इसी कड़ी में जाम्बिया के कलाकारों ने विवाह से पूर्व से लेकर विवाह के उपरांत घर में आई दुल्हन के साथ ईश्वरीय प्रार्थना करने तक के विवाह संस्कार के सम्पूर्ण नत्य काडेम्बा  की तीन अलग-अलग प्रस्तुतियां दी, जिन्हें देखकर पर्यटक झूम उठे।

पूंजीपतियों के हाथ की कठपुतली बनी हुई है मोदी सरकार- फरीदाबाद कांग्रेस

 

फरीदाबाद। हिंडनवर्ग की रिपोर्ट आने के बाद जहां एक और अडानी के शेयरों में लगातार गिरावट देखने को मिल रही है तो वहीं कांग्रेस भी संसद से सडक़ तक विरोध प्रदर्शन कर रही है। इसी क्रम में आज फरीदाबाद कांग्रेस के तमाम नेताओं ने नीलम चौक पर स्थित स्टेट बैंक कार्यालय के सामने सामूहिक रूप से विरोध प्रदर्शन कर अपना आक्रोश जताया। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार और अडानी के खिलाफ नारेबाजी की। कांगे्रेसियों ने संयुक्त रूप से कहा कि केंद्र की मोदी सरकार पूंजीपतियों के हाथ की कठपुतली बनी हुई है और पूंजीपतियों को लाभान्वित कर रही है, आज देश की सभी सरकारी प्रापर्टियों का निजीकरण किया जा रहा है और महंगाई और भ्रष्टाचार निरंतर बढ़ रहा है। सरकार चुनिंदा घरानों को लाभ पहुंचाकर देश को आर्थिक रूप से कमजोर कर रही है। कांग्रेसियों ने कहा कि पिछले आठ सालों में महंगाई की मार ने आम आदमी को झकझोंर दिया है, उसके समक्ष भूखो मरने की नौबत आ गई है, लेकिन सरकार कागजों में विकास की बातें करके लोगों को गुमराह कर रही है। 

कांग्रेसियों ने मांग करते हुए कहा कि हिंडनवर्ग की रिपोर्ट पर सरकार अपना बयान जारी करें तो वहीं इस मामले की जांच के लिए जेपीसी का गठन किया जाए।  इस मौके पर विधायक नीरज शर्मा , पूर्व विधायक रघुबीर सिंह तेवतिया, पूर्व सीपीएस शारदा राठौर, पूर्व विधायक ललित नागर, कांग्रेसी नेता पंडित योगेश गौड़, लखन कुमार सिंगला, कांग्रेसी नेता विजय प्रताप, प्रदेश प्रवक्ता सुमित गौड़, कांग्रेसी नेता बलजीत कौशिक, कांग्रेसी नेता जगन डागर, प्रदेश प्रवक्ता नीरज गुप्ता, रिंकू चंदीला लोकसभा अध्यक्ष, रामकिशन सेन, महिला जिलाध्यक्ष सुनीता फागना, वीरपाल गुर्जर, अनिल कुमार नेताजी, जितेंद्र चंदेलिया, संजय सोलंकी, अशोक रावल, बाबूलाल रवि, गिरीश भारद्वाज, योगेश धींगडा, गौरव धींगड़ा, भरत अरोड़ा, इशांत कथूरिया इकबाल कुरैशी सहित अनेकों कांग्रेसी नेता मौजूद थे। 

बुजुर्गों की सेवा करने पहुंचे श्री सिद्धदाता आश्रम के सेवादार


फरीदाबाद- श्री सिद्धदाता आश्रम के अधिपति जगदगुरु रामानुजाचार्य स्वामी पुरुषोत्तमाचार्य महाराज के निर्देश पर सेवादार डबुआ कॉलोनी स्थित वृद्धाश्रम पहुंचे और उन्होंने बुजुर्गों की सेवा की। इस वृद्धाश्रम का संचालन एसोसिएशन फॉर द वेलफेयर ऑफ हैंडीकेप्ड द्वारा किया जाता है।

सेवादारों ने बुजुर्गों को साडिय़ां, शॉल और केले प्रसाद के रूप में दिए। जिन्हें वह श्री गुरु महाराज के आदेश पर लेकर यहां पहुंचे थे। उन्होंने बुजुर्गों से आशीर्वाद लिया और उनका हालचाल जाना। आश्रम के सेवादार यहां पहले भी सेवा करते रहे हैं।

इस वृद्धाश्रम में करीब 50 बुजुर्ग रहते हैं जिनके रहने जीने का यही केंद्र सहारा है। उम्र के इस पड़ाव पर किन्हीं कारणों से अपनों द्वारा ठुकराए जाने के बाद यह एक दूसरे का सहारा बनते हैं। आश्रम के प्रसाद को प्राप्त कर बुजुर्गों के चेहरे खिल उठे। 

उन्होंने कहा कि श्री सिद्धदाता आश्रम के बारे में उन्होंने पहले भी अनेक अवसरों पर लोगों के मुंह से सुना है और वह जल्द ही एकसाथ आश्रम भी आना चाहेंगे। जिस पर सेवादारों ने उन्हें आश्रम के बारे में जानकारी दी और आश्रम आने की निमंत्रण भी दिया।

इस अवसर पर श्री गुरु महाराज के जयकारों के बीच सेवादार एडवोकेट राजेश खटाना ने कहा कि आश्रम अनेक सामाजिक सांस्कृतिक धार्मिक एवं आध्यात्मिक गतिविधियों में रत है। जिनमें जरूरतमंदों को उनकी जरूरत का सामान दिये जाने, नित्य भोजन प्रसाद का वितरण, धार्मिक कार्यक्रमों, स्कूल, गौशाला आदि के माध्यम से सेवाएं की जा रही हैं।

इसी कड़ी में आज डबुआ के वृद्धाश्रम आए हैं, जहां बुजर्गों के बीच आकर बड़ा अच्छा लग रहा है। इस दौरान आश्रम की ओर से ज्ञानेंद्र शर्मा, संपादक शकुन रघुवंशी, नवल किशोर शर्मा, मदन, दीपक आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।