Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

हौसले की संजीवनी बाँट महामारी से फरीदाबाद की जनता को बचा रहे हैं पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह  

फरीदाबाद- : पुलिस कमिश्नर ओपी सिंह ने कोरोना महामारी के इस विकट समय में लोगों को हौसला बनाए रखने व् अच्छे समय की उम्मीद बनाए रखने की अपील की है| उन्होंने कहा कि यह बूरा समय है जो जल्द ही बीत जाएगा, हमें हौसले और जज्बे के साथ कोरोना के साथ लड़ी जा रही इस जंग को जीतने की उम्मीद को बांधे रखना है|

हौसले के आगे बड़ी-बड़ी चुनौतियां भी घुटने टेक देती हैं| हौंसलों के साथ लड़ी गई जंग किसी भी मनुष्य के लिए जीत का दरवाजा खोल सकती है इसलिए हमें हिम्मत नहीं हारनी चाहिए और सकारात्मक सौच के साथ आगे बढ़ना चाहिए|

कोरोना से जंग जितने के लिए हमें अपना सुरक्षा कवच मजबूत रखने की आवश्यकता है| इस वक्त मास्क, सेनेटाइजर और 2 गज दूरी ही हमारे सुरक्षा कवच है| इसलिए यह जंग जितने के लिए हमारे द्वारा इन संसाधनों का उपयोग करना अति आवश्यक है| नवीनतम आंकड़ों के अनुसार फरीदाबाद पुलिस के 266 पुलिसकर्मियों में 41 पुलिसकर्मी कोरोना को मात दे चुके है| 

वहीँ लॉकडाउन के दौरान नियम तोड़ने वालों के खिलाफ दर्ज 230 मुकदमों में 296 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिनमें दवाओं और ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करने वाले 11 लोग शामिल हैं|

पुलिस द्वारा 73192 लोगों को मास्क वितरित किए गए और 4875 लोगों की कांटेक्ट ट्रेसिंग की गई।साथ ही 32362 लोगों के मास्क के चालान काटकर एक करोड़ 61 लाख 81 हजार रुपयों का जुर्माना लगाया गया।

पुलिस आयुक्त ने नागरिकों से अनुरोध किया है कि कोरोना से इस जंग में कोविड नियमों का पालन करके पुलिस प्रशासन का सहयोग करें और अपने तथा अपने परिवार के साथ सुरक्षित रहें|

मन में रखो हौसला, आपस में रखो 2 गज का फासला, फिर वही दिन आवगें, अगर हम सकारात्मक सोच बनावगें। फिर, वही दिन आवगें , हम कोरोना को हरावगें... अगर हम मास्क लगावगें।

आपको बता दें कि सीपी ओपी सिंह ने कई किताबें लिखीं हैं और हौसलानामा उनकी खास किताब है। अपनी किताबों में उन्होंने भविष्य के भारत के बारे में बताया था। उनके किताबें पढ़ेंगे तो आपको कई चौंकाने वाले जानकारियां मिलेंगी। फिलहाल उनका हौसला बढ़ाना शहर की 35 लाख जनता के लिए संजीवनी का काम कर रहा है। 

फरीदाबाद में कोरोना को हराने वालों की संख्या में लगातार इजाफा 

 

फरीदाबाद, 10 मई -*  जिला का कोरोना को हराकर बाउंस बैक करने का क्रम लगातार चौथे दिन आज सोमवार को भी जारी रहा। सोमवार को जिला में 2 हजार 355 लोग कोरोना को हराकर स्वस्थ हो अपने घरों को लौटे जबकि संक्रमण के 1 हजार 912 नए मामले सामने आए हैं।

लगातार चौथे दिन कोरोना को हराने वालों की संख्या संक्रमित से ज्यादा होने पर फरीदाबाद जिला वासियों ने राहत की सांस ली है। जिला वासियों को यह उम्मीद बंधी है कि अब सभी के सहयोग और सतर्कता से वैश्विक महामारी का प्रकोप जिला में धीरे-धीरे कम होता नजर आ रहा है। फरीदाबाद वासियों द्वारा सावधानी बरतने और लॉकडाउन बढाने की वजह से कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में कुछ हद तक सफलता मिली है।

स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार फरीदाबाद जिला में अब तक 486080 लोगों को अब तक सर्वेलांस पर रखा गया है। जिन्होंने 28 दिनों का सर्वेलांस पूरा कर लिया है उनकी संख्या 401707  हो गई है।

इसके अलावा 84373 कोराना पोजिटिव लोगों को सर्वेलांस पर रखा गया है। अब तक जिला फरीदाबाद में कोराना 89444 पोजिटिव केसों को विभिन्न अस्पतालों में दाखिल किया गया है। इनमें से 76175 लोग स्वस्थ होकर कोराना को मात दे चुके हैं।

उपायुक्त यशपाल ने बताया कि होम आईसोलेशन पर जिला मे 10773 लोगों को रखा गया है। जबकि एक्टिव केसों की संख्या 12685 है। कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं। जिला में कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर ब्रेक लगाने के लिए टेस्टिंग पर जोर दिया जा रहा है। जिला में पिछले 24 घंटे में 9 हजार 455 टेस्ट किए गए। जबकि अब तक जिला फरीदाबाद में 718261 लोगों ने अब तक टेस्ट करवाया गया। इनमें से 89444 लोग कोराना पोजिटिव पाए गए। जबकि 626960 लोग नेगेटिव मिले।

अब तक जिला में 1857 लोगों के रिजल्ट आने बाकी है। 

 जिला फरीदाबाद में आक्सीजन पर 889 केस है। वेन्टीलेटर पर 87 केस है।

 जिला में सैम्पल पोजिटिव रेट 12.5 प्रतिशत है।जबकि रिकवरी रेट 85.2 प्रतिशत। जिला मे एक्टिव केस रेट 14 प्रतिशत है।

इस महामारी को फैलने से रोकने के लिए टीकाकरण भी जोर शोर से किया जा रहा है। सोमवार को भी कोरोना रोधी वैक्सीन लगातार लगाई जा रही है।

आंकड़ों के अनुसार फरीदाबाद जिला में कुल एक्टिव केसों की संख्या 12685 है जिनमें से 10773 मरीज होम आइसोलेशन में है अर्थात वे अपने घर पर ही रह कर स्वस्थ हो रहे हैं। जिला फरीदाबाद वासी एक लाख लोगों में से 39903 लोग कोविड टेस्टिंग करवा रहे हैं।

उपायुक्त यशपाल ने फरीदाबाद जिला वासियों से अपील की है कि वे कोरोना को मात देने के लिए सावधानी बरतते रहें और कोशिश करें कि अपने घर के अंदर ही रहे। जब तक बहुत जरूरी ना हो, तब तक घर से बाहर ना निकले और बाहर निकलते समय अपने मुंह और नाक को कवर करते हुए फेस मास्क का प्रयोग अवश्य करें। इसके अलावा, एक दूसरे के बीच दो गज की दूरी जरूर रखें। कोरोना के बारे में कोई भी जानकारी लेनी हो तो कॉविड हेल्पलाइन नंबर 1950 पर डायल करें जो कि सप्ताह के सातों दिन 24 घंटे संचालित की जा रही है। इसके अलावा, जिला प्रशासन ने  मोबाइल नंबर पर व्हाट्सएप चैट बोट  के माध्यम से सूचनाएं देने की व्यवस्था भी की है।

 जिला फरीदाबाद के जिन क्षेत्रों में मामलों का पता चला है उनमें सैक्टर-37 के 18, सैक्टर-43 के 6, सैक्टर-9 के 22, सैक्टर-15 के 23, सैक्टर-10 के 13, सैक्टर-11 के 29, सैक्टर -14 के 5, सैक्टर-55 के 20, सैक्टर-32 के 8, सैक्टर-35 के 15, सैक्टर-34 के 8, सैक्टर-16 के 56, सैक्टर-19 के 24, सैक्टर-17 के 21, सैक्टर -21 के 48, इंद्रा कॉलोनी के 7, गांधी कॉलोनी के 5, एनआईटी -2 के 28, सैनिक कॉलोनी के 37, जवाहर कॉलोनी के 26,   सैक्टर -7  के 26, सैक्टर -8 के 39, एनआईटी-1  के18, सैक्टर-3 के 32, नाहर सिंह कॉलोनी के 4, सैक्टर-30 के 18, सैक्टर-31 के 14, सैक्टर-28 के 46, चावला कालोनी के 9, भगत सिंह कॉलोनी के 4, चिनसा के 26 धौज के 2, सैक्टर -86 के 36, सैक्टर -88 के 34,  सैक्टर-87 (

के 4,  सैक्टर-85 के 9, सैक्टर-84 के 9, सैक्टर -81 के 15,  सैक्टर-76 के 9, सैक्टर -77 के 9, सैक्टर -89 के 9,  सैक्टर-82 के 20, सैक्टर -75 के 3, सैक्टर -78 के 4, अमरनगर के 4, तिलपत के 3, तिगांव के 7, एनआईटी -5 के 4, तिरखा कॉलोनी के 5, सैक्टर-22 के 14,  सैक्टर-23 के 14, संजय कॉलोनी के 11, सूर्या नगर के 8, एसजीएम नगर के 44, सैक्टर -2 के 16, हरिकेशनगर  के 3, सैक्टर-33 के 2, आईपीसी कालोनी के 3 व अन्य -398 केसों सहित कुल 1347 केस शामिल हैं।

महामारी में फरीदाबाद के वार्ड-1 की जनता के लिए वरदान बनी डागर की डिस्पेंसरी 

  

फरीदाबाद-कॉरोनकाल जारी है और ऐसे में शहर के तमाम नेता जहां बिल में छुपे हैं तो कुछ नेता लगातार जनता की सेवा करते दिख रहे है। कोरोना के दूसरे चरण की शुरुआत में  वरिष्ठ भाजपा नेता मुकेश डागर ने वार्ड नंबर एक में एक डिस्पेंसरी का उद्घाटन करवाया था जहाँ अब तक वैक्सीन का सिलसिला जारी है और अब यहाँ  18 वर्ष से 44 वर्ष तक के आयु वर्ग कि कोविशील्ड के लोगों को भी वैक्सीन लगवाई जा रही है। अब तक सैकड़ों लोगों को यहाँ वैक्सीन लगाईं जा चुकी हैं ,

भाजपा नेता मुकेश डागर ने बताया कि कोरोना के टीके के काला बाजारी को रोकने के लिए केंद्र सरकार द्वारा डोज लगवाने के लिए रजिस्ट्रेशन ( 18 वर्ष से 44 ) अनिवार्य कर दिया गया है।  उन्होंने समस्त वार्ड वासियों से अपील की है  कि पहले रजिस्ट्रेशन करवाऐं ( 18 वर्ष से 44 ) उसके बाद आपको टीके के लिए आपके नम्बर पर मैसेज प्राप्त जिसके बाद आप टीका लगवा सकते हैं ||

मुकेश डागर ने बताया कि इस डिस्पेंसरी के राजीव कालोनी में खुलने से आसपास के हजारो लोगों को फायदा मिल रहा है और इस महामारी के दौरान कहीं बाहर जाना नहीं पड़ रहा है और ना ही कहीं लंबी-लंबी लाइनों की कतारों में खड़ा होना पड़ रहाँ है । यह डिस्पेंसरी इस महामारी में वार्ड न.1 व राजीव कॉलोनी के लोगों को एक नया जीवनदान दे रही है। उन्होंने कहा कि इस डिस्पेंसरी के लिए मैंने अथक प्रयास किया था और अब ये यहाँ की जनता के लिए किसी वरदान से कम  नहीं है। 

आपको ज्ञात हो केंद्रीय मंत्री व सांसद फरीदाबाद  कृष्ण पाल गुर्जर जी व कैबिनेट मंत्री व विधायक बल्लभगढ़ पंडित मूलचंद शर्मा   के आशीर्वाद से व   भाजपा नेता भाई मुकेश डागर  के अथक प्रयासों से इस डिस्पेंसरी का उद्घाटन  5 अप्रैल को केबिनेट मंत्री  पंडित मूलचंद शर्मा, मुकेश डागर और पार्षद सपना डागर ने किया था। ।

लॉकडाउन, फरीदाबाद के DC ने बताया, क्या खुला रहेगा क्या बंद कौन निकल सकता है घर से बाहर 

 

फरीदाबाद, 10 मई(   )-देश और प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार के निर्देशानुसार उपायुक्त एवं जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के चेयरमैन यशपाल ने  आदेश जारी करके लॉकडाऊन की अवधि को 10 मई से  बढ़ाकर 17 मई 2021 प्रात:काल 5 बजे तक कर दिया है। राज्य सरकार के निर्देशानुसार बढ़ाई गई लॉकडाऊन की इस अवधि को महामारी अलर्ट सुरक्षित हरियाणा का नाम दिया गया है।  

जिलाधीश ने बताया कि लॉकडाऊन की बढ़ाई गई इस अवधि में कुछ शर्तो में संशोधन भी किया गया है। उन्होंने कहा कि शादी या अन्य सामाजिक कार्यक्रमों में अब केवल 11 व्यक्ति शामिल हो सकते है। बारात के लिए अनुमति नही होगी, केवल घर पर या कोर्ट में अधिक से अधिक 11 लोगों की उपस्थिति के साथ शादी करने की अनुमति होगी। नए आदेशों के तहत दूध डेयरी और दूध से बने सामान से सम्बंधित दुकानें प्रात: 8 बजे से दोपहर एक बजे तक तथा सायं 6 बजे से 8 बजे तक खोलने की अनुमति होंगी।  उन्होंने बताया कि वन विभाग को सुखे पेड़ काटने की अनुमति दी गई है ताकि इस महामारी में नगर निगम यमुनानगर-जगाधरी और जिला प्रशासन को पर्याप्त मात्रा में सुखा ईंधन उपलब्ध हो सके।

यशपाल ने कहा कि 17 मई तक लोग अपने घरों में रहें। किसी भी व्यक्ति को बिना वजह बाहर घुमने, वाहन लेकर चलने और सार्वजनिक स्थलों पर इकठे  होने या टहलने की अनुमति नही होगी। आपात कालीन स्थिति या अत्याधिक आवश्यक होने पर सरल पोर्टल पर ऑन लाईन आवेदन करके अनुमति प्राप्त करने के उपरांत ही कोई भी व्यक्ति घर या शहर से बाहर जा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रशासन द्वारा लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए आवश्यक सामान की घर पर आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। 

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य और चिकित्सा सुविधाओं के लिए जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए है। इन नियंत्रण कक्षों पर कोई भी व्यक्ति कोरोना से सम्बंधित अथवा चिकित्सा से सम्बंधित अपनी समस्या बता सकता है और जिला प्रशासन द्वारा उस पर त्वरित कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने स्पष्ट किया की लाकडाऊन को लेकर शेष हिदायतें 3 मई को जारी किए गए आदेशों के अनुरूप ही रहेंगी। उन्होंने इन ओदशों की सख्ती से पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है और आदेशों की हिदायतों की पालना के लिए पुलिस और सिविल प्रशासन निरंतर चैकिंग भी कर रहा है। 

3 मई को जारी किए गए निर्देशों में जिन व्यक्तियों और सेवाओं को छूट दी गई है उनमें ऐसे लोग जो लॉ एंड आर्डर या आपात सेवाओं में तैनात होंगे। इनमें म्यूनिसिपल सेवाएं, पुलिस, सेना, सीआरपीएफ  के वर्दीधारी कर्मचारी, स्वास्थ्य, बिजली, अग्नि शमन, मीडियाकर्मी, कोविड-19 के अंतर्गत काम कर रहे सरकारी कर्मचारी शामिल हैं। इस अवधि के दौरान पहचान पत्र दिखाकर इन्हें आने-जाने में छूट मिल सकेगी। इसके अलावा किसी परीक्षा में शामिल होने के लिए या परीक्षा में ड्यूटी आदि पर जाने वाले लोगो को भी एडमिट कार्ड, पहचान पत्र दिखाकर आने-जाने में छूट रहेगी। आवश्यक वस्तुओं के निर्माण में लगे लोगों पर भी आने-जाने में कोई रोक नहीं होगी। जिला के अंदर व बाहर आवश्यक वस्तुओं को ले जा रहे वाहनों पर भी कोई रोक नहीं होगी। ऐसे कार्यों में लगे वाहनों को पास उपलब्ध करवाए जाएंगे। ये पास लोडिंग व अंलोडिंग के स्थानों की वैरीफिकेशन के बाद जारी होंगे।

जिलाधीश ने बताया कि नागरिक अस्पताल, पशु अस्पताल, सभी संबंधित मैडिकल सेवाएं, मैन्युफेक्चिरिंग और वितरण यूनिटस को भी छूट रहेगी। यह सुविधा सरकारी और निजी क्षेत्र के लिए लागू होगी इनमें डिस्पेंसरी, कैमिस्ट, फार्मेसी, जन औषधि केंद्र सहित और मेडिकल उपकरण की दुकानें, लेबोरेट्री ,फार्मा रिसर्च लैब, क्लिनिक, नर्सिंग होम, एम्बूलेंस आदि को काम करने की पहले की तरह छूट रहेगी। सभी स्वास्थ्यकर्मियों, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ ,अस्पताल की सहायता के लिए आवश्यक सेवाओं के लिए आवागमन की अनुमति रहेगी। इसके अलावा, जिन अन्य आवश्यक वाणिज्यक एवं निजि सेवाओं को छूट रहेगी उनमें टेली कम्यूनिकेशन, इंटरनेट सेवाएं, प्रसारण एवं केबल सेवाएं आईटी और आईटी संबंधी सेवाओं के अलावा, ई-कॉर्मस के माध्यम से आवश्क वस्तुओं की डिलीवरी को छूट रहेगी। इनमें भोजन, फार्मास्यूटिकल, मेडिकल उपकरण आदि की डिलीवरी शामिल हैं। पैट्रोल पंप, एलपीजी गैस आदि के स्टोर आउटलेट भी खुले रहेंगे। बिजली निर्माण, प्रसारण और वितरण संबंधी सेवाएं, कोल्ड स्टोर, वेयरहाउस, प्राइवेट सिक्योरिटी सर्विस के अलावा खेती से जुड़े कार्यो के लिए किसानों और मजदूरों के आवागमन पर छूट रहेेगी। 

उन्होंने बताया कि सभी शिक्षण संस्थान, प्रशिक्षण संस्थान, कोचिंग संस्थान आदि बंद रहेंगे। सभी सिनेमा हॉल मॉल्स, शॉपिंग काम्पलेक्स, जिम, खेल परिसर, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमैंट पार्क, थिएटर, बार एंड ऑडिटोरियम, एसैंबली हॉल और इसी तरह के अन्य स्थान बंद रहेंगे। उन्होंने बताया कि सभी सामाजिक, राजनीतिक, खेल और मनोरंजन, एकैडेमिक, सांस्कृतिक व धार्मिक कार्यक्रम या अन्य इकट्ठा हाने के कार्यक्रम बंद रहेंगे जब तक की इनकी अनुमति उपमंडल अधिकारी से न ली गई हो। उन्होंने बताया कि सभी धार्मिक पूजा स्थल जनता के लिए बंद रहेंगे। सभी धार्मिक सम्मेलन भी बंद रहेंगे।

जिलाधीश यशपाल  ने बताया कि रेस्टोरेंट और होटल आदि केवल होम डिलिवरी  के लिए खुले रहेंगे। उन्होंने बताया कि सड़क के किनारे ढ़ाबे और खाना खाने के स्टॉल व फल के स्टॉलों को केवल पार्सल के रूप में सामान देने की अनुमति होगी।

इस महामारी के दौरान फरीदाबाद की महापौर का कोई अता-पता नहीं- एडवोकेट राजेश खटाना

फरीदाबाद - फिलहाल शहर में कोरोना का कहर जारी है और सुरक्षित हरियाणा उर्फ़ लॉकडाउन चल रहा है। सब कुछ ठीक रहा तो जनवरी 2022 में नगर निगम चुनाव होंगे और शहर के बिजली के खम्भे  नेताओं के पोस्टरों से भर जायेंगे और खम्भों पर टंगे पोस्टरों में अधिकतर नेता हाथ जोड़े दिखेंगे और नीचे समाजसेवी जरूर लिखा दिखेगा। इस समय महामारी चल रही है और ये तथाकथित समाजसेवी बिलों में दुबके हैं। शहर में 40 पार्षद हैं और बहुत कम पार्षद ही लोगों की मदद करते दिख रहे हैं। 

युवा समाजसेवी एडवोकेट राजेश खटाना ने एक ट्वीट किया है जिसमे उन्होंने लिखा है कि प्रथम नागरिक ( महापौर ) फ़रीदाबाद को इस महामारी में जहाँ अपनी ज़िम्मेदारी निभानी चाहिए  वह उनका कुछ अता पता ही नहीं है शहर को सेनिटाइज  करवाने की कृपा करे ये मानवता की रक्षा का समय है।

फरीदाबाद की सभी 49 सरकारी अस्पतालों में लग रही है वैक्सीन, DC ने कहा अवश्य लगवाएं 

 

फरीदाबाद,10 मई।    उपायुक्त यशपाल ने बताया कि वैश्विक महामारी कोविड-19 के कोराना सक्रमण के बचाव के लिए वैक्सीन लगाने का कार्य सभी 49 सरकारी अस्पतालों में निरन्तर चल रहा है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि जिन लोगों ने कोराना बचाव का वैक्सीन नही लगवाया है अपने नजदीक सरकारी अस्पताल में जाकर यह वैक्सीन अवश्य लगवाए। यह वैक्सीन कोराना के संक्रमण के बचाव में कारगर साबित हो रही है।

 जिला चिकित्सा विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार बीके जिला नागरिक अस्पताल, ई.एस.आई. मेडिकल कॉलेज एनएच -3 फरीदाबाद और पीपीसी ईएसआई मेडिकल कॉलेज एनएच -3 फरीदाबाद मे प्रातः 10:00 बजे से सायं 4:00 बजे तक कोराना बचाव के वैक्सीन लगाए जा रहे हैं। इसी प्रकार

 एसडीएच बल्लभगढ़, 

 सीएचसी कुराली, सीएचसी  खेड़ी कलां, 

 पीएचसी पनेहरा खुर्द,  पीएचसी मोहना, पीएचसी दयालपुर, पीएचसी छाँयसा,  पीएचसी तिगांव, पीएचसी अनंगपुर,पीएचसी पल्ला, पीएचसी पाली,  पीएचसी धौज,  पीएचसी फतेहपुर तैग्गा, पीएचसी फतेहपुर बिलोच, पीएचसी सीकरी, 

एफआरयू-1सैक्टर-30 फरीदाबाद, एफआरयू -2 सैक्टर-3 बल्लभगढ, यूएचसी एसजीएम नगर , यूएचसी मुजेसर , यूएचसी संजय कॉलोनी,यूएचसी सेहतपुर, यूपीएचसी एसी नगर, यूपीएचसी आदर्श नगर, यूपीएचसी एत्मादपुर,  यूपीएचसी भारत कॉलोनी, यूपीएचसी भीम बस्ती, यूपीएचसी डबुआ कॉलोनी,

 यूपीएचसी हरि विहार, यूपीएचसी मेवाला महाराजपुर,  यूपीएचसी नंगला एनक्लेव,  यूपीएचसी प्रतापगढ़,  यूपीएचसी राजीव कॉलोनी, यूपीएचसी सुभाष कॉलोनी, यूपीएचसी शिव दुर्गा विहार,  यूपीएचसी सारण, सीडी सेक्टर- 7 ए, 

 सीडी सूरजकुंड, 

 ईएसआई -1 सेक्टर -27 बी फरीदाबाद , ईएसआई -2 सेक्टर -19 फरीदाबाद,  ईएसआई -3,

एनआईटी -5 फरीदाबाद, 

 ईएसआई -4 एनआईटी -1, ईएसआई -5 एनआईटी -2,

 ईएसआई -6 जवाहर कॉलोनी, ईएसआई -7 सेक्टर -8, 

 ईएसआई सैक्टर -55, ईएसआई -8 जीएच में कोविड-19 वैश्विक महामारी कोराना के बचाव के लिए वैक्सीन लगाए जा रहे हैं।

रेट लिस्ट न लगाने  वाले निजी अस्पतालों का रजिस्ट्रेशन केंसिल करके उनपर FIR दर्ज की जाएगी- शर्मा 

 

फरीदाबाद,10 मई।.      प्रदेश के परिवहन मंत्री मूलचन्द शर्मा ने सोमवार को बयान जारी करते हुए कहा है कि सरकार के आदेशों के अनुसार वैश्विक महामारी कोराना के इलाज की रेट लिस्ट न लगाने  वाले निजी अस्पतालों का रजिस्ट्रेशन केंसिल करके उनके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि शिकायत मिलने पर अस्पताल का पिछले 5 दिनों का रिकार्ड चैक किया जाएगा।  कैबिनेट मंत्री ने कहा कि फल,सब्जियों, किरयाना के समान और बाजार के अन्य समान पर मुनाफाखोरों के खिलाफ भी सरकार सख्ती से निपटेगी। उन्होंने कहा किप्रदेश की जनता की भलाई के लिए लॉक डाउन का समय बढाया गया है।

 कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा है कि प्रदेश की जनता को  ऑक्सीजन की कमी नही होगी।  प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल हर समय प्रदेश की जनता की भलाई  लिए कार्य कर रहे है।  

 हरियाणा के परिवहन, खनन एवं कौशल विकास विभाग के कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा है कि सरकार ने कोविड-19 के दूसरे चरण के हालातों के मद्देनजर लॉक डाउन  को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के अनुसार लॉकडाउन की उलंघना करने वाले के खिलाफ सख्ती से निपटा जाएगा।

  उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा है कि केवल जरूरी कार्य से ही घर से बाहर निकले । अपने मुंह पर सरकार द्वारा जारी हियदातों के अनुसार मुहं पर मास्क लगाना सुनिश्चित करें। सोशल डिस्टेंस रखें। बिना किसी काम के बेवजह सड़कों पर घूमते हुए या गाड़ियों तथा बाईकों पर घूमते हुए जो लोग पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

 कैबिनेट मंत्री ने कहा कि लोग अपने घरों में रहे और घरों में भी सोसल डिस्टेंस रखते सरकार द्वारा जारी हिदायतों की पालना करें। कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि किसी भी प्रकार की कालाबाजारी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। चाहे वह दवाइयों की हो, ऑक्सीजन गैस की हो या डेल्ली उपभोग के सामान की हो। जो भी व्यक्ति कालाबाजारी करते पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

 कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि अस्पताल हो या नर्सिंग होम हो उन्हें सरकार द्वारा जारी आदेशों के अनुसार रेट निर्धारित करके रेट लिस्ट चस्पा करनी होगी। उसमे बेड व डॉक्टर की फीस  सहित पूरे विवरण सहित रेट लिस्ट चस्पा करनी होगी। इसके अलावा परचून की दुकान, फल व सब्जी की दुकानें व रेहड़ी वालों को भी सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार रेट लिस्ट चस्पा करनी होगी और निर्धारित रेटों पर ही लोगों को सम्मान देना होगा। चाहे सेक्टर हो, कॉलोनी हो या बाजार हो जहां भी कोई दुकानदार रेट लिस्ट से अधिक दामों पर परचून का सामान या फल तथा सब्जियां व अन्य सामान बेचता पाया गया उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। शिकायत मिलने पर उसके खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया जाएगा।

  कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सरकार व जिला प्रशासन, चिकित्सा विभाग तथा अन्य विभागों के साथ तालमेल करके बेहतर तरीके से जिला में ऑक्सीजन गैस का वितरण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जिला फरीदाबाद को 4 टन ऑक्सीजन गैस अतिरिक्त देने की घोषणा की है। अब जिला में ऑक्सीजन गैस की कोई किल्लत नहीं रहने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दवाई पर कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाने के दिशा निर्देश अधिकारियों को भी दिए हैं।

रेहड़ियों पर फल सब्जी बेंचने वाले, परचून वाले लगाएं रेट लिस्ट वरना होगी कार्रवाई

 बल्लभगढ़,10 मई।       एसडीएम अपराजिता ने आज सोमवार को बल्लभगढ़ के विभिन्न क्षेत्रों में किरयाने की दुकानों और फल, सब्जी बेचने वाली रेडियो के रेटों की जांच की और उन्हें सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार दिशा निर्देश भी दिए।

एसडीएम कम इंसीडेंट कमांडर अपराजिता ने कहा है कि सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार रेहड़ियो पर फल व सब्जी विक्रेता और परचून की दुकानों पर डेली उपभोग का सामान बेचने वाले सभी दुकानदार अपनी-अपनी दुकानों और रेहड़ियो पर सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार रेट की सूची लगाना सुनिश्चित करें। सरकार द्वारा जारी आपदा प्रबंधन अधिनियम की हिदायतों के अनुसार ही रेहड़ियों पर फल व सब्जी बेचें और दुकानदार पर डेल्ली उपभोग के परचून का सामान भी सरकार द्वारा जारी निर्धारित रेटों पर ही बेचना सुनिश्चित करें। यदि कोई रेहड़ी चालक या दुकानदार सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार रेटों से अधिक रेटों पर फल व सब्जियां या डेल्ली उपभोग का सामान बेचता पाया गया तो उसके खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम के अनुसार सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

  इंसीडेंट कमांडर अपराजिता ने आमजन से अपील करते हुए कहा है कि वे सरकार द्वारा जारी आदेशों के अनुसार दुकानों और रेहड़ियो पर पहले चस्पा की गई रेट लिस्ट की जानकारी लें और उसके बाद ही फल, सब्जियां तथा सामान खरीदें। यदि कोई दुकानदार या रेहड़ी चालक  अधिक रेटों पर सामान, फल और सब्जी बेचता है, तो उसके उसकी शिकायत तुरंत सहायक खाद्य आपूर्ति नियंत्रक व एसडीएम कार्यालय में करें। शिकायत मिलने पर संबंधित दुकानदार या रेहड़ी चालक के खिलाफ तुरंत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।  फोटो कैप्शन -एसडीएम कम इंसीडेंट कमांडर अपराजिता परचून की दुकान का पर रेट लिस्ट का निरीक्षण कर दुकानदार को दिशा निर्देश देते हुए।

कोरोना संक्रमित मृतकों के कफ़न चुरा उनपर ब्रांडेड कंपनी का मार्क लगा मंहगे दामों पर बेंचते थे ये कलयुगी 

 

नई दिल्ली - देश में  कोरोना के नए  मामले कल चार लाख से कम आये लेकिन मौतें चार हजार के ऊपर ही रहीं। दुनिया के तमाम देश भारत की मदद कर रहे हैं लेकिन भारत में जो खेल कई जगहों पर खेला जा रहा है वो दिल को झकझोरकर रख दे रहा है। कहीं दवा इंजेक्शन की कालाबाजारी तो कहीं निजी अस्पतालों में बेतहाशा लूट चल रही है। देश भर में रोजाना सैकड़ों कालाबाजारी गिरफ्तार भी किये जा रहे हैं। एक बड़ी खबर उत्तर प्रदेश से आई जिसके बारे में शायद ही किसी ने सोंचा होगा। जानकारी के मुताबिक़ उत्तर प्रदेश के बागपत में श्मशान घाट और कब्रिस्तान से मृतकों के शवों से कपड़ों को चोरी कर उन्हें दोबारा बेचने वाला गिरोह पकड़ा गया है।  बड़ौत थाना पुलिस ने श्मशान से शवों के कफन चोरी कर दोबारा बेचने वाला एक गैंग गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने मास्टरमाइंड समेत सात लोगों को दबोचा है। ये लोग श्मशान से शव के ऊपर रहने वाले कफन के कपड़ों को चोरी करते थे। इसके बाद चोरी के कपड़ों को प्रेस कर दोबारा पैकिंग कर उन पर ग्वालियर कंपनी का मार्क लगाकर महंगे रेट में बेचते थे। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर छापा मारकर गैंग को पकड़ लिया। मौके से भारी मात्रा में चोरी किए गए कफन के कपड़े बरामद किए हैं।

गिरफ्तार आरोपियों में प्रवीण जैन पुत्र श्रीपाल जैन निवासी नई मंडी बड़ौत, आशीष जैन पुत्र उदित जैन निवासी नई मंडी बड़ौत, श्रवण कुमार शर्मा पुत्र राममोहन शर्मा निवासी ग्राम सबगा थाना छपरौली, ऋषभ जैन पुत्र अरविंद जैन निवासी पट्टी चौधरान खारी कुआं बड़ौत, राजू शर्मा पुत्र ईश्वर शर्मा निवासी फूस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत, बबलू पुत्र वेदप्रकाश कश्यप निवासी गुराना रोड बड़ौत, शाहरूख खान पुत्र मुबीन निवासी फूस वाली मस्जिद के पीछे बड़ौत शामिल हैं। 

सुरक्षित हरियाणा- घर या कोर्ट में कर सकते हैं शादी, अंतिम संस्कार में सिर्फ 11 लोगों को अनुमति

 

चंडीगढ़ - लॉकडाउन या कर्फ्यू शब्द तो लोगों को पता था लेकिन नए नाम के कारण लोग असमंजस में हैं और अपने जानकारों से पूंछ रहे हैं कि महामारी महामारी एलर्ट सुरक्षित हरियाणा में क्या खुला रहेगा क्या बंद और लगभग 12 घंटे हो गए अब तक सरकार ने विस्तृत रिपोर्ट नहीं जारी की है। लोग सड़को पर बेख़ौफ़ घूमने लगे हैं और उन्हें लगता है कि हरियाणा में लॉकडाउन ख़त्म हो गया। कल शाम शिक्षा मंत्री कंवर पाल ने खुद ट्वीट  करके कहा था कि लाकडाउन बढ़ाया नहीं गया है लोग अफवाह फैला रहे हैं, फेक न्यूज़ चला रहे हैं । कई शहरों में अधिकारियों की मेहनत फिरता दिख रहा है। अब तक सुरक्षित हरियाणा के बारे में अब तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक़  अब प्रदेश में शादी और अंतिम संस्कार में सिर्फ 11 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। 

अब  खुले में शादी समारोह पर पूर्ण रोक होगी सिर्फ घर या फिर कोर्ट में ही शादी करने की अनुमति होगी। बरात निकालने पर भी पाबंदी लगा दी गई है।  हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि राज्य में 10 से 17 मई तक के लिए सुरक्षित हरियाणा अभियान की घोषणा की गई है। इस दौरान कोरोना के प्रसार पर काबू पाने के लिए कठोर कदमों का पालन कराया जाएगा।  विस्तृत आदेश का अब भी इन्तजार है। वैसे नाम बदलने पर सरकार पर तंज भी कसा जा रहा है ,माखौल उड़ाया जा रहा है।