Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

ड्यूटी के दौरान अनियमितताएं बरतने वाले फरीदाबाद के 24 SPO बर्खास्त  किये गए 

 

फरीदाबाद: लंबे समय से गैरहाजिर रहने और पुलिस ड्यूटी के दौरान अनियमितताएं बरतने वाले 24 एसपीओ को पुलिस उपायुक्त डॉ अर्पित जैन के आदेश पर बर्खास्त कर दिया गया है। बर्खास्त किए गए एसपीओ फरीदाबाद के विभिन्न थानों में तैनात थे और काफी समय से गैरहाजिर चल रहे थे।

पुलिस उपायुक्त मुख्यालय ने आदेश जारी करते हुए इसकी जानकारी दें और बताया कि पुलिस ड्यूटी में तैनात कर्मचारी अनुशासन से बाधित होते हैं और उन्हें उच्च अधिकारियों के आदेशानुसार ही उन्हें कार्य करना होता है परंतु कुछ कर्मचारी अपनी ड्यूटी में लापरवाही बरतते हैं और लंबे समय तक गैर हाजिर रहते हैं।

पुलिस उपायुक्त ने इन आदेशों के माध्यम से जिले में कार्यरत सभी पुलिस कर्मचारियों को अपनी ड्यूटी का अनुशासन में रहकर निर्वाहन करने का संदेश दिया है।उन्होंने कहा कि अच्छा कार्य करने वाले कर्मचारियों को उच्च अधिकारियों द्वारा सम्मानित किया जाता है और आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ उचित कार्यवाही की जाती है।

उन्होंने कहा कि कोई भी पुलिसकर्मी अनुशासन की अवहेलना न करें और इमानदारी से अपने कर्तव्यों का निर्वाहन करके समाज में शांति व्यवस्था स्थापित करने में अपना सहयोग दें।

हरियाणा में खांसी, जुकाम, गला दर्द, बुखार वाले मरीजों का कोविड टैस्ट करवाया जाएगा- विज 

चंडीगढ़, 19 अप्रैल- हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री  अनिल विज ने कहा कि निजी व सरकारी अस्पतालों में जाने वाले खांसी, जुकाम, गला दर्द या बुखार जैसे लक्षणों वाले मरीजों का कोविड टैस्ट करवाया जाएगा ताकि मरीजों का समुचित उपचार किया जा सके। इसके साथ ही कोविड मामलों की बढोतरी के मद्देनजर राज्य के नागरिक अस्पतालों में सर्जरी को बंद किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने आज राज्य स्तरीय कोविड निगरानी समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि इसके साथ ही कुम्भ स्नान से लोटने वाले सभी श्रद्घालुओं का हरियाणा के सभी प्रवेश द्वार पर ही कोरोना टैस्ट करवाया जाएगा ताकि कोरोना से पीडित लोगों का अलग से उपचार किया जा सके। उन्होंने कहा कि हरियाणा के बार्डर पर जो किसान धरने पर बैठे हैं, स्वास्थ्य विभाग उनकी कोरोना जांच तथा टीकाकरण करने की पहल करेगा। इसके लिए पहले किसान नेताओं से बातचीत भी की जाएगी। इसके साथ ही शहरी स्थानीय निकाय विभाग को राज्य के सभी शहरों तथा पंचायत विभाग को सभी गांवों को सैनेटाइज करने की जिम्मेदारी दी है।

 विज ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के नियमानुसार राज्य में मेलों के आयोजनों पर आगामी आदेशों तक पाबन्दी रखना सुनिश्चित करें तथा सभी धार्मिक, राजनैतिक, सामाजिक तथा पारिवारिक समारोह में इन्डोर 50 तथा आऊटडोर में 200 से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र न होने दें। इसके साथ ही लोगों को मास्क लगाने, व्यक्तिगत दूरी बनाए रखने तथा कोरोना कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक सख्ती से लागू किया जाए। इसके लिए जिला स्तर पर भी निगरानी समितियों का गठन किया जाए। उन्होंने कहा कि राज्य में लॉकडाऊन नही लगाया जाएगा, इसलिए मजदूर वर्ग पलायन न करे।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना के गंभीर मरीजों की देखभाल के लिए राज्य के सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ‘क्रिटिकल कोरोना केयर सैन्टर’ बनाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही आयुष विभाग के चिकित्सकों का नियंत्रण संबंधित जिलों के सिविल सर्जन को दिया गया है ताकि कोरोना मरीजों की देखभाल और अच्छी प्रकार से की जा सके। विभाग द्वारा होम आइसोलेशन की किट तैयार करवाई जा रही है, जिसमें दवाइयां, प्लस ऑक्सिमीटर, कोरोना से बचाव संबंधी साहित्य व अन्य आवश्यक साम्रगी होगी। इन आयुष किटस की सहायता से चिकित्सक घर-घर जाकर कोरोना मरीजों की जांच एवं उपचार करेंगे। प्रदेश में 45086 क्वारंटाईन बैड, 11549 आइसोलेशन बैड में से करीब 89 प्रतिशत बैड खाली हैं, 2131 आईसीयू बैड में से 58 प्रतिशत खाली हैं, 1079 वेन्टीलेटर में से करीब 63 प्रतिशत खाली हैं। उन्होनें कहा कि राज्य में इस समय करीब 42 हजार कोरोना संक्रमित मामले हैं, जिनमें से करीब 30 हजार होम आईसोलेशन में है।

 विज ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन एवं रेमडेसिविर की कोई कमी नही है तथा राज्य के सभी अस्पतालों में रेमडेसिविर की आपूर्ति पर्याप्त मात्र में की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में 270 एमटी ऑक्सीजन की मात्रा उपलब्ध है, जबकि राज्य में 60 एमटी की खपत हो रही है। इसके साथ ही प्रदेश में सभी ऑक्सीजन प्लांटों पर पुलिस व औषध नियंत्रक प्रशासन को निगरानी रखने के आदेश दिए ताकि किसी भी प्रकार की कालाबाजारी न हो सके।

इस दौरान मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस डेसी ने कहा कि एनसीआर में बढ़ते मामलों पर नियमित तौर पर इस पर निगरानी रखने बल दिया जाए। मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन ने कहा कि कोरोना मामलों पर जिला अधिकारियों से सम्पर्क रखा जाए तथा तुरन्त निर्णय लिया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं समिति के सदस्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा ने कहा कि मंत्री जी के आदेशों को पूर्णत: समयबद्घ तरीके से पालन किया जाएगा तथा किसी भी प्रकार की लापरवाही नही होने दी जाएगी।

इस अवसर पर अतिरिक्त मुख्य सचिव आपदा प्रबन्धन श्री संजीव कौशल, अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रम विभाग श्री वी एस कुंडू, अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग श्री आलोक निगम, पुलिस महानिदेशक श्री मनोज यादव, उद्योग एवं वाणिज्य के प्रधान सचिव विजयेन्द्र कुमार, आयुष्मान भारत के सीईओ अमनीत पी कुमार, सूचना, जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डॉ. अमित अग्रवाल, एचएमएससीएल के प्रबन्धन निदेशक श्री साकेत कुमार, एमडी एनएचएम श्री प्रभजोत सिंह, चिकित्सा शिक्षा विभाग के निदेशक डॉ. शालीन, स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ वीना सिंह तथा राज्य औषध नियंत्रक श्री नरेन्द्र आहूजा सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

तिहाड़ जेल भेजे गए पुलिस से भिड़ने वाले पति-पत्नी, पति ने पत्नी पर उतारा गिरफ्तारी का गुस्सा

नई दिल्ली- दिल्ली पुलिस से बदतमीजी  करने वाली मैडम को भी आज गिरफ्तार कर लिया गया। पति को कल ही गिरफ्तार कर लिया गया था और अब जानकारी मिल रही है कि कोर्ट नव  पुलिसकर्मियों से बदतमीज़ी करने वाले पति-पत्नी को जमानत देने से मना कर दिया है । दोनों को तिहाड़ जेल भेजा गया है । दोनों को U/S 188/186/353/269/34 IPC r/w 51(B) Delhi Disaster Management Act के तहत गिरफ्तार किया गया था।दोनों की पहचान पश्चिम पटेल नगर के निवासी पंकज और उसकी पत्नी आभा के रूप में की गई है। 

मास्क न लगाने और पुलिस से अभद्रता करने के मामले में गिरफ्तार किए गए युवक ने अपनी पत्नी पर सारा गुस्सा निकाल दिया। मास्क न लगाने पर बवाल काटने वाले युवक ने आरोप लगाया कि उसकी पत्नी की वजह से उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया। पंकज का कहना था कि उसने पत्नी को मास्क लगाने के लिए कहा था, लेकिन उसकी पत्नी न तो खुद मास्क लगाया और न ही उसे लगाने दिया। यही नहीं पुलिस से भिड़ने के लिए भी उसकी पत्नी ने ही उसे उकसाया था।

फोन-पे’ ऐप के माध्यम से 1.50 लाख की जालसाजी करने वाले दबोचे गए 

 चंडीगढ, 19 अप्रैल- हरियाणा पुलिस ने पेट्रोल पंप संचालकों के साथ डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म ‘फोन-पे’ ऐप के माध्यम से की गई लगभग 1.50 लाख रुपये की जालसाजी को सफलतापूर्वक सुलझाते हुए इस सिलसिले में दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।

 हरियाणा पुलिस के प्रवक्ता ने आज जानकारी देते हुए बताया कि पकडे गए आरोपियों की पहचान फोन-पे कंपनी के कर्मचारी मोहड़ी जिला करनाल निवासी सुशील कुमार तथा सांकरा जिला कैथल निवासी विशाल के रूप में हुई है। आरोपियों से 5000 रुपये की नगदी, 2 मोबाइल फोन व एक मोटरसाइकिल भी बरामद की गई है।

 पुलिस को इस संबंध में कैथल के पेट्रोल पंप संचालक द्वारा मिली शिकायत पर जांच में पता चला कि पंप से तेल तो डलवाया गया लेकिन फोन-पे के माध्यम से किया गया भुगतान पंप मालिक के खाते में नहीं पहुंचा। जालसाजों ने 5 फ्रॉड ट्रांजैक्शन के द्वारा 15000 से अधिक रुपये अपने ही खाते में ट्रांसफर करवा लिए थे।

आरोपी सुशील फोन-पे कंपनी में कार्यरत है जो कैथल, करनाल व कुरुक्षेत्र जिलों में इच्छुक पेट्रोल पंपों पर फोन-पे क्यूआर कोड लगाने का कार्य करता है। पूछताछ में सुशील ने कबूल किया कि पैट्रोल पंपो पर क्यू आर कोड लगाते समय बैंक अकांउट व मोबाइल नंबर की डिटेल के अतिरिक्त फोन-पे कर्मचारी होने का फायदा उठाते हुए पंप के सेल्समैन को विश्वास में लेकर उनसे ओटीपी हासिल कर लेता था। आरोपियों ने बताया कि अक्टूबर 2020 से अप्रैल 2021 तक करीब 25 बोगस ट्रांजेक्शन दौरान लगभग 1.50 लाख रुपये जालसाजी करके हड़प चुके हैं ।

आरोपी सुशील ने अपनी आटा चक्की के नाम पर एक फोन-पे बिजनैस का खाता खोलकर अपने दो क्यूआर कोड लिए हुए थे। जालसाज पैट्रोल पंप पर जाकर अपने वाहन में तेल डलवाने उपरांत वहां के डिजिटल पेमैंट क्यूआर कोड को स्कैन करने का ढ़ोग रचते हुए अपने फोन में सेव किए गये आटा चक्की के क्यूआर कोड की मार्फत डिजिटल पेमैंट कर देते थे, जिनके साथ पंप पर फोन-पे लगाने उपरांत जालसाजी पूर्वक हासिल किए गये ओटीपी के द्वारा अटैच किए गये पंप प्रबंधक व सेल्समैन के फोन पर पेमैंट हासिल करने का एस.एम.एस. आ जाता, परंतु असल में वह राशि आरोपी सुशील के खाते में ही जमा होती थी।

 पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ कि कई बार आरोपी सेल्समैन से अपने पास कैश ना होने का अनुरोध करके अपनी बाइक में डलवाए गये तेल मूल्य के अलावा 5000-10000 रुपये की अतिरिक्त पेमेंट फोन-पे के माध्यम से बोगस ट्रांजेक्शन कर देते। जिसके तुरंत बाद सेल्समैन व फिलिंग स्टेशन के पास पहुंचे एसएमएस की मार्फत पुष्टि होने उपरांत सेल्समैन से शेष नकदी वापिस हासिल करके भी पंपों को चूना लगा रहे थे।

  पुलिस ने पेट्रोल पंप संचालकों सहित अन्य नागरिकों से आग्रह किया कि डिजिटल ट्रांजैक्शन करते समय सजगता का परिचय दें। किसी भी मामले में अपने मोबाइल फोन पर आए ओटीपी को किसी के साथ कभी भी शेयर ना करें। जागरूकता का परिचय देकर इस प्रकार के जालसाजों से आसानी से बचा जा सकता है।

पूरी तरह से सुरक्षित और असरदार है वैक्सीन- भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा फरीदाबाद

 

फरीदाबाद 18 अप्रैल  I आज भाजपा जिला कार्यालय सेक्टर-11 में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा फरीदाबाद के जिलाध्यक्ष पंकज सिंगला की अध्यक्षता में जिला पदाधिकारी एवं मंडल अध्यक्षों की एक बैठक सम्पन्न हुई जिसमें युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष मनीष यादव  के द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों के बारे में फरीदाबाद भाजयुमो कार्यकर्ताओं को विस्तार से बताया |  पंकज सिंगला ने कहा कि प्रदेश द्वारा दिए गए कार्य के लिए हम सभी कार्यकर्त्ताओं ने अपनी कमर कस ली है और इस सामाजिक पुनीत कार्य में अपनी स्वेच्छा से तन-मन और धन से कार्य करें और कोविड – 19 टीकाकरण एवं कोविड से सम्बंधित आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए कार्यकर्ताओं से कहा कि आप सभी अपने अपने क्षेत्र में कोविड से सम्बंधित समस्याओं को ध्यान में रखे और उन्हें जल्द से जल्द प्रसशान और संगठन की मदद से दूर करने के लिए तत्पर रहें | इन समस्याओं में जैसे टीकाकरण न होना,टीके के लिए बीमार या बुजुर्ग व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए ले जाना,लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करना,ब्लड डोनेशन करना,प्लाजा डोनेशन करना,एन्टी बॉडी प्लाज्मा डोनेट करना हो या अस्पताल में जा करके बीमार व्यक्तियों की सुविधाओं को पूर्ण कराना व बीमार या जरूरतमंद व्यक्तियों के परिवार वालों को सुविधाएँ उपलब्ध कराना हो | सेवा ही संगठन के तहत भाजपा व भाजयुमों कार्यकर्ता जगह जगह कैम्प आयोजित करके लोगों को टीका लगवा रहें हैं I भारत में बनी वैक्सीन देश के प्रतिभाशाली वैज्ञानिकों द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत तैयार की गई  है जो पूरी तरह से सुरक्षित और असरदार है, इसलिए बिना किसी संकोच के टीका अवश्य लगवाएं I देश और प्रदेश की सरकार लोगों की जान की परवाह करते हुए  लोगों को नि:शुल्क टीका लगा रही है ताकि कोरोना से लोगों की जान  बचाई  जा सके I कोरोना महामारी का संक्रमण दोबारा तीव्र गति से फैल रहा है इसलिए सभी के लिए टीका लगवाना ज़रूरी है  I टीका लगवाने  के बाद भी मास्क ज़रूर लगाए, सोशल डिस्टन्सिंग का पालन करें और ज़रूरी एहतियात बरतें I 

गोपाल शर्मा ने कहा कि बिना किसी आवश्यक कार्य के इधर उधर ना घूमें I आपका एक ग़लत कदम आपकी और आपके परिवार की ज़िंदगी के लिए ख़तरनाक हो सकता है I सरकार कोरोना महामारी से निपटने के लिए योजनाबद्ध तरीक़े से काम कर रही है इसलिए सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करें I उन्होंने कहा कि हरियाणा  में नाइट कर्फ़्यू लगाया गया है उसका खुद पालन करें और दूसरों से पालन करवाएँ I इस अवसर पर महामंत्री सचिन ठाकुर,योगेश तेवतिया,ज्ञानेन्द्र भारद्वाज,मोहित नागर,मनीष कुमार,जिला सचिव कृष्ण आर्य,कार्तिक वशिष्ठ,मनीष यादव,सौरभ जिला कोषाध्यक्ष कुलदीप गुप्ता जी िडिया प्रभारी मुकुल चौपडा,जिला आई.टी व सोशल मिडिया प्रभारी अनिकेत सिंह,सह संयोजक कॉलेजसआउटर रिच कमेटी पूरव भडाना,जिला कार्यालय सचिव धर्मेन्द्र भाटी,मंडल अध्यक्ष सुशील सेठिया,रविन्द्र सिंह,कपिल दीक्षित,मनीष बत्तरा,दीपक यादव,रिषी मिश्रा, आदेश यादव नवीन सैनी,सन्नी कुमार व अन्य कार्यकर्त्ता मौजूद रहे |

कृष्णपाल गुर्जर ने कोरोना की दूसरी डोज़ लेकर लोगो को किया सम्बोधित 

 फरीदाबाद, 19 अप्रैल। कोरोना के इस दौर में जरा सी असावधानी व्यक्ति को संकट में डाल सकती है। इसलिए व्यक्ति को कोरोना को ध्यान मे रखते हुए अपने व अपने परिवार के स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखना चाहिए। यह विचार केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज सेक्टर-30 सरकारी हॉस्पिटल के प्रांगण में कोरोना की अपनी दूसरी डोज को लेने के अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहे।

 उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के दिशा-निर्देशानुसार जिन लोगों को पात्रता अनुसार कोविड-19 का टीकाकरण करवाया जाना है। वह इस बात को गंभीरता से लें और अपना टीकाकरण जरूर करवाएं और इसकी दोनों डोज समय रहते जरूर ले। उल्लेखनीय है कि केंद्र सामाजिक न्याय अधिकारिता राज्य मंत्री ने गत 4 मार्च को अपनी टीकाकरण की पहली डोज ली थी और उसके उपरांत चिकित्सा जांच उपरांत आज 19 मार्च को उनकी दूसरी डोज उन्हें दी गई। 

इस अवसर पर उनके निजी सचिव कौशल बाटला, समर्थक बाबूराम नम्बरदार, जयदेव ने भी टीका करण करवा के डोज ली। इस अवसर पर उन्होंने आमजन से अपील की है कि वे कोरोना महामारी के इस दौर में अपने खान-पान सहित अपनी दैनिक दिनचर्या में कोरोना से जुड़ी सावधानी का अवश्य ध्यान रखें और अपने अपने परिवार को इस संबंध में जागरूक करते रहे।

 इस अवसर पर उन्होंने आमजन से यह भी अपील की कि वे कोरोना ग्रस्त होकर ठीक होने के उपरांत अपने आस-पास के लोगों को जरूरत पड़ने पर अपना प्लाज्मा डोनेट करने हेतु अवश्य आगे आए ताकि कोरोना काल में प्लाज्मा डोनेशन से अन्य लोगों को कोरोना के होने वाले बुरे प्रभाव से बचाया जा सके। जिसके अंतर्गत कोरोना मरीज को प्लाज्मा देने से न घबराएं। यह सेवा व दान के दृष्टिगत पूरी तरह सुरक्षित है। कोरोना मरीज को प्लाज्मा देने से न घबराए ओर खुद को एक सच्चा कोरोना वारियर्स के तौर पर समाज में स्थापित करें ताकि अन्य लोग भी आपके प्रयासों से प्रेरणा ले सके। वायरस की चपेट में आए मरीजों को ठीक करने के लिए प्लाज्मा थेरेपी को चिकित्सा के तौर पर सफलता के साथ अपनाया जा रहा है। जिसके तहत कई कोरोना के मरीजों को प्लाज्मा थेरेपी दी जा चुकी है। काफी मामलों में इसके परिणाम भी सकारात्मक मिले हैं। यही वजह है कि समय व जरूरत पड़ने पर कोरोना मरीजों के परिजन प्लाज़्मा डोनर की तलाश करते दिखाई दे रहे हैं। जबकि प्लाज्मा दान करने के लिए लोग आगे नहीं आ रहे हैं।

 उल्लेखनीय है कि हमारे खून में चार प्रमुख चीजें होती हैं: डब्ल्यूबीसी, आरबीसी, प्लेटलेट्स और प्लाज्मा; आजकल किसी को भी होल ब्लड (चारों सहित) नहीं चढ़ाया जाता बल्कि इन्हें अलग-अलग करके जिसे जिस चीज की ज़रूरत हो वो चढ़ाया जाता है। प्लाज्मा, खून में मौजूद 55 फीसदी से ज्यादा हल्के पीले रंग का पदार्थ होता है। जिसमें पानी, नमक और अन्य एंजाइम्स होते हैं। ऐसे में किसी भी स्वस्थ मरीज जिसमें एंटीबॉडीज़ विकसित हो चुकी हैं, का प्लाज़्मा निकालकर दूसरे व्यक्ति को चढ़ाना ही प्लाज्मा थेरेपी है। जो लोग कोरोना होने के बाद ठीक हो चुके हैं। उनके अंदर एंटीबॉडीज विकसित हो चुकी होती हैं सिर्फ वे ही लोग ठीक होने के 28 दिन बाद प्लाज्मा दान कर सकते हैं। प्लाज्मा देने वाले को कोई खतरा नहीं है, बल्कि यह रक्तदान से भी ज्यादा सरल और सुरक्षित है। प्लाज्मा दान करने में डर की कोई बात नहीं है। हीमोग्लोबिन भी नहीं गिरता. प्लाज्मा दान करने के बाद सिर्फ एक-दो गिलास पानी पीकर ही वापस पहली स्थिति में आ सकते हैं। रक्तदान में आपके शरीर से पूरा खून लिया जाता है, जबकि प्लाज्मा में आपके खून से सिर्फ प्लाज्मा लिया जाता है और रेड ब्लड सेल्स, व्हाइट ब्लड सेल्स और प्लेटलेट्स वापस आपके शरीर में पहुंचाए जाते हैं। ऐसे में प्लाज्मा दान से शरीर पर कोई बहुत फर्क नहीं पड़ता।

बिजली विभाग द्वारा लागू एसीडी की रोक पर माकपा ने किया विरोध प्रदर्शन   

भिवानी, 19 अप्रैल 2021,  भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) जिला कमेटी भिवानी ने बिजली विभाग द्वारा एसीडी ( अग्रिम खपत जमानत राशी) योजना के विरोध में एक्शन कार्यालय भिवानी पर विरोध प्रदर्शन किया व बिजली मत्री रणजीत सिंह के नाम ज्ञापन भेजकर तुरन्त प्रभाव से इसे वापिस लेने की मांग की। विरोध प्रदर्शन की अध्यक्षता पार्टी नेता सज्जन सिंगला ने की।

इस मौके पर सभा को सम्बोधित करते हुए माकपा जिला सचिव कामरेड ओमप्रकाश व सचिव मण्डल सदस्य अनिल कुमार ने बताया की पहले नोटबंदी व जीएसटी ने आम आदमी की कमर तोड दी थी। अब  कोरोना के कारण लगे लोकडाउन के चलते गरीब आदमी के धंधे चौपट हो गए हैं। वही दूसरी ओर डीजल-पट्रोल व रसोई गैस के दाम लगातार बढ़ रहे हैं वही इसके प्रभाव के चलते बस व रेल भाडो में बेतहासा बढौतरी हो गई है। महंगाई लगातार आसमान छु रही हैं। ऐसे समय में कोरोना की दूसरी लहर के चलते के कारण जहां गरीब आदमी का गुजर बसर मुश्किल हो गया था ऐसे समय में बिजली विभाग द्वारा एसीडी ( अग्रिम खपत जमानत राशी) लागू करके एक वर्ष में चार माह की अग्रिम राशी जोडकर बिल के साथ भेजने की योजना गरीब आदमी का कचूमर निकालने का कदम हैं।

आज के विरोध प्रदर्शन को माकपा नेता करतार ग्रेवाल, सुखदेव पालवास, सन्तोष देशवाल, सरोज श्योराण, रतन जिंदल, आजाद सिवाच, सुभाष कोशिक, मनोहर आलमपुर, बलबीर बजाड, दिलबाग ग्रेवाल, दिलबाग ढुल, रतन सिंह  बडेसरा, ओमप्रकाश घुसकानी, राजेन्द्र तंवर आदि ने सम्बोधित किया

मूलचंद शर्मा ने सेक्टर - 2 में किया पुलिस चौकी का उद्द्घाटन 

चंडीगढ़, 18 अप्रैल- हरियाणा के परिवहन तथा खान एवं भूविज्ञान मंत्री मूलचंद शर्मा ने आज बल्लभगढ़ के सेक्टर-2 में पुलिस चौकी का उद्घाटन किया। चौकी का उद्घाटन करने उपरांत मूलचंद शर्मा ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र की सुरक्षा और विकास की जो जिम्मेदारी मुझे आम जनता ने सौंपी है, मैं उस पर खरा उतरने का प्रयास कर रहा हूं। सेक्टर-2 के निवासियों की सुरक्षा के लिए यह चौकी बनाई गई है। इसके अलावा, नजदीक ही महिला कॉलेज बन रहा है और मार्किट तथा बड़ा पार्क भी इसके नजदीक है। उन्होंने कहा कि इस इलाके में कई हाउसिंग सोसायटियों, चावला कॉलोनी, नेशनल हाईवे बाईपास सहित अन्य स्थानों पर लोगों की सुरक्षा और कानून व्यवस्था बनाए रखने के नाते इस चौकी का निर्माण किया गया है।

 इसके बाद परिवहन मंत्री ने सेक्टर-2 में ही वीटा मिल्क प्लांट रोड स्थित बूस्टिंग स्टेशन पर एक नये ट्यूबवैल के कार्य का भी शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि इस समय शहर में पर्याप्त मात्रा में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध है और गर्मी के मौसम में भी इसकी कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी। इसके लिए सरकार द्वारा पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं।  इसके अलावा, मूलचंद शर्मा ने तिगांव रोड सेक्टर-3 स्थित डिस्पोजल का भी दौरा किया और अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। एसीपी जयबीर राठी ने बताया कि सैक्टर-2 पुलिस चौकी में 4 प्लस 1 का स्टाफ मौजूद रहेगा। इसमें एक एएसआई रैंक का अधिकारी व चार अन्य पुलिस कर्मचारी तैनात होंगे।

करोड़ों की ग्रांट से पृथला क्षेत्र में होंगे अभूतपूर्व विकास कार्य : नयनपाल रावत

फरीदाबाद। हरियाणा भंडारण निगम के चेयरमैन एवं पृथला क्षेत्र के विधायक नयनपाल रावत ने कहा है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा दी गई करोड़ों रूपए की ग्रांट से पृथला क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास कार्य करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार की किसान समृद्ध योजना के तहत जहां गांवों में बारातघर, सामुदायिक केंद्र, श्मशान घाट, टूटे हुए रास्ते, टूटी हुई सडक़ें चाहे वह पीडब्ल्यूडी विभाग की है या फिर पंचायत की हो, सभी को जल्द नए सिरे से बनवाया जाएगा। इसके अलावा क्षेत्र में व्याप्त समस्याओं का एस्टीमेट बनाकर भेजा जाएगा ताकि लोगों की समस्याओं का जल्द से जल्द निजात हो सके और विकास कार्य भी बेहतर तरीके से सम्पन्न हो सके। 

विधायक नयनपाल रावत ने रविवार को सेक्टर-15ए स्थित निवास पर क्षेत्र के विभिन्न गांवों से आए सरपंचों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान विधायक नयनपाल रावत ने गांवों के सरपंचों से क्षेत्र के विकास पर चर्चा की और गहराई से विचार विमर्श किया तथा उनसे कहा कि उनके गांवों में जो-जो समस्याएं है, उसका एस्टीमेट बनाकर उन्हें दें ताकि उन समस्याओं का समाधान किया जा सके। रावत कहा कि क्षेत्र का विकास करवाना उनकी पहली प्राथमिकता है और सभी गांवों में विकास कार्य समान रूप से हो, इसके लिए वह निरंतर प्रयासरत है। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री लगातार ग्रामीण क्षेत्र के विकास के लिए कार्य कर रहे हैं ग्रामीण क्षेत्र में जो भी समस्याएं हैं चाहे वह सडक़ है या फिर पानी की परेशानी है उन सभी का जल्द ही समाधान किया जाएगा। किसान आंदोलन को लेकर विधायक नयनपाल रावत ने कहा कि जनहित में किसानों को अब धरना समाप्त कर देना चाहिए क्योंकि माननीय सुप्रीम कोर्ट और सरकार ने पहले ही इन कानूनों को डेढ़ साल के लिए होल्ड कर दिया है इसलिए उन्हें उम्मीद है कि अब जल्द ही यह मामला सुलझ जाएगा क्योंकि किसान भी धरने को लेकर काफी दिन से परेशान हैं और धरने की वजह से आम लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा है।

 देश-प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण पर चिंता जताते हुए विधायक नयनपाल रावत ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर निरंतर जोर पकड़ती जा रही है, इसलिए किसान हो चाहे आम आदमी सभी को कोरोना वैक्सीनेशन अवश्य करवाना चाहिए। इसके अलावा मास्क लगाना, दो गज की दूसरी और बार-बार हाथ धोना व सेनिटाईजर का प्रयोग करने जैसी सावधानियों की सख्ती से पालना की जानी चाहिए क्योंकि यह बीमारी विकराल रूप लेती जा रही है और जागरूक रहकर ही इस पर विजय हासिल की जा सकती है। इस अवसर पर नरेश कुमार सरपंच जल्हाका, ओमवीर सरपंच आमरू, मुकेश कुमार हीरापुर, कृष्ण अमरपुर, राजेश कटेसरा, देवेंद्र हरफली, रमेश कौशिक जुन्हेडा, अमीर घाघोट, मोहम्मद रज्जाक सोफ्ता,  अख्तर हुसैन अटेरना, सतबीर सहराला, बबली अलावलपुर, नाहर सिंह भाटी शाहजहांपुर, नन्द किशोर शर्मा पूर्व सरपंच सागरपुर, गुलशन नंगला जोगियान चमन प्रकाश गडखेड़ा, बंसी लाल सदरपुर, मुकेश पृथला, रमेश चन्द जवां, महिपाल देवली, सागर केल गांव, विनोद कुमार डुंडसा, रण सिंह सरूरपुर, देविंदर मांदकोल, प्रेम सिंह जाजरु, कृष्णपाल मलेरना, राजेश शर्मा हरफला, दानी पूर्व सरपंच मोहना, नासिर सरपंच बिजोपुर, निसार अहमद सरपंच खंदावली, नवल सिंह सरपंच मीरापुर, निशांत सरपंच दयालपुर, कंवर तारा चन्द भाटी साहुपुरा खादर सहित अनेकों गणमान्य लोग मौजूद थे। 

Faridabad- डीसीपी हेडक्वार्टर अंशु सिंगला ने फील्ड में जाकर की पुलिस नाकों की चेकिंग

 

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त  ओपी सिंह ने कोरोना के बढ़ते प्रभाव के मद्देनजर लोगों द्वारा कोविड-19 नियमों का सख्ती से पालन करवाने के निर्देश दिए हैं। कोरोना पर नियंत्रण के इस अभियान में पुलिस द्वारा लोगों को अधिक से अधिक जागरूक किया जा रहा है और वही नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों का बड़ी मात्रा में चालान काटे जा रहे हैं।

डीसीपी हेडक्वार्टर अंशु सिंगला ने फरीदाबाद के विभिन्न पुलिस नाकों व कंटेनमेंट जोन में जाकर पुलिसकर्मियों द्वारा करवाए जा रहे कॉविड नियमों की समीक्षा की और उन्हें नाइट कर्फ्यू से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि कोरोना का दूसरा फेस ज्यादा खतरनाक है, इसीलिए पुलिसकर्मी ड्यूटी के दौरान स्वयं भी इन नियमों का पालन करें ताकि वह भी अपने आप को इस महामारी से बचाकर अपने साथ-साथ अपने परिवार को भी सुरक्षित रख सकें।

बीट व कंटेनमेंट जोन में तैनात पुलिस कर्मचारियों द्वारा अधिक से अधिक लोगों को मास्क पहनने, सैनिटाइजर का उपयोग करने तथा अनावश्यक रूप से घर से बाहर न निकलने की हिदायत दी जा रही है ताकि अधिक से अधिक लोगों को संक्रमण से बचाया जा सके।

 अंशु सिंगला ने बताया कि कोरोना की वैक्सिंन अस्पतालों में उपलब्ध है और यह पूरी तरह सुरक्षित है। इसलिए ज्यादा से ज्यादा लोग टीकाकरण करवाएं और इस महामारी से बचने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन करें। फरीदाबाद में कुल 36 कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए हैं  जिसमें अधिक से अधिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। सहायक पुलिस आयुक्त स्तर के अधिकारी को पुलिस कंट्रोल रूम में तैनात किया गया है जिनके द्वारा पुलिस कंट्रोल रूम में निगरानी रखी जा रही है।

नवीनतम आंकड़ों के अनुसार पुलिस ने कल जनसंपर्क, नुक्कड़ सभाएं और वीडियो के माध्यम से, 7733 लोगों को कोरौना महामारी से बचने के उपायों के प्रति जागरूक किया वहीं पुलिस अभी तक 6 नवंबर 2020 से 690826 लोगों को जागरूक कर चुकी है।

झुग्गी झोपड़ी वह सल्म एरिया में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को पुलिस द्वारा मास्क बांटकर जागरूक किया जा रहा है। नवीनतम आंकड़ों के अनुसार पुलिस ने बीते 3 दिनों में 12129 लोगों को फेस मास्क बांटकर उन्हें मास्क पहनने के लिए प्रोत्साहित किया गया है। सरकार द्वारा जारी नाइट कर्फ्यू से संबंधित दिशानिर्देशों के तहत लोगों को रात्रि के दौरान बिना आवश्यक कार्य के घर से बाहर न निकलने का संदेश लोगों तक पहुंचाया जा रहा है।

बाजार, शॉपिंग मॉल, बस स्टैंड, सब्जी मंडी, अनाज मंडी जैसे ज्यादा भीड़-भाड़ वाले इलाकों में संक्रमण फैलने का खतरा अधिक होता है क्योंकि इस महामारी से प्रभावित व्यक्ति यदि ऐसी जगह पर भ्रमण कर रहे हो तो यह महामारी बहुत बड़ी संख्या में लोगों को प्रभावित कर सकती है।

इसी को ध्यान में रखते हुए पुलिस द्वारा ऐसे स्थानों की विशेष रूप से निगरानी की जा रही है ताकि ऐसी जगहों पर ज्यादा भीड़ एकत्रित न हो और लोगों को संक्रमण से बचाया जा सके।

नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों के बड़ी संख्या में मास्क के चालान काटे जा रहे हैं। फरीदाबाद पुलिस द्वारा कल 2033 लोगों के मास्क का चालान करते हुए 10 लाख 16 हजार 5 सौ रुपए का राजस्व एकत्रित किया वहीं अभी तक कुल 1 लाख 4 हजार 7 सौ 61 लोगों का चालान काटा जा चुका है जिसके तहत 5 करोड़ 23 लाख 80 हजार 5 सौ रुपए का राजस्व एकत्रित किया गया है।

पुलिस आयुक्त श्री ओपी सिंह ने कहा कि नागरिक अपने साथ साथ दूसरे लोगों को भी कोरोना से बचने के लिए उचित सावधानियों के बारे में जागरूक करें और कोरोना महामारी को फैलने से रोकने में पुलिस प्रशासन का सहयोग करें।