Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Recent PostAll the recent news you need to know

Haryana- सिंगल फेज सोलर मीटर 1759- रुपये में, थ्री फेज सोलर मीटर 3135- रुपये में


चंडीगढ़, 25 सितम्बर- दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम ने हरियाणा के सौर ऊर्जा बिजली उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए एक अधिसूचना जारी की है जिसके अनुसार उपभोक्ताओं को कंपनी द्वारा अधिकृत दुकानदारों के माध्यम से सोलर मीटर उपलब्ध करवाए जाएंगे।

दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम के एक प्रवक्ता ने आज यह जानकारी देते हुए बताया कि सौर ऊर्जा उपकरणों पर लगने वाले बिजली मीटरों की उपलब्धता सुगम बनाने के लिए विभाग ने तीन कंपनियों को अधिकृत किया है। ये कंपनियां बिजली उपभोक्ताओं को विभाग द्वारा निश्चित की गई दरों पर मीटर उपलब्ध करवाएंगी, जिससे कि दुकानदार अब इन मीटरों की मनमानी कीमत वसूल नहीं कर सकेंगे।

        उन्होंने बताया कि इस अधिसूचना के अनुसार उपभोक्ताओं को सिंगल फेज सोलर मीटर 1759- रुपये में, थ्री फेज सोलर मीटर 3135- रुपये में, छोटे उद्योगों पर लगने वाले सोलर मीटर 3630- रुपये में और बड़े उद्योगों पर लगने वाले सोलर मीटर 21450- रुपये में कंपनी द्वारा अधिकृत दुकानदारों के माध्यम से उपलब्ध करवाए जाएंगे। उपभोक्ताओं की जानकारी के लिए कंपनी द्वारा मीटर की कीमत मीटर के ऊपर भी अंकित की जाएगी ताकि दुकानदार इन मीटरों की ज्यादा कीमत नहीं वसूल सके। उन्होंने बताया कि निर्धारित कीमत से ज्यादा कीमत पर मीटर बेचने वाली कंपनी पर विभाग द्वारा उचित कार्रवाई की जाएगी।

हरियाणा में वीटा के बूथों पर अब सब्जियां और फल भी मिलेंगे


चंडीगढ़, 25 सितंबर- हरियाणा में डेयरी क्षेत्र को और बढ़ावा देने तथा वीटा को उत्तर भारत में एक अग्रणी ब्रांड बनाने के लिए हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लिमिटेड (एचडीडीसीएफ) ने अपने वितरकों, बूथ धारकों और डेयरी किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए आज विभिन्न योजनाओं की घोषणा की है।

        सहकारिता मंत्री श्री बनवारी लाल ने बताया कि आज घोषित योजनाओं में वीटा मिल्क वितरकों के लिए प्रोत्साहन शामिल है। यह प्रोत्साहन 10 पैसे से 25 पैसे प्रति लीटर तक होगा और यह उन वितरकों को दिया जाएगा, जो औसत बिक्री से 5 से 15 प्रतिशत अधिक बिक्री के लक्ष्य को प्राप्त करेंगे। उन्होंने कहा कि इस योजना का उद्देश्य बिक्री में वृद्धि करना और कोरोना महामारी के कारण विपरीत परिस्थितियों से गुजर रहे वितरकों को राहत प्रदान करना है।

उन्होंने कहा कि एक अन्य पहल करते हुए प्रसंघ ने वीटा बूथों पर ताजा सब्जियों और फलों की बिक्री की अनुमति दी है। ग्राहकों और बूथ मालिकों की लंबे समय से मांग को पूरा करते हुए ताजा सब्जियां और फल अब 1 अक्तूबर, 2020 से वीटा बूथों पर उपलब्ध होंगे।

        सहकारिता विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल ने बताया कि यह पहल ओवरहॉलिंग रणनीति का हिस्सा है, जिसका उद्देश्य वीटा बूथों पर ग्राहकों की संख्या में वृद्धि करना और लाभ को बढ़ाना है। उन्होंने बताया कि महिला सशक्तीकरण पर अधिक बल देते हुए, हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लिमिटेड ने बूथ आवंटन नीति में महिलाओं और युद्ध में शहादत प्राप्त सैनिकों की विधवाओं के लिए 15 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की है। इस पहल से महिलाओं को पर्याप्त अवसर प्रदान होंगे, जो राज्य सरकार की महिला उद्यमिता को बढ़ावा देने की दिशा में एक कदम साबित होगा। साथ ही, बूथ आवंटन में दिव्यांगों (सभी प्रकार की  दिव्यांगता) के लिए 15 प्रतिशत और दुग्ध उत्पादकों के वार्ड के लिए 20 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की गई है।

उन्होंने बताया कि उक्त योजनाओं के साथ-साथ प्रसंघ अपने सदस्यों का विस्तार करने के लिए भी तैयार है। वर्तमान में, हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लिमिटेड 3300 से अधिक सक्रिय दुग्ध सहकारी समितियां हैं, जिनसे राज्य के 1 लाख डेयरी किसान जुड़े हुए हैं। प्रसंघ का लक्ष्य इस नेटवर्क का विस्तार करना है, जिसके लिए पहले ही आवेदन आमंत्रित किए जा चुके हैं। इस पहल से दूध की खरीद बढ़ाने और ज्यादा से ज्यादा डेयरी किसानों को कवर करने में मदद मिलेगी।

हरियाणा डेयरी विकास सहकारी प्रसंघ लिमिटेड के प्रबंध निदेशक श्री ए. श्रीनिवास ने बताया कि प्रसंघ वीटा ब्रांड को और पहुंच दिलाने और बिक्री बढ़ाने के लिए विभिन्न पहलुओं पर भी काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि ग्राहक आने वाले महीनों में वीटा उत्पादों की उत्पाद रेंज, गुणवत्ता और पैकेजिंग में बदलाव देखेंगे।

अब लोगों की जान लेने लगी देश की सबसे घटिया अंधेर नगरी फरीदाबाद की एक सड़क 


फरीदाबाद- अंधेर नगरी बन चुके फरीदाबाद में अब कुछ सड़कें लोगों की जान लेने लगीं हैं। शहर की एक मुख्य सड़क ने आज एक व्यक्ति की जान ले ली। प्याली-हार्डवेयर रोड जिसमे हमने देश की सबसे घटिया सड़क उस दिन बताया था जिस दिन हमने उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़- अमेठी, सुल्तानपुर से लेकर लखनऊ तक की सड़कों को लाइव दिखाया था। 700 किलोमीटर की यात्रा के दौरान हमें सबसे ज्यादा घटिया सड़क फरीदाबाद के हार्डवेयर चौक से प्याली तक की दिखी। इस सड़क के लिए कई साल पहले कुछ समाजसेवी संगठनों ने आंदोलन तक किया था और कई दिनों तक आंदोलन चला था लेकिन कहावत है, अंधेर नगरी, अनबूझ राजा वाली जो सत्य है। नेता बड़े-बड़े दावे करते हैं। शहर को कागजों पर स्मार्ट सिटी बना दिया जाता है और करोड़ों स्वाहा भी हो जाते हैं लेकिन शहर नरक बनता जा  रहा है।  

नगर निगम का नाम भी अब नरक निगम होता जा रहा है। अधिकतर लोग नगर निगम को नरक निगम बोल रहे है क्यू कि नगर निगम में घोटालों की चर्चाएं अब हरियाणा से बाहर भी होने लगीं हैं। बताया जा रहा है कि देश की सबसे घटिया सड़क पर एक बाइक सवार की मौत हुई है। इस सड़क पर अनगिनत गड्ढे हैं। हरियाणा की मुख्य सचिव ने महीनों पहले प्रदेश की सड़कों के गड्ढों को भरने का आदेश दिया था। हरियाणा के बड़े नेताओं और अधिकारियों के आदेश सिर्फ कागजी होते हैं। हाल में सीएम ने कई जिलों की सड़कों की मरम्मत के लिए कई करोड़ दिए लेकिन फरीदाबाद को फूटी कौड़ी तक नहीं मिली। 

गुरुग्राम के बाद फरीदाबाद हरियाणा को सबसे ज्यादा टैक्स देता है लेकिन शहर का हाल बेहाल होता जा रहा है। लोग बेमौत मर रहे हैं। ये सड़क एक मुख्य सड़क है जहाँ से डबुआ कालोनी, जनता कालोनी, जवाहर कालोनी, पर्वतीय कालोनी, डबुआ गांव, पाली गांव, भाखरी गांव जैसे कई अन्य कालोनियों के लाखों लोग रोजाना आते जाते हैं। बड़े दुःख की बात है कि डबुआ कालोनी में एयरफोर्स है और एयरफोर्स की गाड़ियां, जवान भी यहीं से होकर आते जाते हैं। दिन में यहाँ से गुजरेंगे तो धूल ही धूल दिखेगी। गड्ढों की वजह से लोग  जाम में फंसे रहते हैं। आज के हादसे में मृत युवक का नाम कपिल त्यागी बताया जा रहा है। 

साइबर अपराधों में बढ़ोत्तरी देख फिर मोर्चे पर तैनात किये गए इंस्पेक्टर संदीप मोर 


फरीदाबाद-देश में इन दिनों साइबर से जुड़े अपराधों में राकेट की रफ़्तार से बढ़ोत्तरी हो रही है ,बड़े बड़े ठग घर बैठे लोगों के लाखों करोड़ों ठग रहे हैं। शायद यही वजह है कि फरीदाबाद पुलिस ने अपने एक जुझारू और मेहनती इंस्पेक्टर को फिर साइबर सेल का प्रभार सौंप दिया है। इंस्पेक्टर संदीप मोर काफी समय तक साइबर सेल के निरीक्षक रह चुके हैं और कई बड़े मामले सुलझाए थे। कई ठगों को जेल भेजा। 

कोरनाकाल में अधिकतर युवा बेरोजगार हो गए हैं और इनमे तमाम पढ़े लिखे युवक हैं। कुछ युवक राह से भटक गए हैं और चोरी-चकारी करने लगे हैं। छतीसगढ़ में तमाम ऐसे ट्रेनिंग सेंटर खुले हैं जहाँ पढ़े लिए बेरोजगार युवकों को साइबर ठगी की ट्रेनिंग दी जा रही है। आने वाले दिनों में ऐसे ठग बड़े पैमाने पर लोगों को अपना शिकार बनाएंगे इसलिए अच्छे अधिकारियों को साइबर सेल की जिम्मेदारी दी जा रही है जो अच्छा काम करते हैं। आज कई पुलिस अधिकारीयों के तबादले हुए हैं। इंस्पेक्टर संदीप मोर को साइबर सेल भेजा गया है। वो क्राइम ब्रांच डीएलएफ के प्रभारी थे। लिस्ट देखें 

मोदी जी, जितना कसाई जानवरों को नहीं पीटते उससे ज्यादा FBD पुलिस ने मुझे बेवजह पीटा- राहुल 


नई दिल्ली- कोरोना काल में देश की पुलिस ने रात-दिन मेहनत कर जो नाम कमाया है उस पर कुछ पुलिसवाले ही धब्बा लगा रहे हैं। कोई बड़ा आदमी माल दे दे तो कुछ पुलिसवाले क्रूरता की हद पार कर देते हैं और किसी गरीब पर जमकर लट्ठ बजाते हैं। हरियाणा के फरीदाबाद जिले के थाना सूरजकुंड क्षेत्र की दयालबाग चौकी में युवक की पिटाई का मामला अब पीएम, सीएम के दरबार में पहुँच गया है। युवक ने ट्वीट कर इन्साफ की गुहार लगाईं है। युवक ने दो ट्वीट किये हैं जिनमे पहले ट्वीट में लिखा गया है कि फरीदाबाद के सूरजकुंड थाने की दयालबाग चौकी के पुलिसवालों ने बेवजह मुझे इतना मारा जितना कसाई जानवरों को भी नहीं मारते होंगे, सीपी से मिला लेकिन जालिम पुलिसवालों पर अब भी कार्रवाई नहीं हुई, अब उनसे जान का खतरा है,
दूसरे ट्वीट में युवक ने लिखा है कि CM साहब अगर पुलिसवालों पर कार्रवाई न हुई तो मैं पलायन करने पर मजबूर हो जाऊंगा, बड़े लोगों से पैसे लेकर गरीबों पर जुल्म ढा रहे हैं पुलिसवाले
आपको बता दें कि हाल में अनंगपुर गांव के कई लोग पुलिस आयुक्त ओपी सिंह से मिले थे जिसमे फिरे पुत्र चंदर ने पुलिस आयुक्त को बताया मेरी एक जमीन वाका मौजा अनंंगपुर फरीदाबाद में है। जो मैने वसीका नंबर 6699 दिनांक 20-7-2015 के द्वारा खरीदी हुई है व इसका इंतकाल भी मेरे नाम दर्ज हो रखा है और इसकी कायनी भी हमारे नाम है। मेरा अपनी जमीन पर कब्जा है लेकिन आरोपी अजय जैन पुत्र अभय जैन तथा अजय जैन का लडक़ा पिछले काफी समय से मुझे तंग किए हुए है और मेरी जमीन पर पिछले काफी समय से जबरदस्ती कब्जा करने की कोशिश कर रहे है। जिसकी मैने पहले भी आपके कार्यालय व चौकी दयालबाग में शिकायत कर रखी है। 

दिनांक 20-9-2020 की शाम को चौकी ईचार्ज राजेश शर्मा,एएसआई अनिल,एचसी संदीप व नरेश मेरी जमीन अप आए और मेरे भतीजे विपिन पुत्र प्रकाश व राहुल पुत्र मंगत सिंह व रोहित पुत्र कंवर सिंह को जबरदस्ती उठाकर ले गए। इसके बाद चौकी में ले जाकर जहां पर अजय जैन व उसका लडक़ा पहले से ही मौजूद था ने उपरोक्त बच्चों के कपड़े उतरवाकर डड़ो से,लात घूसों से मारना शुरू कर दिया। राहुल ने मेडिकल करवाया जिसमे फैक्चर आया बताया जा रहा है। राहुल का कहना है कि मैं उस दिन अपने दोस्त के यहाँ गया था और पुलिसवालों ने मुझे बेवजह उठा लिया और जमकर पीटा। मेरा जमीन विवाद से कोई लेना देना नहीं है। 
सीपी ने एसीपी हेडक्वार्टर को जांच के आदेश दिए थे लेकिन अब इस मामले की जांच डीसीपी सेन्ट्रल कर रहे हैं। राहुल का कहना है कि मुझे जान का खतरा है। राहुल ने ट्वीट को पीएम नरेंद्र मोदी, सीएम मनोहर लाल, गृह मंत्री अनिल विज सहित कई बड़े नेताओं को टैग किया है। 

भारत बंद- हरियाणा के दादरी में किसानों और पुलिस में झड़प 


नई दिल्ली- भारत बंद का असर कुछ ही राज्यों में देखा गया। बिहार में भारत बंद करने वालों पर स्थानीय लोगों ने लाठियां बरसाईं तो हरियाणा के दादरी से खबर आ रही है कि वहाँ पुलिस और किसानों में झड़प हुई है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक वीडियो पोस्ट कर लिखा है कि

तोड़फोड़ का सिलसिला जारी- फरीदाबाद की अवैध कालोनियों में न खरीदें प्लाट


फरीदाबाद, 25 सितम्बर। नरेश कुमार, जिला नगर योजनाकार ने बताया की ईन्फोर्समैन्ट एण्ड विजीलेंस, फरीदाबाद द्वारा गाँव खंदावली व भनकपुर की राजस्व सम्पदा में 3 अवैध कालोनियां जो कि लगभग 8 एकड़ भूमि पर विकसित की जा रही थीं, में जिला प्रशासन की मदद से तोड़फोड़ की कार्यवाही अमल में लाई गई। तोड़फोड़ की कार्यवाही के दौरान अवैध कालोनियों में बनाये गये रोड़ नेटवर्क के अलावा 8 रिहायशी निर्माण, 1 डीलर ऑफिस, 4 दुकानें व 30 डीपीसी/बाउंड्रीवाल में तोड़फोड़ की कार्यवाही की गई। उक्त अवैध कालोनी राम सिंह प्रॉपर्टी डीलर, आस मोहम्मद प्रॉपर्टी डीलर एवं शाहिद खान प्रॉपर्टी डीलर द्वारा विकसित की जा रही थीं, जिनके खिलाफ विभाग द्वारा पहले ही एफआईआर दर्ज करवाई जा चुकी है व तीनों प्रोपर्टी डीलर जमानत पर बाहर हैं। ये प्रोपर्टी डीलर अवैध कालोनी काट कर उसमे प्लाट बेचते हैं। इसलिए इन प्रोपर्टी डीलरों से जमीन की किसी भी प्रकार की खरीद-फरोख्त न करें। इन द्वारा काटी गई कालोनी में पहले भी विभाग द्वारा कई बारे तोड़फोड़ की कार्यवाही अमल में लाई जा चुकी है। विभाग द्वारा आजकल भू-माफियाओं के खिलाफ एक अभियान चलाया हुआ है। जिससे सामान्य जनता में एक संदेश जा रहा है कि अवैध कालोनियों में प्लाट खरीदना कितना नुकसानदायक साबित हो सकता है। विभाग द्वारा लगातार अभियान चलाकर शहर मे पनप रहीं अवैध कालोनियों व निर्माणों को शुरूआती दौर में ध्वस्त किया जा रहा है। यह कार्यवाही शहरी क्षेत्र व नियंत्रित क्षेत्र अधिनियम के तहत की गई है। तोड़फोड़ की कार्यवाही के दौरान भीम सिंह, चौकी इंचार्ज सिकरौना मय पुलिस बल मौजूद व अजरूद्दीन, जे०ई० मौजूद थे। 

 तोड़फोड़ की इस कार्यवाही के दौरान जिला नगर योजनाकार, ईन्फोर्समैन्ट एण्ड विजीलेंस, फरीदाबाद नरेश कुमार द्वारा बताया गया कि विभाग द्वारा की जा रही तोड़फोड़ में और सख्ती बरती जायेगी ताकि अवैध कालोनी काटने व उसमें निर्माण करने वाले मंसूबे पूरे न हो सकें और समय रहते पनप रहे अवैध निर्माण को तोड़ा जा सके। यहाँ यह भी बताया जाता है कि सभी अवैघ कालेानियों में जन साधारण को जागरूक करने के लिए चेतावनी बोर्ड भी लगाये जा चुके हैं। उन्होंने आम जनता से अनुरोध है कि अवैध कालोनियों में भूमाफियाओं के बहकावे में आकर प्लाट ना खरीदें व अपनी मेहनत की कमाई को बरबाद ना होने दें क्योंकि अवैध कालोनी में सरकार द्वारा किसी भी प्रकार की सुविधा नहीं दी जाती है। कोई भी अवैध कालोनी/निर्माण करने से पहले सरकार से नियमानुसार अनुमति लें। अवैध कालोनी/निर्माण को किसी भी समय अधिनियम के प्रावधान में गिराया जा सकता है।

NGO मिशन जागृति ने शुरू किया डिजिटल क्रांति प्रोजेक्ट


फरीदाबाद-    फ़रीदाबाद शहर की जानी मानी सामाजिक संस्था मिशन जागृति ने 3पिल्लर कंपनी के साथ मिलकर कॉर्पोरेट सामाजिक जीमेदारी के तहत डिजिटल क्रांति नाम का प्रोजेक्ट शुरू किया है ! इस प्रोजेक्ट के मुख्य संयोजक विपिन शर्मा ने बताया कि इस प्रोजेक्ट के द्वारा मिशन जागृति के द्वारा 3पिल्लर के साथ मिल कर फ़रीदाबाद मे जरूरतमन्द बच्चो एवं बड़ो को डिजिटल मार्केटिंग सिखाई  जाएगी ! 
 उन्होने बताया कि इस प्रोजेक्ट मे 80 परतिभागियों को प्रशिक्षित  किया जाएगा ! जिसमे इन को सहयोग देने के लिए संस्था से प्रभा सोलंकी ,   प्रीति विश्व्क्र्मा  , कल्पना , मोहिनी के साथ  हिमांशु भट्ट और विपिन भारद्वाज जी साथ दे रहे है ! सभी प्रतिभागियो को ग्रुप मे बांटा गया है जिसको अलग अलग ग्रुप   मैनेजर देख रहे है ! यह प्रोजेक्ट तीन महीने चलेगा जिसकी क्लास हो प्रत्येक रविवार  ऑनलाइन होंगी ! 
ग्रुप मैनेजर   प्रभा सोलंकी और प्रीति विश्व्क्र्मा ने बताया कि सभी परतिभागियों मे कुछ नया सीखने कि ललक है ! इस कोर्स को करने के बाद सभी को बहुत फ़ायदा होगा !

कुरुक्षेत्र में दिखा भारत बंद का असर, बंद रहीं दुकानें,  किसानों ने प्रकट किया रोष


कुरुक्षेत्र राकेश शर्मा- भाजपा सरकार में लाए गए तीन कृषि आध्यदेश किसानों को रास नही आ रहे है जिस कारण देश और प्रदेश में हर रोज कही ना कही धरने प्रदर्शनों का दौर जारी है। शुक्रवार को भी किसानों ने तीन आध्यदेश के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और केन्द्र सरकार से ये आध्यदेश वापिस लेने के लिए भारत बंद कर दिया गया। किसानों के साथ अन्य राजनीतिक दल भी किसानों के रोष प्रदर्शनों में शामिल होकर भाजपा सरकार के खिलाफ जम कर अपना रोष व्यक्त किया। 25 सितम्बर को भारत बंद का असर कुरुक्षेत्र में भी देखा गया। भारतीय किसान यूनियन के बैनर नीचे सभी किसानों ने भारी संख्या में सुनिश्चित स्थानों पर सड़को पर बैठ कर धरना दिया। जोकि सुबह के समय ही किसान भारी संख्या में एकत्रित होने लगे और भाजपा सरकार के इन अध्यदेशो को किसान विरोधी बताकर मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे। जिंसके कारण गांव से लकेर शहर में भी बाजार बंद दिखाई दिए और सड़के सुनसान पड़ी रही। किसानों के साथ अन्य वर्गों ने भी भाजपा सरकार के खिलाफ जम कर भड़ास निकाली। किसानों का आक्रोश सातवें आसमान पर था और हर जगह भाजपा मुर्दाबाद के नारे सुनाई दिए। जिस कारण कही देश के प्रधानमंत्री का पुतला फूंका गया तो कही हरियाणा के मुख्यमंत्री का। 

बाजार बंद की अपील करते दिखाई दिये किसान:- 
जिला कुरुक्षेत्र के बाबैन, शाहाबाद, पेहवा, लाडवा के कई शहरों में किसान सुबह के समय दुकानदारों से बाजार को बंद करने की अपील करते हुए दिखाई दिए। जिस कारण दुकानों ने अपनी दुकानों को बंद कर ताले लगा दिये और दुकानों के बाहर ही बैठ कर चर्चाएं करते हुए दिखाई दिया। लेकिन जैसे जैसे दिन चढ़ता गया वैसे वैसे बाजार बन्द और सड़के सुनसान दिखाई देने लगी।

भाजपा की ट्रैक्टर रैली का नही हुआ कोई असर :- 
भारत बंद से एक दिन पहले भाजपा सरकार के मंत्री धरातल पर उतर कर ट्रैक्टर रैली लेकर जिला उपायुक्त आयुक्त को ज्ञापन सौंपते हुए भी दिखाई दिए और बताया कि यह तीन कृषि अध्यादेश किसानों के हित में है जिससे किसानों की आय दुगनी होने के साथ-साथ उनको बिचौलियों से आजादी भी मिलेगी लेकिन इसका भी कुछ असर दिखाई नहीं दिया और शुक्रवार को भारत बंद करने के लिए प्रदेश के कोने-कोने में किसानों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया।

हर जगह भारी पुलिस बल रहा तैनात--
जिला पुलिस प्रशाशन भी कोई अप्रिया घटना से निपटने के लिए तैयार था लेकिन शांत भी दिखाई दिया। और सुबह के समय ही धरना स्थल पर जाने वाले रास्ते पर बेरिकेट लगा दी थी ताकि किसान अपना प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग कर सके । पुलिस के द्वारा वाहन चालकों को अन्य रास्ते पर जाने की सलाह दी गई।

गांव के रास्ते में भटकते दिखे वाहन
सड़क जाम होने के कारण दिल्ली या फिर पंजाब जाने वाले वाहनों की लंबी लंबी कतारें गांव के रास्ते भटकते हुए दिखाई दिये। एक दूसरे के पीछे अपने वाहन को चलाकर ही अपनी मंजिल तक पहुचने के लिए ग्रामीणो से रास्ता पूछते हुए भी दिखाई दिए।

भारतीय किसान यूनियन प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम चढूनी की अपील का हुआ असर---
भारतीय किसान यूनियन प्रदेशाध्यक्ष गुरनाम चढूनी ने वीडियो जारी कर रहा था कि किसानो को केवल सड़क पर बैठ कर शांतिपूर्ण ढंग से धरना प्रदर्शन करना है किसी को भी कोई भी कोई परेशानी ना हो ऐसी व्यवस्था करनी है जिसका असर भी देखने को मिला। खुद गुरनाम सिंह चढूनी कई जिलों में जाकर किसानों से बातचीत करते हुए दिखाई दिए और सरकार के खिलाफ जमकर बोलते हुए दिखाई दिए। समाचार लिखे जाने तक कुरुक्षेत्र या उसके आसपास कोई भी अप्रिया घटना नही घटित हुई ।

थाने की प्रतिमाह 35 लाख की वसूली, IPS ठाकुर ने पोस्ट की लिस्ट, मचा हड़कंप


नई दिल्ली- देश के कई जगहों पर गजब का खेल चल रहा है। अब आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने सोशल मीडिया पर एक लिस्ट पोस्ट कर सनसनी फैला दी है। उन्होंने उत्तर प्रदेश के  थाना कोतवाली मुगलसराय चंदौली में हड़कंप मचा दिया है। आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने लिखा है कि यह PS कोतवाली मुगलसराय चंदौली पुलिस
 की वसूली लिस्ट बताई गयी है. लिस्ट से टोटल प्रति माह 35.64 लाख+अवैध खनन 12500/वाहन+पडवा कट्टा 4000/वाहन (गांजा से 25 लाख सहित) हुआ. कई नाम व डिटेल्ड फैक्ट्स अंकित. गहन जाँच जरुरी. कृ तत्काल देखें इसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने उनकी पोस्ट की गई लिस्ट पर जांच के आदेश दे दिए हैं। सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है वसूली का हिस्सा न मिलने या कम मिलने से स्टाफ के ही किसी व्यक्ति ने ये लिस्ट तैयार की होगी। आईपीएस ठाकुर ऐसे मामले उठाते रहते हैं इसलिए उनके पास भेज दिया गया होगा।