Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Recent PostAll the recent news you need to know

अच्छे बीते 5 साल, फिर आएंगे केजरीवाल, दिल्ली के लोग लगा रहे हैं ये नारा 


नई दिल्ली-पुष्पेंद्र सिंह राजपूत, हरियाणा अब तक: दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए 8 फरवरी को मतदान होगा और उम्मीदवारों का नामांकन जारी है। आज दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल भी नामांकन दाखिल करने पहुंचे थे लेकिन  लेकिन वह रोड शो के कारण नामांकन के लिए निर्धारित अंतिम वक्त 3.00 बजे तक निर्वाचन अधिकारी के दफ्तर नहीं पहुंच सके।  अब केजरीवाल मंगलवार यानी 21 जनवरी को नामांकन दाखिल करेंगे। आपको बता दें कि पांच साल पहले भी ऐसा ही हुआ था, भीड़ के कारण केजरीवाल को अगले दिन नामांकन भरना पड़ा था। 
 सीएम केजरीवाल दोपहर भगवान् वाल्मीकि मंदिर पहुंचे। वाल्मीकि मंदिर से वह रोड शो करते हुए नामांकन करने के लिए रवाना हुए।  रोड शो के दौरान उमड़ी भारी भीड़ के कारण उनका काफिला निर्धारित अवधि में नामांकन स्थल तक नहीं पहुंच सका। वाल्मीकि मंदिर के चारों तरह लोगों का हुजूम देख लगा कि दिल्ली की जनता इस बार भी केजरीवाल को दिल्ली की कुर्सी पर बैठा सकती है। लगभग दो घंटे हम मंदिर में रहे और एक घंटे मंदिर के आस पास उमड़ी भीड़ से ये जानकारी हासिल करने का प्रयास करते रहे कि कहीं ये भीड़ किराये की तो नहीं है लेकिन हर किसी में मुँह से लगे रहो केजरीवाल ही सुनने को मिला। 

दिल्ली से भाजपा और कांग्रेस को इस चुनाव में भी बड़ी खुशखबरी शायद ही मिले जिसका प्रमुख कारण वही है जो हम बार-बार अपने पाठकों को बता रहे हैं। केजरीवाल ने दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य और बिजली, पानी पर लगभग उतना ध्यान दिया है जितना किसी भी प्रदेश की सरकार ने नहीं ध्यान दिया। दिल्ली से सटे हरियाणा की बात करें जहाँ भाजपा की सरकार है और 2014 से है। इस बार जजपा की वैशाखी लेकर खट्टर फिर चंडीगढ़ पहुँच गए। यहाँ प्रदेश के 70 फीसदी लोग शिक्षा और स्वास्थ्य माफियाओं से दुखी हैं। 70 फीसदी में लाखों ग्रामीण और शहर में रहने वाले लोग आते हैं। पीएम की आयुष्मान भारत योजना का लाभ बहुत कम लोग उठा पा रहे हैं। अगर किसी गरीब के दो बच्चे हैं तो उसकी सारी कमाई शिक्षा और स्वास्थ्य माफिया हड़प ले रहे हैं और कमाई का कुछ हिस्सा बचता है तो बिजली का बिल में चला जाता है। उसमे से भी कुछ बचता है तो वो पानी में चला जाता है क्यू कि प्रदेश का लगभग हर दूसरा व्यक्ति पानी खरीदकर पीता है। नलों और ट्यूबबेलों का पानी पीने लायक नहीं होता जबकि बिजली के बिल में दर्जनों टैक्स लगाए जाए हैं। लगभग हरियाणा जैसा हाल कई भाजपा शासित राज्यों में है और कई राज्यों में इन्ही वजहों ने भाजपा को सत्ता से बाहर होना पड़ा। 

कहा जाता है कि दिल्ली की जनता मुफ्तखोर है और मुफ्तखोरी के चक्कर में केजरीवाल का साथ दे रही है। जनता बेचारी क्या करे। देश में बेरोजगारी हद से ज्यादा बढ़ती जा रही है। शिक्षा और स्वास्थ्य माफिया जितना लूट रहे हैं उतना कभी चम्बल के डाकू भी नहीं लूटते थे। भाजपा इस लूट खसूट पर लगाम लगाने में पूरी तरह से असफल रही इसलिए जनता ने कई प्रदेशों में भाजपा को आइना दिखा दिया। 

भाजपा ये भी कहती है कि जनता मुफ्तखोरी पसंद नहीं करेगी साथ में ये भी कहती है कि शाहीन बाग़ में मुफ्त की बिरयानी खाने के लिए भीड़ पहुँच रही है। अगर जनता मुफ्त के लिए वहां पहुँच रही है तो मुफ्त के लिए कुछ भी कर सकती है। 
कांग्रेस की बात करें तो सट्टा बाजार का कहना है कि दिल्ली में कांग्रेस का शायद ही खाता खुले और सट्टा बाजार का दावा है कि चांदनी चौक से कांग्रेस की प्रत्याशी अल्का लाम्बा की इस बार बड़ी हार होने वाली है और जिस दिन नतीजे आएंगे उस दिन सबसे पहले अल्का लाम्बा की ही हार की खबर आएगी। सट्टा बाजार में कांग्रेस का दिल्ली में कोई भाव नहीं है। लगभग एक दर्जन सीटों पर भाजपा के लिए भाव लगाए जा रहे हैं। वहां भी आप का रेट ज्यादा है। 
दिल्ली के सीएम की बात करें तो पिछली बार 67 सीटें पाते ही केजरीवाल राहुल गांधी का विकल्प बनने का प्रयास करने लगे और दिन रात मोदी को घेरने लगे। जिसका उन्हें नगर निगम चुनावों में नुकसान उठाना पड़ा और भाजपा निगम चुनावों में बाजी मार ले गई। निगम चुनाव हारने के बाद से अब तक केजरीवाल ने कोई एंटी मोदी ट्वीट शायद ही किया हो। अब उन्हें इसका फायदा भी मिलता दिख रहा है। सट्टा बाजार का कहना है कि आने वाले कुछ दिनों तक केजरीवाल ने कोई गलती नहीं की तो आम आदमी पार्टी सभी 70 सीटों पर विजय हासिल कर सकती है। कुछ सट्टेबाजों का कहना है कि 60 सीटें तो पक्की हैं और आज भगवान् वाल्मीकि मंदिर में हमने जो देखा उसे देख लगा कि अल्प संख्यकों का वोट कांग्रेस को नहीं आम आदमी पार्टी को मिल सकता है। ये सच भाजपा और कांग्रेस के लोग शायद ही हजम कर सकें लेकिन सच तो सच है। सच कड़वा होता है ये भी हरियाणा अब तक के पाठकों को पता है। 

हरियाणा के सभी विधायकों को दी जाएगी ट्रेनिंग


चंडीगढ़, 20 जनवरी- हरियाणा विधानसभा द्वारा वर्तमान चयनित सभी सदस्यों के प्रशिक्षण के लिए दो दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यक्रम 21 व 22 जनवरी को हरियाणा विधानसभा के सभागार में आयोजित किया जाएगा।
        इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए एक प्रवक्ता ने बताया कि 21 जनवरी, 2020 को इस कार्यक्रम के तहत पहले सत्र में हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल, विधानसभा अध्यक्ष  ज्ञान चन्द गुप्ता, उप-मुख्यमंत्री  दुष्यंत चौटाला और विपक्ष के नेता  भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और विधानसभा उपाध्यक्ष रणबीर गंगवा सदन को सम्बोधित करेंगे।

इसके अलावा, संसदीय लोकतंत्र शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान, लोकसभा सचिवालय के अधिकारियों द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम पर एक भूमिका भाषण दिया जाएगा। प्रवक्ता ने कहा कि उसी दिन लोकसभा सचिवालय के निदेशक श्री विनय कुमार मोहन दूसरे सत्र के दौरान ‘लैजिस्लेटिव बिजनेस: गवर्मेंट एण्ड प्राइवेट मेंबर्स बिजनेस’ विषय पर भाषण देंगे।
प्रवक्ता ने कहा कि 22 जनवरी, 2020 को दूसरे दिन के तीसरे सत्र के दौरान, लोकसभा सचिवालय के निदेशक श्री जया कुमार टी. और श्री पुलिन बी. भूटिया संसदीय प्रश्न, शून्यकाल, संसद या विधान सभा में राष्ट्रपति या राज्यपाल के अभिभाषण और समिति प्रणाली पर चर्चा के महत्व विषय पर भाषण देंगे। इसी सत्र में निदेशक, लोकसभा सचिवालय, श्री विनय कुमार मोहन भी बजट प्रक्रिया पर भाषण देंगे।
चौथे और आखिरी सत्र के दौरान, लोकसभा अध्यक्ष, श्री ओम बिरला, हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, विधानसभा अध्यक्ष श्री ज्ञान चंद गुप्ता और विपक्ष के नेता श्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और अन्य गणमान्य व्यक्ति संबोधित करेंगे।
Photo: Haryana Governor, Mr. Satyadeo Narain Arya being welcomed by Haryana Chief Minister, Mr. Manohar Lal and Vidhan Sabha Speaker, Mr. Gian Chand Gupta, as he arrives at Haryana Vidhan Sabha, in Chandigarh on January 20, 2020. Parliamentary Affairs Minister, Mr. Kanwar Pal is also seen in the picture.

हमारे दामाद भाजपा के अध्यक्ष बने, हम मध्य प्रदेश वाले प्रसन्न हैं- दिग्विजय सिंह


नई दिल्ली: जगत प्रकाश नड्डा के भाजपा के अध्यक्ष बनने पर देश के सभी भाजपा नेता उन्हें बधाई दे रहे हैं। कुछ नेता उनसे मिलकर उन्हें बधाई दे रहे हैं तो कुछ नेता ट्विटर पर ट्वीट के माध्यम से बधाई दे रहे हैं। वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भी उन्हें बधाई दी है।
जेपी नड्डा जी को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जाने पर हार्दिक बधाई। हम मप्र के लोगों को इस बात की प्रसन्नता है कि हमारे दामाद भाजपा के अध्यक्ष बने। श्री मती नड्डा मप्र की भूपू मंत्री श्री मती जयश्री बेनर्जी की पुत्री हैं।

396 पंचों. सरपंचों, पंचायत समिति और जिला परिषद के सदस्यों के चुनाव 9 फरवरी को 


चण्डीगढ़, 20 जनवरी - हरियाणा राज्य चुनाव आयोग ने प्रदेश में 396 रिक्त सीटों, जिनमें ग्राम पंचायत के 358 पंचों एवं 27 सरपंचों, पंचायत समिति के 9 और जिला परिषद के 2 सदस्यों की सीट शामिल हैं, के उप-चुनाव के लिए चुनाव कार्यक्रम जारी किया है। इन उप-चुनावों के लिए मतदान 9 फरवरी, 2020 को होगा।      
राज्य चुनाव आयोग के एक प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इन उप चुनावों के लिए नामांकन पत्र 23 से 28 जनवरी, 2020 तक प्रात: 10 बजे से सायं 3 बजे तक दाखिल किए जा सकेंगे।
उन्होंने बताया कि प्राप्त नामांकन पत्रों की सूची भी 23 से 28 जनवरी, 2020 तक प्रदर्शित की जाएगी और इन तिथियों के दौरान ही उम्मीदवार द्वारा फार्म 4-ए एवं 4-बी में शपथ पत्र भी दिए जाएंगे। नामांकन पत्रों की जांच 29 जनवरी, 2020 को प्रात: 10 बजे से की जाएगी और उम्मीदवार द्वारा नामांकन वापस लेने की अंतिम तिथि 31 जनवरी, 2020 है। उम्मीदवारों को उनके चुनाव चिह्न का आबंटन 31 जनवरी, 2020 को ही दोपहर 3 बजे के बाद किया जाएगा। चुनाव चिह्न के आबंटन के तुरंत बाद प्रत्याशियों की सूची प्रदर्शित की जाएगी। उन्होंने बताया कि मतदान, यदि आवश्यक हुआ तो, 9 फरवरी, 2020 को प्रात: 8 बजे से सायं 4 बजे तक होगा और मतदान के तुरंत बाद मतगणना की जाएगी।

उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के अनुसार ग्राम पंचायतों के पंच एवं सरपंचों के चुनाव के लिए रिटर्निंग अधिकारी या सहायक रिटर्निंग अधिकारी द्वारा नामांकन पत्र सम्बन्धित ग्राम पंचायत मुख्यालय में, जबकि पंचायत समिति और जिला परिषद के सदस्यों के लिए नामांकन पत्र सम्बन्धित खण्ड मुख्यालय में लिए जाएंगे। सम्बन्धित रिटर्निंग अधिकारी द्वारा नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। इन चुनावों के लिए मतदान इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) से होगा और मतगणना उसी दिन मतदान केन्द्रों पर ही होगी। उन्होंने बताया कि ग्राम पंचायतों के सरपंच और पंचायत समितियों के सदस्यों के चुनाव में नोटा का विकल्प होगा।
उन्होंने बताया कि जिन व्यक्तियों के नाम सम्बन्धित ग्राम पंचायतों की मतदाता सूची में शामिल नहीं हैं, वे अपने नाम को मतदाता सूची में शामिल करवाने, हटवाने या अपने विवरण में परिवर्तन करवाने के लिए नामांकन पत्र भरने के पहले दिन तक सम्बन्धित उपायुक्त/जिला निर्वाचन अधिकारी (पंचायत) को आवेदन कर सकते हैं। उन्होंने सभी सम्बन्धित मतदाताओं से अपील की कि वे लोकतंत्र को निचले स्तर तक  मजबूत करने के लिए पंचायती राज संस्थाओं के सदस्यों के चुनाव में बढ़-चढक़र भाग लें।

भाजपा के राष्ट्रीय चुने गए JP नड्डा, दिल्ली पहुंच पप्पी ने दी बधाई


नई दिल्ली:  जगत प्रकाश नड्डा को आज विश्व की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भारतीय जनता पार्टी का  राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन लिया गया । उन्होंने अमित शाह की जगह किया । नड्डा अभी तक भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष थे। देश में भाजपा के कुल  कुल 18 करोड़ से ज्यादा सदस्य बताये जाते हैं इसलिए इसे दुनिया की सब्बसे बड़ी राजनीतिक पार्टी कहा जाता है।

 नड्डा के अध्यक्ष चुने जाने के बाद देश के भाजपा नेता उन्हें बधाई दे रहे हैं। भाजपा ओबीसी मोर्चा जम्मू कश्मीर के सह प्रभारी प्रेमकृष्ण आर्य उर्फ़ पप्पी भी दिल्ली पहुँच भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को बधाई देते हुए कहा कि जगत प्रकाश नड्डा जी लंबे संगठनात्मक अनुभव और कुशल कार्यशैली के धनी हैं और वो  भाजपा के एक कर्मठ कार्यकर्ता रहे हैं। उनके नेतृत्व में नए गौरव और सफलताओं को प्राप्त करेगी।

गाड़ी में बलात्कार का प्रयास, आरोपी को पकड़ने वाली CIA, NIT टीम विमल कुमार को 1 लाख का इनाम 


फरीदाबाद: कार में लिफट देकर पिस्टल की नोंक पर बलात्कार की कोशिश करने वाले को क्राईम ब्रांच एनआईटी ने दबोच लिया है। सभी आरोपियों  को अदालत में पेश करके  जेल भेज दिया गया।  आरोपी की जेल के अंदर पीडित लडकियों द्वारा शिनाख्त  कराई जाएगी। 

आरोपी को गिरफतार करने वाली क्राईम ब्रांच एनआईटी की टीम के निरीक्षक विमल, एसआई अश्वनी, एसआई हरीश, एचसी अमित,  दिनेश, यशपाल, सोमबीर, नरेंद्र सिपाही विकास, अनिल और अमित को पुलिस आयुक्त ने प्रशंसा पत्र व नकद ईनाम देकर किया सम्मानित।
आपको बताते चले कि 11.11.2019 को सुबह 8 बजे मैट्रो मोड फरीदाबाद से गुडगांव के लिए एक लडकी को अपनी कार में लिफट दी और सैनिक कालोनी मोड के पास जाम होने की वजह से सुनसान जगह पर लेकर गया फिर पिस्टल की नोंक पर दुष्कर्म की कोशिश करते हुए लडकी के कपडे उतरवा दिए थे लेकिन लडकी मौका देखकर भागने में सफल रही थी। जिस सबंध में महिला थाना एनआईटी में मुकदमा दर्ज किया गया था। 

इसी तरह आरोपी ने उपरोक्त घटना के बाद 30.12.19 को सुबह करीब 8 बजे मस्जिद मोड से एक लडकी को गुडगांव के लिए लिफट दी फिर डिलाईट गार्डन के पास कोहरे की वजह से गाडी को साईड में लगाकर पिस्टल की नोंक पर लडकी के कपडे उतरवाकर दुष्कर्म की कोशिश करने लगा तभी किसी व्यक्ति के आने पर लडकी को उतारकर फरार हो गया था। जिस सबंध में पीडिता की शिकायत पर महिला थाना एनआईटी में मुकदमा दर्ज किया गया था। 

 पुलिस आयुक्त के के राव0 ने क्राईम ब्रांच एनआईटी प्रभारी विमल सहित 11 पुलिस कर्मियो को  शामिल कर आरोपी की धरपकड के लिए निर्देश दिए थे। प्रभारी विमल व उसकी टीम ने एसीपी अनिल यादव के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए मैट्रो मोड से और घटनास्थल तक के एरिया के सीसीटीवी फुटेज चैक किए गए। सीसीटीवी फुटेज व लडकी के बयान अनुसार फरीदाबाद और गुडगांव से खरीदी हुए करीब 1000 सलेरिया गाडी के रजिस्ट्रेशन न0 चैक किए गए थे। 

आखिरकार आरोपी जितेंदर उर्फ जीतू पुत्र मोमराज निवासी गांव लुलवाडी जिला पलवल हाल किरायेदार मकान न0 639 पास गुरुद्वारा सै0 23 फरीदाबाद को संजय कालोनी से पिस्टल सहित गिरफतार करने में सफलता मिली। 

आरोपी ने पूछताछ पर बताया कि वह पहले भी फरीदाबाद में अलग अलग थानो में 6 लूट की वारदात को अंजाम दे चुका है। लूट के केस में कुछ महीने पहले ही जेल से बाहर आया था। आरोपी शादीशुदा है पहले किराये की टैक्सी चलाता था बाद में उसने अपनी खुद की पर्सनल नं0 की सिलेरियांे कार खरीद ली थी। जिसमें फरीदाबाद से गुडगांव सवारियां लेकर आता जाता था। 

फसलों पर पाले/तुषार का असर और बचाव के उपाय


नई दिल्ली: सर्दियों में 25 दिसंबर से  जनवरी के अंतिम सप्ताह  तक अधिकांश क्षेत्रों में तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस या उससे भी नीचे चला जाता है। साथ ही हवा चलना भी बन्द हो जाती है जिसके कारण  पाला पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। यानि अधिकांश फसलों के वनस्पतिक भागों यानि तना, पत्ती, फूल आदि पर बर्फ की हल्की चादर सी जम जाती है। इसकी संभावना उस दिन और बढ़ जाती है जिस दिन आर्द्रता का प्रतिशत कम हो, आकाश साफ हो, ठण्ड अधिक हो और हवा भी ना चले। 

इफको किसान समय समय पर मौसम में हो रहे बदलाव के अनुसार किसान भाइयों को जानकारी प्रदान करता रहता है, और इफको किसान मोबाइल ऐप द्वारा मौसम का पूर्वानुमान, मंडी भाव, कृषि विशेषज्ञों की राय भी किसानो तक पहुंचता है। पिछली वर्षा ऋतु में भी इफको किसान ने मौसम विभाग के साथ मिल कर किसानो के लिए सलहकर सेवाएँ शुरू की थी, जिसमे उन्हे बारिश और उससे उत्तपन्न होने वाली फसल बीमारी से संबन्धित सभी समस्याओं का हल दिया जाता था। इस ऐप को कोई भी गूगल प्ले स्टोर से फ्री डाउनलोड कर सकता है बस आपको गूगल प्ले स्टोर पर “इफको किसान मोबाइल ऐप” सर्च करना है।

अब जाड़े में पाले के कारण सब्जी वाली फसलों जैसे मिर्च, आलू, टमाटर, बैंगन, मटर आदि, फल वाली फसलें जैसे केला और पपीता, के साथ कुछ रबी सीजन की मुख्य फसलों जैसे चना, अलसी, सरसों, जीरा, धनिया, सौंफ, अफीम आदि में लगभग 80 से 90 प्रतिशत तक नुकसान होने की संभावना होती है। वहीं पाले के कारण गेहूँ और जौ मे 20% तक, अरहर में 70% तक एवं  गन्ने में  50% तक नुकसान होने की संभावना होती है।

पाले का फसलों पर प्रभाव:
पाले के प्रभाव से अधिकांश फसलों के फूल झड जाते है साथ ही फल भी मर जाते है साथ ही फल के ऊपर धब्बे पड़ जाते हैं व स्वाद भी खराब हो जाता है। 
पाले से प्रभावित फसल में क्लोरफिल नहीं बनने के कारण हरा रंग समाप्त होने लगता है जिसके कारण पत्तियों का रंग मटमैला यानि मिट्टी के रंग जैसा हो जाता है। 
ऐसी स्थिति में पौधों की पत्तियाँ सड़ने लगती है जिससे उन पर बैक्टीरिया जनित बीमारियों का प्रकोप होने लगता है। 
पाले से प्रभावित फसलों में कीटों का प्रकोप भी बढ़ जाता है। 
पाले के कारण अधिकांश फसलों के फूलों के गिरने से फल नहीं बन पाते, जिससे  पैदावार में कमी हो जाती है।


 इफको किसान के कृषि विशेषज्ञ द्वारा पाले से बचाव के लिए बताए गए उपाए: 
पाले से बचाव हेतु, पाला पड़ने की संभावना होने पर रात के समय खेत के चारो तरफ (यदि संभव हो तो उत्तर-पश्चिम कोने मे) अपशिष्ट पदार्थफसल के अवशेष या खरपतवारों को जला कर धुआँ करें इससे खेत के ऊपर एक परत बन जाने से फसल के ऊपर पाले का असर कम होता है।
धुआँ करने के लिए फसल अबशेषों के साथ क्रूड ऑयल का प्रयोग भी कर सकते हैं। इसके प्रयोग से  4 डिग्री सेल्सियस तक तापमान आसानी से बढ़ाया जा सकता है।
यदि संभव हो तो धान की पुआल से खेत मे कतारों के बीच मे मल्चिंग करें।
पौधशाला के पौधों, उद्यानों/ नकदी सब्जी वाली फसलों को पॉलिथीन, टाट या भूसे आदि से ढ़क दें। 
ठंडी हवा को रोकने के लिए वायुरोधी टाटिया को हवा आने वाली दिशा की तरफ से शाम के समय  क्यारियों के किनारों पर बाँध दें। दिन के समय हटा दें।
रात का तापमान अधिक कम होने पर शाम के समय एक हल्की सिंचाई करें। सिंचाई करने से फसल का तापमान 0.5 से 2 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ जाता है। 
पाले/तुषार के प्रभाव को कम करने हेतु 500 ग्राम सल्फर डबल्यूडीजी/ एकड़/150 लीटर पानी मे घोल बनाकर छिड़काव करें। जरूरत पड़ने पर 15 दिन के अंतराल पर छिड़काव द्वारा करें। 
ऐसी स्थिति मे फसल के अच्छे विकास के लिए 1 किलो पानी मे घुलनशील उर्वरक एनपीके 19:19:19 या 00: 52: 34 को 200 लीटर पानी मे घोलकर/एकड़ की दर से छिड़काव करें।
लंबे समय तक फसलों को पाले के प्रभाव से बचाने के लिए खेत की उत्तरी-पश्चिमी मेड़ों पर वायु अवरोधक पेड़ जैसे शीशम, बबूल, शहतूत, जामुन एवं खेजड़ी आदि लगाएँ।


आपको बता दें कि इफको किसान, पिछले एक दशक से किसानों की सेवा में है और सब्सिडी दरों पर बाजार में गुणवत्ता उर्वरक एवं कृषि सामग्री के सही प्रयोग की जानकारी देता आ रहा है। वही प्रदान इफको 50 सालों से देश के खाद्य उत्पादन में एक बड़ा योगदान दे रहा है। इसी भावना को आगे बढ़ाते हुए, टेलीकॉम भारती एयरटेल और स्टार ग्लोबल रिसोर्सेज लिमिटेड के साथ मिलकर इफको किसान संचार लिमिटेड को एक संयुक्त उद्यम के रूप में बढ़ावा दिया है।

इफको किसान संचार लिमिटेड ने मोबाइल सेवा कंपनी के साथ मिल कर ग्रीन सिम योजना शुरू की है। इस सिम कार्ड के जरिए किसानों को प्रतिदिन फसल सुरक्षा, बागबानी, पशुपालन, मंडी भाव व मौसम से जुड़ी जानकारियां नि:शुल्क वाइस मैसेज के जरिए उपलब्ध कराई जाती है। 

आज नामांकन भरेंगे केजरीवाल, भाजपा, कांग्रेस को अब तक नहीं मिले उम्मीदवार 


नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। मुख्य्मंत्री अरविन्द केजरीवाल आज नई दिल्ली विधानसभा सीट से नामांकन भरेंगे। भाजपा केजरीवाल के सामने किसे मैदान में उतारेगी अब तक विचार चल रहा है। कांग्रेस की बात करें तो कांग्रेस पहले यहाँ से किसी हाई प्रोफाइल चेहरे को उतारना चाह रही थी , लेकिन कांग्रेस को कामयाबी नहीं मिली।

 कांग्रेस की पहली लिस्ट में नई दिल्ली से उम्मीदवार की घोषणा नहीं हुई। दूसरी लिस्ट रविवार को नहीं आई। कांग्रेस को 12 सीटों पर फैसला करना है, जिसमें से 11 सीटों की वजह से आपसी कलह है। नई दिल्ली सीट पर कांग्रेस को चेहरा नहीं मिल रहा है यही भाजपा का भी है। दोनों पार्टियां अब तक केजरीवाल के खिलाफ उम्मीदवारों का चयन नहीं कर सकीं हैं। 

दिल्ली फतह करने के लिए शाह ने बनाया प्लान, कई मुख्यमंत्रियों सहित मैदान में उतरेंगे मंत्री, सांसद


नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा मुख्यालय में कल देर रात्रि तक बैठक चली जिसमे दिल्ली फतह करने का प्लान बनाया गया। बैठक की अध्यक्षता भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं गृह मंत्री अमित शाह कर रहे थे। सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक़ भाजपा के तमाम सांसदों सहित कई राज्यों के मुख्य्मंत्री अब दिल्ली में दिखेंगे। उत्तर प्रदेश से सटे क्षेत्रों में यूपी के सीएम योगी मोर्चा संभालेंगे। योगी दिल्ली में कई जनसभाओं को सम्बोधित कर सकते हैं। 

हरियाणा से सटे क्षेत्रों में सीएम मनोहर लाल सहित कई सांसद मोर्चा संभालेंगे और हिमाचल और उत्तराखंड के मुख्य्मंत्री भी दिल्ली में ही चुनावी रैली को सम्बोधित करते देखे जायेंगे। गृह मंत्री शाह भी कई रैलियों को सम्बोधित करेंगे। कई केंद्रीय मंत्रियों को भी दिल्ली में चुनावी रैली को सम्बोधित करते देखा जाएगा। 

हरियाणा विधानसभा का विशेष सत्र आज से, पास किया जा सकता है CAA


चंडीगढ़: हरियाणा विधानसभा का विशेष सत्र सोमवार को सुबह 11 बजे से शुरू होगा। इससे पहले, सुबह 10 बजे विधानसभा की बिजनेस एडवाइजरी समिति की बैठक होगी। राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य के अभिभाषण से विशेष सत्र की शुरुआत होगी, जिसमें विधायकों के सवाल नहीं होंगे। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद पूरे दिन उस पर चर्चा रखी गई है, जिस दौरान विधायक अपने हलकों की समस्याएं उठा सकते हैैं। इस दौरान जबरदस्त हंगामा होने के आसार हैैं। विपक्ष धान घोटाला, सीआईडी प्रकरण और किसानों व कर्मचारियों के मुद्दे उठा सकता है।
विधानसभा स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता के अनुसार, विशेष सत्र अगले दिन मंगलवार को दोपहर एक बजे संपन्न हो जाएगा। इस दिन मुख्यमंत्री मनोहर लाल राज्यपाल के अभिभाषण पर हुई चर्चा का जवाब देंगे। इससे पहले विधानसभा में अगले 10 साल के लिए हरियाणा की आरक्षित लोकसभा और विधानसभा सीटों के बिल को पास किया जाएगा। विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून के हक में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पास हो सकता है। यदि प्रस्ताव आया तो कांग्रेस विरोध कर सकती है।