Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Search This Blog

Recent PostAll the recent news you need to know

किसान कल्याण विभाग फरीदाबाद द्वारा हर खेत-स्वस्थ खेत अभियान शुरू

Agriculture-and-Farmers-Welfare-Department-Faridabad

फरीदाबाद , 29 मार्च : कृषि एवं किसान कल्याण विभाग फरीदाबाद द्वारा हर खेत स्वास्थ्य खेत अभियान के तहत मिट्टी एवं पानी के नमूनों की जांच की जा रही है। सोयल टेस्ट अधिकारी सीमा चौधरी ने बताया कि वर्ष 2021 में माननीय मुख्यमंत्री हरियाणा द्वारा हर खेत-स्वस्थ खेत अभियान की शुरूआत की गई थी, जिसका मुख्य उद्देश्य हरियाणा राज्य के प्रत्येक गांव की प्रत्येक एकड़ कृषि योग्य भूमि के मृदा नमूने एकत्रित करने उपरान्त विश्लेषण करके उर्वरा शक्ति का आकलन करने उपरांत किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड के माध्यम से जरूरत के अनुसार उर्वरक डालने के लिए प्रोत्साहित करना है।

जिससे कृषि की लागत कम होगी तथा किसानों की आय बढेगी। इस अभियान में किसानों की भागीदारी को बढ़ाने के लिए मृदा नमूनों का एकत्रण गांवों में से कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, फरीदाबाद द्वारा चुने हुए किसान सहायकों द्वारा किया जा रहा है। किसान सहायक को 30/-रुपये प्रति मृदा नमूना एकत्र करने का मानदेय दिया जा रहा हैं।

इस अभियान के अंतर्गत जिला फरीदाबाद में किसान सहायकों को अब तक मानदेय 1,224,870 रूपये की राशि भूमि परीक्षण कार्यालय, बल्लभगढ़ द्वारा उनके खातों में भेजी जा चुकी है। किसानों को अपना मिट्टी का नमूना जांच करवाने के लिए दूर ना जाना पड़े इसके लिए जिला फरीदाबाद में पिछले 2 वर्षों में भूमि परीक्षण प्रयोगशालाओं का जाल और अधिक सुदृढ किया गया है। 

अब जिला फरीदाबाद में 1 बड़ी भूमि परीक्षण प्रयोगशाला, बल्लभगढ़ तथा 2 लघु भूमि परीक्षण प्रयोगशाला (मोहना व बल्लभगढ़ नई अनाज मंडी) है जिसमें किसान मिट्टी के नमूनों की जांच करवा सकता है। इसके अतिरिक्त भूमि परीक्षण प्रयोगशाला, बल्लभगढ़ में फसलों के लिए प्रयोग होने वाले पानी की जांच भी की जाती है। 

जिले में अब तक 46,548 नमूने एकत्रित किए गए है, जिनके विश्लेषण का कार्य प्रगति पर है। आगामी वित्त वर्ष 2023-24 के अन्त तक लगभग 45,000 और मृदा नमूने विश्लेषण के लिए एकत्रित कर लिये जाएगे।

कानूनी रूप से खनन करने के उद्देश्य से हुई जन सुनवाई : DC नेहा सिंह

DIPRO-PALWAL-DC-NEHA-SINGH

पलवल, 28 मार्च। अवैध खनन की रोकथाम व कानूनी रूप से खनन करने के उद्देश्य से मंगलवार को गांव सुल्तानपुर व अतवा में एक जन सुनवाई की गई। जन सुनवाई की अध्यक्षता उपायुक्त नेहा सिंह ने की। इस अवसर पर ग्रामीणों से खनन से संबंधित आपत्तियां सुनी। 

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी विजय चौधरी, तहसीलदार संजीव नागर, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी उपमा अरोड़ा, खनन अधिकारी कमलेश कुमारी, परिवेश एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग सर्विसेज के पर्यावरण सलाहकार मुजम्मिल खान सहित गांव सुल्तानपुर व अतवा के भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

उपायुक्त नेहा सिंह ने जन सुनवाई में कहा कि इससे गैर कानूनी रूप से होने वाला खनन बंद होगा और कानूनन खनन होगा। उपायुक्त ने कहा कि खनन के दौरान रास्ते की मरम्मत पर विशेष ध्यान दिया जाए। इसके लिए तैयार किए गए रूट मैप का विवरण उपायुक्त कार्यालय में प्रस्तुत किया जाए। 

खनन के कारण ग्रामीणों का मार्ग अवरूद्ध न हो। उन्होंने कंपनी के प्रतिनिधियों से कहा कि प्रदूषण नियंत्रण, पर्यावरण के संरक्षण को ध्यान में रखकर कार्य किया जाए। वाहन ओवरलोडिंग नहीं होने चाहिए और खनन ढोने वाले सभी वाहन पीयूसी सर्टिफाइड होने चाहिए।

परिवेश एनवायरमेंटल इंजीनियरिंग सर्विसेज के पर्यावरण सलाहकार मुजम्मिल खान ने प्रोजेक्ट की रूपरेखा के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि मैसर्स एम.एम. ट्रैडर्स ने गांव सुल्तानपुर व अतवा में स्थित 33.42 हैक्टेयर क्षेत्र में अधिकतम 10 लाख 80 हजार एमटी प्रति वर्ष उत्पादन के साथ यमुना नदी के किनारे से रेत (लघु खनिज) खनन का प्रस्ताव दिया है। खदान का अनुमोदन गत 17 अगस्त 2022 को सुल्तानपुर व अतवा गांव में 8 वर्ष की अवधि के लिए दिया गया है।

इस परियोजना के तहत 20 हैक्टेयर भूमि से खनन किया जाएगा और शेष भूमि में खनन का स्टॉक व वाहनों की पार्किंग की जाएगी। इसके अलावा सार्वजनिक स्थान पर खनन ढोने वाले वाहनों को पार्क नहीं किया जाएगा। उन्होंने अवगत करवाया कि धूल को नियंत्रण करने के लिए समय-समय पर सडक़ पर पानी का छिडक़ाव किया जाएगा और प्रदूषण नियंत्रण हेतु पौधारोपण किया जाएगा। 

खनन को ढोने वाले वाहन किसी भी गांव में प्रवेश नहीं करेंगे। इसके अलावा रात्रि के समय में खनन के वाहनों का आवागमन बंद रहेगा। उन्होंने अवगत करवाया कि खनन के कार्य में स्थानीय गांव के 87 लोगों को रोजगार दिया जाएगा, जिसमें 67 लोग प्रत्यक्ष रूप से तथा 20 लोग अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार पर रहेंगे।

सीएसआर के माध्यम से गांव के विकास में कार्य किया जाएगा। इस मौके पर परियोजना में शामिल वाइल्ड लाइफ के संबंध में विवरण प्रस्तुत किया गया।

फरीदाबाद में किसानों को जागरूक करने के लिए जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन हुआ

DIPRO-FARIDABAD-KISAN-AWARENESS

फरीदाबाद, 28 मार्च। जिला के कृषि एवं कल्याण विभाग के उपनिदेशक पवन शर्मा ने कहा कि सामाजिक समृद्धता को बनाने के लिए किसानों को जागरूक किया गया कि मोटा अनाज आज के समय में हमारे समाज की आवश्यकता है। 

इस कड़ी में डीएवी इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट फरीदाबाद में आयोजित कार्यक्रम में किसानों, कृषि के क्षेत्र से जुड़े गणमाननीय लोगों ने व कृषि विभाग के अधिकारीयों एवं कर्मचारियों ने भाग लिया तथा महाविघालय के छात्रों को मोटे अनाज की विशेषताओं के बारे में बताया गया।

जिला के कृषि एवं कल्याण विभाग के उपनिदेशक पवन शर्मा छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी आहार श्रृंख्ला में रसायनों की इतनी भरभार हो गई कि लक्ष्य कमजोर होता जा रहा है और किसान गेहॅू तथा धान जैसी फसलें उगाने से किसानों को आर्थिक लाभ हो तो रहा है किन्तु वह डाक्टरों तथा हस्पतालों में जाकर अपने उत्पादन का एक हिस्सा खर्च कर देते है। आप हमारे राष्ट्र का भविष्य है और जिस विषय में आप ज्ञान अर्जित कर रहे वह सीधा हमारे स्वास्थ्य तथा रसोई से जुडा हुआ है। 

यदि आप जागरूक होकर अपने परिवार तथा समाज में मोटे अन्न के उत्पादन के लिए किसानों को जागरूक करेगें तो अवश्य ही हम अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल होगें। इस कार्यक्रम में लगभग 250 छात्र व छात्राओं को मोटा अनाज उत्पादन के लिए शपथ दिलाई गयी और अन्त में रैली का भी आयोजन किया गया। 

जिसमें कृषि विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ-साथ महाविघालय के छात्र व छात्राओं और प्राध्यापकों ने भी भाग लिया। इस संस्कृति को अपनाकर हम अपने स्वास्थ्य की रक्षा कर सकते हैं। 

सभी छात्र व छात्रायें जिनके परिवार में कृषि कार्य किया जाता है वो अपने परिवार के लोगों को जागरूक करें जिससे की अंतर्राष्ट्रीय पोषक अनाज वर्ष 2023 के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकें।

पंजाब एण्ड हरियाणा HIGH COURT के न्यायधीश बीएस वालिया ने न्यायिक परिसर का निरीक्षण किया

Punjab-Haryana-High-Court-Justice-BS-Walia

फरीदाबाद, 28 मार्च। पंजाब एण्ड हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायधीश बीएस वालिया ने न्यायिक परिसर का निरीक्षण किया। उन्होंने न्यायिक परिसर में कानून व्यवस्था और अन्य व्यवस्थाओं बारे दिए दिशा-निर्देश दिए।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश यशवीर सिंह राठौर, अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश नरेंद्र सूरा, अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश हरीश गोयल, न्यायिक मुख्य दंडाधिकारी तैयब हुसैन ने उच्च न्यायालय के न्यायधीश का न्यायिक परिसर में पहुंचने पर स्वागत किया। वहीं अन्य

मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी व कोर्ट स्टाफ के सदस्य भी न्यायमूर्ति के स्वागत में मौजूद रहे।

अच्छे शिक्षक बनें ताकि विद्यार्थी जीवनभर आपका सम्मान करें : DC नेहा सिंह

DC-NEHA-SINGH-PALWAL-DIPRO

पलवल, 28 मार्च। अध्यापक विद्यार्थियों को नियमित रूप से प्रोत्साहित करते रहें। अध्यापक द्वारा दिए गए ज्ञान के बल पर ही विद्यार्थी एक शिक्षित समाज का निर्माण कर सकता है। अच्छे शिक्षक बनें, ताकि विद्यार्थियों पर आपकी अमिट छाप रहे और वे जीवनभर आपका सम्मान करते रहें। अध्यापक का स्वभाव ऐसा होना चाहिए कि वह दूसरों को प्रभावित करे। 

स्कूल की छात्राओं को पोक्सो एक्ट सहित मौलिक अधिकारों के बारे में जागरूक किया जाए। यह निर्देश उपायुक्त एवं जवाहर नवोदय विद्यालय रसूलपुर की चेयरपर्सन नेहा सिंह ने मंगलवार को रसूलपुर स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय में विद्यालय प्रबंधन समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए स्कूल के प्रधानाचार्य सहित हाऊस मास्टर, मैस इंचार्ज को दिए। 

उन्होंने कहा कि इस संबंध में एक टीम जवाहर नवोदय विद्यालय का दौरा कर चैंकिंग करेगी और अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी। इस मौके पर उपायुक्त ने विद्यालय परिसर में चल रहीं कक्षाओं का दौरा किया तथा स्कूली विद्यार्थियों से बातचीत भी की।

उपायुक्त नेहा सिंह ने कहा कि जवाहर नवोदय विद्यालय के होस्टल में सोप डिस्पेंसर की नियुक्ति की जाए। बच्चों की सेवा-सुविधा के दृष्टिïगत अनुशासन सहित खाना, साफ-सफाई के संबंध में अलग-अलग डिसिप्लीन बनाए जाएं। जवाहर नवोदय विद्यालय में विद्यार्थियों की सुविधा के मद्देनजर शिक्षा के साथ-साथ होस्टल में नियमित रूप से साफ-सफाई का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। 

विद्यार्थियों को दिए जाने वाले खाने में पौष्टिïक आहार व फलों को शामिल कर उसका मीनू तैयार किया जाए। यह मीनू साप्ताहिक रूप से उपायुक्त कार्यालय में भेजा जाए। उन्होंने बच्चों की पढाई हेतु पर्याप्त बिजली उपलब्धता सुनिश्चित करने व विद्युत की समस्या से निजात पाने के लिए नवोदय विद्यालय की ओर से एडीसी कार्यालय के नवीन एवं नवीकरणीय सौर ऊर्जा विभाग में आवेदन कर सब्सिडी पर सोलर लाइट लगवाने के निर्देश दिए। 

बैठक में अभिभावक एवं समिति के सदस्यों ने विद्यालय परिसर में विद्यार्थियों की काउंस्लिंग करने, गुणवत्ता युक्त भोजन, समय-समय पर दूरभाष के माध्यम से अभिभावकों के साथ बच्चों की बातचीत करवाने और अधिक बेहतर ढंग से सेवा-सुविधाएं प्रदान करने के संबंध में अपने-अपने सुझाव के साथ-साथ अपनी समस्याएं भी रखीं। बच्चों की सेवा-सुविधा को प्राथमिकता देते हुए उपायुक्त नेहा सिंह ने जेएनवी के प्रधानाचार्य बालूराम मीणा को इन सभी समस्याओं को अति शीघ्र दूर करने के निर्देश दिए। 

विद्यालय की ओर से बच्चों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाए। जेएनवी के स्डैंडर्ड को मैनटेन किया जाए। उपायुक्त ने कहा कि निर्देर्शों की पालना सुनिश्चित करने व विद्यालय में हुए इंप्रुवमेंट के लिए उनकी अध्यक्षता में जेएनवी अधिकारियों के साथ तिमाही रूप से बैठक आयोजित की जाएगी। बच्चों को साफ-सफाई के प्रति सजग बनाने के लिए उनकी कक्षाएं लगाई जाएं। बच्चों को नियमित रूप से इंस्पेक्ट कर सैनीटेशन भी मॉनीटर करें।

जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रधानाचार्य बालूराम मीणा ने उपायुक्त नेहा सिंह को पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत व्यक्त किया। उन्होंने जिला पलवल में जवाहर नवोदय विद्यालय की स्थापना से लेकर वर्तमान स्थिति तक का विवरण प्रस्तुत किया। 

उन्होंने स्कूल में चल रही कक्षा 6 से 11 वीं तक की कक्षाओं में अध्ययनार्थ विद्यार्थियों की संख्या, अनुशासन, होस्टल, वार्डन, हाऊस मास्टर, साफ-सफाई, भोजन, खेल, चिकित्सा, सुरक्षा के मद्देनजर परिसर में लगाए गए सीसीटीवी कैमरे, अध्यापकों की उपलब्धता सहित विद्यार्थियों को प्रदान की जा रही अन्य सेवा-सुविधाओं के बारे में विस्तारपर्वक जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि जवाहर नवोदय विद्यालय में विद्यार्थियों को स्मार्ट क्लास, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस लैंब, इंटरनेट सुविधा के माध्यम से आधुनिक तकनीक द्वारा शिक्षण दिया जा रहा है। इस अवसर पर स्कूली विद्यार्थियों ने स्वागत गीत की भव्य प्रस्तुति दी। उन्होंने बताया कि हिंदी भाषा को बढावा देने के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय की ओर से 40 प्रतिशत बजट हिंदी की किताबों पर खर्च किया जाता है।

इस मौके पर उन्होंने विद्यालय के मुख्य प्रवेश मार्ग की सडक़ पर स्पीड ब्रेकर लगवाने व मिट्टïी डलवाकर पार्किंग के लिए स्पेश बनवाने की मांग रखी, जिस पर उपायुक्त नेहा सिंह ने लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता नरेंद्र यादव को जल्द से जल्द इन कार्यों को पूर्ण करवाने के निर्देश दिए। विद्यालय परिसर में जलभराव की समस्या को दूर करने के संबंध में उपायुक्त ने सिंचाई विभाग व लोक निमार्ण विभाग के अभियंता को संयुक्त रूप से स्कूल का दौरा करके पानी निकासी की दिशा में कार्य करने के निर्देश दिए।

जानें फरीदाबाद में कब होगा फोटोग्राफी प्रतियोगिता ‘मेला मोमेंट्स’ का आयोजन

DC-VIKRAM-SINGH-FARIDABAD

फरीदाबाद, 28 मार्च। डीसी विक्रम सिंह ने कहा कि देश में मेलों का विशेष सांस्कृतिक महत्व है। वहीं मेले लोगों को सांस्कृतिक विरासतों और दिलों को एक सूत्र में आपस में जोड़ने का कार्य करते हैं। इसी उद्देश्य के मद्देनजर सरकार द्वारा आजादी के अमृत काल में भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा फोटोग्राफी के शौकीनों व फोटो प्रेमियों के लिए फोटोग्राफी प्रतियोगिता ‘मेला मोमेंट्स’ का आयोजन किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में जनजातीय समाजों के कई पारंपरिक मेले आयोजित किए जाते हैं। इनमें से कुछ मेलों का जुड़ाव जहां जनजातीय संस्कृति से है, वहीं कुछ अन्य मेले जनजातीय इतिहास एवं विरासत के संबंध में आयोजित किए जाते हैं। उन्होंने प्रतियोगिता में बढ़-चढ़ कर भाग लेने के लिए प्रतिभागियों का आह्वान किया है।

उन्होंने बताया कि यह प्रतियोगिता चैत्र नवरात्रि (31 मार्च 2023) तक जारी रहेगी। बेहतरीन फोटो के लिए प्रतिभागियों को अलग-अलग श्रेणी के हिसाब से पुरस्कार दिए जाएंगे।

डीसी विक्रम सिंह ने आगे बताया कि फोटोग्राफी प्रतियोगिता में भाग लेने के इच्छुक उम्मीदवार किसी भी मेले के दौरान खींची गई। सर्वश्रेष्ठ फोटो जमा कर सकते हैं और नकद पुरस्कार एवं आकर्षक इनाम जीत सकते हैं। उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता के विजेताओं को अंतिम एवं मासिक पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे।

प्रथम, द्वितीय और तृतीय पुरस्कार श्रेणी के लिए अंतिम पुरस्कार एक लाख रुपए, 75 हजार रुपए और 50 हजार रुपए तथा मासिक पुरस्कार 10 हजार रुपए, साढ़े सात हजार रुपए और पांच हजार रुपए हैं।

6 साल से तारीख पर तारीख पा रहे जयहिंद बोले डाल दो जेल में या कर दो रिहा

 रोहतक : तकरीबन 6 साल पहले हरियाणा दौरे पर आए देश के गृह मंत्री अमित शाह जी से नवीन जयहिन्द ने हरियाणा की समस्याओं जैसे किसानों के मुआवजे, बेरोजगारी, नशा व कानून व्यवस्था सम्बंधित कुछ सवाल किए थे। तो इसी को लेकर जयहिन्द व उनके साथियों पर काले झंडे दिखाने, रास्ता रोकने व मरा हुआ सांड फेंकने जैसे केस लगा दिए। जिसे लेकर मंगलवार 28 मार्च 2023 को नवीन जयहिन्द रोहतक कोर्ट में पेश हुए। जयहिन्द के साथ पंडित ओमनारायण, शोएब आलम, अनूप संधू, संदीप, प्रिया शर्मा, रीना, कृष्णा राठी, सुमित हिंदुस्तानी, दिनेश, जगबीर कादयान आदि मौजूद रहे। जयहिन्द ने माननीय न्यायालय से अपील करते हुए कहा की 6 साल बीत चुके है और हमे सिर्फ तारीख पर तारीख ही मिल रही है। अगर सरकार हमे जेल में डालना चाहता है तो जेल में डाले और अगर रिहा करना चाहता है तो जल्द करे। साथ ही जयहिन्द ने कहा कि जनता की आवाज उठाने से अगर मुकदमे लगते है तो चाहे कितने भी मुकदमे क्यों न लग जाएं हम जनता की आवाज़ उठाने से पीछे नही हटेंगे।

जयहिन्द के रोहतक कोर्ट से बाहर निकलते ही फरियादी अपनी फरियाद लेकर जयहिन्द के पास पहुंच गए। जिसमे कुछ सीईटी के अभियार्थी और दो विकलांग युवक राकेश व कृष्ण नरवाना से अपनी समस्या लेकर जयहिन्द के पास पहुंचे। 

एक सवाल का जवाब देते हुए जयहिन्द ने बताया कि हमने मुख्यमंत्री साहब को 6 महीने पहले ही बता दिया था कि हर अधिकारी को कम से कम दो घंटे जनता की समस्या सुनने के लिए निकलने चाहिए। आज यह निर्णय लिया गया है बहुत अच्छी बात है। लेकिन अब यह देखना है कि यह निर्णय लागू कितना होता है, क्योंकि जनता तो अभी भी अपनी समस्याओं को लेकर परेशान है। साथ ही जयहिन्द ने कहा कि इस सरकार से जनता ही नही बल्कि खुद उनके कार्यकर्ता भी परेशान है क्योंकि उनके भी काम नही हो रहे।

नरवाना से अपनी समस्या लेकर पहुंचे विकलांग राजेश व कृष्ण नामक व्यक्ति जो कि अनुसूचित जाति से है और लोकसभा सांसद सुनीता दुग्गल के गांव से है। विकलांग ने बताया कि फैमिली आईडी में गड़बड़ी की वजह से उसका राशन कार्ड कट चुका है। अपनी इस समस्या को लेकर वह सांसद सुनीता दुग्गल व विधायक रामनिवास सुरजाखेड़ा के ऑफिसो के काफी चक्कर लगा चुका है और बहुत बार अपने कटे राशन कार्ड को बनवाने की एप्लिकेशन लगा चुके है, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नही हुई हार कर उसने जयहिन्द से उम्मीद जताई है कि वह उनकी समस्या का समाधान जरूर करवाएंगे। जिस पर जयहिन्द ने जवाब देते हुए कहा कि सांसद सुनीता दुग्गल को शर्म आनी चाहिए कि उनके ही गांव व बिरादरी के आदमी इस तरह से धक्के खा रहे है। एक सांसद का काम होता है लोगो के काम करवाना न कि उनको परेशान करना। साथ ही जयहिन्द ने मुख़्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि आपको शर्म आनी चाहिए, कब तक प्रदेश के विकलांग, बुजुर्ग व विधवा महिलाएं इस तरह परेशान होते रहेंगे। इसके बाद जयहिन्द ने दोनों विकलांगो से कहा कि आपको चिंता करने की जरूरत नही है और उनको किराया देकर रवाना किया।


जयहिन्द ने बताया की सीईटी के मामले को लेकर हम दो से तीन बार प्रदर्शन कर चुके है। लेकिन सरकार कहती है कि हम हरियाणा के बेरोजगारो के लिए सिर्फ चार प्रतिशत को ही क़वालीफाई करेंगे। साथ ही जयहिन्द ने चुनौती देते हुए कहा की कोई मंत्री, विधायक या खुद मुख्यमंत्री सीईटी क़वालीफाई करके दिखाए।

अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल का एलान कर सकते हैं फरीदाबाद नगरपालिका के कर्मचारी

Municipal-Employees-Union-Protest

फरीदाबाद 27 मार्च। नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा के राज्य व्यापी अंदोलन के तहत आज नगर निगम के 51 कार्य कर्ताओ एव कर्मचारियों ने संघ के जिला प्रधान दलीप बोहोत की अध्यक्षता में क्रमिक भूख हड़ताल की कर्मचारी कल भी भूख हड़ताल जारी रखेंगे। गौरतलब है कि नगरपालिका कर्मचारी संघ, हरियाणा ने नौ दिवसीय क्रमिक भूख हड़ताल का ऐलान किया है जो 4 अप्रैल तक चलेगी।

नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री राज्य सचिव अनूप चंडालिया राज्य उपाध्यक्ष कमला सर्व कर्मचारी संघ के जिला वरिष्ठ उप प्रधान बलबीर सिंह बालगोहर ने नपा0  संघ के जिला कार्यकारी प्रधान सुदेश कुमार वरिष्ठ उप प्रधान रघुवीर चौटाला सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान गुरचरण खांडिया सचिव कृष्ण चंडालिया शहीत 51 कार्यकर्ताओ एवं कर्मचारियों को फूल मालाएं पहनाकर भूख हड़ताल पर बैठाया जिसका समापन सांय 5 बजे जूस पिलाकर किया गया कल फिर ये कर्मचारी भूख हड़ताल पर बैठेंगे

नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने 4 अप्रैल तक मानी गई मांगों  सफाई कर्मचारियों को 1हजार रुपये स्वच्छता भत्ता तथा फायर कर्मचारियों को 1हजार रुपये जोखिम भत्ता देने, फायर विभाग को पुनः निकाय विभाग में शामिल करने, फायर विभाग में होने वाली भर्ती को रदद् करने, 1327 फायर मैनो व ड्राइवरों को स्वीकृत पदों पर समायोजित करने, एक्स ग्रेशिया पॉलिसी में लगाई गई शर्तों को हटाने कोविड-19 गए कर्मचारियों को 50 लाख रुपये आर्थिक सहायता व नौकरी देने कच्चे कर्मचारियों को दुर्घटना होने पर इलाज का खर्च विभाग द्वारा वहन करने तथा मृत्यु होने पर 10 लाख रुपए आर्थिक सहायता देने कच्चे कर्मचारियों को भी  एक्सग्रेशिया पॉलिसी का लाभ देने का पत्र जारी करने हरियाणा को कौसल रोजगार निगम को भंग कर सभी कर्मचारियों को विभाग के रोल पर करने समान काम समान वेतन देने सभी कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने व अन्य मांगों के पत्र जारी नहीं किया तो संघ 4 अप्रैल के बाद राज्य कमेटी की बैठक बुलाकर 12 मार्च को कार्यकर्ता सम्मेलन में लिए गए निर्णय के अनुसार अनिश्चितकालीन हड़ताल का एलान करेगा।

प्रेस को यह जानकारी देते हुए नगर पालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के राज्य प्रधान नरेश कुमार शास्त्री ने कहा कि संघ के लंबे आंदोलन और संघर्ष के बाद सरकार ने ठेके में लगे कर्मचारियों को बैंक के माध्यम से वेतन देने की ईएसआई ईपीएफ का लाभ देने व कच्चे कर्मचारियों को एलटीसी देने अनुबंधित सफाई कर्मचारियों एवं सीवर मैनो को भर्ती प्रक्रिया के माध्यम से पक्का करने वह अन्य पत्र जारी किए हैं लेकिन पालिकाओं, परिषदों व नगर निगमो के स्तर पर बुक पत्रों को लागू नहीं किया जा रहा है जिससे कर्मचारियों में भारी नाराजगी है ।

क्रमिक भूख हड़ताल में अन्य के अलावा कर्मी नेता नानक चंद खैरालिया शहाबुद्दीन मनोज शर्मा शिवकुमार राहुल चंडालिया राकेश दर्शन सोया शक्ति सिंह श्रीपाल मौर्य देवेंद्र मंझावली प्रदीप चावरिया प्रेमपाल रघुवीर सुदेश कुमार सुरेश मेलादा जिला महिला कन्वीनर सुरेश देवी तथा सत्तो देवी ज्ञानवती माया कमलेश शकुंतला आदि नेताओं ने भी हिस्सा लिया।

सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन न करने पर कार्यवाही करें अधिकारी : DC विक्रम सिंह

DC-VIKRAM-SINGH-FARIDABAD

फरीदाबाद, 27 मार्च। डीसी विक्रम सिंह ने कहा कि जिला फरीदाबाद में सड़क सुरक्षा के नियमों की पालना करना पूरी तरह से सुनिश्चित करें। वहीं सड़क सुरक्षा नियमों की पालना करने के लिए जिस विभाग को जो भी दायित्व मिला है। उस विभाग के अधिकारी उसे पूरी निष्ठा के साथ निर्धारित समय पर पूरा करें।

उपायुक्त आज सोमवार को सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार आजादी के अमृत महोत्सव की श्रृंखला में जिला फरीदाबाद में सड़क सुरक्षा के नियमों सही पालना के क्रियान्वयन के लिए समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। 

समीक्षा बैठक में आरटीए सचिव, हरियाणा रोडवेज,  ट्रांसपोर्ट, पुलिस, वन, दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम एवं रोड सेफ्टी ओमनी फाउंडेशन (रजि.) सहित अन्य संस्थाओं के प्रतिनिधियो सहित बैठक से जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

आरटीए सचिव  जितेंद्र गहलावत ने बैठक से जुड़े विभिन्न विषयों बारे एक एक करके बारीकी से जानकारी दी। वहीं स्टेट रोड सेफ्टी काउंसिल हरियाणा सरकार एवं मेंबर ऑफ पार्लीमेन्ट रोड सेफ्टी कमेटी भारत सरकार के सदस्य एवं रोड सेफ्टी ओमनी फाउंडेशन (रजि.) और लाइफ फर्स्ट फॉउंडेशन एनजीओ के द्वारा फरीदाबाद, बड़खल और बल्लभगढ़ शहर में सड़क सुरक्षा के प्रबन्धकों और नियमों की पालना करने के लिए चिन्हित स्थानों की वास्तविक जानकारी को विस्तार पूर्वक बतलाया।

डीसी विक्रम सिंह ने कहा कि सड़क सुरक्षा के नियमों की पालना करने के लिए पुलिस प्रशासन और हाईवे के तकनीकी अधिकारी आपसी तालमेल करके कार्य को बेहतर तरीके से क्रियान्वित करें। सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार सड़क सुरक्षा के नियमानुसार सड़क पर लगाई जाने वाली पटिया, ज़ेबरा क्रॉसिंग प्वाइंट और ग्रील लगाने, टूटने पर ठीक करवाने सहित बरसाती पानी या गंदा पानी इक्कठा होता है। वहां उन स्थानों को चिन्हित करके उन पर सभी समस्याओं को दूर करें। 

राष्ट्रीय राज मार्ग पर खड़ी करके बसों में सवारिया बैठाने वाली बसों, शराब के ठेकों के सामने और ऑटो के खिलाफ जाम लगाने की अवस्था में चालान काटना भी सुनिश्चित करें। अगर एजेंसी ने उनके द्वारा बनाई सड़क का सही से रखरखाव नहीं किया तो उनपर कानूनी कार्यवाही करें और स्कूल वेन में बच्चों की संख्या सरकार द्वारा जारी हिदायतों के अनुसार हो। 

समीक्षा बैठक में डीसी ने वाईएमसीए चौक, बाटा चौक, सीकरी, बल्लभगढ़, बल्लभगढ़ सब्जी मंडी, झाड़सेतली, अजरोंडा चौक व अन्य स्थानों पर एक-एक करके बारीकी से विस्तृत जानकारी लेकर और संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिशा निर्देश भी दिए।

बैठक में फरीदाबाद  के एसडीएम परमजीत चहल, आरटीए सचिव जितेन्द्र गहलोत, एसीपी ट्रैफिक विनोद कुमार, पीडब्ल्यूडी, स्मार्ट सिटी,एफएमडीए, एमसीएफ सहित पुलिस व प्रशासनिक अधिकारी और सड़क सुरक्षा के पदाधिकारी उपस्थित रहे।

सरकार ने विभिन्न जिलों में सौंपी है आवासीय खेल एकेडमी : DC नेहा सिंह

DIPRO-DC-NEHA-SINGH-PALWAL

पलवल, 27 मार्च। उपायुक्त नेहा सिंह ने बताया कि खेल विभाग हरियाणा द्वारा विभिन्न जिलों में आवासीय खेल एकेडमी अलॉट की गई हैं, जिनमें खेल विभाग द्वारा सभी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध करवाकर अच्छे खिलाड़ी तैयार किए जाएंगे। खिलाडिय़ों का आयु वर्ग 14 से 23 वर्ष रहेगा।

इन खेलों के ट्रायल का समय प्रात: 9 बजे से होगा। इन एकेडिमयों में खिलाडिय़ों के लिए नि:शुल्क खाना, सुरक्षित रहना, हेल्थ बीमा, स्पोर्ट्स किट व खेल सामान के अलावा अनुभवी प्रशिक्षक व अंतरराष्टï्रीय इंफ्रास्ट्रक्चर की सुविधा उपलब्ध रहेगी। अधिक जानकारी के लिए विभाग के वैबपोर्टल  www.haryanasports.gov.in पर संपर्क किया जा सकता है। उन्होंने जिला के लडके व लडकी खिलाडिय़ों से इन ट्रायल में भाग लेने का आह्वïान किया है।

जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी धुरेंद्र सिंह ने विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि विभाग द्वारा विभिन्न आवासीय खेल एकेडमी अलॉट की गई हैं, जिनमें खिलाडिय़ों के ट्रायल के लिए तिथि व स्थान निर्धारित किए गए हैं। इनमें 31 मार्च 2023 को कुरूक्षेत्र जिला के मरकंडेश्वर हॉकी स्टेडियम शाहबाद में लडक़ों के लिए हॉकी का ट्रायल होगा। 

उपायुक्त नेहा सिंह ने बताया कि इसी प्रकार फतेहाबाद के राजकीय महाविद्यालय भूना में लडक़ों के लिए फुटबॉल, भिवानी के भीम स्टेडियम में लडक़ों के लिए बॉक्सिंग, अंबाला केवार हीरोज मेमोरियल स्टेडियम में लडक़े व लडकी खिलाडिय़ों के लिए जिमनास्टिक व तैराकी, रोहतक के सर छोटू राम स्टेडिमय में लडके व लडकियों के लिए कुश्ती, गुरूगाम के नेहरू स्टेडियम में लडकों के लिए वॉलीबाल, करनाल के भाखडा नदी पुंड्रैक ब्रिज पर लडकों के लिए क्याकिंग, कनोईंग व रोईंग, पंचकुला के ताऊ देवीलाल स्टेडियम में लडकों के लिए ताइक्वांडो तथा लडके व लडकियों के लिए टेबल टेनिस, झज्जर के खेल सुविधा केंद्र में लडकों के लिए जुडो, फरीदाबाद के सेक्टर-12 स्थित स्पोर्ट्स कॉम्पलैक्स में लडके खिलाडिय़ों के लिए आरचरी, चरखी दादरी के खेल स्टेडियम कालूवाला में लडकों के लिए हैंडबाल, करनाल के कर्ण स्टेडियम में लडके व लडकियों के लिए फेनसिंग का ट्रायल आगामी 1 अप्रैल 2023 को होगा।

उन्होंने बताया कि कुरूक्षेत्र की पाल धर्मशाला में लडकों के लिए साइक्लिंग का ट्रायल 2 अप्रैल को तथा जींद के नवदीप स्डेडियम नरवाना में लडकों के लिए एथलेटिक्स व यमुना नगर के तेजली स्पोर्ट्स कॉम्लेक्स में लडके व लडकी खिलाडिय़ों के लिए वैटलिफ्टिंग का ट्रायल किया जाएगा।