Info Link Ad

Main Section

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Showing posts with label Faridabad News. Show all posts

BREAKING: फरीदाबाद की खूनी झील में मिला युवती का शव, हत्या की अफवाह 


फरीदाबाद: सूत्रों द्वारा जानकारी मिल रही है कि अनंगपुर के पास खूनी झील में एक युवती का शव बरामद हुआ है।  अफवाहें हैं कि युवती की हत्या कर शव को झील में फेंका गया है। युवती मेवला महराजपुर के आस पास की बताई जा रही है और अफवाहें हैं कि एक युवक का युवती की हत्या में हाथ है।

पुलिस ने युवती को शव को झील से निकाल लिया है। जांच जारी है। असली जानकारी पुलिस ही दे सकती है कि युवती की हत्या की गई है या उसने आत्महत्या की है। 

हरियाणा के बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक सुरक्षा पर दिया गया ध्यान- मनोहर लाल 


चण्डीगढ, 28 फरवरी- हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने हरियाणा के इतिहास में आज पहली बार बतौर वित्त मंत्री राज्य का वर्ष 2020-2021 के बजट अनुमानों को प्रस्तुत किया, जिसमें उन्होंने कहा कि यह बजट शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक सुरक्षा और स्वावलंबन पर अधिक केन्द्रित होगा। उन्होंने कहा कि आज हरियाणा की वित्तीय प्रबंधन बेहतर हैं तथा हरियाणा की जीडीपी वृद्धि देश के बडे राज्यों में सबसे अधिक है।

मुख्यमंत्री आज यहां विधानसभा में बजट सत्र के दौरान बतौर वित्त मंत्री राज्य के वर्ष 2020-2021 के बजट अनुमानों को प्रस्तुत करने के उपरांत विधानसभा में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लर, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टीवीएसएन प्रसाद, स्वर्ण जयंती हरियाणा राजकोषीय प्रबंधन संस्थान के महानिदेशक श्री विकास गुप्ता और सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के निदेशक श्री पीसी मीणा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, सामाजिक सुरक्षा और स्वावलंबन जैसे मुख्य क्षेत्रों में सरकार ने इस वर्ष बजट में काफी वृद्धि की है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष शिक्षा में 31.7 प्रतिशत, स्वास्थ्य में 23.17 प्रतिशत, स्वावलंबन अर्थात खेती इत्यादि में 36.7 प्रतिशत और सामाजिक सुरक्षा में 37 प्रतिशत बजट की वृद्धि की गई है।

एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि कर्ज को कम करने के लिए तीन प्रकार के तरीके हैं, एक टैक्स लगाया जाए, जोकि हमने नहीं लगाया, क्योंकि इससे जनता पर बोझ पडता है। दूसरा है पूंजीगत व्यय में कमी करके, परंतु इससे राज्य के विकास कार्य प्रभावित होते हैं, इसलिए यह भी व्यवहारिक नहीं हैं और तीसरा है उधार लेकर, लेकिन राज्य के विकास के लिए यह जरूरी हैं क्योंकि दुनिया की सभी अर्थव्यवस्थाओं में यह किया जाता है लेकिन यहां पर हमने जीएसडीपी अनुपात के तहत एफआरबीएम एक्ट की 25 प्रतिशत तक कर्ज लेने की सीमा रखी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कर्ज की अलार्मिंग स्थिति नहीं हैं लेकिन खर्च लगातार बढता जा रहा है जिनमें से कुछ चीजें ऐसी हैं जिन्हें बंद नहीं किया जा सकता है, जैसे कि पेंशन, सामाजिक सुरक्षा संबंधी भत्ते और वेतन इत्यादि। उन्होंने उदाहरण देेते हुए कहा कि ये खर्चें लगातार बढते रहते हैं जैसे कि पेंशन पर वर्ष 2014-15 में 4600 करोड रूपए खर्च होते थे जो अब बढकर 9000 करोड रूपए हो गये हैं। इसी प्रकार, वेतन पर वर्ष 2014-15 में 13900 करोड रूपए खर्च होते थे जो अब बढकर 27000 करोड रूपए हो गया है।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर उन्होंने कहा कि हम वित्तीय मामलों में मुकेदमेबाजी को कम करने पर भी बल दे रहे हैं और यह राज्य के हित में हैं तथा इससे हितधारकों के पास जो बकाया है, उसकी वसूली जल्द हो पाएगी। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, सरकार वन टाइम सैटलमेंट स्कीम लाने की योजना भी बना रही हैं ताकि राज्य की वित्तीय स्थिति को मजबूत किया जा सकें।

संवाददाताओं से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार पंचायती राज संस्थाओं व शहरी स्थानीय निकायों को स्वायतत्ता देने के लिए कृतसंकल्प हैं और इस दिशा में हमने हाल ही में हर विधानसभा क्षेत्र में 80 करोड रूपये की दर से 7200 करोड रूपए वार्षिक धनराशि उपलब्ध करवाने का प्रावधान रखा है। उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत इन संस्थाओं को विकास कार्य करवाने के लिए नियमित तौर पर धनराशि मिलती रहेगी ताकि गांवों पंच-सरपंच, जिला परिषद के सदस्य और शहरों में पार्षद अपने-अपने क्षेत्र के विकास की योजनाएं स्वयं बना सकेंगें और उन्हें स्वायतता मिलेगी।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि मैंने बतौर वित्त मंत्री राज्य का बजट प्रस्तुत करने से पहले विभिन्न क्ष़ेत्रों के हितधारकों और सभी दलों के विधायकों से प्री-बजट परामर्श किया और इसके तहत समय के अनुकूल न रहने वाली विभिन्न योजनाओं को बंद करने और आज की जरूरत के अनुसार ही नई योजनाओं को लागू करने की पहल की हैं और इससे कर्मचारियों के सुव्यवस्थीकरण में सहयोग मिलेगा। उन्होंने बताया कि बजट के लिए तीन दिन तक चली प्री बजट चर्चा में लगभग 300 सुझाव आए हैं और जिनमें से 52 विधायकों के सुझावों को बजट में सम्मिलित किया गया है।

उन्होंने कहा कि सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों के प्रशिक्षण हेतू एक व्यापक कार्यक्रम चलाया जाएगा और हर नए भर्ती हुए कर्मचारी को समग्र रूप से प्रशिक्षित किया जाएगा तथा हर कार्यरत कर्मचारी को अगले तीन सालों में उसकी आवश्यकता के अनुसार प्रशिक्षित भी किया जाएगा।

एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि गौसंवर्धन व गौसरंक्षण योजना के तहत उन्हीं गौशालाओं को सरकारी अनुदान दिया जाएगा, जो अपनी गौशालाओं में अपनी क्षमता के अनुसार एक तिहाई बेसहारा गायों को आसरा प्रदान करेंगी। 

मार्केट कमेटी के सचिव विपिन यादव ने Sec-16 मंडी में चलाया  सफाई अभियान, हटाए गए अवैध अतिक्रमण 


फरीदाबाद: हजारों सालों तक इस देश में महामारियों ने इंसानों पर अपना कहर ढाया है और कई महामारियों का कारण गंदगी है। साफ़-सफाई न होने से कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं और कई बीमारियां महामारी का रूप भी ले लेती हैं।  साफ-सफाई में लापरवाही बरतकर हम अकसर संक्रामक बीमारियों को न्योता देते हैं। ये कहना है  मार्केट कमेटी के सचिव विपिन यादव का जिन्होंने कहा कि मेरी प्राथमिकता है कि सब्जी मंडी में साफ सफाई पर खास ध्यान दिया जाए। उन्होंने कहा कि आज सेक्टर 16 की सब्जी मंडी में सफाई अभियान चलाया गया और अवैध अतिक्रमण हटवाया गया। इसके पहले डबुआ सब्जी मंडी में भी ऐसे अभियान चलाये गए और आगे भी ऐसे अभियान जारी रहेंगे। 

विपिन यादव ने कहा कि शहर की सब्जी मंडियों में शहर के हजारों लोग आते हैं और सब्जी मंडी के हजारों लोगों का घर सब्जियां बेंच कर चलता है। अगर साफ़ सफाई रही तो अधिक से अधिक लोग सब्जी मंडी में सब्जियां खरीदने पहुंचेंगे और सब्जी विक्रेताओं को और लाभ होगा लेकिन अवैध अतिक्रमण रहा तो लोग सब्जी मंडी की बजाय बाहर से सब्जियां खरीद लेते हैं जाम में कोई नहीं फंसना चाहता। 
उन्होंने सब्जी विक्रेताओं से अपील की कि अब मंडी में साफ़ सफाई का खास ध्यान दें और अवैध अतिक्रमण से भी दूर रहें। उन्होंने मंडी में डस्टविन भी रखवाए और कहा कि सब्जियां ख़राब हो जाएँ तो उसे इधर उधर न फेंके। उन्होंने कहा कि सब्जी विक्रेता ऐसा करेंगे तो उनका ही फायदा होगा। इस मौके पर  मंडी सुपरवाइजर सुभाष चन्द्र, अनिल कुमार , देवराज ऑक्शन रिकॉर्डर और व्यापार मण्डल के लोग मौजूद थे। 

फरीदाबाद में HUDA के अधिकारी राजीव शर्मा पर लगा करोड़ों के गोलमाल का आरोप 


फरीदाबाद: शहर के अरावली गोल्फ क्लब में आज भ्रष्टाचार विरोधी मंच के पदम श्री डॉक्टर ब्रह्मदत्त,  बाबा राम केवल व  वरुण श्योकंद  ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जिसमे हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण में व्याप्त भ्रष्टाचार के बारे में खुलासा किया।
वरुण ने बताया कि  राजीव शर्मा कनिष्ठ अभियंता पिछले 15 साल से फरीदाबाद में  कार्यरत है जोकि हरियाणा सर्विस रूल के हिसाब से बिल्कुल गलत है उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि राजीव शर्मा ने 16 सेक्टर कैंप ऑफिस में बिना टेंडर के ₹4000000 लगा दिए जोकि आरटीआई से पता लगा कि यह पैसा खेल परिसर सेक्टर 12 की मेंटेनेंस के वर्क आर्डर  के अंतर्गत लगाया गया, जो कि कुल 4.50 लाख का था और इसके साथ ही 16,00,000 का आलीशान फर्नीचर खरीदा गया और उसमें लगाई गई कोटेशन भी सारी फर्जी हैं। 

सारे नियम कानूनों को ताक पर रखकर राजीव शर्मा ने करीबन डेढ़ करोड रुपए कैंप ऑफिस पर लगा दिए  जबकि हुडा प्रशासक  पंचकूला ने 2017 मे एक अधिसूचना जारी करके कहा गया है की किसी भी काम का पैसा किसी दूसरे काम में नहीं लगाना, और सख्त हिदायत जारी करी थी कि 25 परसेंट से ज्यादा पैसा किसी भी काम में ना खर्च किया जाए।

         पदम श्री डॉक्टर ब्रह्मदत्त जी ने कहा आम लोगों के खून पसीने का पैसा हरियाणा विकास प्राधिकरण के बड़े अफसरों के आलीशान बंगलों पर खर्च किया जा रहा है  जो कि बिल्कुल गलत है। उन्होंने कहा कि राजीव शर्मा एक तरह से फरीदाबाद में अपनी सरकार चला रहे हैं और भ्रष्टाचार में पूरी तरह से लिप्त हैं। उन्होंने कोई बोलने वाला नहीं है। 

श्योकंद ने मांग की की राजीव शर्मा का  तबादला तुरंत प्रभाव से किया जाए और कैंप ऑफिस पर खर्च किए गए एक एक पाई का विजिलेंस विभाग से जांच कराई जाए। उन्होंने शंशय जताते हुए कहा कि राजीव शर्मा का ऐसा क्या जुगाड़ है जो कोई भी सरकार आ जाए वह यही फरीदाबाद में डिवीजन नंबर तीन में कार्यरत रहता है। उन्होंने एक और गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि ग्रेटर फरीदाबाद की सारी मिट्टी जो बिक रही है उसमें भी राजीव शर्मा का हाथ है।
          बाबा राम केवल ने  कहा कि अगर 15 दिन के अंदर उच्च स्तरीय जांच नहीं बिठाई गई और राजीव शर्मा का तबादला नहीं किया गया, तो वह अनशन पर बैठेंगे।

प्रोफेशनल मुक्केबाजी में भारत का नाम ऊंचा करना चाहता हूँ : वैभव सिंह यादव


फरीदाबाद : जुनून आदमी को किसी भी हद तक ले जा सकता है ऐसा ही जुनून वैभव सिंह यादव में देखने को मिला जिन्होंने बचपन से ही फ्री स्टाइल बॉक्सिंग में कदम बढ़ाना शुरू कर दिया था और कई  बड़े कोचिंग सेंटरों से बॉक्सिंग के गुण और बारीकियां सीखी उसके बाद निरंतर प्रगति कर बॉक्सिंग में निखार लाते रहे। आज वह प्रोफेशनल मुक्केबाज के रूप में भारत के साथ-साथ विदेशों में भी जाने जाते हैं।  एक साक्षात्कार के दौरान वैभव सिंह यादव ने बताया कि पढ़ाई के साथ साथ उनका शौक बचपन से ही मुक्केबाजी में बढ़ता रहा जिसको उन्होंने अपने जीवन शैली में ढाल लिया और निरंतर कड़ा अभ्यास करते रहे। 

 यादव ने बताया कि उनके पिता रंजीत सिंह यादव दिल्ली पुलिस में हैड कांस्टेबल के पद पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं । मां हेमलता के असीम प्रोहत्साहन से वह निरंतर मुक्केबाजी में अपना कैरियर सुधारने में लगे हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली के प्रसिद्ध करोड़ीमल कॉलेज से उन्होंने बी.ए की पढ़ाई पूरी की और उसके बाद पूरी तरह बॉक्सिंग में अपने कैरियर को संवारने में लग गए। श्री यादव ने बताया कि वह जर्मनी केनिया,थाईलैंड और इंडोनेशिया में विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग ले चुके हैं जहां उन्होंने प्रोफेशनल मुक्केबाजी पर कई खिताब जीते हैं उन्होंने बताया कि मुक्केबाजी के बादशाह कहे जाने वाले मौहम्मद अली और मॉइक टायसन को वह फॉलो करते हैं और यही नहीं थाईलैंड के राजा द्वारा भी उन्हें सम्मानित किया जा चुका है। मुक्केबाज यादव ने बताया कि उन्होंने पांच बार थाईलैंड के विभिन्न इलाकों में मुक्केबाजी की फाईट की है जिसमें उन्होंने वहां के कई दिग्गज मुक्केबाजों को हराकर 30 जून 2019 को वल्र्ड बॉक्सिंग काउंसिल एशिया टाइटल जीता।

 यादव ने बताया कि अपनी मुक्केबाजी को और निखारने के लिए जल्द ही वह अमेरिका जाने वाले हैं जहां पर वह मुक्केबाजी की बारीकियां और गुण ओलंपिक कोच मार्क अल्फ्रेडो गरगरो के निर्देशन में सीखेंगे। और उसके बाद वह वल्र्ड टाईटल के लिए फाइट करेंगे। श्री यादव ने बताया कि बताया कि मात- पिता के असीम सहयोग से वह मुक्केबाजी में अपना करियर बनाना चाहते हैं और अमेरिकी बॉक्सर रॉय जॉन्स जूनियर फ्लोएड मेवैदर,को फॉलो करते हैं जिसके माध्यम से वह पूरे विश्व में नाम कमाना चाहते हैं। 

देश के खिलाफ  बोलने, नारे लगाने वालों पर दर्ज किया जाए देशद्रोह का केस- गुर्जर समाज 


फरीदाबाद, 27 फरवरी : केन्द्रीय सरकार द्वारा हाल ही में लागू किए गए नागरिकता संशोधन अधिनियम (सी. ए. ए.) का एन. सी. आर. क्षेत्र के गुर्जर समाज ने समर्थन किया है और कहा है कि इस अधिनियम के पक्ष में गुर्जर समाज सरकार के साथ डटकर खड़ा है। इस बात का फैंसला आज सैक्टर-16 स्थित गुर्जर भवन में हुई गुर्जर समाज की एक बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता पूर्व शिक्षा अधिकारी एवं वयोवृद्ध रामफूल सिंह भाटी ने की। बैठक में जिले भर से गुर्जर समाज के अनेक लोगों ने हिस्सा लेते हुए अपने विचार प्रकट किए। बैठक में शहर में अमन और शांति बनाने के लिए गुर्जर समाज सभी समाजों से अपील करेगा कि वे भाईचारा बनाए रखने में गुर्जर समाज की मदद करें। 

शनिवार को गुर्जर समाज के एक शिष्ट मण्डल जिला उपायुक्त को ज्ञापन भी सौंपेगा। बैठक में उपस्थित लोगों ने कहा कि सी. ए. ए. के नाम पर दिल्ली क्षेत्र में जो हिंसा हुई उसकी गुर्जर समाज कठोर शब्दों में निंदा करता है तथा इन दिनों हुई व्यक्तियों की मौत पर भी शोक प्रकट कर उनके परिजनों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता है गुर्जर समाज ने मांग की कि इस दौरान आगजनी में हुए भारी नुकसान का भी सरकार द्वारा उचित मुआवजा दिया जाना चाहिए। इससे लोगों को बाहरी परेशानियॉ हो रही हैं। गुर्जर समाज से मांग की कि देश के खिलाफ  बोलने वालों, देश के खिलाफ नारे लगाने वालों, मंचों पर भडक़ाऊ भाषण देने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही कर उन पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाना चाहिए। बैठक को रणवीर चंदीला, तिलकराज बैंसला, ज्ञानचन्द भड़ाना, सतेन्द्र फागना सहित अनेक लोगों ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर विक्रम चंदीला , सुमेश चंदीला, नीलू राम बड़ौली, निरंजन नागर, बाली सरपंच, योगेश अधाना, हंसराज कपासिया, कर्मवीर, राजकुमार, सोनेन्द्र, सत्यप्रकाश भड़ाना, संजय भड़ाना सहित अनेक देहातों से गुर्जर समाज के लोग उपस्थित थे।

शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए वक्फ बोर्ड निरंतर प्रयासरत : डा. हनीफ कुरैशी


फरीदाबाद, 27 फरवरी। हरियाणा वक्फ बोर्ड के प्रशासक डा. हनीफ कुरैशी आईपीएस ने कहा है कि वक्फ बोर्ड शिक्षा को बढ़ावा देने की दिशा में निरंतर काम कर रहा है, जहां बोर्ड द्वारा मेवात के पुन्हाना में लाईब्रेरी व कोचिंग सेंटर स्थापित की गई है वहीं फरीदाबाद के गांव धौज में लाईब्रेरी व कोचिंग सेंटर की शुरुआत की गई है। इस सेंटर में ग्रामीण छात्र-छात्राओं को स्टाफ सलैक्शन कमीशन लेबल तक की कोचिंग दी जाएगी। उन्होंने कहा कि जल्द ही यहां टीचरों की नियुक्ति के बाद इस सेंटर को शुरु किया जाएगा और 120 बच्चे यहां कोचिंग लें सकेंगे, जिसमें 80 लडक़े व 40 लड़कियों को शिक्षा दी जाएगी। उन्होंने बताया कि गांव धौज के रहने वाले डा. शाहबुद्दीन ने अपनी 1200 वर्ग गज जमीन वक्फ बोर्ड को शिक्षा के इस्तेमाल के लिए दी है, वह यूएएस में रहते है, बोर्ड द्वारा यहां लाईब्रेरी व कोचिंग सेंटर बनाया गया है, जिसमें कुशल टीचर रखकर बच्चों की शिक्षा को बढ़ावा दिया जाएगा। बोर्ड द्वारा अगला कोचिंग सेंटर सोनीपत में स्थापित करने की योजना है। डा. कुरैशी गुरुवार को गांव धौज स्थित वक्फ बोर्ड द्वारा निर्मित की गई लाईब्रेरी व कोचिंग सेंटर का निरीक्षण करने के उपरांत पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में इस तरह के कोचिंग सेंटर व लाईब्रेरी एक बेहतर कदम है क्योंकि ऐसे अनेकों गांव है, जो आज भी शहरों से दूर है, ऐसे में इन सेंटर का सदुपयोग यहां के लोग उठा सकते है।

 उन्होंने कहा कि यह कोचिंग सेंटर सौ प्रतिशत टीचिंग पर नहीं बल्कि सैल्फ स्टडी पर आधारित है, जिन बच्चों को पढ़ाई के लिए उचित वातावरण नहीं मिल पाता, वह यहां आकर अच्छी तरह से पढ़ाई कर सकते है। डा. हनीफ कुरैशी ने कहा कि हरियाणा वक्फ बोर्ड की पूरे प्रदेश में करीब साढे 12 हजार प्रापर्टी है, जिसकी डिजिटल मैपिंग शुरु कर दी गई है और सॉफ्टवेयर के माध्यम से 70 प्रतिशत तक प्रापर्टी का कार्य पूरा किया जा चुका है और इस वर्ष के अंत तक सौ फीसदी कार्य पूरा कर लिया जाएगा। वक्फ बोर्ड की जमीन पर अवैध कब्जों के मामले पर डा. कुरैशी ने कहा कि पंचायती और वक्फ बोर्ड की जमीन को बेचा नहीं जा सकता, ऐसा एक मामला फरीदाबाद में आया था, जिसकी एफआईआर दर्ज करवाई गई थी। उन्होंने कहा कि वक्फ बोर्ड की कुछ जमीन पर कब्जे है या कम किराए पर चल रही है, उनके लिए सरकार ने एक ट्रिब्यूनल बनाया है, ऐसे मामले ट्रिब्यूनल को दिए जाएंगे वहीं जिन लोगों ने कम लीज पर बोर्ड की जगह ले रखी है, उन्हें नोटिस जारी कर दिए गए है और उनसे नए रेट के हिसाब से किराया लिया जाएगा। इससे पूर्व डा. हनीफ  कुरैशी का यहां आगमन पर मेवात इंजीनियरिंग कालेज के प्रोफेसर वसीम अकरम, इम्तियाज खैज, तस्सबुर आजाद, शमशेर सहित धौज गांव के ग्रामीणों ने उनका फूलों के बुक्के भेंट करके स्वागत किया। 

पत्रकारों की सहायता के लिए गठित हुआ सिटी प्रेस क्लब सहायता कोष, इकठ्ठे हुए एक लाख रुपए


फरीदाबाद। सिटी प्रेस क्लब (रजि) फरीदाबाद ने आज एक प्रमुख निर्णय लेते हुए अपने सदस्यों हेतु पत्रकार सहायता कोष गठित करने की घोषणा की है। सिटी प्रेस क्लब रिलिफ फंड गठित करने का निर्णय बुधवार की दोपहर क्लब के कार्यालय में आयोजित बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता क्लब के प्रधान बिजेंद्र बंसल ने की। इस अवसर पर क्लब के सरंक्षक उत्तमराज, राकेश चौरसिया, महेंद्र चौधरी चौधरी सहित कार्यकारी प्रधान नवीन धमीजा व कोषाध्यक्ष प्रितपाल माटा प्रमुख रूप से उपस्थित थे। 

इस अवसर पर  प्रधान बिजेंद्र बसंल ने बताया कि रिलिफ फंड के लिए  गठित कमेटी का चेयरमैन क्लब के  उपप्रधान सुशील भाटिया होंगे, जबकि क्लब के वरिष्ठ उप प्रधान राजेश शर्मा, महासचिव संजय कपूर व उपप्रधान अनिल अरोड़ा सदस्य के तौर पर इस कमेटी में शामिल रहेंगे। इस कमेटी का अलग से बैंक एकाऊंट खुलवाने का निर्णय लिया गया। बैठक में उपस्थित सदस्यों ने मौके पर ही सिटी प्रेस क्लब रिलिफ फंड के गठन का स्वागत करते हुए यथा संभव आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। मौके पर ही एक लाख रुपए से अधिक की राशि इस रिलिफ फंड के लिए एकत्रित हो गई। जल्द ही इस मद में बैंक खाता खुलवाकर सभी साथियों एवं गणमान्य लोगों की सहायता से इस कोष को बढ़ाने की दिशा में तेजी से कार्य किया जाएगा। 

बैठक में  क्लब के प्रधान बिजेंद्र बंसल ने बताया कि इस सहायता कोष का उपयोग अपने सदस्यों के लिए किया जाएगा। इस कोष की काफी समय से आवश्यकता महसूस की जा रही थी। क्लब के कार्यकारी प्रधान नवीन धमीजा ने कहा कि रिलिफ फंड की मदद से क्लब के सदस्यों को किसी भी विकट परिस्थति में तत्काल सहायता उपलब्ध करवाई जा सकेगी । इसके अलावा सिटी प्रेस क्लब ने प्रत्येक वर्ष पत्रकार सम्मान पुरस्कार देने की भी घोषणा की । इसके लिए भी एक कमेटी का गठन किया गया। इस कमेटी का चेयरमैन संजय सिसौदिया को बनाया गया। क्लब के वरिष्ठ उपप्रधान राजेश शर्मा, सुशील भाटिया, संगठन महासचिव दीपक गौतम, अशोक शर्मा, पुष्पेंद सिंह राजपूत, मनोज मंडल, व् शिव कुमार इस कमेटी में सदस्य के तौर पर शामिल किए गए हैं। यह कमेटी पत्रकार पुरस्कार योजना का पूरा खाका तैयार करेगी। इसके साथ साथ बैठक में सर्वसम्मति से होली मिलन समारोह के आयोजन का भी निर्णय लिया गया।

राजा नाहर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में लग रहे हैं 115 करोड़ रुपये, 40 फीसदी काम पूरा


चण्डीगढ़, 26 फरवरी- हरियाणा में फरीदाबाद के राजा नाहर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के जीर्णोद्धार के लिए 115 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जाएगी, जिसका 40 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। इस स्टेडियम का निर्माण वर्ष 1987 में किया गया था और यहां पर आठ एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच तथा छ: महिला एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों का आयोजन किया जा चुका है।

यह जानकारी खेल राज्य मंत्री सरदार संदीप सिंह ने आज यहां हरियाणा विधानसभा में चल रहे बजट सत्र के चौथे दिन प्रश्नकाल के समय एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनाने का कोई प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन है या नहीं, के उत्तर में सदन को दी। उन्होंने बताया कि खेल प्रतिभा के लिए जमीनी स्तर पर खिलाडिय़ों का उभरकर आना जरूरी है। आम तौर पर क्रिकेट अकादमियां प्राईवेट स्तर पर चलाई जाती हैं और एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनाने के लिए कम से कम 200 करोड़ रुपये की राशि की आवश्यकता पड़ती है। खेल विभाग के बजट में से अगर कोच और कर्मचारियों के वेतन और खिलाडिय़ों को दी जाने वाली पुरस्कार राशि व अन्य मदों को निकाल दिया जाए तो केवल 130 करोड़ रुपये की राशि शेष रह जाती है, जो एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनाने के लिए कम पड़ती है।

सरदार संदीप सिंह ने सदन को इस बात से भी अवगत करवाया कि हिसार में महावीर स्टेडियम एक अच्छा स्टेडियम है जहां पर 15 गेम्स खेली जाती हैं और यहां से 20 से अधिक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी निकले हैं जबकि इस स्टेडियम में 12 कोच नियुक्त हैं।

दुर्गतियों का संहार करती है भागवत कथा- पंडित मुनेश शर्मा


फरीदाबाद:  भागवत कथा दुर्गतियों का संहार करती है और मनुष्य के जन्म जन्मांतर के पुण्यों का उदय होने पर ही श्रीमद् भागवत जैसी भगवान की दिव्य कथा श्रवण का सौभाग्य मिलता है। भागवत रूपी गंगा की धारा पवित्र और निर्मल है, जो पापियों को भी तार देती है। ये कहना है टीम पंडित जी के पंडित मुनेश शर्मा का जिन्होंने कहा कि हमें ऐसे धार्मिक आयोजनों ने बहुत बड़ी सीख मिलती है और ऐसे आयोजन हमें अपनी संस्कृति  से जोड़ कर रखते हैं।

विश्व हिंदू युवा संघ के अध्यक्ष संत नवल बिहारी शरण  द्वारा आयोजित भागवत कथा मैं नेपाल से आई साध्वी राधिका दासी और नेपाल से ही आये महाओमकार अभियान के प्रमुख श्री निश शमशेर राणा ने मुनेश शर्मा का जोरदार स्वागत और सम्मानित किया।

 इस मौके पर  टीम पंडित जी के साथी और सानातन हिन्दू वाहनी के प्रदेश अध्यक्ष तेजपाल,  पंकज शर्मा  आदि मौजूद थे।  इस मौके पर मुनेश पंडित ने कहा कि यह सम्मान टीम पंडित जी की  मेहनत का नतीजा है ओर टीम के सभी लोग इसके लिए बधाई के पात्र हैं।

दिल्ली हिंसा में 9 लोगों की मौत, फरीदाबाद पुलिस अलर्ट पर 


फरीदाबाद: दिल्ली हिंसा में मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 9 हो गया है। दिल्ली हिंसा को देखते हुए  केके राव पुलिस आयुक्त फरीदाबाद  के निर्देश अनुसार फरीदाबाद पुलिस अलर्ट है। स्थिति पर पैनी नजर रखी जा रही है। सीआईडी, सिक्योरिटी, क्राइम ब्रांच को निर्देश दिए गए हैं कि बारीकी से नजर रखें। थाना पुलिस व क्राइम ब्रांच हर परिस्थितियों से निबटने के लिए तैयार है।

खनन माफियाओं ने लूटी अरावली, वसूला जाए इनसे जुर्माना-पाराशर


फरीदाबाद: अरावली पर अवैध खनन पर लगाम लगाने का इन दिनों जिस तरह का प्रयास किया जा रहा है अगर ऐसे दो दशक पहले से किया गया होता तो वर्तमान समय में अरावली पूरी तरह से हरी भरी होती और अरावली के बड़े-बड़े पहाड़ खनन माफिया गायब न कर पाते। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन  पाराशर का जिन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि फरीदाबाद के खनन माफिया दो दशक से बेलगाम थे और दर्जनों बड़े पहाड़ गायब कर चुके हैं और अरावली पर एक दो नहीं सैकड़ों जगहों पर 100 से 400 मीटर तक गहराई से पत्थर निकाले गए हैं। 
वकील पाराशर ने कहा कि दो साल से मैं लगातार अवैध खनन के मामले उठा रहा था। दर्जनों जगहों पर अवैध खनन होते हुए दिखाया था लेकिन अधिकारी अपनी मनमानी करते रहे। पाराशर ने कहा कि अवैध खनन को लेकर मैंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की तब भी अधिकारी बेलगाम ही रहे लेकिन अब कुछ दिनों से प्रदेश के खनन मंत्री और पुलिस ने जो कार्यवाही की है उससे लगता है कि अब अरावली के खनन माफियाओं पर लगाम लगेगी। 
पाराशर ने कहा कि हाल में खनन मंत्री मूलचंद शर्मा और पुलिस द्वारा मारे गए छापे में कई खनन माफिया बेनकाब हुए जिन पर मामले भी दर्ज हुए। उन्होंने कहा कि खनन मंत्री आगे भी इसी तरह के कार्य करते रहे तो अरावली पर अवैध  खनन और अवैध निर्माण पूर्ण रूप से बंद हो जायेगा। 

पाराशर ने कहा कि जिन लोगों ने अवैध खनन कर अरबों के पत्थर लुटे हैं उनकी जांच करवाई जाए और उनसे जुरमाना वसूला जाए। उन्होंने कहा कि खनन विभाग और नगर निगम के जिन अधिकारियों के कार्यकाल में अरावली का चीर हरण हुआ है उनकी भी संपत्ति की जाँच करवा  उन पर भी कार्यवाही की जाए। पाराशर ने कहा कि मैंने फरीदाबाद के उस समय के जिला अधिकारी अतुल कुमार और खनन अधिकारी कमलेश के नाम पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी और उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में जो जबाब दिया है उसके उन्होंने लिखा था कि अरावली पर जहाँ भी अवैध खनन और अवैध निर्माण हो रहा है उस पर हम कार्यवाही कर  हैं जिसका सीधा मतलब है कि अरावली पर अवैध खनन और अवैध निर्माण इनके  कार्यकाल में भी हो रहा था। पाराशर ने कहा कि अरावली पर अवैध खनन और अवैध निर्माण कभी भी नहीं बर्दाश्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि अगली तारीख में मैं सुप्रीम कोर्ट में अवैध खनन और अवैध निर्माण के तमाम प्रूफ दूंगा। 

राजा नाहर सिंह क्रिकेट स्टेडियम के पुर्निनिर्माण को लेकर सरकार का रवैया उदासीन : विजय प्रताप


फरीदाबाद। फरीदाबाद व हरियाणा की राष्ट्रीय धरोहर राजा नाहर सिंह स्टेडियम के पुर्निनिर्माण में हो रही अनियमितताओं को लेकर अब विरोध के स्वर उठने लगे है। स्टेडियम के पुर्निनिर्माण को लेकर बडखल विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लडऩे वाले विजय प्रताप ने स्टेडियम के निर्माण को लेकर सरकार की न केवल खिलाफत की है बल्कि पूर्व हरियाणा रणजी क्रिकेटर संजय भाटिया की बात का समर्थन करते हुए उन्होंने फरीदाबाद नगर निगम को ही कटघरे में खड़ा कर दिया। उन्होंने कहा कि सरकार का कोई भी जनप्रतिनिधि स्टेडियम को लेकर गंभीर नहीं है और यहां तक कि अभी तक बडखल की विधायिका व यहां के सांसद भी स्टेडियम में चल रहे कार्याे को देखने के लिए अभी तक नहीं गए।

 उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय मानकों पर बनने वाले स्टेडियम में जहां हरियाणा प्रदेश का अंतर्राष्ट्रीय पटल पर नाम होगा वहीं अगर इसका गलत निर्माण हुआ और यहां की पिच सही ढंग से नहीं बनाई गई तो अंतर्राष्ट्रीय पटल पर हरियाणा की बहुत बदनामी होगी। उन्होंने कहा कि संजय भाटिया ने जो एक कमेटी बनाने के लिए सरकार को पत्र लिखा है, पूरी कांग्रेस पार्टी उनका समर्थन करती है और इस कमेटी में पक्ष, विपक्ष के नेताओं सहित पूर्व खिलाडिय़ों व तकनीकी लोगों को भी शामिल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर इस मुद्दे पर सरकार ने जल्द ही कोई कारगर कदम नहीं उठाए तो संजय भाटिया के नेतृत्व में एक बड़े आंदोलन की रुपरेखा तैयार की जाएगी, जिसमें वह पूरी तरह से उनके साथ है और हर स्तर पर संघर्ष करेगे।

जजपा में शामिल हुए बल्लबगढ़ के पार्षद दीपक चौधरी


नई दिल्ली: बल्लबगढ़ के पार्षद दीपक चौधरी आज जजपा में शामिल हो गए। उप मुख्य्मंत्री दुष्यंत चौटाला के सामने उन्होंने जजपा ज्वाइन किया। दीपक चौधरी वार्ड नंबर 37 के पार्षद हैं और अक्टूबर में हुए विधानसभा चुनावों में उन्होंने बल्लबगढ़ से चुनाव लड़ा था। 
पिछले निगम चुनावों के पहले दीपक भाजपा में थे लेकिन भाजपा ने निगम चुनावों में उन्हें टिकट नहीं दिया जिसके बाद वो आजाद मैदान में उतरे और जीत मिली। विधानसभा चुनावों में भी वो आजाद मैदान में उतरे और लगभग 19 हजार वोट लेकर सबकों चौंका दिया था। 

300 करोड़ रू से पलवल जिले के विकास में लगेंगे चार चाँद


हथीन (पलवल), 23 फरवरी। हरियाणा में बिना भेदभाव व समान विकास की नीति में एक ओर बड़ी पहल होने जा रही है। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि आगामी वित्त वर्ष में राज्य सरकार ऐसा प्रावधान करने जा रही है जिसके तहत प्रदेश के हर विधानसभा क्षेत्र को एक वर्ष के दौरान शहरी व ग्रामीण विकास के लिए 80 करोड़ रूपए की राशि मिलेगी। मुख्यमंत्री आज पलवल जिला के हथीन में हरियाणा प्रगति रैली को संबोधित कर रहे थे। हरियाणा प्रगति रैली में केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर, हरियाणा के परिवहन, कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री मूलचंद शर्मा, सहकारिता राज्य मंत्री डा. बनवारी लाल, रैली के संयोजक एवं हथीन से विधायक प्रवीण डागर, पलवल से विधायक दीपक मंगला, होडल से विधायक जगदीश नायर आदि भी उपस्थित रहे। रैली में पहुंचने पर मुख्यमंत्री तथा केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर का स्थानीय विधायकों व सामाजिक संगठनों की ओर से अभिनंदन किया गया।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा प्रगति रैली के मंच से पलवल जिला के सभी तीन विधानसभा क्षेत्रों के लिए खजाना खोलते हुए करीब 300 करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं की घोषणा की। उन्होंने बृज भूमि पलवल जिला से प्रदेशवासियों को होली की शुभकामनाएं भी दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में नए वित्त वर्ष में पहली बार साल भर की शहरी व ग्रामीण विकास की ग्रांट को फिक्स करने की योजना बनाई जा रही है। जिसके तहत अप्रैल से मार्च तक के वित्त वर्ष में हर माह बजट अलॉट होगा। इसी कड़ी में पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों को आगामी वित्त वर्ष के लिए कुल 240 करोड़ रूपए मिलेंगे।

प्रगति रैली में पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों हथीन, पलवल व होडल की जनता से सीधा संवाद करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार आमजन के साथ ही हर वर्ग के सुझावों के आधार पर आगामी बजट पेश करेगी। उन्होंने बताया कि सांसद से लेकर विधायक,उद्यमी, किसानों, महिलाओं व प्रशासनिक अधिकारियों के साथ सांझे विचार लेने के साथ ही बजट की रूपरेखा तैयार की गई है। उन्होंने बताया कि जनसुविधा के आधार पर अब आगामी बजट के पेश होने के साथ ही ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के विकास के लिए विशेष रूप से ग्रांट फिक्स कर दी जाएगी। इसके तहत ग्राम पंचायत, जिला परिषद, नगरपरिषद व नगर पालिका के तहत होने वाले विकास कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर करते हुए विशेष विकास कार्य के लिए मिले बजट से ही कार्यों को पूरा किया जाएगा। उक्त विकास कार्यों को कराने के लिए समयानुसार राशि संबंधित मद के लिए खर्च की जा सकेगी। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों के कार्यकाल में जो अनदेखी पलवल जिला के साथ हुई है वह उनके कार्यकाल में नहीं होने दी जा रही। उन्होंने बताया कि पिछले पांच साल के कार्यकाल में पलवल जिला के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में अब तक करीब 1100 करोड़ रूपए विकास कार्यों पर खर्च हो चुके हैं। ऐसे में विकास का यह क्रम निरंतर जारी रखते हुए वे पलवल जिला के विकास में कोई कमी नहीं आने देंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की दूसरी पारी के 100 दिन में सरकार की ओर से जनसेवा को समर्पित फैसले लिए गए हैं। सरकार की ओर से हरियाणा में तालाब प्राधिकरण गठित किया गया है और इसके तहत जल संरक्षण की दिशा में आगे बढ़ते हुए सरकार ने प्रदेश के सभी तालाबों को स्वच्छ व सुंदर बनाने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रदेश की सब्जी मंडिय़ों व शुगर मील में किसानों की सुविधा के लिए सस्ती दर पर भोजन उपलब्ध कराने के लिए 10 रूपए प्रति थाली योजना को शुरू किया जा रहा है और अब तक 25 कैंटीन इस योजना के तहत शुरू हो चुकी हैं और शेष में जल्द ही योजना के तहत किसानों को भोजन सुविधा मंडियों व शुगर मील में मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कदम बढ़ाते हुए प्रदेश के सभी गांवों को लाल डोरा मुक्त किया जाएगा और उस गांव के हर घर का पूरा राजस्व रिकार्ड भी होगा। फल व सब्जियों का उत्पादन करने वाले किसानों को भावंातर भरपाई योजना का लाभ सरकार की ओर से दिया जा रहा है।
हरियाणा प्रगति रैली में उमड़े जनसमूह से गदगद मुख्यमंत्री ने बीते विधानसभा चुनाव में पलवल जिला की सभी तीनों सीट जीताने के लिए जनता का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस सरकार में पलवल जिला का योगदान उल्लेखनीय व अतुलनीय है। यहां के लोगों ने सौ फीसदी रिजल्ट दिया है। आपने अब तक की पूर्व सरकारों का कार्यकाल देखा और पिछले पांच साल से उनका सेवा काल देखा। ऐसे में अंतर साफ नजर आ रहा है कि पूर्व सरकारों ने केवल निजी हितों को सर्वोपरि रखा जबकि हमारी सरकार ने सेवक की भूमिका निभाते हुए व्यवस्था परिवर्तन लाकर विकास की ओर ठोस कदम बढ़ाए हैं। 2022 तक हरियाणा प्रदेश के हर घर में नल से जल पहुंचाने के लक्ष्य के साथ सरकार आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री परिवार समृद्धि योजना के तहत पात्र परिवारों का पंजीकरण करते हुए उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजना से लाभांवित किया जाएगा।  
हरियाणा प्रगति रैली में केंद्रीय मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर ने मुख्यमंत्री का लोसभा क्षेत्र में पहुंचने पर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि पलवल जिला से पहली बार भाजपा के विधायक जनता ने सरकार में भागीदार बनाए हैं। ऐसे में पूर्व की सरकारों के कार्यकाल में जो अभाव जिला ने झेला है उसे मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व की सरकार ने दूर करने का काम करते हुए समान विकास की विचारधारा से जिला में काम करवाए हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री का धन्यवाद व्यक्त किया कि पिछले पांच सालों में इस जिला में नहरों को पक्का करने का काम हुआ है। अतना ही नहीं हर वर्ग के उत्थान के लिए सरकार ने कल्याणकारी योजनाओं से इस जिला की जनता को लाभांवित किया है।
यह रहे मौजूद :
हथीन अनाज मंडी परिसर में आयोजित प्रगति रैली में पृथला से विधायक एवं चेयरमैन नयनपाल रावत, फरीदाबाद से विधायक नरेंद्र गुप्ता, सोहना से विधायक संजय सिंह, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सचिव अजय गौड, भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सोरोत, संदीप जोशी, पूर्व विधायक केहर सिंह रावत, राम रत्तन, सुभाष चौधरी, जाकिर हुसैन, हैफेड के चेयरमैन सुभाष कत्याल, पलवल की प्रभारी नीरा तोमर, जिला परिषद चेयरपर्सन आशावती, पशुधन विकास बोर्ड के वाइस चेयरमैन मेहरचंद गहलोत, पवन अग्रवाल, जय सिंह चौहान, राधेश्याम कालड़ा सहित जिला प्रशासन की ओर से उपायुक्त नरेश नरवाल, एसपी दीपक गहलावत, एडीसी वत्सल वशिष्ठï व हथीन के एसडीएम वकील अहमद, लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता नरेंद्र यादव, जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता शिवराज सिंह, तहसीलदार रोहताश सहित अन्य संबंधित अधिकारीगण व कार्यकर्ता मौजूद रहे।
इन विकास योजनाओं का हुआ शुभारंभ :
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को हथीन शहर की अनाज मंडी में हरियाणा प्रगति रैली को संबोधित करने से पूर्व पलवल जिला की 26 करोड़ 87 लाख रुपए की लागत से तैयार चार बड़ी विकास योजनाओं का शुभारंभ किया। उन्होंने करीब 11 करोड़ रूपए की लागत से पलवल में परिवहन विभाग की कार्यशाला व बस स्टेंड की तीन बेज, 3.23 करोड़ रूपए की लागत से नवनिर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र दूधौला, गांव फिरोजपुर राजपूत में बनाए गए इंटरमीडिएट बूस्टिंग स्टेशन (लागत 7.68 करोड़ रुपए) तथा गांव खिल्लूका स्थित इंटरमीडियेट बूस्टिंग स्टेशन (लागत 4.94 करोड़ रुपए) की विकास योजनाओं का शुभारंभ किया।
मुख्यमंत्री की प्रमुख घोषणाएं  
हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पलवल जिला के सभी तीन विधानसभा क्षेत्रों के करीब 300 करोड़ रुपए की घोषणाएं की, जिनमें प्रमुख कुंडली-मानेसर-पलवल व दिल्ली-वडोदरा-मुंबई एक्सप्रेस वे के साथ करीब 25 करोड़ रूपए की लागत से बनेगी सर्विस लेन, पलवल जिला के तीनों विस क्षेत्रों की लोक निर्माण विभाग की सडक़ों के निर्माण पर खर्च होंगे कुल 45 करोड़ रूपए, मार्केटिंग बोर्ड की जिला की 8 सडक़ों पर खर्च होंगे 12 करोड़ रूपए, पलवल जिला के तीन नहरी पुलों के निर्माण पर खर्च होंगे कुल 15 करोड़ रूपए, हसनपुर में 5 करोड़ रूपए की लागत से बनेगा पीडब्ल्यूडी रेस्ट हाऊस, साढ़े 7 करोड़ रूपए की लागत से पलवल शहर में पक्का होगा रजबाहा, हथीन, बामनीखेड़ा की माइनर पर खर्च होंगे 5 करोड़ रूपए, हथीन शहर में एक करोड़ की राशि से बनेगा मिनी खेल स्टेडियम, बामनीखेड़ा के रावमावि भवन की मरम्मत पर खर्च होंगे 92 लाख रूपए, होडल के खामी गांव में 3 करोड़ रूपए की लागत से बनेगी पीएचसी, पलवल शहर के हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की सडक़ों पर खर्च होंगे ढाई करोड़ रूपए, पलवल-फरीदाबाद की सीमा पर सिकरी गांव में बनेगा पशु विज्ञान केंद्र के अतिरिक्त विधायकों की ओर से रखी गई विभिन्न मांगों पर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार कर पूरा कराने की बात कही।

फरीदाबाद में निकाली गई CAA के समर्थन में रैली 


फरीदाबाद: हमारा देश एक प्रजातांत्रिक देश है जहां पर सभी धर्मों के लोग मिलजुलकर एक साथ रहते हैं और एक दूसरे के कार्य में सहयोग देते हैं किंतु हमारे पड़ोसी देश जो धर्म के आधार पर विभाजित हुए थे वहां के अल्पसंख्यकों पर उत्पीड़न करते आए हैं जिससे उनका हमारे पड़ोसी देशों में रहना मुश्किल हो गया है इसलिए भारत सरकार ने भारत की संसद पर एक एक बिल प्रस्तुत किया जिसे सिटीजन अमेंडमेंट बिल या नागरिकता संशोधन बिल के नाम से जाना जाता है यह बिल भारत की लोकसभा और राज्यसभा दोनों से सर्वसम्मति से पास हो गया और कानून बन गया। इस कानून के अंतर्गत हमारे पड़ोसी देश पाकिस्तान, वर्मा एवं बांग्लादेश के अल्पसंख्यक समुदाय जिसमें हिंदू , ईसाई सिख, जैन और पारसी सम्मिलित हैं यदि  पड़ोसी देशों से आए हुए  इन धर्मों के 5 साल से भारत वर्ष में रह रहे हैं और उनके पास ऐसा कोई दस्तावेज है तो उनको भारत की नागरिकता प्रदान की जाएगी।  सतीश गौतम   सामाजिक समरसता प्रमुख फरीदाबाद  का कहना है  कि यह बिल अब कानून बन चुका है इसलिए हम सबका उत्तरदायित्व है कि हम भारत के संविधान का सम्मान करें और उसका पालन करें। किंतु हमारे ही देश में कुछ ऐसे लोग हैं जो अपने स्वार्थ के कारण इस बिल का समर्थन नहीं करते और उनके लिए यह एक राजनीति का अखाड़ा बन गया है ।

हमारे देश की जनता जिन्हें कुछ भी पता नहीं है कि नागरिकता संशोधन अधिनियम क्या है वह थोड़े से लालच और नेताओं के भड़काने पर इस कानून का विरोध कर रहे हैं जो कि उचित नहीं है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नगर कार्यवाह जितेंद्र जी का वक्तव्य है कि  हम सभी को जो भारत के नागरिक हैं नागरिकता संशोधन कानून का समर्थन करना चाहिए । नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आज सेक्टर 21 ए फरीदाबाद के विवेकानंद पार्क पर एक जनसभा का आयोजन किया गया जनसभा में सेक्टर 21 गांधी कॉलोनी, अंनखीर, बड़खल, संजय गांधी मेमोरियल नगर और आसपास के गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया । इसी उपलक्ष पर डॉ उमेश ने अपने उद्बोधन में कहा की नागरिकता संशोधन अधिनियम किसी भी भारतवासी की नागरिकता लेने के लिए नहीं है बल्कि पड़ोसी देशों से आए अल्पसंख्यक लोगों को नागरिकता देने का है इसीलिए किसी भी भारतवासी को चिंतित नहीं होना चाहिए बल्कि इस कानून का समर्थन करना चाहिए। उदबोधन के बाद नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन मे एक रैली का आयोजन किया गया इस रैली में फरीदाबाद के विभिन्न लोगों ने अपनी अपनी सवारी  मोटरसाइकिल स्कूटर लेकर राष्ट्रीय झंडा लेते हुए रैली मे भाग लिया। यह रैली सेक्टर 21 ए के विवेकानंद पार्क  फरीदाबाद से चलकर अंनखीर गांव,   बड़खल गांव ,  गांधी कॉलोनी, संजय गांधी मेमोरियल नगर और उसके बाद माता वैष्णो देवी मंदिर संजय गांधी मेमोरियल नगर से होते हुए पटेल चौक पहुंची ।सब के मुंह से एक ही वाक्य निकल रहा था कि वी सपोर्ट सिटीजन अमेंडमेंट एक्ट कि हम नागरिकता संशोधन अधिनियम का समर्थन करते हैं इस रैली में शहर के गणमान्य व्यक्तियों के अलावा फरीदाबाद के विभिन्न संस्थाओं जैसे शिव शक्ति सेवा मंडल,  ग्राम विकास समिति, नवचेतना मंडल,  पूर्वी सेवा समिति,  सेवा भारती   विश्व हिंदू परिषद,  लघु उद्योग भारती, रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन,  कुमाऊं सांस्कृतिक मंडल और विभिन्न  विद्यालयों के संचालकों ने भाग लिया। रैली सफल रही।

फरीदाबाद में ईको ग्रीन कर्मचारी राकेश बैसला पर जानलेवा हमला


फरीदाबाद: आज शाम अपने मित्रों समेत घर लौट रहे ईको ग्रीन कर्मचारी राकेश बैसला पर कुछ हथियारबंद   बदमाशों ने हमला कर दिया , हमला फ़रीदाबाद के सेक्टर 46 में हुआ, पीड़ित राकेश बैसला मूल रूप से गाँव मेवला महाराजपुर फ़रीदाबाद के निवासी हैं और ईको ग्रीन कम्पनी के साथ काम कर रहे हैं उनका कहना है की कार्य क्षेत्र को लेकर  उन्हें दो दिन पहले कुछ लोगों द्वारा जान से मारने की धमकी दी गयी थी जिसे उन्होंने गम्भीरता से नही लिया ओर आज उन पर हमला हो गया। 
पीड़ित की माने तो उन पर हमला करने वाले हमलावर योगेश निवासी फ़तेहपुर चंदिला, अंकित निवासी फ़तेहपुर चंदिला, अमित चपराना  निवासी मेवला महाराजपुर, अरुण चपराना निवासी मेवला महाराजपुर व बिट्टू चपराना निवासी मेवला महाराजपुर अपने कुछ अन्य साथियों समेत ब्रेज़ा व स्विफ्ट गाड़ियों में सवार होकर आए और पीड़ित राकेश बैसला पर लोहे की रोड से हमला कर दिया , पीड़ित की माने तो उनपर योगेश द्वारा पिस्टल से फ़ायर करने की कोशिश भी की गई थी लेकिन पिस्टल चल नही पाई और भीड़ को इकट्ठे होता देख सभी हमलावर मौक़े से भाग निकले। 

सूत्रों की माने तो योगेश व अंकित निवासी फ़तेहपुर चंदिला पेशेवर अपराधी हैं और इन पर पहले से ही हत्या जैसे संगीन आरोप के मुक़द्दमे दर्ज हैं व इनका साथी अमित चपराना निवासी मेवला महाराजपुर भी आपराधिक गतिविधियों में शामिल है और हथियार  रखने का शौक़ीन है। 
फ़िलहाल पीड़ित के परिजनो द्वारा इस घटना की शिकायत से सम्बंधित पुलिस चौकी को अवगत करा दिया गया है और चौकी प्रभारी प्रदीप कुमार द्वारा उन्हें न्याय दिलाने का आश्वासन भी दिया गया है। पूरी जानकारी कल 

70 दिन बाद शाहीन बाग़ वालों ने खोला नोएडा-फरीदाबाद का रास्ता, जश्न में डूबे लोग, देखें वीडियो


नई दिल्ली: कुछ घंटे की ड्रामेबाजी के बाद अब जानकारी मिल रही है कि 70 दिनों बाद शाहीन बाग़ वालों ने
नोएडा और फरीदाबाद जाने वाले एक वैकल्पिक रास्ते को खोल दिया है।  इस रास्ते से सिर्फ छोटी गाड़ियां, कार और बाइक ही जा सकते हैं। यह रास्ता होली फैमिली, जामिया, बटला हाउस और अबुल फजल होते हुए नोएडा और फरीदाबाद जाता है। रोड खुलने के बाद कैसे जश्न मनाया गया देखें।

जेजेपी में शामिल हुए इनेलो नेता ठाकुर उमेश भाटी


नई दिल्ली/चंडीगढ़, 22 फरवरी। शनिवार को एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में इंडियन नेशनल लोकदल के के प्रदेश प्रवक्ता ठाकुर उमेश भाटी ने जननायक जनता पार्टी में शामिल होने की घोषणा की। जेजेपी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह चौटाला ने उमेश भाटी को पार्टी का पटका पहनाकर उनका स्वागत किया और जेजेपी परिवार का सदस्य बनाया। वहीं डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने उमेश भाटी का जेजेपी में स्वागत करते हुए कहा कि पार्टी में उन्हें पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा। ठाकुर उमेश भाटी तिगांव से विधानसभा प्रत्याशी रह चुके हैं और अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा (हरियाणा) के प्रदेश अध्यक्ष भी है।

जेजेपी में शामिल होते हुए उमेश भाटी ने कहा कि उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला व जेजेपी नेता दिग्विजय चौटाला की साफ व ईमानदार छवि से प्रभावित होकर उन्होंने जेजेपी के साथ जुड़ने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला जैसी युवा शक्ति के साथ जुड़कर वे प्रदेश हित में कार्य करना चाहते है। साथ ही उन्होंने बीजेपी-जेजेपी गठबंधन सरकार द्वारा कम समय में प्रदेश हित में उठाए कदमों की सराहना की।

भीम आर्मी का भारत बंद कल, फरीदाबाद पुलिस अलर्ट, CP बोले क़ानून तोड़ने वाले बर्दाश्त नहीं 


फरीदाबाद: दिनांक  23 फरवरी को भीम आर्मी द्वारा सम्भावित भारत बंद के संदर्भ में फरीदाबाद पुलिस पूरी तरह से अलर्ट है। ,ढाई हजार पुलिसकर्मी रहेंगे तैनात।

इसके अलावा शहर में अलग-अलग स्थान पर 48 पीसीआर, 48 राइडर और 48 नाके रहेंगे अलर्ट और शरारती तत्वों पर पुलिस की होगी पैनी नजर। भारत बंद की आड़ में किसी को भी कानून व्यवस्था हाथ में नहीं लेने दी जाएगी सख्ती से निपटा जाएगा शरारती तत्वों से।

भीम आर्मी व अन्य के द्वारा  दिनांक  23 फरवरी को भारत बन्द के संबंध में श्रीमान केके राव ,पुलिस आयुक्त महोदय ने सभी उपायुक्त पुलिस फरीदाबाद, सहायक पुलिस उपायुक्त फरीदाबाद, सभी थाना प्रबंधक, चौकी प्रभारी और क्राइम ब्रांच यूनिट को निर्देश दिए हैं कि वह इस भारत बंद के दौरान अपने अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखें।

पुलिस उपायुक्त सेंट्रल, एनआईटी, व बल्लभगढ़ द्वारा अलग-अलग रिजर्व बनाई गई है  सभी अपनी रिजर्व को तैयार रखेंगे वा आवश्यकता पड़ने पर इन रिजर्व का का इस्तेमाल करेंगे। 

इसके अलावा पुलिस लाइन में चार अतिरिक्त रिजर्व तैयार की गई है जो सभी एंटी रॉयटस इक्विपमेंट्स से लैस होंगी और जरूरत पड़ने पर आवश्यकतानुसार। प्रयोग में लाई जाएंगी।


सभी पुलिस उपायुक्त फरीदाबाद, सभी सहायक पुलिस आयुक्त फरीदाबाद व सभी प्रबंधक थाना फरीदाबाद अपने-अपने क्षेत्र में निगरानी रखेंगे तथा कानून एवं व्यवस्था को बनाए रखेंगे अगर किसी के क्षेत्र में कानून एवं व्यवस्था के संबंध में कोई असुविधा उत्पन्न होती है तो अतिरिक्त पुलिस बल का इस्तेमाल करेंगें।

पुलिस उपायुक्त अपराध शाखा द्वारा अपने अधीनस्थ अपराध टीमों में रिर्जव बनाई गई है रिर्जव टीम जिला फरीदाबाद में किसी भी क्षेत्र में कानून व्यवस्था बिगड़ने पर उस स्थान पर सुरक्षा कराएंगे।

एंटी राइट्स इक्यूपमेंट के साथ महिला रैपिड एक्शन फोर्स वह पुलिस रिजर्व दोनों जगह पर तैनात रहेगी। एंबुलेंस और फायर ब्रिगेड मौजूद रहेंगी। इसके अलावा क्राइम ब्रांच और सिक्योरिटी ब्रांच को सादे कपड़ों में अपराधी तत्वों पर नजर रखने के लिए कहा गया है । अगर विरोध प्रदर्शन होता है तो वीडियोग्राफी कराई जाएगी ताकि असामाजिक तत्वों पर नजर रखी जा सके। इस दौरान सभी एस.एच.ओ सभी महापुरूषों की प्रतिमाओं पर विशेष निगरानी रखेंगें।

पुलिस आयुक्त केके राव  ने अपील की है कि प्रमोशन में आरक्षण के विरोध में भारत बंद के दौरान अगर कोई समाज प्रदशर्न या मार्च निकालता है तो शांतिपूर्वक अपना मार्च निकाले। कोई भी व्यक्ति कानून व्यवस्था से खिलवाड़ ना करें और सामाजिक भाईचारे को बनाए रखें। कानून की अवहेलना करने वालों को सख्ती से निपटा जाएगा।