Info Link Ad

Main Section

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Showing posts with label Faridabad News. Show all posts

फरीदाबाद के डीसी ने आज फिर किया बीके अस्पताल का निरीक्षण


फरीदाबाद,5 दिसम्बर।  उपायुक्त अतुल कुमार ने वीरवार को दोपहर बाद तीन बजे फिर से स्थानीय नागरिक अस्पताल (बीके) परिसर का  निरीक्षण किया। पहले की तुलना में  उपायुक्त  के पिछले दौरे के बाद आज नागरिक अस्पताल में सफाई व्यवस्था अच्छी पाई गई, जिस पर उपायुक्त ने  अस्पताल प्रशासन को  इसी प्रकार की सफाई व्यवस्था आगे भविष्य में भी  रखने के निर्देश दिए हैं ।
आज  निरीक्षण के लिए उपायुक्त  इमरजेन्सी वार्ड में पहुंचे और उन्होंने वहां पर स्वास्थ्य उपाचार करवा रहे लोगों से उनका हाल चाल पूछा । उन्होंने  नागरिक अस्पताल में डाक्टर ड्यूटी रूम, एक्स रे रूम,टायलेट, बाथरूम ,अस्पताल परिसर की साफ-सफाई, एसएनसीयू सहित नागरिक अस्पताल का निरीक्षण किया गया ।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त अतुल कुमार ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए कहा कि मंगलवार को निरीक्षण के दौरान जो दिशा-निर्देश चिकित्सा अधिकारियों को दिए गए थे, उन्होंने उन पर सन्तोष जनक कार्रवाई अमल में ला कर कमियों को दूर कर दिया है । उपायुक्त ने बताया कि एक्स-रे व अल्ट्रासाउंड के लिए दूसरी मशीनों के मंगवाने बारे सरकार को पत्र लिखा जाएगा।

उपायुक्त अतुल कुमार ने बताया कि बल्लभगढ़ सरकारी  अस्पताल में नए शीशु वार्ड (एसएनसीयू) खुलवाने बारे भी कार्यवाही की जा रही है । उन्होंने कहा कि नागरिक अस्पताल पर शहर की ज्यादा आबादी का दबाव है, फिर भी यहां नियुक्त चिकित्सा अधिकारियों के सहयोग से आम जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के प्रयास किए जाएंगे। इस दौरान पीएमओ डॉ सविता यादव, डाक्टर रमेश चन्द्र, डाक्टर राजेश श्योकन्द, डाक्टर रचना, डाक्टर विजय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे ।

वार्ड- 8 की पार्षद ने अवैध मुर्गा मंडी हटवाया, कहा सब्जी मंडी रोड से हटवाया जायेगा अवैध अतिक्रमण


फरीदाबाद: वार्ड नंबर 8 की पार्षद ममता चौधरी ने कहा है कि वार्ड में अवैध अतिक्रमण बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। ममता चौधरी के मुताबिक़ वार्ड के अंदर आने वाली डबुआ सब्जी मंडी की की मुख्य सड़क जो सेक्टर 50 का प्रवेश द्वार है वहां कई लोगों ने अवैध रूप से मुर्गा मंडी चला रहे थे और सड़क के किनारे ही खुले में मुर्गे काटते थे। उस मंडी को 2/12/19  को हटाया गया था व आगे भी ना लगाने की चेतावनी दीं गयी थी परंतु उन्होंने फिर वहाँ दुकान लगा दी थी जिसको आज 5/12/19को तोड़फोड़ विभाग व सफ़ाई कर्मचारीओ ने उनका सामान ज़ब्त किया व तोड़फोड़ की  ।
उन्होंने कहा कि नई सब्जी मंडी एवं लेजर वैली पार्क के बीच में लगी अवैध दुकानो व रहडीओ को भी शीघ्र हटाया जाएगा इनके कारण हमेशा रोड जाम रहता है जिनके कारण वार्ड के लोगों को आने जाने में परेशानी हो रही है। उन्होंने कहा कि मुख्य सड़क होने के नाते यहाँ से लग रोज लगभग 50 लोग आते जाते हैं लेकिन अवैध अतिक्रमण के कारण लोग जाम में फंस जाते हैं। उन्होंने कहा कि जल्द सड़क खाली करवाई जाएगी। 

निगमायुक्त की अपील, प्लास्टिक व पाॅलिथिन का प्रयोग न करें, थैला लेकर जाएँ बाजार 


फरीदाबाद, 5 दिसम्बर। निग्मायुक्त सोनल गोयल ने शहरवासियों से अपील की है कि वे प्लास्टिक व पाॅलिथिन का प्रयोग न करें और कपड़े के थैले लेकर ही बाजार में आए। फरीदाबाद नगर निगम प्रशासन के द्वारा इण्डियन आॅयल कारपोरेशन के साथ मिलकर स्थानीय एन.एच.-5 मार्किट में एक समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने प्लास्टिक सामग्रियों से पर्यावरण को हो रहे गंभीर खतरों के प्रति आगाह करते हुए कहा कि धरती को हरा-भरा रखने के लिए और मानव कल्याण के लिए इन चीजों का संपूर्ण बहिष्कार किया जाना अति आवश्यक है। उन्होंने दुकानदारों से भी अपील की है कि वे पाॅलिथिन में सामान बेचना बंद करें, जिससे कि उन्हें नगर निगम फरीदाबाद के द्वारा की जाने वाली दण्डात्मक कार्यवाही का सामना न करना पड़े। इण्डियन आॅयल कारपोरेशन के मुख्य महाप्रबंधक उमेश श्रीवास्तव व सलाहकार गंगा प्रसाद मिश्रा, निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डा. उदयभान शर्मा, कार्यकारी अभियंता श्याम सिंह व दीपक किंगर, सहायक अभियंता सुरेन्द्र खटटर, सहायक सफाई निरीक्षक राजेन्द्र दहिया आदि उपस्थित थे।     

 निग्मायुक्त ने इस समारोह में इंडियन आॅल कारपोरेशन लिमिटेड के द्वारा उपलब्ध करवाए गए कपड़े के थैलों को आम नागरिकों को वितरित किया। हरियाणा युवा संघ के प्रधान अनिल दहिया, मार्किट के प्रधान बंशीलाल कुकरेजा व महासचिव राजेश मलिक और समारोह में उपस्थित व्यापारियों, आम नागरिकों व समाजसेवियों ने निग्मायुक्त का स्वागत करते हुए उन्हें भरोसा दिलाया कि पर्यावरण के हित में और मानव कल्याण के लिए नगर निगम प्रशासन के द्वारा उठाए गए इस कार्य में वह भरपूर सहयोग करेंगे। समारोह में प्लास्टिक हटाओ-बीमारी भगाओ, प्लास्टिक बैग को न कहे-भविष्य को हां कहे, न सड़े न गले-पाॅलिथिन पर्यावरण का नाश करें, के श्लोगन लिखी पटिटकाएं आम नागरिकों को काफी आकर्षित कर रही थी।

     

बड़े पुलिस अधिकारी की जेब भर फेरस के ठगों ने लगाया फरीदाबाद के निवेशकों को 100 करोड़ का चूना 


फरीदाबाद: शहर में 5-7 वर्षों के दौरान कई बड़े अपराध हुए हैं, कई बड़ी लूट और ठगी हुई है लेकिन फरीदाबाद पुलिस ने अधिक समय तक हत्यारों, लुटेरों ठगों को चैन की सांस नहीं लेने दिया। अधिकतर मामले फटाफट सुलझा लिए गए। एक बड़े ठग को भी नीमका जेल भेज दिया गया जिसके पास से हाल में जेल में मोबाईल बरामद हुआ जिसे कई हजार करोड़ का गड़बड़झाला किया था और शहर के हजारों लोगों को चूना लगाया था। शहर में अच्छे पुलिस अधिकारी आते हैं तो बदमाश या ठग कितना भी बड़ा हो वो नीमका पहुँच जाता है। जिस ठग के पास हाल में मोबाइल बरामद हुआ था वो काफी समय से इसलिए बच रहा था क्यू कि उसे कुछ नेता और कुछ पुलिस अधिकारी बचा रहे थे। उसका कवच बने हुए थे लेकिन वक्त बदला और उसे गिरफ्तार कर नीमका जेल में ठूंस दिया गया। हरियाणा अब तक को शहर में हुई एक और बड़ी ठगी की जानकारी लगभग एक हफ्ते पहले मिली ,जानकारी के मुताबिक़ गुड़गांव के गोल्फ कोर्स वाटिका टॉवर ब्लॉक तीन में प्रथम तल पर स्थित फेरस इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी के निदेशकों सुरेंद्र सेठ, आशीष सेठ, अमित सेठ ने शहर के कई भोले-भाले लोगों को अपने जाल में फंसकर 100 करोड़ रूपये से ज्यादा ठग लिया।

 हाल की खबरों में आपने  देखा होगा कि इन ठगों ने लोगों को कैसे ठगा। 2012 में ठगों ने अख़बारों में विज्ञापन निकलवाया। आईएमटी से लगती जमीन सेक्टर-70 में इन ठगों ने लोगों को  लग्जरी सुविधाएं जैसे पार्क, स्कूल, अस्पताल, शापिंग कांप्लेक्स, स्वीमिंग पूल आदि का सपना दिखाकर निवेशकों को प्लाट बेच दिया। लोगों से 85 फीसदी तक रकम की वसूली कर ली और इस दौरान वहां कुछ मजदूर लगा दिए कि सड़क सीवर का काम चल रहा है जल्द प्रोजेक्ट पूरा होगा। लोग पैसा जमा करते चले गए। आज 4 दिसंबर तक उस जमीन पर गड्ढे ही हैं। कोई ईमारत नहीं बनी। दोनों ठग सैकड़ों करोड़ ठग पर दिल्ली में मौज कर रहे हैं। बेचारे निवेशक खून के आंसूं रो रहे हैं। भगवान् से दुआ मांग रहे हैं कि भगवान फरीदाबाद में कोई अच्छे पुलिस अधिकारी को भेज दो जो हमारा दुःख दर्द समझ सके। निवेशकों का कहना है कि फरीदाबाद के कई थानों में क्राइम ब्रांच और साइबर सेल में एक से एक अच्छे पुलिस अधिकारी हैं और वो चाहें तो ठग सुरेंद्र सेठ और  आशीष सेठ को तुरंत दबोच सकते हैं लेकिन ऊपर का कोई पुलिस अधिकारी इन ठगों से मिला है और कई करोड़ रूपये खा चुका है इसलिए वो इन ठगों को बचा रहा है। 

निवेशकों का कहना है कि भूपानी थाने में इन ठगों पर कई मामले दर्ज हैं लेकिन वहां के कुछ पुलिसवालों से ये ठग मिले हुए हैं और पूंछतांछ के लिए दो बार ये ठग मीटिंग में आये और पुलिस अधिकारीयों के सामने ऐसे बैठे दिखे जैसे ये ससुराल में आये हुए हैं। एक बार एक निवेशक ने शहर के एक बड़े पुलिस अधिकारी के सामने कहा कि इन पर फ्राड के मामले दर्ज  हैं और आप इन्हे गिरफ्तार क्यू नहीं करवाती हैं , वो मैड़म उस समय डीसीपी क्राइम थीं  तो उन्होंने  कहा कि ऊपर से हमारे ऊपर कार्यवाही हो सकती है, हम इन्हे ऐसे गिरफ्तार नहीं कर सकते हैं। उस समय निवेशक को लगा कि इन ठगों ने किसी ऊपर वाले अधिकारी की जेब भर दी है इसलिए शहर के एसीपी और इंस्पेक्टर लेवल के अधिकारी इन पर कोई कार्यवाही नहीं कर सकते।

हरियाणा अब तक को आज इन ठगों की ठगी की कई जानकारियां मिलीं जिनमे कुछ लोगों ने बताया कि हमने अपनी जमीन जायदाद गिरवी रख या बैंक से लोन लेकर पैसा लिया और इन ठगों को दे दिया। हम अब भी बैंक को क़िस्त दे रहे हैं, ब्याज दे रहे हैं लेकिन जिस वक्त हम बैंक की खिड़की पर लोन की क़िस्त जमा करने जाते हैं उस वक्त हम खून के आंसूं रोते हैं क्यू कि इन ठगों ने हमारा पैसा ठग लिया जिसका भुगतान हमें करना पड़ रहा है और हमें मिला कुछ भी नहीं। अब निवेशक सीपी के खुले दरबार का इन्तजार कर रहे हैं और जब भी सीपी खुला दरबार लगाएंगे ये लोग उनसे फरियाद करने पहुंचेंगे। कुछ निवेशक गृह मंत्री अनिल विज से भी मिलने का प्रोग्राम बना रहे हैं।
हरियाणा अब तक आपको इन ठगों के बारे में आगे भी कई जानकारियां देगा क्यू कि इन्होने कई ऐसे लोगों को ठगा है जिनकी बेटी की शादी रुक गई , बच्चे की पढ़ाई अधूरी छुड़वा दी गई क्यू कि बैंक को क़िस्त देने के बाद निवेशकों के पास कुछ नहीं बचता है। ये फरीदाबाद की जनता के 100 से ढाई सौ करोड़ ठग जब तक दिल्ली में ऐश करते रहेंगे तब तक हमारा ठग दबोचो अभियान जारी रहेगा। निवेशकों को सिर्फ एक दबंग पुलिस अधिकारी की जरूरत है उसके बाद वो पुलिस अधिकारी सबका दुःख दर्द पल में दूर कर देगा। शायद यही वजह है कि निवेशक भगवान् से प्रार्थना कर रहे हैं कि फरीदाबाद को एक अच्छा पुलिस अधिकारी जल्द मिले।

फरीदाबाद की सड़कों पर अब भी दौड़ रहे हैं अजीब नंबर के वाहन


फरीदाबाद: यातायात के नियमों में बदलाव के बाद बड़े जुर्मानें का प्रावधान किया गया लेकिन फरीदाबाद की सड़कों पर अब भी कुछ ऐसे वाहन दिख जाते हैं जिनमे नंबर प्लेट पर नंबर की जगह कुछ और लिखा होता है। तस्वीर में एक कार के नंबर प्लेट की जगह किसी का नाम लिखा है तो एक बाइक के नंबर प्लेट की जगह भी कुछ और ही लिखा है। कार मथुरा रोड पर बल्लबगढ़ के पास दौड़ती दिखी जबकि बाइक के बारे में बताया जा रहा है कि बायपास रोड सेक्टर 8 के पास दिखी। 

केन्द्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय के सचिव से मिल MLA नीरज शर्मा ने रखी कई मांगें 


फरीदाबाद: विधायक बनने के बाद अगर फरीदाबाद के 6 विधानसभा क्षेत्रों के विधायकों की बात करें तो पांच विधायक अभी अपना स्वागत कराते ज्यादा दिख रहे हैं जमीन पर कम नजर आ रहे हैं। छठवें  विधायक नीरज शर्मा जो एनआईटी से कांग्रेस के विधायक हैं और विधायक बनते ही क्षेत्र की समस्या के लिए कभी चंडीगढ़ में दिख रहे हैं तो कभी रात्रि में क्षेत्र का दौरा कर लापरवाह कर्मचारियों की पोल खोल रहे हैं। विधायक नीरज शर्मा आज केन्द्रीय आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा से मिले जहां उन्होंने क्षेत्र समस्याएं उन तक पहुंचाईं। नीरज शर्मा ने उन्हें बताया कि फरीदाबाद में प्रदूषण का अधिकतर बढ़ना चिंता का विषय है और उनके क्षेत्र के 60 फ़ीट  एयरफोर्स  रोड के आस पास का एरिया प्रदूषण के मामले में हाट स्पॉट बना हुआ है। 

उन्होंने मिश्रा से बताया कि एनआईटी-86 का कोई भी एरिया स्मार्ट सिटी में नहीं आता इसलिए इस पर भी विचार किया जाए। उन्होंने शहरी विकास मंत्रालय के सचिव को बताया कि हमारे क्षेत्र के एयरफोर्स 100 मीटर के दायरे में रहने वाले हजारों का बहुत परेशान रहते हैं इसलिए उनके बारे में भी सोंचा जाए और उचित समाधान किया जाए। नीरज शर्मा ने बताया उन्होंने शहरी विकास मंत्रालय के सचिव से मांग की कि सरकारी स्तर पर ऐसा कोई कदम उठाया जाये कि ये जमीन शहरी विकास मंत्रालय को मिल जाये। नीरज शर्मा ने कहा कि उनके क्षेत्र की प्रेस कालोनी में के बारे में भी सोंचा जाए। वहां प्रेस का काम अब बंद हो चुका है और ये भारत सरकार की जमीन है इसे मुक्त करवाया जाए और जिसने अवैध कब्जे किये हैं जांच करवाई जाए। 

फरीदाबाद और गुरुग्राम नगर निगम के कई भ्रष्ट अधिकारियों पर गिर सकती है विज की गाज


चंडीगढ़: अगर सब कुछ ठीक-ठाक रहा तो आने वाले कुछ महीने में फरीदाबाद और गुरुग्राम नगर निगम के कई अधिकारियों पर गाज गिर सकती है। दोनों जिलों के नगर निगम अब गृह मंत्री के रडार पर हैं। इन नगर निगमों में आये दिन भ्रष्टाचार के मामले आते रहते हैं। फरीदाबाद नगर निगम की बात करें तो यहाँ खाने वालों ने खूब खाया है। जिले के कई पार्क ऐसे हैं जहाँ एक भी पैसा नहीं लगा और कागज़ पर पार्कों के सौन्दर्यीकरण के नाम पर कई करोड़ रूपये खा लिए गए हैं। नाले नालियों की सफाई के नाम पर करोड़ों डकार लिए गए हैं। खब्बू अधिकारियों ने शहर को नरक में तब्दील कर दिया है। कुछ सेक्टरों को छोड़ दें तो शहर की कालोनियों में रहने वालों का बुरा हाल है। नाले, नालियों और सीवर का पानी सड़कों पर भरा रहता है। 

अब सूत्रों से जानकारी मिल रही है कि गृह  मंत्री ने दोनों नगर निगमों में पिछले पांच साल के दौरान हुए विकास कार्यों की स्पेशल ऑडिट कराने के निर्देश दिए हैं। अब दोनों नगर निगमों में खलबली मच गई है। अगर खब्बू अधिकारियों ने किसी बड़े नेता से सांठगांठ न की तो कइयों पर गाज गिर सकती है। सांठगांठ हो गई तो बच जाएंगे और फरीदाबाद, गुरुग्राम को पहले की तरह लूटते रहेंगे। 
आपको बता दें कि पहले ये विभाग कविता जैन के पास था और उन्होंने भी जांच के आदेश दिए थे लेकिन कुछ नहीं हुआ। भ्रष्टों ने कोई जुआड़ लगा लिया था। अब भ्रष्ट जुआड़ लगा पाते हैं या विज का डंडा उन पर चलता है समय बताएगा। 

अचानक बीके अस्पताल पहुंचे फरीदाबाद के DC, नर्स पर गिरी गाज 


फरीदाबाद,3 दिसम्बर। उपायुक्त अतुल कुमार  ने  मंगलवार को स्थानीय नागरिक अस्पताल (बीके) का लगभग डेढ घण्टे तक निरीक्षण किया।  निरीक्षण के दौरान उन्होंने जिला चिकित्सा अधिकारी तथा सीनियर मेडिकल आफिसर को दिशा-निर्देश दिए।उन्होंने बच्चों के वार्ड में इलाज करवा रहे एक बच्चे के माता पिता के साथ दुर्व्यवहार करने पर कॉन्ट्रैक्ट पर कार्यरत नर्स को तुरंत प्रभाव से टर्मिनेट करने के निर्देश जिला चिकित्सा अधिकारी को दिए।
 उपायुक्त अतुल कुमार मंगलवार को प्रातः लगभग ग्यारह बजे नागरिक अस्पताल (बीके) में  पहुंचे और साढे बारह बजे तक अस्पताल परिसर का निरीक्षण किया । वे सीधे इमरजेन्सी वार्ड में पहुंचे और वहां पर  उपचार करवा रहे लोगों से सुविधाओ और स्टाफ़ के बर्ताव के बारे में पूछा । इमरजेन्सी वार्ड में एक बैड पर दो लोगों का उपचार करवाते पाए जाने पर उपायुक्त ने उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों को तुरंत एक और बैड लगाने के निर्देश दिये । उन्होंने वहां पर ड्रिप लगाने के लिए प्रत्येक बैड के साथ एक स्टैंड लगाने और महिलाओं तथा पुरूषों के लिए अलग-अलग वार्ड बनाने के निर्देश दिये। उपायुक्त के निर्देशों पर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने तुरंत कार्रवाई करके व्यवस्था में सुधार किया ।

 उपायुक्त ने नागरिक अस्पताल में डाक्टर ड्यूटी रूम,ओपीडी, आयुष्मान भारत योजना के पूछताछ केंद्र, एक्स रे रूम,टायलेट, बाथरूम ,अस्पताल परिसर की साफ-सफाई, शीशू वार्ड, मातृत्व वार्ड के प्रतीक्षालय, एसएनसीयू,किडनी यूनिट,डायलिसिस सैन्टर,ब्लड बैंक सहित पूरे नागरिक अस्पताल परिसर का अवलोकन किया गया ।
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त अतुल कुमार ने शीशु वार्ड में एक उपचाराधीन बच्चे के माता पिता के साथ दुर्व्यवहार करने पर कॉन्ट्रैक्ट पर कार्यरत नर्स को तुरंत प्रभाव से टर्मिनेट करने के निर्देश दिये और सफाई  ठेकेदार को  सफाई व्यवस्था सुधारने के लिए दो दिन का समय देते हुए एक सफाई कर्मी को हटाने के निर्देश दिये। बिजली व पानी की सप्लाई में और सुधार करने के निर्देश दिये । इसके अलावा, उपायुक्त ने इलाज करवाने आए लोगों तथा का हाल चाल जाना। उपायुक्त ने  उपस्थित चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे सरकार द्वारा दी जा रही दवाइयां निशुल्क ही दे, लोंगो को बाहर से कोई भी दवा खरीदने के लिए ना कहे।
 इस दौरान पीएमओ डॉ सविता यादव, डाक्टर रमेश चन्द्र, डाक्टर राजेश श्योकन्द, डाक्टर रचना, डाक्टर विजय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे ।

फरीदाबाद में फिर लगेगा फिल्मों का मेला


फरीदाबाद: फ़रीदाबाद का नाम अब फिल्मी दुनिया के लिए नया नहीं है । क्योंकि ना सिर्फ यहाँ के अनेक युवा फिल्मी दुनिया में अपना मुकाम बना चुके हैं बल्कि 2018 में हुए इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल के बाद सारी दुनिया अब फ़रीदाबाद को फिल्मों के लिए एक महत्वपूर्ण स्थान मानने लगी है । शहरवासियों को याद होगा जब 2018 में पहली बार फ़रीदाबाद मे यह फिल्म फेस्टिवल आयोजित किया गया था और किसी को भी यह उम्मीद नहीं थी कि यह इतना सफल होगा । इसी कड़ी में इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल का दूसरा एडिशन जल्द ही दोबारा होने जा रहा है । इसी को लेकर इसके आयोजक सिनेमेहता प्रोडक्शन के बैनर तले मुकेश गंभीर और चन्दन मेहता ने एक प्रैस वार्ता का आज यानि मंगलवार को आयोजित किया । यह प्रैस वार्ता फ़रीदाबाद के मैगपाई टूरिस्ट रिज़ॉर्ट में आयोजित की गई । 
मीडिया को संबोधित करते हुए मुकेश गंभीर डाइरेक्टर जनरल इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल 2019, ने बताया कि इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल 2019 का आयोजन 5 से 7 दिसंबर तक फ़रीदाबाद में ही किया जा रहा है । पहले दो दिन फिल्मों कि स्क्रीनिंग की जाएगी जिसमें फिल्म प्रेमियों को अनेक शॉर्ट फिल्में देखने का अवसर प्राप्त होगा । तीसरे दिन यानि 7 दिसंबर को कार्यक्रम का समापन होगा अवार्ड सेरेमनी का साथ । इसमें विभिन्न श्रेणियों में अवार्ड दिये जाएंगे। इस कार्यक्रम के प्रमुख प्रयोजक हैं एनएचपीसी। इसके अलावा आईजीएल, एनपीटीआई और मेहरासंस ज्वेलर्स का प्रमुख रूप से सहयोग रहा है । 
इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल 2019 के डाइरेक्टर चन्दन मेहता ने बताया कि अभी तक कुल 84 फिल्मों की एंट्री आई है और इसमें से 25 फिल्मों को शॉर्टलिस्ट किया गया है । उन्होने बताया कि तीनों दिन के कार्यक्रम फ़रीदाबाद में ही हैं। एक प्रश्न के उत्तर में चन्दन ने बताया कि फिल्मों को शॉर्टलिस्ट ज्यूरी ने किया है और इसमें किसी भी प्रकार के भेद भाव की गुंजाइश नहीं है । उन्होने बताया कि बड़ी हस्तियों में बॉलीवुड एक्टर यशपाल यादव के आने कि भी संभावना है । 

फिल्म डाइरेक्टर ज्योति प्रकाश, क्रिएटिव डाइरेक्टर इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल 2019 मे पत्रकारों को बताया कि किसी भी फिल्म फेस्टिवल का महत्व उसकी ज्यूरी से आँका जा सकता है । उन्होने कहा कि हमारे फेस्टिवल की ज्यूरी में डाइरेक्टर जनरल नेशनल गॅलरी ऑफ मॉडर्न आर्ट श्री अद्वैत गणनायक, डीन नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा श्री अभिलाष पिल्लई,  इंटरनेशनल क्रिटिक्स ज्यूरी मेम्बर माइक बेरी और वरिष्ठ पत्रकार एवं मेम्बर ऑफ क्क्रिटिक्स गिल्ड अवार्ड दीपक दुआ हैं जो अपने आप में एक संस्था कहे जाते हैं । ज्योति प्रकाश ने बताया कि इस आयोजन में यह भी प्रावधान है कि आयोजकों कि स्वयं या उनके किसी परिवार जन कि फिल्म की एंट्री नहीं ली जा सकती ।  इसके अलावा उन्होने बताया कि इस कार्यक्रम में फ़िजी के हाइकमिश्नर भी शिरकत करेंगे । इसके अलावा उन्होने इंडोगमा टीम को फ़िजी में भी फिल्म फेस्टिवल करने का न्योता दिया है ।  

मुकेश गंभीर ने यह भी बताया कि सोमवार को प्रसिद्ध अभिनेत्री और संसद सदस्य जया प्रदा ने फ़रीदाबाद आगमन के दौरान बताया कि वे यहाँ फिल्म स्टुडियो बनाना चाहती हैं । इसी विषय पर बोलते हुए सुप्रीम कोर्ट में वकील पंचजन्य बत्रा, जो इंडोगमा फिल्म फेस्टिवल 2019 की आयोजक टीम में हैं ने कहा कि अगर बड़े बॉलीवुड स्टार फ़रीदाबाद को फिल्मों का हब बनाने की सोच रहे हैं तो शहर के लिए यह बड़ी खबर है । 
इसके अतिरिक्त प्रैस कॉन्फ्रेंस में शिरकत करने वालों में संजय चतुर्वेदी पीआरओ, अनीशा अरोड़ा और दिनेश सहगल प्रमुख रहे। इस अवसर पर फेस्टिवल का कैटलॉग भी रिलीस किया गया । 

DC अतुल कुमार ने दिए डॉ. प्रबल रॉय और QRG अस्पताल के खिलाफ न्यायिक जांच के आदेश


Faridabad: क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर -16 , फरीदाबाद में श्याम नगर कॉलोनी निवासी भगवत दयाल कि बिना अल्ट्रासाउंड व कोई अन्य पेट की जांच किये गलत इलाज करने के दौरान हुई मौत के मामले में परिवार के लोगों ने जिला उपयुक्त से मिलकर उन्हें एक लिखित ज्ञापन सौंपकर क्यूआरजी हॉस्पिटल व डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही की मांग की।
आये हुये सभी लोगों ने डीसी को बताया की  भगवत दयाल (38 वर्षीय ) जो की अपनी पथरी का इलाज़ कराने क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर-16, फरीदाबाद में खुद पलवल से चलकर अकेला हॉस्पिटल आया था।  जिसकी डॉक्टरो ने बिना अल्ट्रासाउंड व कोई अन्य पेट की जांच किये कई सर्जरी कर दी बाद मैं उसे वान्टेलेटर पर शिफ्ट कर दिया बिना कारण बताएं। बार बार पूछने पर भी डॉक्टर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे सके। 5 नवंबर शाम को डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

मामले की गंभीरता को समझते हुए जिला उपायुक्त ने डॉ. प्रबल रॉय और क्यूआरजी अस्पताल के खिलाफ न्यायिक जांच कराने के लिये सब डिवीज़न मजिस्ट्रेट (एसडीएम), फरीदाबाद को आदेश जारी किये हैं। 

धौज मर्डर, फरीदाबाद पुलिस ने आरोपी इरशाद को मात्र 6 घंटे में दबोचा


फरीदाबाद: फरीदाबाद पुलिस अपराधियों को फटाफट दबोच रही है। कल धौज थाना एरिया में फार्म हाउस पर हुई हत्या का आरोपी इरशाद मात्र 6 घंटे में गिरफ्तार कर लिया गया था।  पुलिस को सूचना मिली कि फार्म पर बनी डेरी पर एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई है मौके पर  धौज थाना प्रबंधक कर्मवीर व क्राइम ब्रांच टीम मौके पर पहुंचे।  मृतक की पत्नी की शिकायत पर थाना धोज  मे हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया।पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी को मात्र 6 घंटे में मंडावर गुड़गांव से गिरफ्तार कर लिया। 

पुलिस के मुताबिक  सुनील चांडके  कोलकाता निवासी अब सेक्टर 28 फरीदाबाद में अपने परिवार सहित रहता है ने थाना धौज एरिया में फौजी फार्म हाउस किराए पर ले रखा है जिसमें 20 गाय पाल रखी है और दूध का काम करता है।   मृतक के पास तीन चार नौकर काम करते हैं जिसमें से एक महिला नौकरानी भी काम करती थी महिला नौकरानी के पति इरशाद को शक हुआ कि उसकी पत्नी के संबंध डेयरी मालिक सुनील चांडके के साथ हैं जिस पर उसने अपनी पत्नी की वहां से नौकरी छुड़वा दी और उसकी पत्नी पलवल अपने भाई के घर रहने लगी।,

  योजना अनुसार आरोपी इरशाद ने 1, 12 19 की रात्रि को करीब 10:00 बजे, घास काटने वाली तलवार से सुनील चांडके को जब वह सो रहा था तलवार से गर्दन काट दी और हत्या करके फरार हो गया था।                पुलिस ने पुलिस आयुक्त के के राव के निर्देश पर तत्परता से कार्रवाई करते हुए धौज थाना प्रभारी इंस्पेक्टर कर्मवीर सिहं की टीम के Si महाबीर, Asi नहार, HC राज , रूपेश,गजेश ,विरेन्द्र,  लरवमी ,उदयवीर और ड्राईवर रोहताश ने हत्यारोपी इरशाद को मंडावर गुड़गांव से गिरफ्तार कर लिया है आरोपी को आज कोर्ट में पेश करके पुलिस रिमांड लिया जाएगा व हत्या में प्रयोग तलवार व अन्य साक्षय जुटाये जाएंगे और गहनता से पूछताछ की जाएगी 

पंचायत में भ्रष्टाचार  उजागर करने वाले युवक को भ्रष्टों ने डकैती का आरोप लगा जेल भिजवा दिया 


फरीदाबाद : शहर के गोल्फ क्लब में आज एक प्रेस वार्ता में समाजसेवी ब्रम्ह दत्त एवं वरुण श्योकंद ने बताया कि  जिले में सब कुछ ठीक नहीं है, भ्रष्टाचार जारी है। उन्होंने बताया कि ये मामला ग्राम पंचायत बदरपूर सैद के बारे में, ग्राम बदरपूर सैद के कुछ दबंग लोगों के बारे में, पंचायत विभाग के बारे में, खाद्य आपूर्ति विभाग के बारे में व पुलिस प्रशासन से सम्बंधित है। मौके पर मौजूद एक युवक ने बताया कि 
(1) यह है कि मैं सोनू सिंह पुत्र श्री रणबीर सिंह निवासी गांव व पो. ओ. बदरपूर सैद, जिला व तहसील फरीदाबाद, हरियाणा का स्थाई निवासी हूँ व मौजूदा ग्राम पंचायत बदरपूर सैद मे मेम्बर हूँ ओर मुझ पर व मेरे परिवार पर पहले कभी किसी भी तरह का कोई अपराधिक मामला नहीं है, अतः मैं एक सामाजिक नागरिक हूँ।
(2) यह है कि मुझे व मेरे परिवार को टॉचर(परेशान) कियाजा रहा है व डराया धमकाया जा रहा है ओर जान से मारने की धमकियां दी जा रही है और हमको मानसिक व शारीरीक रूप से परेशान किया जा रहा है, मैं ओर मेरा परिवार डिपरेशन मे है।उपरोक्त दोषियान से मुझे व मेरे परिवार को जान-माल का खतरा बना हुआ है, दोषियान कभी भी हमारे साथ कोई बडी वारदात कर सकते है व जान से भी मार सकते हैं।

(3) यह है कि मैंने ग्राम बदरपूर सैद कि मोजूदा पंचायत के भ्रष्टाचार के खिलाफ एक गुप्त सूचना दी थी, जिस पर अमल करते हुए सी. एम. विन्डो उडन दस्ते को साथ में लेकर श्रीमान डी. एस. पी. दिनेश यादव व बी. डी. पी. ओ. प्रदीप कुमार ने गांव बदरपूर सैद मे मोका मुआयना किया ओर पंचायत को दोषी पाया व 419848 रूपये का घपला उजागर हुआ जो कि 419848 रूपये की लागत से गांव बदरपूर सैद मे स्ट्रीट लाइटे लगनी थी व मोजूदा पंचायत पर थाना भूपानी मे मुकदमा नं. 255/17 जेर धारा406,409,420,467,468,471,130B IPC सेक्शन 7,13 भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत 27-06-17 को दर्ज हुआ, व मैने व मेरे भाई मोनू ओर समस्त ग्राम वासियों कि तरफ से कई लिखित शिकायतें मोजूदा पंचायत ग्राम बदरपूर सैद के खिलाफ दी गई जो कि साथ मे संगलन है ।। 
         इनका बदला लेने हेतु इन्होंने मेरे ऊपर भिन्न-भिन्न धाराओं में मुकदमे दर्ज करवा दिए और गांव में हुए एक छोटे से झगड़े के ऊपर मेरे ऊपर डकैती की धारा लगवा दी जो कि झगड़ा मेरे घर के सामने ही हुआ था।।  जिसकी वजह से मुझे मैं मेरे भाई को 3 महीने जेल काटनी पड़ी,  और जैसे ही हम जेल से बाहर आए उसी दिन हमारे ऊपर एक और मुकदमा दर्ज करवा दिया।।  मैं बताना चाहता हूं कि शिकायतकर्ता ग्राम पंचायत के साथ मिलकर पूरा राशन नहीं बाटते है ओर ये सभी भ्रष्ट लोग अब तक करोड़ों रूपयों का घपला कर चुके है,
(4) यह है कि मोजूदा पंचायत ग्राम बदरपूर सैद, पंचायत विभाग व खाद्य आपूर्ति विभाग ओर पुलिस प्रशासन थाना भूपानी, फरीदाबाद इन सभी के खिलाफ किसी ईमानदार उच्च अधिकारी द्वारा निष्पक्ष जांच कराई जाये व दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कानूनी कार्यवाही कि जाये ताकि मेरे परिवार कि तरह कोई ओर इन भ्रष्ट लोगों का शिकार ना हो,
अतः मुझे व मेरे परिवार को इन सभी भ्रष्ट लोगों से जान-माल का खतरा बना हुआ है, मेरी व मेरे परिवार की जान-माल कि सुरक्षा की जाये व मैं ओर मेरा परिवार सरकार से न्याय की गुहार करता है कि हमें न्याय दिलाया जाये।  आज इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में पदम श्री डॉक्टर ब्रह्मदत्त व सामाजिक कार्यकर्ता वरुण श्योकंद भी शामिल हुए और उन्होंने दो ऑडियो रिकॉर्डिंग भी दिखाई जिसमें एक बहादुर नाम का ASI 60000 र व  20,000 रिश्वत की मांग करता हुआ स्पष्ट सुनाई दे रहा था और उसने यह पैसे सोनू मोनू के ऊपर दर्ज मामलों में मदद करने के नाम पर मांग रहा था, वरुण ने यह ऑडियो सभी पत्रकार बंधुओं को दी व  माननीय मंत्री अनिल विज व कमिश्नर फरीदाबाद के पास भी भेजी।। उन्होंने बताया कि किस तरह पुलिस पूरी तरह भ्रष्टाचार में लिप्त होकर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों के खिलाफ ही कार्रवाई कर रही है राजनीतिक व पैसे के दबाव में।।   उन्होंने कहा कि पुलिस कमिश्नर को जल्द से जल्द इन पुलिसवालों के खिलाफ भ्रष्टाचार की धाराओं में मुकदमा दर्ज करना चाहिए और सभी मुकदमों की विस्तृत जांच करानी चाहिए।।

पंचायतों को किया जाएगा भ्रष्टाचारमुक्त : नयनपाल रावत


फरीदाबाद। हरियाणा वेयर हाऊस कार्पाेरेशन के चेयरमैन एवं पृथला विधानसभा क्षेत्र के विधायक नयनपाल रावत ने कहा है कि विकास कार्याे में रोड़ा अटकाने वाले अधिकारियों से सख्ती से निपटा जाएगा और उन्हें किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि उनका उद्देश्य पृथला क्षेत्र का समग्र विकास कराना है और इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए वह सदैव प्रयासरत रहेंगे। रावत सोमवार को सेक्टर-15ए स्थित अपने निवास पर पृथला क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले गांवों के सरपंचों की बैठक को संबोधित कर रहे थे। नयनपाल रावत ने कहा कि जो भी अधिकारी पंचायतों और सरपंचों के विकास कार्यों को करने में रुकावट बनेगा उसको यहां रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने पहले भी भ्रष्टाचार मुक्त शासन दिया था और अब भी लोगों को भ्रष्टाचार मुक्त शासन ही मिलेगा। श्री रावत ने कहा कि सरपंच गांवों में विकास कार्य करवाने की धुरी होते है और उनके माध्यम से ही गांवों का समग्र विकास करवाया जाता है इसलिए सरपंच विकास कार्याे की गुणवत्ता पर पैनी नजर रखें। इस बैठक में क्षेत्र के करीब 104 गांवों के सरपंचों व ब्लाक मेम्बर ने भाग लिया और अपनी समस्याएं विधायक के समक्ष रखी।

  इस बैठक का मुख्य उद्देश्य गांवों में विकास के पहिए को और तेजी से चलाने के लिए सरपंचों से जहां सुझाव लिए गए वहीं उनसे विकास कामों के लिए एस्टीमेट भी मांगे गए हैं ताकि ग्रामीण क्षेत्र का सर्वांगीण विकास हो सके। ज्यादातर गांवों के सरपंचों ने अधिकारियों की शिकायत करते हुए नयनपाल रावत को बताया कि वह विकास कार्यों में टांग अड़ाते हैं। वही वेयरहाउस के चेयरमैन ने उनको आश्वासन दिया कि यदि कोई अधिकारी पंचायत और सरपंच पर अनावश्यक दबाव या फिर उनके विकास कार्य में टांग बढ़ाएगा तो उसको यहां पर नहीं रहने दिया जाएगा।  उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार में पंचायतों का दायरा बढ़ाया है और हर विधानसभा क्षेत्र में 5-5 करोड़ रुपये देने का जो ऐलान किया है, उसी के तहत बल्लभगढ़ व पृथला ब्लाक में ढाई-ढाई करोड़ की विकास कार्याे के लिए राशि जल्द वितरित की जाएगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व वाली सरकार सबका साथ सबका विकास की नीति के तहत कार्य कर रही है और आने वाले पांच सालों में पृथला सहित पूरा हरियाणा विकास के मामले में देश का सबसे अव्वल राज्य बनकर उभरेगा।  

केंद्रीय राज्यमत्री को सौंपा क्यूआरजी हॉस्पिटल व डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही हेतु ज्ञापन


फरीदाबाद : क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर -16 , फरीदाबाद में श्याम नगर कॉलोनी निवासी भगवत दयाल कि बिना अल्ट्रासाउंड व कोई अन्य पेट की जांच किये गलत इलाज करने के दौरान हुई मौत के मामले में परिवार के लोगों ने ऑपरेशन करने वाले डॉ प्रबल राय व उनकी टीम तथा हॉस्पिटल प्रबंधन पर हत्या का आरोप लगाते हुए केंद्रीय राज्यमत्री श्री कृषणपाल गुज्जर को एक लिखित ज्ञापन सौंपकर क्यूआरजी हॉस्पिटल व डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। उन्होंने मांग की कि प्रबल राय, उनकी टीम तथा हॉस्पिटल प्रबंधन के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए भगवत दयाल को न्याय दिलाया जाए। पीड़ित परिजनों को मंत्री जी द्वारा आश्वासन दिया गया की वह इस मामले में स्वयं संज्ञान लेते हुए दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करेंगे। 

परिवार के लोगो ने मंत्री जी से बिसरा जांच में हो रही देरी के बारे मैं भी अवगत कराया। उन्होंने मांग की है की एक कुशल डॉक्टरों की टीम बनाई जाए जिसमे परिवार के सदस्यों  शामिल किया जाए। बता दें  कि पथरी के ओप्रशन के लिए क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर -16 , फरीदाबाद गए भगवत दयाल (38 ) स्वयं पलवल से चलकर अपनी पथरी का ऑप्रेशन कराने क्यूआरजी हॉस्पिटल सेक्टर-16 आया था। जिसकी डॉक्टरो ने कई सर्जरी कर दी बाद मैं उसे वान्टेलेटर पर शिफ्ट कर दिया बिना कारण बताएं। बार बार पूछने पर भी डॉक्टर कोई स्पष्ट जवाब नहीं दे सके। 5 नवंबर शाम को डॉक्टरो ने उसे मृत घोषित कर दिया था। भगवत दयाल की मृत्यु के बाद से ही पूरा परिवार का बुरा हाल है। उनके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं जिनका भविष्य अब अंधेरे में लटका है। 

महिलाओं के प्रति अत्याचारों पर संसद व अदालत सख्त रुख दिखाए - जया प्रदा


फरीदाबाद। पूर्व सांसद एवं फिल्म अभिनेत्री जया प्रदा ने तिगांव पहुंचकर विधायक राजेश नागर को जीत की बधाई दी। इस अवसर पर विधायक राजेश नागर ने उन्हें पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया।  इस मौके पर राज्यसभा सांसद जया प्रदा ने कहा कि राजेश नागर के परिवार से उनके बहुत पुराने सम्बंध हैं, जिसको लेकर वह आज राजेश नागर को विधायक बनने पर जीत की बधाई देने आई हैं। जया प्रदा ने कहा कि वह देवतुल्य तिगांव विधानसभा की जनता का भी आभार प्रकट करती हैं। जिन्होंने भारी मतों से राजेश नागर को विजयी बनाकर विधानसभा भेजा। उन्होंने तिगांव की जनता को भरोसा दिलाया कि अब राजेश नागर के नेतृत्व में इस विधानसभा में सबसे ज्यादा विकास कार्य करवाए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि राजेश नागर जमीन से जुड़े हुए नेता हैं, जब वह विधायक नहीं थे तब भी उन्होंने जनता की सेवा की और अब जीतने के बाद वह ज्यादा ताकत से जनता की सेवा करेंगे। एक सवाल के जवाब में जयप्रदा ने कहा कि महिलाओं के प्रति होने वाले अत्याचारों को लेकर संसद और अदालत को विशेष काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि फैसले ऐसे हों कि नजीर बने और लोग इस प्रकार के अत्याचार करने से दूर रहें। उन्होंने कहा कि निर्भया केस में अभी कार्रवाई चली रही थी कि हैदराबाद में दूसरा केस आ गया। हमें सोचना होगा कि हम कैसा समाज चाहते हैं। विधायक राजेश नागर ने राज्यसभा सांसद जया प्रदा की तारीफ करते हुए कहा कि वह संसद में गंभीर मुद्दे उठाती रही हैं। वह हर महिला सांसद के लिए प्रेरणा है। उन्होंने महिलाओं के खिलाफ अपशब्द बोलने वालों को भी धूल चटाई है। इस मौके पर कार्यकर्ता एवं नागर परिवार मौजूद रहा।

समय पर नही मिल रही है और बुुजुर्गो को पेंशन- विद्रोही


2 दिसम्बर 2019 : हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता वेदप्रकाश विद्रोही ने आरोप लगाया कि प्रदेश के बहुत से गांवों, शहरी मौहल्लों में बुजुर्गो को बुढापा पैंशन समय पर नही मिल रही है और बुुजुर्गो के जिला समाज कल्याण अधिकारियों के दफ्तरों में बार-बार दस्तक देने पर भी उनकी समस्याओं का समाधान नही किया जाता। विद्रोही नेे इसका उदाहरण देते हुए बताया कि महेन्द्रगढ़ जिले के गांव झूक के 200 बुजुर्गो को चार माह से बुढ़ापा पैंशन नही मिल रही। ग्राम झूक के बुजुर्ग ब्रहमदत्त के नेतृत्व में वे कई बार जिला समाज कल्याण अधिकारी नारनौल स्थित कार्यालय में पैंशन देने की गुहार कर चुके है। हर बार उन्हे पैंशन भेजने का आश्वासन दिया, पर एकबार भी आवश्वासन को पूरा नही किया गया। 

विद्रोही ने कहा कि बुजुर्गो को चार माह से पैंशन से वंचित करना उनके साथ अन्याय है। बुजुर्गो को अपनी दवा अन्य कामो के लिए यदि पैंशन रूपी धन समय पर नही मिलता तो बुढ़ापा पैंशन का औचित्य ही क्या है? एक ओर भाजपा सरकार की सहयोगी जजपा ने हर माह बुढ़ापा पैंशन 5100 रूपये प्रति माह करने का वादा चुनाव में किया था, वहीं हालत यह है कि बुढ़ापा पैंशन भी आम बुजुर्गो को समय पर नही मिल रही है। विद्रोही नेे सरकार से आग्रह किया कि बुढ़ापा पैंशन हर बुजुर्ग को समय पर मिले और जहां पर जिन बुजुर्गो को समय पर पैंशन नही मिल रही है, वहां सम्बन्धित अधिकारियों की जवाबदेही तय करके उन्हे दंडित किया जाये। वहीं विद्रोही ने भाजपा-जजपा सरकार से मांग की कि अपने चुनाव वादे को पूरा करने प्रदेश में बुढ़ापा पैंशन तत्काल 5100 रूपये प्रति माह की जाये।

चोरों ने फरीदाबाद में एटीएम उखाड़ा लेकिन पुलिस की सतर्कता से ATM छोड़ भागे


फरीदाबाद: शहर में सर्दी का फायदा सबसे ज्यादा चोर उठाते हैं और सर्दियों के मौसम में चोरी की बारदातों में इजाफा हो जाता है। शहर के चोरों की नजर सबसे ज्यादा एटीएम पर रहती हैं जिनमे काफी पैसा होता है। फरीदाबाद में एटीएम चोरों के कई प्रयास सफल हुए तो कई असफल भी हुए। पुलिस की सतर्कता के कारण चोर कई बार एटीएम छोड़ भाग गए। 
बीती रात एटीएम लुटेरों ने गांव झार सेंट्ली  स्थित एक्सिस बैंक के एटीएम को उखाड़ लिया लेकिन उसे लेकर भाग नहीं पाए।  हाईवे पुलिस के मौके पर पहुंचने पर चोर एटीएम छोड़ गए।  फिलहाल एटीएम थाना सेक्टर 58 परिसर में पड़ा है। 

फरीदाबाद में 200 के नकली नोट चलाने वाले पकडे गए


फरीदाबाद: आपकी जेब में जरूरी नहीं है कि जो 200 का नोट हो वो असली हो। शहर में कुछ ऐसे लोग गिरफ्तार किये गए हैं जो 200 के नकली नोट खपाते थे। बताया जा रहा है कि ये ठेके पर नकली नोट चलाते थे। कुछ लोगों को शक हुआ तो इन्हे पकड़कर तीन नंबर पुलिस के हवाले किया गया। ये लोग कौन थे और कहाँ के रहने वाले हैं फरीदाबाद पुलिस जल्द इनके बारे में खुलासा करेगी। 

सुधीर भड़ाना मर्डर, सड़क पर उतरे अनंगपुर के सैकड़ों लोग, कहा तुरंत गिरफ्तार किये जाएँ हत्यारे 


फरीदाबाद: जिले के अनंगपुर के रहने वाले सुधीर भड़ाना की 25 नवम्बर को उत्तर प्रदेश में उस समय हत्या कर दी गई थी जब वो अपने भतीजे की शादी में गए थे। धौलाना थाना क्षेत्र के गांव उदयरामुर नगला में सुधीर को उस समय गोली मारी गई जब बारात की विदाई होने वाली थी। सुधीर को कई गोलियां लगीं जिसके बाद मौके पर ही उनकी मौत हो गई और कई लोग घायल भी हुए क्यू कि नकाबपोश अंधाधुंध गोलिया चला रहे थे। हत्या को लगभग 6 दिन हो गए हैं और सुधीर के परिजन न्याय न मिलने से परेशान हैं जिसके बाद आज अनंगपुर और आस पास के गांव वालों में अनंगपुर चौक पर कैंडल मार्च निकाल न्याय की गुहार लगाईं। 

सुधीर की हत्या के बाद यूपी पुलिस का कहना था कि कि इस हत्याकांड के पीछे एक मासूम बच्ची से रेप के मामले में गिरफ्तार आरोपी का हाथ हो सकता है  जो जेल में बंद है और उसको सजा भी हो चुकी है। यूपी पुलिस के सूत्रों की मानें तो मृतक सुधीर पैरोकारी कर पीड़ित अपने दोस्त के परिवार की मदद कर रहा था।
 परिणामस्वरूप उसकी रेप के आरोपी से रंजिश चल रही थी। आरोपी ने जेल से ही सुधीर को सबक सिखाने व हत्या करने की चेतावनी दी थी। समझा जाता है कि सुधीर ने इस धमकी को गंभीरता से नहीं लिया और उसकी हत्या हो गई।इस मामले में पांच लोगों को नामजद किया गया जिनमें से अधिकतर आरोपी अनंगपुर गांव के ही हैं। फिलहाल पुलिस ने अभी तक इस हत्याकांड का पूरा खुलासा नहीं किया है। सीओ पिलखुवा उत्तर प्रदेश प्रीतम पाल सिंह लगातार इन टीमों को कोआर्डिनेशन कर आरोपियों की तलाश करा रहे हैं। पुलिस अक्षीक्षक संजीव सुमन ने इस मामले का खुलासा करने के लिए कड़े निर्देश दिये हैं लेकिन पुलिस के हाथ अब तक खाली हैं। 
आज शाम हजारों लोग अनंगपुर चौक पर एकत्रित हुए और इन्साफ की गुहार लगाते हुए कैंडल मार्च निकाला।  इस मौके पर धर्मबीर भड़ाना, चौधरी राज आर्य उर्फ़ बिट्टू , प्रवेश भड़ाना,डब्बू भड़ाना, कृष भड़ाना, योगेश भड़ाना, ललित भड़ाना, राजेश भड़ाना, टीटू भड़ाना, सतपाल भड़ाना, नन्द किशोर भड़ाना, अशोक भड़ाना, मानू गुर्जर  आदि मौजूद थे। लोगों की मांग है कि सुधीर की हत्या करने वाले तुरंत गिरफ्तार किये जाएँ और उन्हें कड़ी से कड़ी सजा मिले।

अधिक से अधिक रक्तदान कर बचाएं जरूरतमंदों की जिंदगी- मुनेश शर्मा 


फरीदाबाद: जिस तरीके से कोई भी वाहन बिना इंजन में तेल से नहीं चल सकता उसी प्रकार हमारा शरीर भी उसी इंजन की तरह कार्य करता है और उसमें इंधन के रूप में रक्त की जरूरत होती है । जब तक यह रक्त हमारे शरीर में दौड़ता रहता है तो जिंदगी चलती है क्योंकि रक्त ही जीवन का आधार है इसलिए हमें अधिक से अधिक रक्तदान करना चाहिए ताकि जरूरत के वक्त किसी की जान बचाई जा सके। 

ये कहना है एनआईटी के विधायक नीरज शर्मा के बड़े भाई मुनेश शर्मा का जिन्होंने शहर की पर्वतीया कालोनी के केडी सीनियर सेकेंड्री स्कूल में नवप्रयास सेवा संगठन द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में बतौर मुख्य अतिथि भाग लेते हुए रक्तदाताओं का हौसला बढ़ाया। 

मुनेश शर्मा ने संस्था की तारीफ़ करते हुए कहा कि संस्था का ये 54 वां स्वैच्छिक रक्तदान शिविर है और संस्था ने अब तक हजारों यूनिट रक्त एकत्रित कर जरूरतमंदों की जान बचाने का प्रयास किया है। उन्होंने संस्था के पदाधिकारियों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि संस्था आगे भी ऐसे नेक काम करती रहेगी।