Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

Showing posts with label Gurugram News. Show all posts

DLF फेस-1 के SHO इंस्पेक्टर वेद प्रकाश को वित्त मंत्री ने किया सम्मानित


गुरुग्राम : गुरुग्राम में आजादी का जश्न यानी स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया गया । ताऊ देवीलाल स्टेडियम में जिला स्तरीय समारोह का आयोजन किया। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ताऊ देवीलाल स्टेडियम में ध्वजारोहण किया। जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में श्रेष्ठ कार्य करने वालों को मुख्य अतिथि द्वारा सम्मानित किया गया।

थाना  DLF फेस 1 प्रभारी इंस्पेक्टर वेद प्रकाश को वित्त मंत्री ने उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इंस्पेक्टर वेद प्रकाश ने कुछ महीनों में कई बड़े मामले सुलझाए हैं जिस कारण उन्हें सम्मानित किया गया। 

72 वर्ष की वृद्ध महिला की हत्या करने वालों को CIA-31 & CIA-DLF Ph- 1 ने दबोचा


गुरुग्राम:   थाना DLF Ph-I गुरुग्राम के एरिया में 72 वर्ष की वृद्ध महिला की हत्या के मामले में एक आरोपी को क्राइम ब्रांच sec 31 व  DLF Ph-I, गुरुग्राम की टीम ने कोलकता से  किया काबू।

✍ आरोपी को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लेकर की जाएगी गहनता से पूछताछ।

✍ आरोपी ने अपने अन्य साथी के साथ मिलकर मृतक महिला के गहने चोरी करके  ले जाने के लिए की थी हत्या।

इस केश को सफल बनाने के लिए श्रीमान अकील मोहम्मद ips कमिश्नर   आफ पुलिस  गुरुग्राम ने एक टीम का गठन किया जिसमे वेद प्रकाश DLF फेस 1 प्रभारी खुद के साथ निरीक्षक नवीन कुमार प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 31 ,सहायक उपनिरीक्षक राजेश ,सुजान ,सौरभ, हवलदार पोखर राम  क्राइम ब्रांच  sec 31GGM को शामिल किया ।

▪ दिनांक 02.08.2019 को थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम में पुलिस कन्ट्रोल रुम गुरुग्राम से एक सूचना मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम में एक वृद्ध महिला की हत्या होने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।

▪ इस सूचना पर थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी के घटनास्थल पर पहुंच गई। जहां पर पाया कि एक महिला मृत अवस्था में पङी हुई है। तभी क्राइम unit की टीम व  फिन्गरप्रिंट, एफ.एस.एल. पुलिस टीमों को घटनास्थल पर बुलवाकर घटनास्थल का निरीक्षण करवाया गया व मृतक महिला को पोस्टमार्टम के लिए पुलिस कब्जा में लिया गया। घटनास्थल पर ही मृतक महिला की बहन देविका नरुला पत्नी अशोक कुमार नरुला निवासी सुशान्त लोक-1, गुरुग्राम ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से पुलिस टीम को बतलाया कि ये 02 बहने और एक भाई है इसके भाई और इसके बीच इसकी एक बहन इन्दा खन्ना पुत्री पृथ्वीराज खन्ना निवासी मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम उम्र 72 वर्ष अविवाहित है और अपने मकान में अकेली ही रहती थी और ये इससे मिलने व इससे फोन पर बातचीत भी करती रहती है। आज दिनांक 02.08.2019 को इसने अपनी बहन के पास फोन किया तो उसने फोन नही उठाय़ा। फोन न उठाने पर यह अपने पति के साथ अपनी बहन के मकान नं. ई-7/31 DLF Ph-I, गुरुग्राम पर आई जहां पर मकान के मुख्य दरवाजे की चिटकनी अन्दर से नही लगी हुई था। जब इसने अन्दर जाकर देखा तो इसकी बहन रसोई में पङी हुई है। इसने सोचा की इसको अटैक आया होगा। तभी इसने अपने पति को कहकर डाक्टर को बुलवाया। डाक्टर ने चैक करने के बाद बताया कि इसकी बहन इन्द्रा खन्ना की मृत्यु हो चुकी है और इनकी हत्या गला घोंटकर की गई है। जहां देखने पर यह भी पाया कि किसी अज्ञात ने इसकी बहन की चुन्नी से ही इसकी बहन का गला घोटंकर हत्या की है।

▪ इस शिकायत पर थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम ने 302 ,382 449  कानून  धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪ इस अभियोग में निरीक्षक वेदप्रकाश, प्रभारी थाना DLF Ph-I,व निरीक्षक नवीन कुमार प्रभारी क्राइम ब्रांच सेक्टर 31  गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस प्रणाली, पुलिस तकनीक की सहायता से व अपनी सुझबुझ से उक्त अभियोग में हत्या की वारदात को अन्जाम देने वाले 01 आरोपी को दिनांक 08.08.2019 को गाँव करालिया, जिला नादिया, पश्चिम बंगाल से काबू किया गया। 

आरोपी को पकङने के लिए टीम को नंगे पैर भी कई किलोमीटर चलना पङा ।बीच मे भागीरथी नदी आने के कारण टीम को नाव का सहारा लिया ।उसके बाद टिम ने पैदल ही आरोपी तक पहुंचना पङा ।

आरोपी की पहचान गौतमदास पुत्र जोदेवदास निवासी गाँव करालिया, थाना कालीगन्ज, जिला नादिया, पश्चिम बंगाल, हाल निवासी गाँव चकरपुर, गुरुग्राम, उम्र 28 वर्ष (आटोरिक्शा चलाने का काम करता है) के रुप में हुई। 

▪ आरोपी को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया व माननीय अदालत जिला नादिया के कर्षणा नगर कोर्ट मे  आरोपी को पेश करके आरोपी का 4  दिन का  ट्रान्जिट रिमाण्ड लिया गया।

▪ आरोपी गौतम दास उक्त ने प्राथमिक पुलिस पूछताछ में बतलाया कि उपरोक्त अभियोग में मृतक महिला ने अपने मकान के पीछे ही मकान का काम करने के लिए लेबर लगाई हुई थी और इसके  एक साथी ने उसी लेबर के साथ 3 दिन  काम किया  था। जो  महिला उसके साथी आरोपी को अच्छे से जानती थी। इसके साथी ने इसे बताया कि जिस मकान में यह काम कर रहा है उस मकान में एक वृद्ध महिला अकेली रहती है और यह व इसका साथी दोनों हो आर्थिक तंगी में है, क्यों ना उस महिला की हत्या करके और उसके गहने लेकर भाग जाने की योजना बनाई तथा इसके लिए लगातार 3 दिन तक रैकी भी की थी। 

इसी  योजना के तहत कार्य करते हुए उक्त आरोपी के अन्य साथी आरोपी (जिसे मृतक महिला जानती थी) ने दिनांक 02.08.2019 को समय करीब सुबह 09.15 बजे मृतक महिला के घर के दरवाजे की घंटी बजाई। महिला इसके साथी आरोपी को जानती थी इसलिए वह मकान के अन्दर चला गया और यह मकान की दीवार फान्दकर रसोई के रास्ते से अन्दर घुस गया व इन दोनों ने मिलकर महिला के गले में पङी चुन्नी का फंदा बनाकर व महिला का गला घोंट दिया और उसकी हत्या कर दी। हत्या करने के उपरान्त इन्होनें महिला के गले, हाथों में पहने हुए आभुषण निकाल लिए और वहां से भाग गए।

▪ आरोपी को आज दिनांक 11.08.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगा।

▪ पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान अन्य साथी आरोपी की पहचान करते हुए गिरफ्तार किया जाएगा व अभियोग में बरामदगी की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

Flipkart पर आर्डर देकर कर्मचारियों की गाड़ी लूटने वाले 5 लुटेरों को CIA- सोहना टीम सत्येंद्र ने दबोचा


गुरुग्राम: Flipkart Online Shopping पर कैमरा Order करके Delivery देने के लिए आए Flipkart के 02 कर्मचारियों के साथ मारपीट करके उसके कब्जा से सामान से भरी गाङी छीनकर ले जाने वाले 05 आरोपियों को इन्स्पेक्टर सत्येन्द्र रावल अपराध शाखा सोहना, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। 
✍ आरोपियों द्वारा वारदात में प्रयोग की गई कार (मारुति SX4) व आरोपियों द्वारा छीने गए सामान में से 03 जोङे जूते बरामद कर लिए गए हैं। आरोपियों को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लेकर गहनता से पूछताछ करते हुए और बरामदगी की जाएगी। 

▪ दिनांक 31.07.2019 थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम की पुलिस टीम को सूचना सैक्टर-58 हयात होटल की निर्माणाधीन SITE के पास से Flipkart Online Shopping पर Order किए गए सामान की Delivery देने वाले कर्मचारियों से मारपीट करके सामान से भरी गाङी छीनने के सम्बन्ध में प्राप्त हुई। 


▪ सूचना मिलते ही थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम की पुलिस टीम बिना किसी देरी को घटनास्थल पर पहुंच गई जहां पर शिवकुमार पुत्र जगदीश चन्द्र गांव मिण्डकोल जिला अलवर ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि यह FLIPKART E-COMMERCE COMPANY BADSHAHPUR में काम करता है। दिनांक 31.07.2019 को समय सुबह करीब 9.30 बजे गाङी ईको  में 8O PACKET लेकर डिलीवरी देने के लिए ड्राईवर के साथ निकला था। यह 35 PACKET की डिलेवरी दे चुका था और इसके पास 45 PACKET बचे थे। जिनमें 1 PACKET CUSTOMER NAME KAVYA SINGH का था जिसकी डिलीवरी देने के लिए इसने CUSTOMER को फोन किया तो उसने फोन नही उठाया। फिर 30 MINUTES बाद उसका BACK CALL आया उसने इसे डिलीवरी के लिए SEC-58 की RED LIGHT पर बुलाया जब यह वहां पहुंचा तो वहां कोई नही मिला। फिर दौबारा से इसने PHONE किया तो उसने इसे SEC-58 DISCOVERY WINE SHOP का पता दिया, जहां यह डीलीवरी देने पहुंचा तो एक मोटरसाईकल पर दो लड़के निर्माणाधिन SITE SEC-58 के करीब मिले, जिन्हें इसने पार्सल दे दिया और रुपये मांगे तो उन्होने मार-पीट शुरु कर दी ओर दो मोटरसाईकिल पर 5-6 लोग और आ गए, सभी मोटरसाईकिल बिना नम्बर की थी। मारपीट करके उन्होंने इसके साथी ईको चालक मथुराप्रसाद पुत्र शिवराम निवासी उधोपुर सिकन्दरा जिला कानपुर से ईको गाङी की चाबी छीन ली और इनकी ईको गाड़ी को माल सहित लेकर भाग गए और इन दोनो को वहीं पर छोड़ दिया। मोटरसाईकिल सवारों द्वारा इनकी गाङी छीनने के बाद जब इन्होनें गाङी में लगे GPS को चैक किया तो गाङी की लोकेशन ANSAL API SEC-67A के पास की मिली। जब ANSAL API SEC-67A  पर जाकर देखा तो इनकी गाङी इन्हें लावारिश हालात में मिली।

▪ इस शिकायत पर थाना सैक्टर-65, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।
इस अभियोग में निरीक्षक सतेन्द्र रावल, प्रभारी अपराध शाखा सोहना, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से, पुलिस तकनीकी व अपने अथक प्रयासों से इस अभियोग में शिकायतकर्ता/पीङीत व उसके चालक साथी के साथ मारपीट करके उनकी गाङी को समान सहित छीनकर ले जाने वाले निम्नलिखित 05 आरोपियों को कल दिनांक 09.08.2019 को ओल्ड सोहना अलवर रोङ, सोहना से काबू करने में बङी सफलता हासिल की हैः-

1. सोनू पुत्र प्रकाश निवासी बिस्सर अकबरपुर, थाना तावङू, जिला नूँह।

2. दीपक पुत्र धर्मबीर निवासी बिस्सर अकबरपुर, थाना तावङू, जिला नूँह।

3. मोहित पुत्र सतप्रकाश निवासी गाँव रिठौज, थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

4. उधम पुत्र अजीत निवासी गाँव रिठौज, थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

5. गौरव पुत्र इन्द्रपाल निवासी बेहलपा थाना भौन्डसी, जिला गुरुग्राम।

▪ सभी आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 


इंस्पेक्टर सत्येंद्र रावल ने बताया कि प्राथमिक  पूछताछ में उक्त सभी आरोपियों ने बतलाया कि इन्होनें Flipkart Online Shopping पर 42000/- रुपयों का एक कैमरा Order किया था। जिसकी Delivery के लिए इनके पास फोन आया जिस पर Delivery देने वाले कर्मचारियों को इन्होनें इनके अनुकूल स्थान पर बुलाया व उनके साथ मारपीट करके जिस गाङी में वे Delivery देने आए थे उस इको गाङी व उसमे रखे सामान सहित उनसे छीन लिया और व कुछ ही दूरी पर इन्होनें एक कार (मारुति SX4) खङी की हुई थी, जिसमें इनके द्वारा छीनी गई गाङी ईको में रखा सामान कार (मारुति SX4) में रख लिया व ईको गाङी को वही पर छोङकर कार (मारुति SX4) में सवार होकर भाग गए।

उन्होंने बताया कि  टीम ने उपरोक्त आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग की वारदात में प्रयोग की गई 01 कार (मारुति SX4) व छीने गए सामान में से 03 जोङे जूते आरोपियों के कब्जा से बरामद किए है।

इंस्पेक्टर रावल ने बताया कि सभी आरोपियों को आज दिनांक 10.08.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश किया जाएगा तथा आरोपी सोनू पुत्र प्रकाश व आरोपी दीपक पुत्र धर्मबीर उपरोक्त को पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया जाएगे और अन्य 03 आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा।

▪ आरोपी सोनू व आरोपी दीपक उपरोक्त से पुलिस हिरासत के दौरान गहनता से पूछताछ करते हुए उपरोक्त अभियोग में छीना गया सामान बरामद किया जाएगा व अन्य वारदातों के बारे में पूछताछ की जाएगी। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

CIA-31, इंस्पेक्टर पाराशर का एक और बड़ा धमाका, 5 लाख के इनामी बदमाश शाहिद को दबोचा


गुरुग्राम: ATM मशीन चोरी करने की वारदातें करने वाले 05 लाख रुपयों का ईनामी शातिर बदमाश शाहिद उर्फ आडवाणी  क्राइम ब्रांच सेक्टर 31 टीम नवीन पाराशर ने दबोच लिया है।  आरोपी शाहिद ATM मशीन साहित वाहन चोरी, घरों से चोरी, दुकानों से चोरी, लूट, हत्या, पुलिस के साथ झङप, गौकशी, अवैध हथियार व लङाई-झगङे की सैकड़ो वारदातों को अन्जाम देने का कर चुका है। 

निरीक्षक नवीन, प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने दिनाँक 26.06.2019 को ATM मशीन चोरी सहित विभिन्न संगीन अपराधों की वारदातों को अन्जाम देने वाले 05 लाख रुपयों के ईनामी बदमाश शाहिद उर्फ अडवानी पुत्र जुम्मा निवासी गाँव खरखङी थाना तावङू, जिला नूहूं मेवात* को गिरफ्तार करके माननीय अदालत से 08 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया था।

  अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि उक्त आरोपी ने पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, उत्तर-प्रदेश, महाराष्ट्र आदि राज्यों के विभिन्न जिलों में ATM मशीन चोरी, चोरी, वाहन चोरी, हत्या, हत्या के प्रयास, लूट, हथियार के बल पर लूट, अवैध हथियार, लड़ाई-झगड़े, मारपीट, पुलिस टीम के साथ झड़प जैसी संगीन सैकड़ो वारदातों को अन्जाम देने का खुलाशा किया है।*

 उक्त आरोपी बहुत ही शातिर किस्म का अपराधी और पुलिस पूछताछ में उक्त आरोपी ने बतलाया कि वह जब भी वारदात को अन्जाम देने गुरुग्राम या किसी अन्य राज्य में जाता था तो हर बार अपने साथ किसी नए साथी को लेकर आता था और किराए पर गाङी करके लाता था, किन्तु जिसकी भी गाड़ी किराए पर लाता था उसे यह पता होता था कि वह किसी आपराधिक कार्य के लिए उसकी गाड़ी लेकर जा रहा है, किन्तु गाड़ी के मालिक को अधिक रुपये लेकर उसकी गाड़ी को किराए ले आता था।*

▪उक्त बदमाश पहले *सुनसान ATM मशीनों व जिन मशीनों पर सुरक्षाकर्मी नही होते उनकी रैकी करता और उसके बाद उसके द्वारा किराए पर लाई गई गाड़ी से एक मजबूत पट्टा(स्पेशल ATM मशीन उखाड़ने के लिए तैयार किया गया रस्सा) से बांध देते थे व दूसरे सिरे से ATM मशीन को बांध देते थे और गाड़ी से झटका मारकर ATM मशीन को उखाड़कर उसी गाड़ी में ATM मशीन को रखके किसी सुनसान जगह पर जाकर अपने साथ रखा गया गैस कटर से काटकर पैसे निकाल लेता था* और मशीन को वही फेंककर भाग जाता था।

*▪ उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में यह भी बतलाया कि उसके द्वारा थाना तावङू के एरिया में लूट व हत्या की वारदातों को भी अन्जाम दिया था । इसने गांव सीलखो के एक युवक की हत्या की वारदात को अन्जाम दिया था। इस हत्या की वारदात के सम्बन्ध में उक्त आरोपी व उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ अभियोग अंकित किया गया था। इस हत्या के मामले को उक्त आरोपी ने पीङित पक्ष को मोटी रकम देकर इस हत्या के मामले का फैसला किया था।*

*▪ उक्त आरोपी से पुलिस पूछताछ में यह भी ज्ञात हुआ कि तावड़ू में दशहरे पर लगने वाले मेले में इसकी झड़प अन्य गिरोह के साथ हो गई थी, जिसमें इसके पेट मे गोली लगी थी। गोली लगने के बाद इसने अपना ईलाज सफदरजंग दिल्ली में करवाया और इसको शारारिक सम्बन्धी कई परेशानियां भी है। शारारिक रूप से पूर्ण रूप से फिट ना होने के बावजूद भी उक्त बदमाश विभिन्न प्रकार के अपराधों की वारदातों को लगातार अन्जाम देता रहा है।*

*▪उक्त आरोपी शादीशुदा है तथा इसके 01 लङका व 01 लङकी है इसके द्वारा विभीन्न आपराधों की 200 से भी अधिक वारदातों को अन्जाम दिया जा चुका है। हरियाणा पुलिस द्वारा इसकी गिरफ्तारी पर 05 लाख रुपयों का ईनाम घोषित किया हुआ था। उक्त आरोपी वर्ष 2016 के बाद वर्ष-2018 में अपराध शाखा बिलासपुर, गुरुग्राम की पुलिस टीम द्वारा काबू करके गिरफ्तार किया गया था किन्तु वह पुलिस को चकमा देकर पुलिस हिरासत से भागने में कामयाब हो गया था।*

▪ उक्त आरोपी पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर है और आरोपी से गहनता से पूछताछ करते हुए उसके द्वारा अन्जाम दी गई विभिन्न अभियोगों में नियमानुसार गिरफ्तार करके उस अभियोग में बरामदगी की जा रही है। इनके साथ विभिन्न वारदातों में शामिल रहे अन्य साथी आरोपियों का भी पता किया जा रहा है।

हत्या की नियति से गोली चलाने वाले दो आरोपियों को CIA-31 टीम नवीन पाराशर ने दबोचा


गुरुग्राम:  हत्या करने की नियत से गोली मारने की वारदात को अन्जाम देने वाले 02 आरोपियों को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने दबोच लिया है।  दिनांक 16.06.2019 को कादिपुर हाईस्कूल के पास आरोपियों ने गोली मारने की वारदात को  अंजाम दिया था।  आरोपियों के अन्य साथी ने आपसी रंजीश रखते हुए रची थी हत्या कि साजिस व साथी आरोपी द्वारा ही वारदात में प्रयोग की गई मोटरसाईकिल, देशी कट्टा व कारतूस  उपलब्ध कराये थे। 

▪ दिनांक 16.06.2019 को थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम की पुलिस टीम को सूचना कादिपुर हाईस्कूल के पास एक कार चालक को गोली मारने की वारदात के सम्बन्ध में प्राप्त हुई।

▪ उक्त सूचना पर थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम की पुलिस टीम तुरन्त घटनास्थल पर पहूंच गई जहां पर पीङित सतीश कुमार पुत्र श्री सरजीत सिह निवासी ढाणी ठेठऱबाद थाना डहीना जिला रेवाडी ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि दिनाक 16.05.19 को समय करीब 07.06 PM पर वह अपने आफिस अमर कालोनी से अपने घर बसई इन्कलेव पार्ट-2, गुरुग्राम के लिए अपनी ब्रेजा गाडी न. HR 26 DT 2060 से जा रहा था जब वह कादीपुर सरकारी स्कुल के पास पहुंचा तो पीछे से एक मोटरसाइकिल काफी उँची थी जिस पर दो लडके बैठे थे और मोटरसाईकिल को गाडी की साइड से क्रोस करने लगे जो ड्राइवर साइड से मोटरसाइरकिल के पिछे बेठे लडके ने उस पर जान से मारने की नीयत से गाडी के ड्राइवर साइड के शीशे से इसके ऊपर सीधी गोली चलाई जो इसकी गाडी का ड्राइवर साईड के शीशे मे लगने के कारण गोली की साइड बदल गई तथा इसके सिर के सामने से गोली डैस्क बोर्ड पर जाकर गिरी और गाडी का साईड का शीशा इसके माथे पर लगा तथा दोनो लडके अपनी मोटरसाइकिल लेकर भाग गए।

▪ उक्त शिकायत पर थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪ उक्त अभियोग में निरीक्षक नवीन पराशर  प्रभारी अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता व अपनी समझबुझ से उक्त अभियोग में जान से मारने की नियत से गोली मारने वाले निम्मलिखित 02 आरोपियों को कल दिनांक 18.06.2019 को कार्ट परिसर, गुरुग्राम के पास से काबू करने में सफलता हासिल की हैः-

*1. गुलशन पुत्र विपिन कुमार ठाकुर निवासी गाँव रत्नपुर, थाना कामटाऊ, जिला दरबंगा, बिहार, उम्र 19 वर्ष, शिक्षा 10वीं पास।*

*2. विजय पुत्र वीर बहादुर निवासी चम्मा, जिला बेतरी, नेपाल हाल निवासी लक्ष्मी गार्डन, गुरुग्राम, उम्र 20 वर्ष, शिक्षा 8वीं पास।*

▪ उक्त उरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

अपराध शाखा सेक्टर 31 के निरीक्षक इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि उक्त आरोपियों ने  पूछताछ में बतलाया कि इनका एक अन्य गुरुग्राम में अवैध शराब का धन्धा करता है और उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता द्वारा इनके साथी की शराब पकङ ली थी। जिस बात पर वह उक्त अभियोग में शिकायतकर्ता से रन्जीश रखता था। जिसने उक्त दोनों आरोपियों को मोटरसाईकिल व स्कूटी पर सवार होकर उक्त अभियोग में शिकायतकर्ता की पहचान, उसकी गाङी का नम्बर, आने-जाने रास्ता, समय इत्यादि की रैकी करवाई व उसको वारदात करने के लिए दोपहिया वाहन, 01 देशी कट्टा व 01 कारतूस उपलब्ध कराया।

उन्होंने बताया कि  आरोपियों ने योजनाअनुसार दिनाक 16.05.19 को समय करीब 07.06 PM पर उपरोक्त अभियोग में शिकायतकर्ता जब अपने आफिस अमर कालोनी से अपने घर बसई इन्कलेव पार्ट-2, गुरुग्राम के लिए अपनी ब्रेजा गाडी न. HR 26 DT 2060 से जा रहा था और जब वह कादीपुर सरकारी स्कुल के पास पहुंचा तो इन्होंने उस पर जान से मारने की नीयत गोली चला दी और गोली मारकर वहां से फरार हो गए।

▪ उक्त आरोपियों को दिनांक 18.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके आरोपियों को दिनांक 22.06.2019 तक पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया है।

▪ पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपियों के अन्य साथी के बारे में गहनता से पूछताछ की जाएगी व उपरोक्त अभियोग की वारदात में प्रयोग की गई 01 स्कूटी, 01 मोटरसाईकिल व हथियार बरामद किए जाएगें। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

CIA- सै. 31 टीम नवीन पाराशर द्वारा दबोचे गए बदमाशों ने रिमांड के दौरान किये कई खुलासे


गुरुग्राम: अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम द्वारा हथियार के बल पर छीनाझपटी व चोरी की वारदातों को अन्जाम देने के सम्बन्ध में गिरप्तार किए गए 03 शातिर आरोपियों से पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान वारदात में प्रयोग किया गया 01 देशी कट्टा, 02 जिन्दा कारतूस व छीनाझपटी किए गए 01 मोबाईल फोन, 01 सी.एन. जी. आटो, 03 मोटरसाईकिलें व 700 रुपयों की नगदी आरोपियों के कब्जे से बरामद किये हैं। 
पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान आरोपियों ने हथियार के बल छीनाझपटी व चोरी की 05 वारदातों के अन्जाम देने का  खुलासा किया है /


अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि दिनांक 14.06.2019 को थाना पालम विहार गुरुग्राम में गाँव डूण्डाहेङा गुरुग्राम में रहने वाले एक युवक ने हाजिर आकर एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि व दिनांक 13/14 की रात को समय करीब 01 बजे देर रात अपनी मोटरसाकिल पर सवार होकर सैक्टर-5 होते हुए गाँव डून्डाहेङा आ रहा था। जब वह सैक्टर-23ए नजदीक औम विहार पहुँचा तो एक मोटरसाईकिल पर सवार 04 युवकों द्वारा उसकी मोटरसाईकिल के सामने मोटरसाईकिल लगा दी, जिनमें से 03 लङके नीचे उतरकर उसके साथ मारपीट करने लगे और उसकी कनपटी पर बन्दूक लगाकर कहा कि जो भी तेरे पास है वो निकाल दे और हथियार के बल पर उससे उसका 01 मोबाईल फोन, 700 रुपयों की नगदी व उसकी मोटरसाईकिल लेकर भाग गए। उक्त शिकायत पर थाना पालम विहार, गुरुग्राम में उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया था।

उक्त अभियोग में अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता व अपनी समझबुझ से उक्त अभियोग में हथियार के बल पर छीनाझपटी की वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 03 आरोपियों को कल दिनांक 15.06.2019 को अतुल कटारिया चौक, गुरुग्राम के पास से काबू करने अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया थाः-

1. सन्नी पुत्र मीरसिंह निवासी मकान नं. 1028, गली नं. 11, मदनपुरी, गुरुग्राम।

2. गुलशन पुत्र विपिन ठाकुर निवासी गाँव रत्नपुर, थाना कमटाऊ, जिला दरबंगा, बिहार।

3. विजय पुत्र वीर बहादुर निवासी गाँव चम्मा जिला बेतरी, नेपाल, हाल निवासी लक्ष्मी गार्डन, गुरुग्राम।

▪ उक्त आरोपियों को अपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार करके आरोपियों को दिनांक 16.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया था। 

▪ पुलिस हिरासत रिमाण्ड के दौरान उक्त आरोपियों से पुलिस टीम द्वारा गहनता से पूछताछ की गई। पुलिस पूछताछ के दौरान उक्त आरोपियों ने उपरोक्त अभियोग में हथियार के बल पर छीनाझपटी व मारपीट करने की वारदात को अन्जाम देना स्वीकार किया व उपरोक्त अभियोग में अतिरिक्त निम्नलिखित अभियोगों में वारदातों को अन्जाम देने का खुलासा कियाः-

1. अभियोग संख्या 344 दिनांक 09.06.2019 धारा 379 भा.द.स. थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम।
2. अभियोग संख्या 382 दिनांक 16.05.2019 धारा 307, 120बी, 506, 34 भा.द.स. थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम।
3. अभियोग संख्या 91 दिनांक 23.01.2019 धारा 379 भा.द.स. थाना शिवाजी नगर, गुरुग्राम। 
4. अभियोग संख्या 167 दिनांक 16.04.2019 धारा 379 भा.द.स. थाना सिविल लाईन्स, गुरुग्राम।

▪ पुलिस टीम ने उक्त आरोपियों की निशानदेही पर आरोपियों के कब्जा से  01 देशी कट्टा, 02 जिन्दा कारतूस, 01 मोबाईल फोन, 01 सी.एन. जी. आटो, 03 मोटरसाईकिलें व 700 रुपयों की नगदी की बरामद की है।

▪ उक्त आरोपियों को पुनः माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

गैस एजैन्सी के मैनेजर से हथियार के बल पर 37 लाख लूटने वाले दबोचे गए


गुरुग्राम: उर्वशी गैस एजैन्सी के मैनेजर से हथियार के बल पर 37 लाख रुपए की लूट करने के मामले में और 02 आरोपियों को अपराध शाखा-9, सैक्टर-39, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने दबोच लिया है। आरोपियों द्वारा लूटी गई नगदी में से 01 लाख रुपयों की नगदी आरोपियों की निशानदेही पर उनके कब्जे से बरामद किये गए हैं। 

दिनांक 26.11.2018 को साऊथ सिटी-1, शिक्षान्तर स्कूल, गुरुग्राम के सामने अज्ञात मोटरसाईकिल सवारों द्वारा उर्वशी गैस एजेन्सी के मैनेजर से हथियार के बल पर 37 लाख रुपए नकदी की लूट करने की वारदात को अन्जाम दिया गया था । इस वारदात के सम्बन्ध में थाना सैक्टर-40, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया था ।उक्त उभियोग की जाँच अपराध शाखा-9 सैक्टर-39, गुरुग्राम की पुलिस टीम को सौंपी गई थी ।

उक्त अभियोग में लगन व मेहनत से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से उक्त अभियोग में लूट की वारदात को अन्जाम देने वाले 03 आरोपियों (सोमबीर, ईश्वर व सचिन उर्फ छोटा) को काबू करके नियमानुसार गिरफ्तार किया गया था। उक्त दोनों आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार करके *आरोपियों के कब्जा से 02 देशी पिस्तौल, 08 जिन्दा कारतूस व एक मारुति रिट्ज कार बरामद की गई थी। उपरोक्त अभियोग में आगामी कार्यवाही करते हुए अपराध शाखा सेक्टर 39, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने उपरोक्त अभियोग में वांछित निम्नलिखित 02 आरोपियों को दिनांक 12.06.2019 को दिल्ली से काबू करने में सफलता हासिल की है:-

*1. सन्नी पुत्र धर्मेंद्र निवासी पुथ खुर्द दिल्ली।*

*2. अजय पुत्र अशोक निवासी कुतुबगढ़ दिल्ली।*

 उक्त आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया व दिनाँक 12.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 05 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया।

 पुलिस हिरासत रिमांड के दौरान उपरोक्त आरोपियों ने बतलाया कि पुलिस टीम द्वारा गिरफ्तार किया जा चुका सोमबीर इस वारदात का मास्टर माईन्ड था। आरोपी सोमबीर की जेल में सुरेन्द्र से जान पहचान हुई थी । आरोपी सोमबीर ने सुरेन्द्र से कहा था कि वह गैस का काम करना चाहता है तो सुरेन्द्र ने आरोपी सोमबीर की मुलाकात उर्वसी गैस एजेन्सी के मनेजर से करवा दी थी । उर्वसी गैस एजेन्सी पर बङी मात्रा में नकदी का लेनदेन देखने के बाद आरोपी सोमबीर ने गैस एजेन्सी के मैनेजर को लूटने की योजना बनाई और दिनांक 26.11.2018 को इन्होंने आरोपी सोमबीर के के साथ मिलकर लूट की वारदात को अन्जाम दिया था। 

 उक्त आरोपी सन्नी उपरोक्त अभियोग की वारदात को अन्जाम देने में शामिल था तथा उक्त आरोपी अजय पुत्र अशोक द्वारा इस वारदात को अन्जाम देने में रैकी की थी तथा वारदात के समय भी घटनास्थल के पास ही मौजूद था।

उक्त आरोपियों द्वारा *गैस एजेंसी के मैनेजर से लूटी गई नगदी में से 01 लाख रुपयों की नगदी आरोपियों की निशानदेही पर आरोपियों के कब्जा से पुलिस टीम द्वारा बरामद किए* गए है।

उक्त आरोपियों को कल दिनांक 17.06.2019 को पुनः माननीय अदालत के सामने पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा जाएगा। अभियोग अनुसंधानाधीन है।

फर्जी कॉल कर लोगों से पॉलिसी करने के नाम लाखों ठगने वाले ठगों को गुरुग्राम पुलिस ने दबोचा


गुरुग्राम: पॉलिसी बाजार के नाम पर फर्जी कॉल के माध्यम से लोगों से पॉलिसी करने के नाम पर पैसे ठगने व ग्रहको को व्हाट्सएप व ईमेल पर पॉलिसी की फर्जी रिसीप्ट देने वाले 02 शातिर आरोपियों को थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने गिरफ्तार किया है। 

आरोपियों द्वारा धोखाधड़ी में प्रयोग किए गए मोबाईल फोन, लैपटॉप, कॉलिंग डाटा, अन्य दस्तावेज और लोगों से ठगी गई कुछ राशि की गई। सैकड़ो वारदातों को अन्जाम देने का किया खुलाशा।*

▪थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम में नमिता सुखिजा C/o Policy Bazaar, Sector 44, Gurugram ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि उनकी कंपनी IRDA की regulation के अनुसार Insurance Web Aggregator का काम करती है। माह दिसम्बर 2018 में उनकी कंपनी के ग्राहकों ने कंपनी की Enquiry mail ID पर मेल के माध्यम से शिकायत भेजना शुरू किया की उन्होने कुछ समय पहले ऑनलाइन पॉलिसी Policy Bazaar के माध्यम से करवाई थी परंतु उन्हे अब तक कोई पॉलिसी की रिसीप्ट हार्ड कॉपी के रूप में नहीं मिली है। उसके बाद जब Policy Bazaar कंपनी ने अपना रिकॉर्ड चेक किया तो ज्ञात हुआ की कंपनी ने कभी उन ग्राहकों की पॉलिसी की ही नहीं है और ना ही कंपनी द्वारा उन ग्राहकों से पैसे लिए गए।

▪उक्त शिकायत पर थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम में दिनाँक 26.04.2019 को अभियोग संख्या 25 धारा 420 IPC व 66D IT Act के तहत अंकित किया गया।

▪उक्त अभियोग में थाना साईबर अपराध, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने कार्यवाही करते हुए Policy Bazaar कंपनी के पास जिन 25-30 व्यक्तियों ने शिकायत करते हुए मेल भेजी थी, उनके अनुसार उनसे पेमेंट Paytm, UPI और Gateway के माध्यम से तथा कुछ बैंक खातों में भी पैसे डलवाने पाए गए। इसके अलावा काफी मोबाइल नंबरों से पीड़ितों के पास कॉलिंग की गई है। पीड़ितों से पैसे लेने के बाद फर्जी पॉलिसी की सॉफ्ट कॉपी Whats app व Mail ID के माध्यम से भेजी गई है। उक्त अभियोग का अनुसंधान करते हुए उक्त अभियोग में शिकायतकर्ता के माध्यम से प्राप्त की गई डिटेल के अनुसार बैंक रिकॉर्ड, कॉलिंग नंबर, Mail ID डिटेल आदि से संबन्धित तकनीकी रिकॉर्ड प्राप्त किया गया।

▪थाना साईबर अपराध की पुलिस टीम द्वारा उक्त रिकॉर्ड एकत्रित करके पुलिस तकनीकी का प्रयोग करते हुए उपरोक्त अभियोग में निम्नलिखित 02 आरोपियों को दिनांक 10.06.2019 को अजय एन्क्लेव सुभाष नगर, दिल्ली से काबू करने में बड़ी सफलता हासिल की है:-

*1. अविनाश कुमार झा पुत्र त्रिलोकी नाथ झा निवासी गाँव मठिया पाँच मोहलिया थाना मोहलिया जिला रौताहट नेपाल हाल किराएदार सैक्टर-7, रोहिणी, दिल्ली, आधार कार्ड में दिया गया पता - प्लॉट नंबर 72, जैन कॉलोनी, पार्ट 1, उत्तम नगर, दिल्ली तथा एक अन्य पता गाँव व थाना कुंडवा चैनपुर, पूर्वी चंपारण, बिहार।*

*2. महेंद्र सिंह राजपूत पुत्र विक्रम सिंह राजपूत वासी सुधारनपाड़ा थाना बाँदी कुई, राजस्थान हाल किराएदार सैक्टर 7, रोहिणी, दिल्ली।*

▪उक्त आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया तथा दिनाँक 11.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 03 दिन के पुलिस हिरासत रिमाण्ड पर लिया गया।

▪पुलिस हिरासत रिमांड के दौरान उक्त आरोपियों से पुलिस पूछताछ में ज्ञात हुआ की इस धोखाधड़ी/ठगी के मामले का उक्त आरोपी अविनाश झा मुख्य मास्टरमाइंड/साजिशकर्ता अविनाश झा है जिसने नेपाल से 10वी, विशाखापट्नम से 10+2 तथा जयपुर राजस्थान के एक संस्थान से B.Tech. की डिग्री की है। पढ़ाई पूरी करने के बाद वर्ष 2017 में इसने एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी की थी। इसी दौरान इसकी मुलाकात अन्य कई लड़कों से हुई जिनमें से एक के साथ मिलकर इसने इस प्रकार की ठगी करने की योजना बनाई। योजना के अनुसार गांव तिहाड़ दिल्ली में जगह किराए पर लेकर एक कॉल सेंटर स्थापित किया तथा अगस्त 2018 से इस गोरखधंधे की शुरुआत कर दी। जब ठगी का इनका यह काम चल निकला तो कुछ समय बाद इन्होंने गांव तिहाड़ में ही एक और कॉल सेंटर स्थापित कर दिया। पुलिस की पकड़ से बचने के लिए योजनाबद्ध तरीके से इन्होंने पीतमपुरा दिल्ली के नेताजी सुभाष पैलेस में किराए पर जगह लेकर माह मई 2019 में एक नया कॉल सेंटर बनाकर चालू कर दिया। कॉल सेंटर में कार्यरत अपने कर्मचारियों से ये लोग कहते थे कि काम बढ़ गया है इसलिए ये लोग 150-200 सीट का बड़ा कॉल सेंटर स्थापित करने की योजना बना रहे हैं और ये जगह बदल-बदल कर कॉल सेंटर खोलकर Policy Bazaar के नाम पर लोगों से Insurance policy के नाम पर ऑनलाइन पैसे लेता था और उनको मेल और whatsapp के माध्यम से फर्जी पॉलिसी भेजता था। इसने दिल्ली में तिहाड़ गाँव में 01 कॉल सेंटर खोला था जो अब बंद कर चुका है, NSP पीतमपुरा में एक कॉल सेंटर चालू हालत में मिला। उक्त आरोपी अविनाश झा ने जयपुर में रहकर पढ़ाई की थी इसलिए एक कॉल सेंटर इसने जयपुर के झोटवाड़ा इलाके में भी स्थापित कर लिया था। वहां बहुत अधिक काम नहीं हुआ इसलिए वह कॉल सेंटर इसने बन्द कर दिया था।

▪उक्त द्वारा कॉल सेंटर में अधिकतर लड़कियों को नौकरी 10-12 हजार से लेकर 20 हजार रुपये तक सैलरी रखता था। इनके कॉल सेंटर में टेलीकॉलर के रूप में काम करने वाले लड़के/लड़कियों को इन्होंने बता रखा था कि इनका *पॉलिसी बाजार* कंपनी से कॉन्ट्रैक्ट है तथा इन्होंने उसकी फ्रेंचाइजी ले रखी है तथा उसी के लिए काम करते हैं।
उक्त आरोपियों से पुलिस पूछताछ में यह भी बतलाया कि वे Just Dial कम्पनी से insurance Data ले लेते थे इस Data में उन्हें गाड़ी का नंबर, गाड़ी के मालिक का नाम व मोबाईल नम्बर इत्यादि मिल जाते थे। इस Data से प्राप्त हुए लोगों के मोबाईल नम्बर पर फोनक करके वे लोगों से अपना परिचय Policy Bazar की और से बात करने वाले प्रवक्ता के रूप में देते और उन्हें अलग-अलग इन्सुरेंस कम्पनी की पॉलिसी कराने के लुभावने ऑफर देते थे, ग्राहक जब किसी कंपनी की पॉलिसी करवाने के लिए तैयार हो जाते तो इनके पास पहले से तैयार उसी कम्पनी के फॉरमेट में ग्राहक का नाम व गाड़ी की डिटेल इत्यादि उसमें Edit करके Fill कर देते थे और तैयार की गई फर्जी पॉलिसी रिसीप्ट को ग्राहक को व्हाट्सएप व ईमेल के माध्यम से उन्हें भेज देते थे और कहते थे कि उन्हें पॉलिसी की हार्ड कॉपी अगले 5/7 दिनों में मिल जाएगी। उनके द्वारा *इस प्रकार की सैकड़ो वारदातों को अन्जाम देने का भी खुलाशा* किया है और पोलिसी करने के नाम पर ये लोग अब तक 50 लाख से भी अधिक रुपये लोगों से ठग चुके हैं। इसके साथी अभी पकड़ से बाहर हैं तथा यह आंकड़ा और अधिक भी हो सकता है।

*▪ उक्त आरोपियों द्वारा उक्त धोखाधड़ी/ठगी की वारदातों के लिए प्रयोग किए गए मोबाईल फोन, लैपटॉप, कॉलिंग डाटा, अन्य दस्तावेज़ और लोगों से ठगी गई कुल नगदी बरामद की है।* इस फर्जीवाड़े में शामिल अन्य आरोपियों व वारदातों के बारे में जानकारी लेने के लिए पुलिस टीम द्वारा सभी रिकॉर्ड व दस्तावेजों का गहनता से अध्ययन किया जा रहा है तथा इस मामले की पहलू से जाँच की जा रही है। जिस प्रकार के तथ्य सामने आएंगे नियमानुसार आगामी पुलिस कार्यवाही की जाएगी।

▪उक्त आरोपियों को कल दिनांक 14.06.2019 को पुनः माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया। जो अभियोग में अनुसंधान जारी है।

CIA सैक्टर-31, टीम नवीन पाराशर ने दो ट्रक अवैध शराब पकड़ा


गुरुग्राम: अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अवैध शराब से भरे 02 ट्रकों को पकड़ा है। पुलिस टीम द्वारा दोनों ट्रकों से कुल 870 (450+420) पेटियां अवैध शराब बरामद की गई है। कल दिनांक 11.06.2019 को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व अपनी समझबुझ से द्वारिका रोङ हयातपुर चौक, गुरुग्राम के पास से अवैध शराब से भरे 02 ट्रकों को काबू करने में बङी सफलता हासिल की। 

अपराध  शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि काबू किए गए दोनों ट्रकों से कुल 870 (450+420) पेटियां अवैध शराब की बरामद की है, दोनों ट्रकों के चालक ट्रकों को छोङकर मौका से भागने में कामयाब हो गए। उन्होंने बताया कि उक्त ट्रकों से अवैध शराब बरामद होने पर थाना सैक्टर-10, गुरुग्राम में एक्साईज एक्ट की उचित धाराओं के तहत दोनों ट्रकों के खिलाफ अलग-अलग अभियोग अंकित किए गए तथा दोनों ट्रकों व अवैध शराब को पुलिस कब्जा में लिया गया।

इंस्पेक्टर पाराशर ने बताया कि ट्रकों के चालक व मालिकों के बारे में जानकारियां ली जा रही है, जिन्हें भी जल्दी ही काबू करके अभियोगों में नियमानुसार गिरफ्तार किया जाएगा। दोनों अभियोग अनुसंधानाधीन है।

CIA सेक्टर 31 टीम नवीन पाराशर ने चोरी के 2 मामले सुलझाए, एक चोरी मुद्दई पर ही पडी भारी


गुरुग्राम: क्राइम ब्रांच सेक्टर 31 टीम नवीन पाराशर  ने ट्रैक्टर चोरी व दुकान से चोरी करने की वारदातों को अन्जाम देने वालें 02 शातिर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों द्वारा चोरी किया गया 01 ट्रैक्टर व अन्य दुकान से चोरी की वारदात में दुकान से चोरी किए गए 04 लकङी के डण्डे आरोपियों के कब्जा से बरामद किये हैं। 
क्राइम ब्रांच सेक्टर 31 के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि  दिनांक 05.05.2019 को थाना DLF PH 1, गुरुग्राम में मौहम्मद कलाम पुत्र  मौहम्मद ईदरीश निवासी F-90 पालम विहार धर्म कालोनी, गुरूग्राम में रहने वाले एक व्यक्ति ने एक लिखित शिकायत के माध्यम से बतलाया कि सिकन्दरपुर घोसी , गुरूग्राम में बिलडींग बनाने का काम करता है और दिनांक 04.05.2019 को उसने अपना ट्रैक्टर (आईसर) Community Centre के सामने खड़ा किया था जब सुबह करीब 6:30 बजे देखा तो ट्रैक्टर नही मिला जो काफी तलाश व पुछताछ की पर भी नही मिला। जिसे कोई नाम पता ना मालूम व्यक्ति चोरी करके ले गया है।

▪ उक्त शिकायत पर थाना  DLF PH 1, गुरुग्राम में अभियोग अंकित किया गया।

उन्होंने बताया कि इस मामले को लेकर हमारी  टीम ने तत्परता से कार्यवाही करते हुए अपने गुप्त सुत्रों की सहायता से व अपनी समझबुझ से उक्त अभियोग में ट्रैक्टर चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने वाले निम्नलिखित 02 आरोपियों को कल दिनांक 10.06.2019 को राजीव चौक, गुरुग्राम के पास से काबू करने में सफलता हासिल की हैः-

1. अजय उर्फ बेबी पुत्र विजय बहादुर निवासी नजदीक वाल्मिकी मन्दिर, प्रताप नगर, थाना न्यू कालोनी, जिला गुरुग्राम।

2. राहुल पुत्र दुर्गा प्रसाद निवासी नजदीक राम मन्दिर, प्रताप नगर, थाना न्यू कालोनी, जिला गुरुग्राम।

▪ उक्त आरोपियों को उपरोक्त अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया। 

▪ पुलिस पुछताछ में उक्त आरोपियों ने उपरोक्त अभियोग में ट्रैक्टर चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने स्वीकार किया। 

▪ पुलिस टीम ने उक्त आरोपियों द्वारा उपरोक्त अभियोग में चोरी किया गया 01 ट्रैक्टर (आईसर) आरोपियों के कब्जा से बरामद किया गया।

▪ उक्त आरोपियों ने गहनता से पूछताछ में दिनांक 17.05.2019 को थाना सदर, गुरुग्राम में अंकित अभियोग संख्या 487 धारा 457, 380 भा.द.स. में जीवनी हार्डवेयर की दुकान में से दिनांक 15 .05 2019 की रात्रि को दुकान का ताला तोड़कर दुकान के गल्ले में से 700 रुपयों की नगदी, 03 नल की ठुटी तथा 04 डण्डे चोरी की थी तथा जीवनी हार्डवेयर के पास ही दुसरी दुकान गोल्डन हेयर सैलून का ताला तोड़कर जिसमें से मोबाइल चार्जर, हेयर कलीपर तथा गल्ले से 100 रुपए चोरी करने की वारदात को अन्जाम देने का खुलासा किया।

▪ उपरोक्त दोनों आरोपियों को थाना सदर, गुरुग्राम में अंकितशुदा उक्त अभियोग में भी नियमानुसार गिरफ्तार किया गया।

▪ पुलिस टीम ने उपरोक्त आरोपियों के कब्जा से आरोपियों द्वारा जीवनी हार्डवेयर की दुकान से चोरी किए गए 04 डण्डे बरामद किए है।

▪ उपरोक्त दोनों आरोपियों को आज दिनांक 11.06.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। दोनों अभियोग अनुसंधानाधीन है।
दूसरी चोरी में मजेदार बात ये आ रही है कि 700 रू 3 टूटी और 4 कस्सी के बिट्टे चोरी हुऐ थे। जिसके बाद 380 /457 ipc के तहत  अभियोग दर्ज किया गया ।

पुलिस ने भी कड़ी  मेहनत करते हुऐ 4  कस्सी के बिट्टे तलाश  कर लिए  ।चोरो ने 700 Rs खर्च कर दिये ओर साथ 3 टूटी भी बेचकर नशा कर लिया था।  अब मुदई को माल सुपरदारी के लिये कहा है, सूत्रों द्वारा जानकारी मिली है कि  वकील ने सुपरदारी करवाने के लिए मुदई से 2000 रूपये  मांगे हैं? बेचारा मुद्दई? 700 रूपये की चोरी? 2000 रूपये वकील साहब को ही?

आयानगर बॉर्डर के पास हुए ब्लाइंड मर्डर के आरोपी को CIA सै -31 टीम नवीन पाराशर ने दबोचा


गुरुग्राम:  दिनांक 08-05-2019 को थाना DLF Ph-1 गुरुग्राम में सूचना मिली कि आया नगर बॉर्डर के पास स्थित श्याम झा कॉलोनी में एक कमरे के पास एक युवक की लाश पड़ी हुई है।उक्त सूचना पर निरीक्षक वेद प्रकाश, प्रबंधक थाना DLF Ph-1, गुरुग्राम अपनी टीम सहित तुरंत मौका पर पहुंचे तो पाया कि श्याम झा कॉलोनी में एक मोबाइल टावर के निकट बने दो कमरों के बीच खाली जगह पर एक युवक मृत अवस्था मे पड़ा हुआ था जिसका सिर फटा हुआ था तथा बहुत खून बह रहा था। लाश को देखने से ऐसा लग रहा था कि किसी ने पत्थर से उसके सिर में चोटें मारी हैं और उन्हीं चोटों व खून बहने के कारण उसकी मौत हुई है। 

▪थाना प्रबंधक ने तुरंत पुलिस की FSL टीम, फिंगर प्रिंट व क्राइम टीमों को मौका पर बुलाकर वहां से सभी साक्ष्य एकत्रित किए। सभी संबंधित उच्च अधिकारी भी मौका पर पहुंचे तथा नियमानुसार कार्यवाही करते हुए मामले की तफ्तीश शुरू की गई। जानकारी लेने पर मृतक की पहचान वहीं पर रहने वाले गब्बर सिंह निवासी गांव खोह थाना करवी जिला चित्रकूट उ0प्र0 के रूप में हुई और यह भी ज्ञात हुआ कि मृतक यहीं पर अपने भाई के साथ किराए पर रहता था तथा मेहनत मजदूरी का काम करता था। इसकी उम्र लगभग 32 साल थी।

▪उक्त हत्या के संबंध में थाना DLF Ph-I, गुरुग्राम में कानून की उचित धाराओं के तहत अभियोग अंकित किया गया।

▪उक्त ब्लाइंड मर्डर के इस अभियोग की गुत्थी को सुलझाने के लिए गुरुग्राम पुलिस ने प्रयास शुरू कर दिए तथा इस कार्य के लिए थाना पुलिस के अतिरिक्त क्राइम ब्रांच की भी टीमें लगाई गई।

▪उक्त अभियोग में कल दिनांक 10.05.2019 को क्राइम यूनिट सेक्टर-31 के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन कुमार को टेक्निकल इन्वेस्टिगेशन व गुप्त सूचना के आधार पर ज्ञात हुआ कि इस वारदात को सरहौल गांव में किराए पर रहने वाले एक व्यक्ति ने अंजाम दिया है लेकिन बिना पते के इसको ढूंढना पुलिस के सामने एक चुनौती थी। कई क्राइम ब्रांच इस मर्डर पर अपने स्तर पर काम कर चुकी थी 

गुरूग्राम पुलिस कमिश्नर के दिशा निर्देश पर काम करते हुए  क्राइम यूनिट सेक्टर-31 गुरुग्राम की टीम नवीन पाराशर ने गांव सरहौल में इस व्यक्ति को ढूंढने का अभियान चलाया तथा अथक प्रयास के बाद परिणामस्वरूप कल दिनांक 10.05.2019 को मनोज कुमार नामक युवक को काबू किया।

▪पुलिस पूछताछ पर इसने बतलाया कि वह मूल रूप से गांव छिलोलर थाना कमसिन जिला बांदा उत्तर-प्रदेश का रहने वाला है। इसने यह भी बतलाया कि वह सिलाई व मेहनत मजदूरी का काम करता है तथा वह सर्कस में भी काम कर लेता है। उसको शराब पीने व जुआ खेलने की लत है। काम की तलाश में वह हर रोज सिकंदरपुर के पास लेबर चौक पर आता है। दिनांक 07.05.2019 को भी वह दिन में काम पर गया तथा काम करने के बाद शाम को जुआ खेलने श्याम झा कॉलोनी में गया था। देर रात जब वह झुग्गियों में जुआ खेलकर आ रहा था तो एक आदमी ने शराब पी रखी थी पहले तो उनके साथ कहासुनी हुई तथा बाद में उसके साथ इसका झगड़ा हो गया था। इसी झगड़े में दो कमरों के बीच एक खाली जगह पर इसने उस लड़के को धक्का दे दिया तथा वहां पास में ही पड़े एक पत्थर से उसके सिर पर कई वार कर दिए जिससे उसका सर फट गया था। जाते समय वह मृतक की जेब से उसका बटुआ, मोबाइल फोन व कान में लगाने वाली लीड भी ले गया था।

▪पुलिस टीम द्वारा उक्त आरोपी मनोज कुमार के कब्जा से मृतक का मोबाईल फोन ,  फोन लीड आरोपी के घटना के समय पहने कपङे व जूते बरामद किया  गये ।

▪ उक्त आरोपी से पुलिस पूछताछ यह भी ज्ञात हुआ कि घटना के समय इसके कपड़ों व जूतों पर मृतक का खून भी लग गया था जिसे उसने अपने कमरे पर जाकर धोने का प्रयास किया था। कपड़े व जूते इसने कहीं छुपा दिया थे जिन्हें बरामद करने का भी पुलिस टीम द्वारा प्रयास किया जा रहा है। उक्त साक्ष्य बरामद होने उपरांत इस घटना को अंजाम देते समय आरोपी के कपड़ों व जूतों में लगे मृतक के खून के धब्बो की पहचान करने के लिए FSL भेजा जाएगा।

▪उक्त आरोपी को आज दिनाँक 11.05.2019 को माननीय अदालत में पेश किया गया जहां आरोपी से  गहनता पूछताछ करने हेतु इसे 2 दिन के पुलिस हिरासत रिमांड पर लिया गया है। अभियोग अनुसंधानाधीन  है।

दिल्ली, गुरुग्राम में लूट और ह्त्या का प्रयास करने वाले बड़े बदमाश को CIA-31 टीम नवीन पराशर ने दबोचा

CIA-Sector-31-Gurugram-News
गुरुग्राम: आज दिनांक 10.04.2019 को अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने अपने गुप्त सुत्रों की सूचना व अपनी सुझबुझ से 01 आरोपी को पटौदी रोङ गाँव गाङौली से काबू करने में बङी सफलता हासिल की है । आरोपी की पहचान ऋषिराज उर्फ सोनू उर्फ लम्बू पुत्र बलबीर सिंह निवासी मकान नं. 153, गाँव सुरखपुर, थाना बाला हरिदास कालोनी, नई दिल्ली के रुप में हुई । 

अपराध शाखा सैक्टर-31, गुरुग्राम के प्रभारी इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि उक्त आरोपी के कब्जा से अवैध 01 देशी पिस्तौल व 08 जिन्दा कारतूस बरामद होने पर आरोपी के खिलाफ थाना सैक्टर-10ए, गुरुग्राम में शस्त्र अधिनियम की धारा 25 के तहत अभियोग अंकित किया गया व उक्त आरोपी को अभियोग में नियमानुसार गिरफ्तार किया गया । 

उन्होंने बताया कि उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में निम्नलिखित वारदातों में संलिप्त होने का खुलासा किया हैः-

1. अभियोग संख्या 75 दिनांक 23.03.2018 धारा 365, 397 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना बजघेङा, गुरुग्राम । (इस अभियोग में माननीय अदालत द्वारा उक्त आरोपी के NBW (Non Bail able Warrant ) भी जारी किए हुए थे ।)

2. अभियोग संख्या 136 दिनांक 09.06.2013 धारा 25.54.529 शस्त्र अधिनियम, थाना बाबा हरिदास कालोनी, नई दिल्ली । (इस अभियोग में उक्त आरोपी को माननीय अदालत द्वारा दिनांक 24.08.2018 को उद्घोषित अपराधी/PO (Proclaimed Offender भी घोषित किया हुआ था ) 

3. अभियोग संख्या 922 दिनांक 06.11.2006 धारा 302, 307, 34 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम, थाना शहर, गुरुग्राम ।

4. अभियोग संख्या 91 दिनांक 10.09.2008 धारा 148, 149, 332, 353, 186 भा.द.स. व 3 पी.डी.पी. एक्ट, थाना भौन्डसी, गुरुग्राम ।

5. अभियोग संख्या 57 दिनांक 21.05.2009 धारा 332, 353, 323, 506, 34 भा.द.स., थाना भौन्डसी ।

इंस्पेक्टर नवीन पाराशर ने बताया कि उक्त वारदातों के अतिरिक्त उक्त आरोपी के खिलाफ दिल्ली के विभिन्न थानों में हत्या, हत्या के प्रयास, अवैध हथियार, लड़ाई झगड़े आदि प्रकार की वारदातों के संबंध में करीब 02 दर्जन अभियोग अंकित है ।

▪उक्त आरोपी ने पुलिस पूछताछ में अपना परिचय देते हुए निम्नलिखित प्रकार से बतलायाः-

👉 उक्त आरोपी ने बतलाया कि पहले वह राजेश नाहरी के साथ 5 साल काम किया ।(सरगना राजेश नाहरी कई मर्डर के मामले में आरोपी है ओर अपने गाँव का सरपंच भी रहा है ।)

👉 इसके बाद उक्त आरोपी ऋषिराज राजेश भारती व सन्जीत बिदरो के साथ जुङ गया ओर दिल्ली NCR में कई वारदातों में उनके साथ रहा । (कुछ दिन पहले राजेश भारती व सन्जीत बिदरो दिल्ली में पुलिस मुठभेड़ मे मारे गये ।)

👉 गुरुग्राम में थाना बजघेङा में अंकित अभियोग संख्या 75 दिनांक 23.03.2018 धारा 365, 397 भा.द.स. व 25-54-59 शस्त्र अधिनियम में उक्त आरोपी ऋषिराज राजेश भारती गैंग के साथ महेश पुत्र रामसिंह निवासी C-2 -1044 पालम विहार गुरूग्राम के शिवा प्रॉपर्टीज आफिस से 23.03.2018 को हथियार के बल पर 5 लाख रूपए व कागजात से भरा बैग लूटकर ले जाने की वारदात को अन्जाम दिया था । (इस अभियोग में उक्त आरोपी ऋषिराज के अन्य 02 साथी आरोपियों को पहले ही अवैध सहित गिरफ्तार किए जा चुके है व राजेश भारती पुलिस मुठभेड़ मे मारा जा चुका है) आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर था, जिसे आज अवैध हथियार सहित गाँव गाङौली से काबू करके नियमानुसार गिरफ्तार किया गया । 

▪उक्त आरोपी ऋषिराज को आज दिनांक 10.04.2019 को माननीय अदालत के सम्मुख पेश करके 3 दिन का पुलिस हिरासत रिमान्ड पर लिया गया है  इस दोरान आरोपी से  गहनता से पूछताछ की जाएगी तथा आरोपी से लूट की रकम बरामद की जायेगी  । पुलिस पूछताछ के दौरान जो भी तथ्य सामने आएगें उनसे अवगत कराया जाएगा । अभियोग अनुसंधानाधीन है ।

12 फ़ीट गड्ढे में दबे 3 मजदूरों के लिए फरिश्ता बने ACP अमन यादव और उनकी टीम, सकुशल बाहर निकाला

Gurugram-Faridabad-ACP-Aman-Yadav

गुरुग्राम: गुरुग्राम पुलिस तीन मजदूरों के लिए फरिश्ता बन गई जब बिजली की केबल बिछाने के लिए गहरी खुदाई के दौरान मिट्टी में दबे 03 मजदूरों को थाना सदर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने सकुशल बाहर लिया।  एक जानकारी के मुताबिक़ दिनाँक 08.04.2019 मेदांता हॉस्पिटल के पिछे वाली दीवार के नजदीक बिजली की केबल बिछाने के लिए मजदूरों व JCB के द्वारा 12 फीट गहरी खुदाई का कार्य किया जा रहा था । उक्त कार्य में गहरी खुदाई के दौरान कार्य कर रहे 03 मजदूर मिट्टी खिसकने की वजह से मिट्टी के नीचे दब गए । मजदूरों का मिट्टी में दबने की सूचना गुरुग्राम पुलिस को मिली ।
अमन यादव एसीपी सदर गुरुग्राम 

उक्त सूचना पर  अमन यादव ACP सदर, गुरुग्राम व निरीक्षक दलबीर सिंह, प्रभारी थाना सदर, गुरुग्राम तुरन्त अपनी पुलिस टीम के साथ घटनास्थल पर पहुँच गए । अमन यादव ACP सदर, गुरुग्राम व निरीक्षक दलबीर सिंह, प्रभारी थाना सदर, गुरुग्राम की पुलिस टीम ने बड़े ही साहस व तत्परता से बचाव कार्य करते हुए कस्सी व फावड़ों इत्यादि की मदद से दबे हुए मजदूरों को बचाने के लिए बड़ी ही सुझबुझ व तीव्रता से मिट्टी को हटाने का कार्य किया और 03 मजदूरों को मिट्टी के अन्दर से जिन्दा सकुशल बाहर निकाल लिया ।

इस मामले में मेदान्ता हॉस्पिटल की टीम भी एम्बुलेंस, ऑक्सीजन व अन्य चिकित्सा सम्बन्धित संसाधनों के साथ तुरन्त घटनास्थल पर पहुँच गई थी, जिन्होंने मिट्टी से बाहर निकाले गए मजदूरों को तुरंत ऑक्सीजन व जरूरी उपचार से सुविधाएं देते हुए मेदांता हॉस्पिटल में उपचार के लिए दाखिल कर लिया ।उक्त दुर्घटना के बचाव कार्य मे गुरुग्राम पुलिस व मेदान्ता हॉस्पिटल की टीमों ने अहम भूमिका निभाई, परिणामस्वरूप तीनों मजदूरों की स्थिति सामान्य है । उक्त दुर्घटना में गुरूग्राम पुलिस द्वारा किए गए बचाव कार्य की वहां पर मौजूद लोगों ने, इस कार्य को कर रहे मजदूरों ने, ठेकेदारों ने व मेदान्ता हॉस्पिटल के स्टाफ ने गुरुग्राम पुलिस की सराहना करते हुए शुभकामनाएं देते हुए धन्यवाद किया ।

गुरुग्राम केस Update: कई गिरफ्तार, केजरीवाल से बहुत नाराज हैं गुर्जर समाज के लोग

Gurugram-Haryana-Case-Update

नई दिल्ली: गुरुग्राम के भूप सिंह नगर, जेल रोङ भौडन्सी में क्रिकेट खेलने को लेकर आपसी झगङे के मामले में मुख्य आरोपी सहित कई लोग गिरफ्तार किये गए हैं। मुख्य आरोपी को  24.मार्च को नया गांव, गुरुग्राम से गिरफ्तार किया गया था जिसका नाम  धीरेन्द्र उर्फ धीरे पुत्र लखन है और  नया गांव, जिला गुरुग्राम का निवासी है। इसके बाद स्थानीय पुलिस ने कई अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार किया। इस मामले को लेकर गुर्जर समाज की आज एक पंचायत होनी थी। जहाँ पंचायत का आयोजन किया जाना था ये पंचायत वहां नहीं हुई और स्थानीय विधायक के पास समाज के तमाम लोग पहुंचे।

हरियाणा अब तक ने आज मौके पर जाकर मामले का असली सच जानना चाहा तो वहां के लोगों ने यही बताया कि खेल के दौरान विवाद हुआ था और पहले दो लोगों पर हमला किया गया जिसके बाद दूसरे पकड़ पर हमला किया गया। लोगों ने जिस पर पहले हमला किया गया वो गुर्जर समुदाय से ताल्लुक रखता है और उसमे से एक युवक के सर में कई टाँके लगे हैं। उस दिन के बाद से ही वो युवक गायब बताया जा रहा है। इस मामले में एक बड़ी बात ये सामने आई कि गुर्जर समाज के लोग दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से बहुत नाराज दिखे जिनका कहना है कि केजरीवाल ने बिना पूरा सच जाने एक अधूरा वीडियो शेयर किया और वीडियो के साथ उन्होंने जो लिखा उससे पूरे देश में एक गलत सन्देश गया और केजरीवाल ने भाईचारा बिगाड़ने का काम किया। लोगों का कहना है कि केजरीवाल एक बड़े नेता हैं और उन्होंने जो अफवाह फैलाई उससे देश में एक गलत सन्देश गया।

जहाँ ये विवाद हुआ था वहां के लोगों का कहना है कि जब इस क्षेत्र में कानोलियाँ  काटी जा रहीं थीं जब एक बड़ी पंचायत हुई थी और पंचायत में फैसला लिया गया था कि कोई भी प्रापर्टी डीलर एक विशेष समुदाय के लोगो को प्लाट नहीं बेचेगा लेकिन कुछ डीलर ज्यादा पैसों की लालच में ऐसा कर बैठे। लोगों का कहना है कि यहाँ का आपसी भाईचारा कभी नहीं ख़राब हुआ, सब कुछ ठीक था। होली के दिन जो हुआ वो अचानक हुआ और इसमें दोनों पक्षों की गलती है किसी की थोड़ी ज्यादा तो किसी की कम। लोगो का कहना है कि पहले का वीडियो नहीं बन सका वरना देश के सामने असली सच आ जाता। ग्रामीणों का कहना था कि फिलहाल उनके साथ अच्छा नहीं किया गया। धारा 307 लगाई गई जो नहीं लगनी चाहिए थी। आरोप है कि हमले में जिनका नाम है उन परिवार की महिलाओं को भी परेशान किया जा रहा है और पूंछतांछ के लिए ले जाया जा रहा है। जहाँ विवाद हुआ था वहाँ अब भी पुलिस तैनात है। 

गुरुग्राम का दूसरा वीडियो वाइरल, पहले ऊपर से जमकर बरसे थे पत्थर

Gurugram-Video-Viral

नई दिल्ली: देश में हर कोई पागल नहीं है जो बिना वजह किसी पर पत्थर बरसायेगा, लाठियां बरसायेगा। कोई न कोई कारण होता है जिस वजह से लोग एक दूसरे की जान के दुश्मन बन जाते हैं और कई बार तो ऐसे देखा गया है कि लोग अपनों का ही क़त्ल कर बैठते हैं।

हरियाणा के गुरुग्राम जिले में जो कुछ हुआ उसे पूरे देश में फैला दिया गया और फैलाने वाले वोन हैं जो लोकसभा, विधानसभा में आपस में जूतमपैजार करते दिखते हैं जिन्हे आधुनिक युग में नेता कहा जाता है और कहा जाता है कि सत्ता के लिए ये कुछ भी कर सकते हैं। दोनों धर्मों के लोगों को आपस में लड़ा देते हैं। भाई को भाई से यहाँ तक कि पति-पत्नी में कलह करवा देते हैं।

ऐसे लोगों ने कल का वीडियो वाइरल करने से पहले कुछ नहीं सोंचा। ये विवाद क्यू हुआ? क्या वो दर्जनों लोग पागल थे जो एक छत पर चढ़ गए और कुछ लोगों को बुरी तरह से पीटने लगे।
सोशल  मीडिया पर अब उस दिन का एक और वीडियो वाइरल हुआ है जो उसके कुछ मिनट पहले का है जब लोग छत पर चढ़े थे। इसके पहले छत वालों ने नीचे जमकर पत्थर बरसाए थे और कल वाइरल मीडिया में अल्ला-अल्ला चिल्लाने वाली महिलाएं उस समय मारो-मारो बोल रहीं थीं। जब ऊपर से जमकर पत्थरबाजी हुई तब नीचे वाले ऊपर चढ़े। इस वीडियो में गाली-गलौज है। ऊपर से जमकर गाली दी जा रही है। इस वाइरल मीडिया को देखने के बाद गिद्ध टाइप के नेताओं की अक्ल ठिकानें लग जाएगी।

फरीदाबाद के एक पंजाबी नेता पर जमकर बरस रही है खट्टर की कृपा, तरह-तरह के चर्चे शुरू

haryana-punjabi-news-khatar-sarkar

फरीदाबाद: शहर में कई जुझारू भाजपा नेता हैं जो पार्टी के लिए रात दिन एक कर रहे हैं लेकिन ऐसे कार्यकर्ताओं को सूबे के मुखिया दरकिनार कर रहे हैं जिस कारण उनका मनोबल गिरने लगा है। एक कागजी और चाटुकार नेता पर खट्टर जमकर मेहरबान हो रहे हैं और उसे फिर एक बड़ा पद दे दिया गया है जिस कारण शहर में अफवाहें हैं कि खट्टर सच में पंजाबियों के मुख्यमंत्री हैं। अभी तक विपक्ष के लोग ही ऐसा कहते थे अब भाजपा कार्यकर्ता भी दबी जुबान में ऐसा बोल रहे हैं। शहर में भाजपा के कई पार्षद हैं और कई एक बार नहीं कई कई बार से पार्षद चुनकर आ रहे हैं लेकिन वो पंजाबी नहीं हैं इसलिए उन्ही नहीं पूंछा जा रहा है।

पंजाबी पार्षद को एक नहीं दो-दो विभाग का चेयरमैन बना दिया गया जिसके बाद अन्य पार्षदों का दुःख जायज है लेकिन सत्ता में होने के कारण वो अपनी सरकार के खिलाफ आवाज नहीं उठा पा रहे हैं। विधानसभा चुनावों में ऐसे पार्षद अपना गुस्सा निकाल सकते हैं। जिस पार्षद पर खट्टर मेहरबान हैं उनके बारे में कई तरह की अफवाहें हैं कि उनके क्या कारनामे हैं। जल्द उनके कारनामों की लिस्ट भी वाइरल हो सकती है। उनके कुछ विपक्षी ऐसा कर सकते हैं और कुछ भाजपा कार्यकर्ता भी सबूत जुटा रहे हैं।