Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

बापू के तीन बंदर बन जाएँ हरियाणा वाले- राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य

हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चण्डीगढ, 2 अक्तूबर- हरियाणा के राज्यपाल श्री सत्यदेव नारायण आर्य ने कहा कि हम सभी बापू गांधी के तीन बन्दरों द्वारा दिए गए सन्देश को अपने जीवन में अपनाएं तभी देश और समाज बुराई मुक्त हो सकता है। श्री आर्य ने शुक्रवार को राजभवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी व श्री लाल बहादुर शास्त्री जी की जयन्ती पर उन्हें शत्-शत् नमन किया और गांधी जी के जीवन दर्शन के बारे में अपने विचार रखे। इस अवसर पर आयोजित समारोह में महात्मा गांधी की प्रिय रामधुन व भजनों का श्रवण किया गया। कार्यक्रम में राज्यपाल की सचिव डा. जी. अनुपमा व राज्यपाल के परिजनों सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

उन्होंने कहा कि हम जीवन में ‘बुरा न देखें , बुरा न सुनें , बुरा न बोलें ,। गांधी जी ने भी अपने जीवन में तीन बन्दरों के माध्यम से यही सन्देश दिया है। उन्होंने कहा कि इसी सिद्धान्त को अपनाकर देश और समाज को बुराई मुक्त करके मजबूत किया जा सकता है।

राज्यपाल श्री आर्य ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने सर्वधर्म समन्वय का पाठ पढ़ाते हुए देश को एकसूत्र में पिरोकर आजादी दिलाई। उन्होंने महात्मा बुद्ध के बताए सत्य-अहिंसा के रास्ते पर चलते हुए मानवता को शांति का संदेश दिया। इसके साथ-साथ देश को मजबूती प्रदान करने के लिए गांधी जी ने कई आंदोलन चलाए।

उन्होंने कहा कि देश के द्वितीय प्रधानमंत्री श्री लाल बहादुर शास्त्री ने देश की स्वायतता और आत्मनिर्भरता के लिए जो कार्य किया उसी की बदोलत आज भारतवर्ष न केवल सुरक्षा व खाद्यान्न की दृष्टि से आत्मनिर्भर है, बल्कि अन्य देशों को अनाज निर्यात करने व उन्हें सुरक्षा देने में सक्षम है। शास्त्री जी ने जय जवान-जय किसान का नारा देकर देश में हरित क्रांति को आगे बढ़ाया। उन्होनें बहुत कम कार्यकाल में ही देश की प्रगति में चार-चांद लगाए।

राज्यपाल श्री आर्य ने गांधी जी व शास्त्री जी को याद करते हुए कहा कि अनेक महापुरुषों ने गांधी जी को आदर्श मानकर उनके जैसा जीवन व्यतीत किया। गांधी जी ऐसा भारत चाहते थे जिसमें सब समुदायों में समभाव हो, अस्पृश्यता कहीं देखने को न मिले, जीवन में स्वच्छता हो और महिलाओं व पुरूषों को समान अधिकार मिलें और देश समृद्ध, खुशहाल एवं स्वस्थ हो।

उन्होंने कहा है कि आज पूरा देश दोनों महान विभूतियों की जयंती पर्व के रूप में मना रहा है। इस अवसर पर उन्होनें युवाओं का आहवान किया कि वें प्रण लें कि वह अनुशासन में रहकर और एकता के सूत्र में बंध कर देश व प्रदेश की तरक्की के लिए कार्य करेंगे तभी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और श्री लाल बहादुर शास्त्री के सपनों का भारत बनेगा। उन्होंने आमजन से अपील भी की है कि कोरोना संक्रमण के इस दौर में सरकार द्वारा निर्धारित किए गए नियमों की अनुपालना करें। विशेष रूप से मास्क, सेनीटाइजर का प्रयोग करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें, जिससे संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके।

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: