Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

घर में सीवर का पानी, मोदी के नाम पर चुनाव जीते नेता क्या समझें फरीदाबाद की जनता का दर्द 

Smart-City-Faridabad-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़- हरियाणा के लोग बहुत भोले-भाले हैं। उन्हें नहीं पता कि वर्तमान में सरकार प्रदेश के कुछ अधिकारी चला रहे हैं। बेचारे अपनी समस्या सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं और बड़े-बड़े नेताओं को टैग करते हैं, अधिकारीयों को टैग करने हैं और आशा करते हैं कि सरकार या अधिकारी उनकी समस्या को संज्ञान में लेंगे और उनकी समस्या दूर करवा देंगे। जनता को नहीं पता कि अधिकारी तमाम अधिकारी पुदीनाबाज हैं और जहाँ पुदीना मिलने की उम्मीद नहीं होती उधर देखना भी पसंद नहीं करते। 

कभी गुरुग्राम के लोग सोशल मीडिया पर अपनी परेशानी का रोना रोते रहते हैं तो कभी फरीदाबाद और अन्य जिलों के लोग। फरीदाबाद के सेक्टर 16 के मकान नंबर 66 में काफी समय से सीवर का पानी भरा है। कई तस्वीरें ट्विटर पर पोस्ट की गईं हैं और सीएमओ सहित फरीदाबाद नगर निगम और कई बड़े अधिकारियों को टैग किया गया है। लिखा गया है कि मकान नंबर 66 सेक्टर 16 फरीदाबाद में सीवर का पानी घुसा है। नगर निगम शिकायतों के बावजूद समाधान नहीं कर रही। 
@yash_garg2020

@Mcf_Faridabad

@cmohry

रिप्लाई इन अधिकारी मोहदयों में से कोई नहीं देगा लेकिन आम जनता को दिखना चाहिए कि सरकार और अधिकारी कितने एक्टिव हैं। इसलिए टैग करते हैं।
शहर की जनता को मालुम हो कि घर बैठे मोदी-मोदी कर चुनाव जीतने वालों से भी कोई उम्मीद न रखें। शहर के कई हिस्सों में ऐसी समस्याएं हैं। न अधिकारी ध्यान दें रहें हैं न नेता। शहर के लाखों लोग भगवान् भरोसे छोड़े गए हैं। जिन बड़े नेताओं या पार्षदों ने मेहनत कर चुनाव जीता है वही जनता की समस्या दूर करवा रहे हैं। अन्य सो रहे हैं। चुनाव के समय जागेंगे। राम मंदिर के नाम पर वोट मांगेंगे और फिर फरीदाबाद के लाखों लोगों पर राज करने का प्रयास करेंगे। स्मार्ट सिटी क्या ऐसी होती है। जनता भी टैक्स देती है। दूध खरीदो या बिस्किट या बिजली का बिल भरो सबमे टैक्स, इसी टैक्स से सरकार चलती है और अधिकारियों को पगार दी जाती है लेकिन अधिकारी जनता की समस्या को नहीं समझते। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: