Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

अंगूठा लगाकर कहीं फैल ना जाए कोरोना

corona-haryana-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

बाबैन राकेश शर्मा- कोरोना माहमारी एक वैश्विक माहमारी बनती जा रही जिसकी वजह से हर रोज असंख्य लोग कोरोना संक्रमित हो रहे है । वही केंद्र सरकार से लेकर राज्यों की सरकार अपने अलग अलग कानून बना कर जनता को इस माहमारी से बचाने के लिए प्रयासरत है।  जिसकी वजह से अभी भी ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना का प्रकोप कम दिखाई देता है। लेकिन जो दृश्य खाद्य पूर्ति विभाग के अंतर्गत आने वाले राशन की दूकानों पर देखने को मिल रहा है उससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि कही राशन की दुकानों पर राशन के साथ साथ कोरोना तो नही बंट रहा। 

देश प्रदेश में राशन डिपुओं पर पी.ओ. एस. मशीन पर अंगूठा लगाकर ही राशन वितरित किया जाता है जिसके कारण बार बार पी.ओ. एस. मशीन पर अंगूठा लगाना पड़ता है। कुछ ऐसा ही दृश्य बाबैन क्षेत्र के कई गांव में देखने को मिला जहाँ डिपुओं की दुकानों पर भीड़ दिखाई दी वही इन इलेक्ट्रॉनिक पी.ओ.एस. मशीनों पर ग्रामीणों के द्वारा बार बार अंगूठा लगा राशन वितरित किया जा रहा है। कई सरकारी कार्यालयों से लेकर निजी कार्यालयों पर बायोमेट्रिक मशीन का प्रयोग पूर्णतया बंद कर दिया है क्योंकि हाजरी लगाने के लिए इन बायोमेट्रिक मशीनों पर अंगूठा लगना पड़ता था लेकिन इन राशन की दुकानों पर महीनों से राशन वितरित करने का यही विकल्प है। और यह कहने में कोई अतिशयोक्ति नही होगी कि कही खाद्य आपूर्ति विभाग के अंतर्गत आने वाली राशन की दुकानों पर राशन की जगह कहीं कोरोना तो नहीं बांटा जा रहा।

एक संक्रमित व्यक्ति से फैल सकता है कोरोना:- 
राशन दुकानों पर पी.ओ. एस. के माध्यम से ही राशन वितरित किया जा रहा है लेकिन यदि कोई व्यक्ति कोरोना संक्रमित है और वह भी राशन के लिए इन एस. पी.ओ. मशीन का प्रयोग करता है तो अन्य लोग भी कोरोना संक्रमण हो सकते है। जोकि बड़ी लापरवाही की और इशारा करता है।

क्या कहते है खाद्य आपूर्ति विभाग के खण्ड इंसपेक्टर:-

जब इस विषय को लेकर बाबैन खाद्य आपूर्ति विभाग के इंस्पेक्टर संदीप कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया की पूरे प्रदेश में राशन वितरित करने के लिए लिए अंगूठा लगाकर ही राशन दिया जाता है। बाबैन क्षेत्र में लगभग 2000- 3000 लोगों को  योजना के तहत राशन वितरित किया जाता है। और रहा सवाल कोरोना माहमारी के फैलने का  तो बार बार विभाग के द्वारा उपरोक्त सभी राशन डिपुओं होल्डरों को निर्देश व जानकारी दी जाती रही है कि एक बार मे कम से कम लोगों को दुकान पर बुलाया जाए और पूरी हिदायत के साथ राशन वितरित का कार्य किया जाए। हाथों को अच्छी तरह से सैनिटाइजर करवाया जाए व मुँह पर मास्क या गमछे का प्रयोग करवाया जाए ताकि कोई भी चूक विभाग की तरफ से ना हो।

बाबैन ओर लाडवा डिपू होल्डर लगा चुके है गुहार---
 इस संदर्भ में जिला विभाग से गुहार लगाई गई थी जिसके दौरान अप्रैल व मई माह में राशन वितरित करने के लिए डिपू होल्डर्स को नोमनी बनाया गया था।  लेकिन राशनकार्ड धारकों ने आरोप लगाना शुरू कर दिया था कि डिपू होल्डर्स सही राशन वितरित नही कर रहे है। जिसके कारण दुबारा से पी.ओ. एस. मशीन के माध्यम से राशन वितरित किया जाने लगा। 


फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: