Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

बहन-बेटियों के साथ हैवानियत करने वाले ऐसे ही लटकाएं जाएँ- प्रवेश मलिक 

Mission-Jagriti-Faridabad
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद: निर्भया के दोषियों को फांसी लटकाये जाने के बाद देश के लोगों की तरह-तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। समाजसेवी संस्था मिशन जागृति के महासचिव प्रवेश मलिक ने कहा है कि इस सजा से वो काफी खुश हैं और उन्होंने कहा कि इस सजा से समाज में एक सन्देश जाएगा कि बहन बेटियों के साथ हैवानियत करने वालों का यही हाल होगा। 
मलिक के मुताबिक  क्या यह फांसी एक नजीर बन सकती है क्या यह उदाहरण बन सकती है देश में रोजाना लगभग 90 बलात्कार होते हैं जिसमें से हर चौथा बलात्कार एक बच्चे के साथ होता है क्या देश की व्यवस्था आज इस निर्भय दिवस के बाद सुधरेगी? 
 उन्होंने कहा कि देर से ही सही पर इंसाफ मिला लेकिन अब आने वाले वक्त में समाज को और हम सबको मिलकर इस समस्या के जड़ तक पहुंचना चाहिए जब तक समाज समस्या की जड़ तक नहीं पहुंचेगा समस्या का निदान होना बहुत मुश्किल है तो हम सबको मिलकर इसके बारे में खुली परिचर्चा करनी चाहिए स्कूल में कॉलेज में बस्तियों में हमें मिलकर इस पर चर्चा करनी चाहिए आज भी देश में हजारों निर्भया है हजारों गुड़िया है जिनको आज तक इंसाफ नहीं मिला क्या हम सब या मीडिया सिर्फ उसी को दिखाता है जिसके साथ बर्बरता की गई हो।

मलिक ने कहा कि  अभी फरीदाबाद में एक 15 महीने की बच्ची के साथ बलात्कार हुआ था कुछ दिनों पहले ही उन्नाव में 3 साल की बच्ची के साथ बलात्कार हुआ था कुछ महीनों पहले मध्य प्रदेश में एक 7 साल की बच्ची के साथ ऐसे रोजाना आप अखबार में पढ़ते सुनते होंगे लेकिन किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता है जब 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ यह दुस्साहस हुआ था सारा देश जाग गया था लेकिन इस देश की और हम सब की सबसे बड़ी समस्या सबसे बड़ी बीमारी है भूल जाना हम सब बहुत जल्दी भूल जाते हैं और फिर सब कुछ इसी तरीके से चलता रहता है कोई भी समस्या जब तक मेरे घर में नहीं घुसती तब तक मैं उस समस्या के लिए बाहर नहीं निकलता हूं ऐसा यहां के लोग सोचते हैं बल्कि हमें मिलकर इस समस्या को इस घिनौनी समस्या को समाज से खत्म करना होगा।

 मिशन जागृति संस्था 2012 से ही लगातार इस समस्या के ऊपर काम कर रही है पिछले साल मिशन जागृति ने 5300 लोगों का सर्वेक्षण किया था कि आखिर बलात्कार क्यों होते हैं उसमें बहुत सारे तथ्य निकलकर सामने आए उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए मिशन जागृति ने बिटिया नाम का एक प्रोजेक्ट बनाया है जिसमें ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस मुहिम के साथ जोड़ना है। बिटिया प्रोजेक्ट के डायरेक्टर विपिन शर्मा ने फरीदाबाद के लोगों से आह्वान किया है कि आप सभी ज्यादा से ज्यादा इस बिटिया मुहिम के साथ जोड़कर कम-से-कम फरीदाबाद के अंदर इतनी जागरूकता ले आए इतना बेटियों में साहस भर दे इतना बेटों को शिक्षा दे दें कि वह किसी बेटी के साथ गलत हरकत करने की भी ना सोचे।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: