Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

दिल्ली हिंसा का आरोप हिन्दुओं पर लगाने वाले पत्रकारों को रोजाना मिल रहे हैं कई-कई लाख रूपये?

Delhi-Sps-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: सेना के तमाम जवान माइनस 50 डिग्री में रहकर देश की रक्षा कर रहे हैं और बर्फीले तूफानों की चपेट में आकर हर साल एक दो नहीं दर्जनों जवान अपनी जान गँवा देते हैं। कलयुग है? दिल्ली में ऐसे लोग भी बैठे हैं जो रोजाना 1500 डॉलर, लगभग एक लाख रूपये रोजाना देश को बदनाम करने के लिए कमा रहे हैं। एक हजार शब्द लिखने के लिए 1500 डॉलर उन्हें विदेशी मीडिया दे रही है लेकिन विदेशी मीडिया की शर्त यही है कि दिल्ली दंगों का आरोप हिन्दुओं पर लगाया जाये और मुस्लिमों को पीड़ित बताया जाए।
यही वजह है कि कुछ नमकहराम शाहरुख़ को अनुराग मिश्रा बता रहे हैं और उन्हें 20 वर्षीय दिलवर नेगी नहीं दिखा जिसके हाथ पांव काट उसे जिन्दा जला दिया गया। इन नमकहरामों को अंकित शर्मा की बेरहमी से हुई हत्या नहीं दिखी और कांस्टेबल रतन लाल को तो ये भूल ही गए। ये नमकहराम कपिल मिश्रा को आतंकी बता रहे हैं और कल एक वीडियो सामने आये जिसमे देश के कई रिटायर्ड जजों ने कपिल मिश्रा को क्लीन चित दे दी है जिनका कहना था कि सड़क खाली कर दो वरना ट्रंप के जाने के बाद हम फिर आएंगे, ये कहना हेट स्पीच नहीं है। देखें ये वीडियो
प्रति आर्टिकल एक लाख रूपये मिल रहे हैं इसलिए कुछ हरामखोरों ने अपना इमान बेंच दिया है। इन हरामखोरों को देश नहीं पैसा प्यारा है।सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है ये हैं नमक हराम और इनमे से कुछ कई-कई आर्टिकल लिख कई-कई लाख कमा रहे हैं। शाहरुख़ को अनुराग मिश्रा और दिल्ली हिंसा का आरोप हिन्दुओं पर लगा रहे हैं। विदेशी मीडिया भारत के पत्रकारों को एक लेख पर 1500 डॉलर दे रही है इसका खुलासा The Pioneer के एक बड़े पत्रकार ने किया  था। उन्हें भी कहा गया था कि एंटी हिन्दू लेख लिखो लेकिन उन्होंने मना कर दिया  था। इस बारे में हमने कुछ दिन पहले खबर भी पोस्ट किया था। 

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: