Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

अश्लीलता, भौंडापन व अव्यवस्था की भेंट चढ़ा  गीता जयंती महोत्सव : अरोड़ा  

Geeta-Mahotsaw-Haryana
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

कुरुक्षेत्र, 11 दिसंबर। राकेश शर्मा:  हरियाणा के पूर्व मंत्री और थानेसर से 4 बार विधायक रह चुके कांग्रेसी नेता अशोक अरोड़ा ने कहा कि गीता जयंती महोत्सव अश£ीलता, भौंडापन व अव्यवस्था की भेंट चढ़ गया। जिस कारण लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है। अरोड़ा पंजाबी धर्मशाला में हल्का थानेसर के कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की बैठक के पश्चात पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। बैठक में कांग्रेस द्वारा 14 दिसंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित की जाने वाली भारत बचाओ रैली में अधिक से अधिक सेे अधिक लोगों को ले जाने के लिए कार्यकर्ताओं की डयूटी लगाई गई। इस अवसर पर इंप्रुवमैंट ट्रस्ट के पूर्व चेयरमैन जलेश शर्मा, प्रदेश कांग्रेस के संगठन मंत्री सुभाष पाली, पूर्व ब्लॉक प्रधान मेहर सिंह रामगढ़, पूर्व पार्षद नरेंद्र शर्मा निंदी, पवन चौधरी तथा पंचायत समिति के पूर्व चेयरमैन कुलदीप सिंह खेडी सहित अन्य कांग्रेसी नेता उपस्थित थे। 

अरोड़ा ने कहा कि प्रशासन की नाकामी के कारण गीता जयंती के अवसर पर पूरा शहर लगभग 15 दिन तक जाम में फंसा रहा। अंतरराष्ट्रीय स्तर का गीता जयंती समारोह आयोजित करने का दावा किया गया, लेकिन पिपली से थर्ड गेट तक सडक टूटी पडी है। समापन अवसर पर 8 दिसंबर को जाम के कारण सैंकडों विद्यार्थी सी-टेट की परीक्षा देने से वंचित रह गए। वैसे तो उस दिन कुरुक्षेत्र में परीक्षा केंद्र ही नही बनाया जाना चाहिए था लेकिन सूझबूझ से काम नही लिया गया। अरोड़ा ने मंाग की कि जो छात्र परीक्षा से वंचित रह गए उन्हे दोबारा मौका दिया जाए। अरोड़ा ने यह भी मांग की कि 26 दिसंबर को भरने वाले सूर्यग्रहण मेले से पहले पिपली से थर्ड गेट तक की सडक का निर्माण करवाया जाए। अरोड़ा ने कहा कि स्थानीय विधायक सुभाष सुधा ने मीडिया में दावा किया था कि गीता जयंती पर कुरुक्षेत्र को केंद्रीय मंत्री नीतिन गडकरी बाईपास की सौगात देंगे, लेकिन न तो गडकरी आए और न सौगात मिली। कांग्रेसी नेता ने कहा कि गीता जयंती कुरुक्षेत्र की शान है लेकिन आयोजकों ने इस बार गीता जयंती के अवसर पर मुख्य मंच से जिस प्रकार के अमर्यादित गाने गाने की इजाजत दी और ब्रह्मसरोवर पर भी स्थान स्थान पर भौंडे गाने गाए जा रहे थे उससे जनता की भावना को ठेस पहुंची है। 
प्रदेश सरकार को घोटालों की सरकार बताते हुए पूर्व मंत्री अशोक अरोड़ा ने कहा कि धान खरीद घोटाले की फिजीकल वैरिकेशन के नाम पर लीपा-पोती करके करोडों रूपए के घोटोले को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। सरकार के पास अनेक एजेंसी हैं जिनसे पता लग सकता है कि इस बार कितने एकड में धान लगाया गया था, औसतन कितनी पैदावार हुई उसके बाद मंडी में बिक्री की गई धान से तुलना कर पता लगाया जा सकता है कि कितने टन धान के फर्जी जे फार्म काटे गए। उन्होने सभी सैलर मालिकों को तंग करने की बजाए जो बडे मगरमच्छ मामले में सलिंप्त हैं उन पर कार्रवाई की जानी चाहिए। खनन घोटाले पर अरोड़ा ने कहा कि कैग की रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 1500 करोड का खनन घोटाला हुआ है। सरकार के सरंक्षण में खनना माफिया ने नदी की सीमाएं तक बदल दीं। 
अरोड़ा ने बताया कि देश में बढ़ती मंहगाई, बेरोजगारी, बिगडती अर्थव्यवास्था व किसानों की समस्याओं को लेकर अखिल भारतीय कांग्रेस द्वारा 14 दिसंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में विशाल जनसभा आयोजित की जाएगी। उन्होने कहा कि भाजपा के राज में देश की अर्थ व्यवस्था बुरी तरह चरमा गई है। जीडीपी की दर दिन-प्रतिदिन गिर रही है। यह सब भाजपा की नीतियों के कारण हो रहा है। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: