Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

UP में जातीय दंगे कराने के लिए विदेशी फंडिंग से रातोंरात बनाई गई वेबसाइट, हजारों फर्जी लोग जोड़े गए 

Big reveal in the Hathras case: Website created to incite conspiracy of violence in UP
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली- उत्तर प्रदेश का हाथरस अब भी सुर्खियों में है। अब यहाँ से कई चौंकाने वाली जानकारियां मिल रहीं हैं। कुछ लोगों ने पीड़िता के परिजनों को मोहरा बनाने का प्रयास किया और उनका असली मकसद कुछ और था। जानकारी मिल रही है कि यूपी में जातीय दंगे कराने के लिए हाथरस पीड़िता की मौत वाली रात ही एक वेबसाइट बनाई गई थी। दंगे की इस वेबसाइट के तार एमनेस्टी इंटरनेशनल जुड़ रहे हैं।  इस वेबसाइट को इस्लामिक देशों से जमकर फंडिंग भी मिली।  इस मामले में जांच एजेंसियों के हाथ अहम और चौंकाने वाले सुराग लगे हैं। कल ही जांच एजेंसियों के सूत्रों से हमें ये जानकारी मिल गई थी कि उत्तर प्रदेश में एक बड़ा दंगा करवाने की एक बड़ी तैयारी चल रही है।

अब जानकारी मिल रही है कि 'जस्टिस फॉर हाथरस'' नाम से तैयार हुई वेबसाइट में फर्जी आईडी से हजारों लोगों को जोड़ा गया था।  बेवसाइट पर विरोध प्रदर्शन की आड़ में देश और प्रदेश में दंगे कराने और दंगों के बाद बचने का तरीका बताया गया।  मदद के बहाने दंगों के लिए फंडिंग की जा रही थी।  फंडिंग की बदौलत अफवाहें फैलाने के लिए मीडिया और सोशल मीडिया के दुरूपयोग के सुराग भी जांच एजेंसियों को मिले हैं। जांच एजेंसियों के सूत्रों की मानें तो ये वही गैंग है जिसने पहले देश के कई राज्यों में नागरिकता क़ानून के विरोध में दंगा करवाया था। इस गैंग में टुकड़े गैंग, जेहादी और अर्बन नक्सली सहित कई गैंग शामिल है। जल्द इनके नामों का खुलासा हो सकता है। 

आपको बता दें कि इसी साल दिल्ली, और उत्तर प्रदेश के कई जिलों में दंगे हुए थे। लगभग 90 लोगो की मौत हुई थी। एक पूरा गिरोह देश में यही काम कर रहा है। इन्हे देश की कुछ तथाकथित संस्थाएं और विदेशों से फंडिंग मिलती है। ये अपना शिकार ढूंढते रहते हैं कि किस मौके पर कहाँ आग लगवानी है और किस सरकार को बदनाम करवाना है। इन्हे मोटा पैसा मिलता है। संलग्न तस्वीर लखनऊ दंगे की जो इसी साल करवाया गया था। आज तक किसी की नागरिकता नहीं गई लेकिन यूपी दिल्ली में 90 से ज्यादा लोगों की जान चली गई। हजारों करोड़ की संपत्ति जलवा दी गई। कुछ करोड़ कमाने के लिए देश के ही कुछ गैंग यही सब करवाते हैं। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: