Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

‘स्वच्छता पखवाड़ा’  के नाम पर कहीं करोड़ों न डकार जाएँ हरियाणा के भ्रष्ट अधिकारी  

MCF-Faridabad-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...
चंडीगढ़, 7 अक्तूबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने ‘स्वच्छ हरियाणा अभियान’ के तहत प्रदेश में  ‘गांधी जयंती’ के अवसर पर हरियाणा में ‘स्वच्छता पखवाड़ा’ मनाए जाने की शुरुआत की थी । उन्होंने कहा था कि इन 15 दिनों तक हरियाणा में विशेष स्वछता अभियान चलाया जाएगा। हरियाणा के फरीदाबाद की बात करें तो यहाँ अब भी आपको जगह-जगह कूड़े का ढेर मिल जायेगा। शायद सीएम के इस अभियान को भी कागजों तक ही सीमित रखा जाएगा। हो सकपा है प्रदेश के कुछ भ्रष्ट अधिकारी नाले-नालियां और तालाबों को साफ़ करने के नाम पर करोड़ों डकार जाएँ। हरियाणा में भ्रष्टाचार आम बात नहीं है। कई घोटाले सामने आ चुके हैं। अधिकारी हद से ज्यादा लापरवाह हैं और सरकार का भट्ठा बैठा रहे हैं जिस कारण जनता सरकार से नाराज हो रही है।

 लगभग तीन साल पहले हमने नगर निगम फरीदाबाद, सीएम मनोहर लाल, CMO हरियाणा को एक कूड़े की कई तस्वीरें ट्विटर पर पोस्ट कर टैग की थी लेकिन किसी ने कूड़े पर ध्यान नहीं दिया। डबुआ कालोनी के वार्ड नंबर 8 की तस्वीरें थीं जहाँ घनी बस्ती के बीच में एक प्लाट खाली पड़ा है और प्लाट का मालिक विदेश में रहता है। स्थानीय लोगो ने प्लाट को कूड़ेदान बना दिया और आस-पास के लोग अब बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। महामारी का खतरा है। कई वर्ष शिकायत किये हो गए। किसी अधिकारी ने संज्ञान में नहीं लिया। अब भी प्लाट में कूड़ा सड़ रहा है। आस-पास की नालियां जाम हैं। फरीदाबाद नगर निगम को ऐसे ही लोग नरक निगम नहीं कहते। इनकी करतूतों के कारण इन्हे नरक निगम कहा जाता है। भ्रष्टाचार के मामले भी सामने आते रहते हैं लेकिन ये हरियाणा है। यहाँ भ्रष्टाचारियों की फाइलें दबा दी जाती हैं। आग भी लग जाती है। प्रदेश सरकार को बदनाम करवाने में नगर निगम फरीदाबाद अहम्  योगदान दे रहा है। सफाई के नाम पर यहाँ खानापूर्ति कर भ्रष्ट अधिकारी अपनी जेबें भरने में व्यस्त हैं। अब फिर एक बार इस कूड़े की शिकायत कर रहा हूँ। देखते हैं सच स्वच्छता पखवाड़ा चल रहा है या सिर्फ कागजों पर?

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: