Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हाथरस कांड में नया मोड़, पीड़िता का भाई संदीप मुख्य आरोपी से 104 बार फोन पर बात कर चुका है 

Hathras-Case-Update
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली- कई वर्षों से कम से कम मैं देख रहा हूँ कि जिस मुद्दे को लेकर जिस मुद्दे पर एक बड़ी पार्टी, कुछ छोटी पार्टियां, टुकड़े सहित कई गैंग, अर्बन नक्सली, पीएफआई और सिमी वाले, आप के संजय सिंह जैसे नेता एक जगह दिखते हैं इन सभी मुद्दों पर इन्हे हार मिलती है। ये सब किसी मुद्दे पर रुख बदलने का अथक प्रयास करते हैं लेकिन अब तक इन्हे तकरीबन हर मुद्दे पर हार ही मिली है और कई मुद्दों पर यही लोग फंस भी चुके हैं जैसे कि दिल्ली दंगे में आप नेता ताहिर हुसैन, जेएनयू के उमर खालिद सहित कई सलाखों के पीछे हैं। 
देश में आज भी हाथरस काण्ड छाया रहा। दुसरे नंबर पर राहुल गांधी की हरियाणा यात्रा रही। हाथरस की बात करें तो उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया है।  

उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपनी पड़ताल में पाया है कि पीड़ित परिवार और मुख्य आरोपी संदीप और पीड़िता के भाई संदीप फोन के जरिए आपस में संपर्क में थे।  पीड़ित परिवार और संदीप के बीच फोन पर बातचीत का सिलसिला पिछले साल अक्टूबर में शुरू हुआ था।  पीड़ित परिवार और आरोपी के बीच 104 बार फोन पर बातचीत हुई है। पुलिस के मुताबिक़ बातचीत का सिलसिला पिछले साल 13 अक्टूबर को शुरू हुआ था और  ज्यादातर कॉल चंदपा क्षेत्र से ही कई गई है, जो पीड़िता के गांव से महज 2 किमी की दूरी पर है। 

इसमें से 62 कॉल वो हैं जो पीड़ित परिवार की ओर से की गई तो वहीं 42 कॉल आरोपी संदीप की ओर से की गई थी।  यूपी पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच नियमित अंतराल पर बात हुई है। आरोपी संदीप को कॉल पीड़िता के भाई की ओर से की गई थी। गठित SIT ने ये रिपोर्ट प्रदेश सरकार को भेजा है। 

अब सवाल ये उठ रहा है कि अगर किसी की किसी से इतनी जान पहचान होती है तो कोई इतना जघन्य अपराध कैसे कर सकता है। कई दिनों से अफवाहें उड़ रही हैं और उस गांव के युवा ही पोस्ट वायरल कर रहे हैं कि पीड़िता जो अब इस दुनिया में नहीं है उसकी और मुख्य आरोपी संदीप की तीन साल से मित्रता थी। कभी-कभी ऐसा देखा गया है कि किसी की किसी लड़की से दोस्ती होती है तो वो लड़की के भाई या अन्य परिजन से भी दोस्ती का प्रयास करता है और कुछ ऐसे प्रयास में सफल भी हो जाते हैं। जब लड़की के भाई को अपने दोस्त की करतूत के बारे में पता चलता है तो वो? समझदार हैं तो समझ सकते हैं। 

अब काफी हद तक साफ हो चुका है कि ये मर्डर केस है, किसी भी संदीप ने किया हो लेकिन गैंगरेप केस नहीं है क्यू कि शुरू में कहा गया था कि पीड़िता और उसकी माँ खेतों में घास काट रहें थीं ,बेटी 100 मीटर दूर थी। अचानक चार युवक आये और लड़की के साथ गैंगरेप किया। ऐसा हुआ और माँ को भनक तक नहीं लगी और लड़की चिल्लाई तक नहीं? क्यू? समय का इंतजार करें सब सामने आ जायेगा। पीड़िता का हत्यारा कोई भी संदीप हो सजा मिलनी चाहिए। 

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: