Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

SP आस्था मोदी से जानें, विदेश भेजने के नाम पर कैसे करते थे धोखाधड़ी 

Kurukshetra-Haryana-SP-Ashtha-Mod
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

कुरुक्षेत्र राकेश शर्मा- जिला पुलिस कुरुक्षेत्र की अपराध शाखा-2 ने विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी व मानव तस्करी करने के  आरोप में पंजाब सिंह वासी डेरा बुखापरी गाँव बोडश्याम थाना निगदू जिला करनाल व कमलजीत वासी कमालपुर थाना बुटाना जिला करनाल को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी ने दी।

उन्होंने बताया कि दिनांक 26 जून 2020 को मुकेश मेहला पुत्र नसीब सिंह वासी गांव समानी थाना सदर थानेसर में मामला दर्ज करवाया कि वह विदेश जाने का इच्छुक था। उसको कमल वासी कमालपुर ने 18 लाख में अमेरिका में वर्क परमिट देने की बात कही और उसका पासपोर्ट ले लिया। कमल ओर पंजाब सिंह ने संदीप दिल्ली के खाते में 4 से 6 लाख रुपए भेजने को कहा।उनके कहने पर खाते में पैसे डाल दिये गए जिंसके बाद संदीप ने टिकट दिया और 6 अप्रैल 2019 को 2 बजे दिल्ली से फ्लाइट में बिठा दिया गया। एयरपोर्ट ओर जब वह उतरा तो उसको उनका आदमी मिला। और उसका पासपोर्ट ले लिया।  कोलम्बिया के मैडलिन राजधानी में ले गऐ वहां पहुंच कर उसने कमल को फोन किया कि ये लोग उसको घुमा रहे हैं। उन्होंने उसका पासपोर्ट ले लिया| उसको टरबो सिटी में ले गऐ और टरबो से उसको समुद्र के रास्ते किस्ती में कपूरगाना ले गऐ। उसको कपूरगाना के जंगलों में ले जाकर उसके साथ मारपीट की और उसके सारे पैसे भी छीन लिये। उसको तीन दिन जंगल के बीच में बिठाकर रखा उसके बाद इन्होंने उसके घरवालों से कुछ पैसे भारत में ले लिए बाकी पैसे कमल व बोबी मल्ली उर्फ पंजाब सिंह को दिये।  उसके बाद इनके आदमियों ने उसको जंगल से निकाला और पनामा में एक व्यक्ति के पास छोड दिया। उसने उसको को फिर अगली कन्ट्री में भेज दिया।वहां से उसको अन्य कन्ट्री के लिए ट्रक में बिठाकर खारेमाल देश में ले गया। वहां पर उसको एक डोंकर ने अपने घर रखा। उसके साथ एक बन्द कमरे में मारपीट की और पैसे मांगे उसने अपने एजैन्ट कमल व बोबी को फोन किया कि उसके साथ क्या हो रहा है। उन्होने कहा की पहले पैसे दे फिर यहाँ से निकलेगा। उन्होंने उसके पिता जी से पैसे लेने के बाद उसको 12 दिन तक एक बन्द कमरे में बिठाकर रखा। 12 दिन बाद उसको ट्रक मे बिठाकर मैक्सिको लेकर गऐ| वहां पर उसको  इमिग्रेशन वालों ने पकड लिया। उन्होने उसको कैम्प(जेल) में डाल दिया। वह 17-18 दिन तक जेल में रहा उसके बाद उन्होने उसको वापिस भारत मे आने के लिए कन्ट्री आउट दिया

 उन्होनें उससे पैसे मांगे फिर उसने अपने पिता को फोन किया।उसके पिता ने कमल व बोबी को उसके घर जाकर पैसे दिये। उनके आदमियों ने उसको  बांधकर अमेरिका का बार्डर पार करवाया और वहां अमेरिका की बार्डर पैट्रोलिंग पुलिस ने उसको पकड लिया और वहां ओटोमेसा कलीफोर्निया की जेल में डाल दिया| जेल से उसको अपने देश में वापिस भेज दिया। आरोपियों ने उसके साथ 14 लाख की धोखाधड़ी की है। जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच अपराध शाखा-2 के हवाले कर दी।अपराध शाखा-2 के प्रभारी निरीक्षक मलकीत सिंह ने मामले की जांच उपनिरीक्षक ऋषिपाल को सौंप दी ।जिसकी जांच करते हुए उपनिरीक्षक ऋषिपाल को गुप्त सुचना मिली कि मुकेश महला के साथ विदेश भेजने के नाम पर धोखाधड़ी करने के दोनों आरोपी इस समय नई अनाज मंडी कुरुक्षेत्र में मौजूद है । उपनिरीक्षक ऋषिपाल, सहायक उपनिरीक्षक जसपाल व हवलदार मनोज कुमार की टीम ने दोनों आरोपी पंजाब सिंह उर्फ बोबी उर्फ मल्ली पुत्र गुरुचरण सिंह वासी डेरा बुखापरी गाँव बोडश्याम थाना निगदू जिला करनाल व कमलजीत उर्फ कमलू पुत्र राम सवरूप वासी कमालपुर थाना बुटाना जिला करनाल को  नई अनाज मंडी कुरुक्षेत्र से काबू करके गिरफ्तार कर लिया जिनको माननीय अदालत में पेश करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: