Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

प्याली-हार्डवेयर रोड के गड्ढों ने ले ली इंजीनियर बेटे की जान, बेटे की मौत से माँ का फटा कलेजा

Faridabad-Youth-Killed-in-Road-Accident
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद- शहर में एक माँ का फटा कलेजा शायद ही शहर के बड़े नेताओं को दिखे। कल से उस माँ का हाल बेहाल है। प्याली-हार्डवेयर रोड के गड्ढों ने उस माँ से उसके उस इंजीनियर बेटे को छीन लिया जिसे बेटे को पढ़ाने के लिए माँ ने अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया था। घर-घर जाकर सर्फ़ साबुन बेंच बेटे को पढ़ाया और दो तीन साल पहले ही बेटे की चेन्नई में नौकरी लगी। हाल में ही वो माँ से मिलने आया। जसौला में कम्पनी का हेडक्वार्टर है और कंपनी वालों ने युवक से कहा कि एक हफ्ते जसौला के दफ्तर में काम करो और माँ से भी मिलते रहो। कंपनी वालों ने युवक को दिल्ली में होटल भी रहने के लिए दिया था लेकिन युवक थोड़े दिन रोज माँ से मिलता रहना चाहता था इसलिए वो बाइक से अपने घर न्यू जनता कालोनी फरीदाबाद आता-जाता था। कल देर शाम युवक घर आ रहा था कि अचानक प्याली-हार्डवेयर रोड के गड्ढे में उसकी बाइक फंस गई और युवक गिर गया। पीछे से आ रहे वाहन ने युवक को कुचल दिया। बताया जा रहा है कि युवक का सर बुरी तरह? और एक इंजीनियर ने वहीं दम तोड़ दिया। इस तरह के माँ का हर सपना चकनाचूर हो गया क्यू कि अभी तो माँ कर्ज से उभरी थी। बड़ा सपना देखने लगी थी। 

इकलौता बेटे को खोकर माँ खून के आंसू रो रही है। युवक के पिता भी शायद कई वर्षों से गायब हैं। युवक अपनी माँ के बुढ़ापे की लाठी था जो अब उस माँ से हमेशा के लिए छिन गई है। माँ का दर्द आप समझ सकते हैं। सब कुछ लुट चुका है। कुछ लोग उस माँ को सलाह दे रहे हैं कि बेटे का शव रखकर प्रदर्शन करे। बेचारी बूढ़ी मा अपने कलेजे के टुकड़े को अपने कंपकंपाते हाथों से कहा ले जाए और कैसे ले जाए। माँ इस समय बदहवास है। कोई रास्ता नहीं दिख रहा है। युवक सचिन  शर्मा की मौत से उसके आस पास के लोग भी दुखी हैं। न्यू जनता कालोनी में हर जगह सचिन  की मौत की चर्चाएं हैं। फिलहाल कपिल का शव सिविल अस्पताल में है। कुछ देर बाद पोस्टमार्टम होगा। इस सड़क के बारे में आपको फिर बता दें कि शिव चरण लाल शर्मा जब मंत्री थे तब उन्होंने ये सड़क बनवाई थी। लगभग तीन  साल पहले सड़क टूट गई और किसी ने सुधि नहीं ली। आंदोलन हुए लेकिन सब बेकार गया। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: