Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

रिया को फायदा पहुंचाने के लिए सुशांत सिंह राजपूत के परिवार को किया जा रहा है बदनाम

Adv-Vikas-Singh-
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली- एक अच्छा व्यक्ति ऐसे आत्महत्या नहीं कर लेता कोई न कोई तो कारण होता है। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में सीबीआई को अभी तक ऐसा कुछ नहीं मिला जिससे लगता हो कि सुशांत की हत्या की गई हो इसलिए सीबीआई अब ये जांच कर रही है कि अगर अभिनेता ने आत्महत्या की तो क्यू ? क्या कारण था? इस केस का अब  जमकर मीडिया ट्रायल हो रहा है। सर्जिल स्ट्राइक पर सवाल उठाने वाले, 370 हटाने पर सवाल उठाने वाले, राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट  के फैसले को गलत बताने वाले रिया चक्रवाती के साथ दिख रहे  हैं जबकि भाजपा और आरएसएस के अधिकतर नेता चाहते हैं कि सच सामने आये। 
मीडिया भी दो गुटों में बंट गया है। टुकड़े गैंग और अर्बन नक्सलियों के समर्थक रिया की तरफ हैं। दुसरे दूसरी तरफ हैं। जैसे दिल्ली दंगों में टुकड़े गैंग को बचाने के लिए कुछ चैनल वाले एक अलग कहानी रचते थे और पूरे दंगे का जिम्मेदार भाजपा नेता कपिल मिश्रा को बताते थे वैसे अब सुशांत के परिजनों को खलनायक बताने के लिए बड़ी-बड़ी स्टोरी चला रहे हैं। दिल्ली दंगे प्रायोजित थे और पीएफआई ने करोड़ों की फंडिंग की थी वैसे लगता है इस केस में भी किसी ने बड़ी फंडिंग की है। सवाल भी उठ चुके हैं कि रिया ने देश के सबसे मंहगे वकील को कैसे हायर किया। 

अब सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह का कहना है कि सुशांत सिंह राजपूत की तीन बहनें मुझसे मिली और बोलीं कि मीडिया में एक कैंपेन चलाया जा रहा है उनकी फैमिली को बदनाम करने के लिए ताकि रिया को इससे फायदा मिले। उनका कहना है कि कैंपेन के तहत दिखाया जा रहा है कि सुशांत के पास कोई बड़ी लाइफ इंश्योरेंस पॉलिसी थी, अगर सुसाइड दिखाया जाता तो पैसा नहीं मिलता। बता दूं ऐसी कोई पॉलिसी नहीं है। ये अभियुक्त को बचाने की कोशिश है। अगर ये आज के बाद नहीं रुका तो चैनलों के खिलाफ लीगल कार्रवाई की जाएगी। 

वकील विकास सिंह का कहना है कि सुशांत के पिता और परिवार ने ये फैसला लिया है कि कोई भी किताब, फिल्म और सीरियल अगर सुशांत के ऊपर लिखी जाएगी तो इसके लिए उनके पिता की लिखित मंजूरी लेनी पड़ेगी। उनकी अनुमति के बिना कुछ भी बनाने पर उनके खिलाफ लीगल कार्रवाई की जाएगी। 

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: