Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

दो दिनों में काफी बढ़ गए फरीदाबाद में कोरोना के मरीज, जिले में श्रमिकों का होगा सर्वे

Corona-In-Faridabad-Update
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद, 1 मई । दो दिन पहले फरीदाबाद में काफी कुछ ठीक चल रहा था लेकिन दो दिनों में शहर में कई नए कोरोना के मरीज मिले जिससे फरीदाबाद जिला रेड जॉन से बाहर नहीं निकल सका। 
उप सिविल सर्जन एवं जिला नोडल अधिकारी-कोरोना डा. रामभगत ने बताया कि जिला में अब तक 4309 यात्रियों को सर्विलांस पर लिया जा चुका है, जिनमें से 1256 लोगों का निगरानी में रखने का 28 दिन का पीरियड पूरा हो चुका है। शेष 3053 लोग अंडर सर्विलांस हैं। कुल सर्विलांस में रखे गए लोगों में से 4248 होम आइसोलेशन पर हैं। अब तक 3088 लोगों के सैंपल लैब में भेजे गए थे, जिनमें से 2821 की नेगेटिव रिपोर्ट मिली है तथा 206 की रिपोर्ट आनी शेष है। अब तक 61 लोगों के सैंपल पॉजिटिव मिले हैं, जिनमें से 18 लोगों को अस्पताल में दाखिल किया गया है तथा ठीक होने के बाद 42 को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया है। इसमें एक मरीज की मौत भी हो गई है।

उन्होंने बताया कि सभी मेडिकल और पैरा मेडिकल स्टाफ को कोविड-19 की रोकथाम और प्रबंधन के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसी प्रकार पर्यावरण स्वच्छता और शुद्धीकरण के बारे में सरकारी व निजी विभागों के कर्मचारियों को दैनिक आधार पर प्रशिक्षण दिया जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के संभावित संक्रमण की पृष्ठभूमि को देखते हुए आम जनता को सरकार द्वारा स्वास्थ्य संबंधी हिदायतों की अनुपालना करने की सलाह दी जाती है। लोगो को ध्यान रखना चाहिए कि खाँसी व छींकते समय रूमाल या तौलिया का उपयोग अवश्य करें, हाथों को बार-बार साबुन व पानी से धोते रहें। जब तक बहुत जरूरी न हो, घर से बाहर न निकलें। सार्वजनिक स्थलों व सभाओं में जाने से बचें। जिन लोगों ने हाल ही में कोरोना प्रभावित देशों की यात्रा की है, उन्हें राष्ट्रीय, राज्य या जिला हेल्पलाइन नंबरों पर सूचना देनी चाहिए, उन्हें भारत में आगमन की तारीख से 28 दिनों के लिए सभी से अलग रहना है और किसी से भी स्पर्श करने से बचना है, भले ही उसमें कोई लक्षण न हों।

उपायुक्त यशपाल ने कहा कि सरकार ने कोविड-19 व लाॅकडाउन की परिस्थितियों के दौरान असंगठित श्रमिकों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए कोविड-19 फायनेंशियल स्पोर्ट टू अनआरॅगनाइज्ड वर्कर्स पोर्टल शुरू किया था, जिस पर पंजीकरण वाले जिला से संबंधित असंगठित श्रमिकों की जांच पारदर्शी ढंग से कर सर्वे की रिपोर्ट जल्द से जल्द दें।  

उपायुक्त शुक्रवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिला स्तर पर गठित चार प्रकार की कमेटियों के अध्यक्षों की मीटिंग को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सरकार की ओर से जिला में चार तरह की कमेटियां गठित की गई है। जोनल कमेटियां अपने नीचे सेक्टर व यूनिट कमेटियों को उचित प्रशिक्षण दें तथा प्रत्येक पंजीकरण करने वाले व्यक्ति की वास्तविक जानकारी का डाटा उपलब्ध कर निर्धारित प्रोफार्मा में भरकर भेजें। उन्होंने बताया कि इसमें असंगठित श्रमिक की वार्षिक आय एक लाख 80 हजार से अधिक न हो। वह किसी भी सरकारी योजना का लाभपात्र न हो। उसके निवास स्थान से संबंधित जानकारी आदि प्रोफार्मा में दर्ज जानकारी के लिए सर्वे का कार्य जल्द पूरा करें। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से इन असंगठित श्रमिकों को एक हजार रूपए मासिक वितीय सहायता प्रदान की जाती है। इसके लिए अलावा इन्हें डिस्ट्रेस कूपन के माध्यम से राशन भी उपलब्ध करवाया जाएगा।

उपायुक्त ने कहा कि जिला में स्थापित मतदान केंद्रों के हिसाब से यूनिट कमेटियों गठित की गई हैं। एक कमेटी के पास औसतन 250 परिवार आएंगे। इस कमेटी में करीब 8 सदस्य हैं। इस हिसाब से असंगठित श्रमिकों का सर्वे का कार्य जल्द पूरा करना संभव है। इस कार्य में पूरी पारदर्शिता बरती जाए तथा रिपोर्ट सत्य व निष्पक्षता पर आधारित हो। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्प आरके सिंह ने भी सभी कमेटियों के अध्यक्षों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मीटिंग में एसडीएम फरीदाबाद अमित कुमार, नगर निगम से संयुक्त आयुक्त सतबीर मान व विरेंद्र सिंह सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: