Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

रोहतक में रेहड़ी पर सब्जी बेंचने वाला कोरोना पॉजिटिव निकला 

Rohtak-Corona-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)

रोहतक:  अनूप कुमार सैनी की रिपोर्ट: रोहतक जिले के ककराना गांव में एक दम्पत्ति के कोरोना पॉजिटिव दंपत्ति मिलने के बाद अब सांपला में भी पुरानी अनाज मंडी में दूरभाष केंद्र के नजदीक वार्ड 3 में मूल रूप से उत्तरप्रदेश निवासी व्यक्ति को कोरोना होने की पुष्टि से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग में हडकम्प मचा हुआ है। सांपला में कोरोना पॉजिटिव मरीज के परिवार के 6 सदस्यों के सैंपल लेकर पूरे क्षेत्र को पूरी तरह से सील कर दिया है।
          ककराना गांव में दंपत्ति के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद अब सांपला में कोरोना संक्रमित मिलने के बाद रोहतक के जिला उपायुक्त आरएस वर्मा व एसपी राहुल शर्मा ने अधिकारियों के साथ सांपला शहर का जायजा लिया। 
              शुक्रवार को सांपला शहर को भी सील करते हुए 3 किलोमीटर के दायरे में आने वाली कालोनियों व गांवों को सैनिटाइज करते हुए लोगों के स्वास्थ्य की जांच कराई जा रही है। सांपला को बफर जोन घोषित कर दिया गया है और 5000 लोगों के स्वास्थ्य की जांच करवाई जाएगी। सांपला के बाजार को पूरी तरह से बंद कर दिया है। उन्होंने सांपला की मंडियों के निरीक्षण के उपरांत निर्देश दिए कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने हेतु रविवार तक मंडी में फसल खरीद पर तुरंत प्रभाव से रोक रहेगी और गेहूं की खरीद नहीं होगी। उन्होंने कहा कि सोमवार को मंडी खोलने का निर्णय रविवार शाम तक स्थिति को देखते हुए लिया जाएगा। इस मौके पर एसडीएम सांपला नवदीप नैन भी मौजूद रहे।

            ध्यान रहे कि सांपला की एक प्लाई फैक्ट्री में काम करने वाले कारपेंटर को भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। बताया जा रहा है कि वहां कार्य बंद होने के पश्चात इसने कुछ दिन सब्जी की रेहड़ी फड़ी भी लगाई थी। इसलिए प्रशासन द्वारा उन सभी व्यक्तियों की तलाश की जा रही है, जो इस संक्रिमत व्यक्ति के सम्पर्क में इस दौरान आए हैं। उन सभी के टेस्ट करके नतीजे आने तक उन्हें कोरोंटाइन किया जाएगा ताकि बीमारी का फैलाव और ज्यादा ना हो।
          जिला उपायुक्त आरएस वर्मा ने बताया कि प्रशासन द्वारा एतियात के तौर पर कदम उठाते हुए संबंधित प्लाईवुड फैक्ट्री में कार्यरत लगभग 200 से अधिक कामगारों का भी सैंपल लिया जाएगा। संक्रमित कारपेंटर का बुधवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सैंपल लेते हुए उसे सिविल अस्पताल में भर्ती किया था, जिसके बाद बृहस्पतिवार को जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर चिकित्सकों में हड़कंप मच गया।

         कारपेंटर के पॉजिटिव पाए जाने पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उसके संपर्क में आने वाले कुल 6 लोगों को पीजीआइ में जांच के लिए भेजा है जबकि अन्य लोगों की अभी तलाश की जा रही है।
          उन्होंने इस मौके पर सांपला के एसडीएम नवदीप सिंह नैन को निर्देश दिए कि वे कम से कम 200 व्यक्तियों के लिए रहने व खाने का प्रबंध करें ताकि सैंपल लेने के पश्चात यदि कोई संदिग्ध पाया जाता है तो उन्हें वहां पर आइसोलेशन में रखा जा सके।
         उन्होंने बताया कि प्रशासन ने सख्त व त्वरित कदम उठाते हुए चिन्हित जगह के आसपास लगभग 500 आदमियों को उनके घरों में ही क्वारेंटाइन कर दिया गया है और संबंंधित इलाके को सील कर दिया गया है।एहतियातन कदम उठाते हुए प्रशासन ने 10 मेडिकल टीमों को तुरंत प्रभाव से  कार्य पर लगा दिया है। ये टीमें लगातार कार्य करते हुए इलाके के लगभग पांच हजार व्यक्तियों का सैंपल लेंगी। उन्होंने बताया कि कोरोना बीमारी का आगे फैलाव ना हो इसलिए वार्ड नंबर 3, जहां यह संक्रमित व्यक्ति रह रहा था, के सभी घरों को तीन बार सैनिटाइज करवा दिया गया है और यह कार्य लगातार जारी रहेगा।
           वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि सांपला में कोरोना संक्रमित का पाया जाना चिंता का विषय है और प्रशासन इसकी चेन को रोकने के लिए सख्त कदम उठा रहा है। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए कि सील किए गए क्षेत्र में लोगों को बिजली, पानी व अन्य मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएं ताकि आम लोगों को परेशानियों का सामना न करना पड़े। 
             बाद में उन्होंने नई अनाज मंडी के दौरे के दौरान फसल लेकर पहुंचे किसानों से बातचीत करते हुए उनकी समस्याओं को भी जाना। उन्होंने किसानों को आश्वस्त करते हुए कहा कि जो किसान फसल समय पर नहीं निकाल पाए और उन्हें प्रशासन की तरफ से मंडी में आने के लिए संदेश मिला है। उनको दोबारा से दूसरे राऊंड में अपनी फसल मंडी में बेचने का अवसर दिया जाएगा।
               उन्होंने अभी तक हुई फसल की खरीददारी व आवक के बारे में एसडीएम नवदीप सिंह व मार्केट कमेटी की सचिव से भी विस्तारपूर्वक जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जसौर खेड़ी स्थित मंडी संक्रमित क्षेत्र से दूरी पर है इसलिए वहां पर मंडी में फसल की खरीद जारी रखी जाएगी।
                    उपायुक्त के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की 15 टीमों ने ककराना गांव में 1402 लोगों की जांच की, जिसमें से 53 लोगों के सैंपल लेकर सिविल अस्पताल में भर्ती कर लिया है। ककराना गांव को कंटेनमेंट जोन में शामिल कर लिया। वहीं साथ लगते कुछ गांवों को बफर जोन में रखा है। 
         इस मौके पर उनके साथ एसडीएम सांपला नवदीप नैन, सांपला तहसीलदार राकेश कुमार, मार्किट कमेटी सचिव सविता, सांपला के तहसीलदार राकेश कुमार, सांपला एसएचओ सहित सभी संबंधित अधिकारी व डॉक्टरों की टीम समेत सभी संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

Rohtak News

Post A Comment:

0 comments: