Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हर धर्म के लोगों को कोरोना से मरवाकर ज्यादा लाशें गिनना चाहती है PFI और उसके अर्बन नक्सली 

India-Sps-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली/ फरीदाबाद: कोरोना महामारी से जंग जीतने के लिए पूरा देश अपने तरीके से हर प्रयास कर रहा है मात्र पीएफआई जैसे आतंकियों के समर्थक संगठनों को छोड़कर,  कुछ अर्बन नक्सली भी इनका साथ दे रहे है और ये लोग मिलकर उन्हें बचाने का हर प्रयास कर रहे है जो वर्तमान समय में भारत के खलनायक हैं और जिन्होंने पूरे देश में कोरोना फैलाया और अब भी कहीं-न कहीं छिपे हुए हैं। शायद पीएफआई ने अर्बन नक्सलियों और कुछ वामपंथियों को फिर मोटी फंडिंग की है। ये लोग हर तरीके से तबलीगी जमातियों और उसके आका को बेगुनाह बता रहे है। पीएफआई के लोग उन्हें धमकी भी दे रहे है जो तबलीगी जमातियों की पोल खोल रहे हैं। पोल खोलने वाले जमातियों के दुश्मन नहीं हैं। वो चाहते हैं कि ये सब सामने आएं, अपना इलाज करवाएं ताकि इनका परिवार महामारी से बचे और आस पास के लोगों की भी जान बचे लेकिन पीएफआई वाले शायद देश में ज्यादा लाशें गिनना चाहते हैं। उनके लिए लाशें मायने रखती हैं वो किसी भी धर्म के लोगों की हों। इन लोगों ने हाल में दिल्ली में दंगा करवा कई लाशें बिछवा दीं। 

अधिकतर अल्पसंख्यक उसे दंगे का शिकार हुए और अब ये देश पर तबलीग़ी बम छोड़ और अधिक लाशें गिनने का प्रयास कर रहे हैं और जो आंकड़े आ रहे है उसके मुताबिक़ कोरोना के शिकार अल्पसंख्यक समाज के ज्यादा लोग हो रहे हैं। ये कट्टरवादी संगठन न जाने क्या चाहता है। कुछ तथाकथित मीडिया वालो को फंडिंग कर देश में तवाही लाना चाहता है और पूरा प्रयास भी कर रहा है। हरियाणा अब तक के पास इस संगठन से जुड़े तमाम लोगों के फोन आते हैं। कुछ धमकी भी देते है। इनके तथाकथित मीडिया वालों के भी फोन आते है जो फैक्ट चेक के नाम की फैक्ट्री खोल मीडिया वालों से ही वसूली करने का प्रयास करते हैं। जो इनकी करतूतों से डर गया उससे मोटा माल वसूलते हैं। उसे  धमकाते हैं। 

आज भी हमारे पास कई ऐसे काल आये लेकिन इन्हे नहीं पता कि इनसे काफी पहले से सोशल मीडिया पर सक्रीय हूँ और हरामखोरों को पल भर में पहचान लेता हूँ वो कितनी भी दूरी पर हों। देश के लोग ऐसे लोगों के झांसे में न आएं वरना इनके सपने पूरे हो सकते है। देश में लाशें बिछाने का इनका सपना है। इन्हे विदेशों से भी फंडिंग को रही है कि किसी भी तरह से भारत बदनाम हो, भारत की सरकार बदनाम हो। देश आगे न बढ़ सके। इनके सपने 130 भारतीयों के लिए बहुत ही घातक साबित हो सकते हैं। किसी भी अफवाह से दूर रहें, जान बचानी है तो घरों में रहें, सामाजिक दूरी बनाये रखें। लॉकडाउन का पालन करें। गलत अफवाहों को शेयर न करें। पलवल के जमाती को लेकर पीएफआई के कई आतंकियों के फोन आये, जिन्हे वो मोटा मॉल दे चुके है उन तथाकथित मीडिया वालों के फोन आये। आज पलवल जिला प्रसाशन ने एक जमाती पर एफआईआर दर्ज किया है और जमाती को पकड़वाने वाले सरपंच को स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया जाएगा। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: