Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हरियाणा में बिजली का भंडार, अब रात्रि में भी नहीं कटेगी- मंत्री ने कैदियों को भी राहत

Haryana-Power-Minister-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़, 9 अप्रैल- हरियाणा के बिजली तथा जेल मंत्री  रणजीत सिंह ने कहा कि प्रदेश में इस समय पर्याप्त बिजली है, इसलिए रात को कहीं भी बिजली नहीं काटी जाएगी। हालांकि, किसानों की समस्या को देखते हुए कहीं-कहीं दिन में बिजली रोकी जा सकती है। उन्होंने बिजली विभाग की सराहना करते हुए कहा कि अभी तक कहीं भी ब्रेकडाउन नहीं हुआ है और अगर कहीं ऐसा होता है तो सम्बन्धित एसडीओ 15 मिनट में उन्हें रिपोर्ट करेंगे।

इसके साथ ही,  रणजीत सिंह ने कोरोना वायरस का प्रभाव पूरी तरह से समाप्त होने तक अपना पूरा वेतन मुख्यमंत्री कोरोना रिलीफ फंड में देने का एलान किया है। उन्होंने अपने विवेकाधीन कोटे भी 3 करोड़ रुपये मुख्यमंत्री कोरोना राहत कोष में देने की घोषणा की है।

रणजीत सिंह ने कहा कि अभी तक लगभग 4 हजार कैदियों और बंदियों को पैरोल दी जा चुकी है जबकि आने वाले एक-दो दिन में लगभग 500 कैदियों व बंदियों को भी पैरोल दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की प्रत्येक जेल को सेनिटाइज किया गया है। इसके अलावा, सामाजिक संस्थाओं के सहयोग से जेलों में खाना तैयार करके जरूरतमंद लोगों में बांटा जा रहा है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में स्थिति के हिसाब से कैदियों व बंदियों की पैरोल बढ़ाई जा सकती है। यह सब इसलिए किया जा रहा है क्योंकि इस वक्त लोगों की जान बचाना सबसे महत्वपूर्ण है।


बिजली मंत्री ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान किसी भी उपभोक्ता का दो महीने का बिजली का बिल आता है तो उस पर सरचार्ज नहीं लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि उपभोक्ता किसी भी तरह की शिकायत के लिए उनके ऑफिसियल ट्विटर हैंडल www.twitter.com/Ch_RanjitSingh  पर ट्वीट कर सकते हैं जिस पर तुरन्त कार्यवाही की जाएगी। गौरतलब है कि ऊर्जा मंत्री खुद अपने ट्विटर हैंडल को नियमित रूप से देखते हैं और काफी सक्रिय हैं।

        उन्होंने कहा कि इस समय जहां सारी चीजें बंद हंै, किसान की उपज पककर तैयार है जिसके लिए कल मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल के साथ वीडियो कॉन्फे्रंसिंग में चर्चा की गई जिसमें विपक्ष ने भी पूरा सहयोग दिया। उन्होंने कहा कि देश में आई किसी भी प्रकार की विपदा के समय किसान हर तरह की मदद के लिए हमेशा आगे रहे हैं। इसलिए किसानों आवश्यकताओं को पूरा करने और उनकी समस्याओं को प्राथमिकता आधार पर दूर किया जाना चाहिए। उन्हें समय पर उर्वरकों की आपूर्ति की जाए और कम्बाइन इत्यादि कृषि उपकरण उपलब्ध करावाए जाएं। उन्होंने कहा कि किसानों को अपनी फसल बेचने में किसी तरह की कोई समस्या न आये, इसके लिए प्रत्येक 3 से 5 गांवों पर एक मंडी निश्चित की गई है।

बिजली मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग ही सबसे बेहतर उपाय है और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने समय रहते यह फैसला लिया है। इसलिए लोगों को भी चाहिए कि वे इसका पालन करें। उन्होंने मीडिया कर्मियों के काम की सराहना करते हुए कहा कि मीडिया भी फ्रंटलाइन योद्धा की तरह समाचारों को आम लोगों तक पहुँचाने में अपनी जिम्मेदारी निभा रहा है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: