Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

आत्मघाती बम साबित हो रहे हैं निजामुद्दीन के जमाती, इलाज करने वाले डाक्टरों पर थूक फैला रहे हैं कोरोना 

Corona-Sps-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: देश कई वर्षों से आत्मघाती हमले झेल रहा है और ऐसे हमलों से राजीव गांधी तक की हत्या कर दी गई है। आत्मघाती हमले आतंकी करते हैं। उनका मकसद होता है कि वो कई जान लेकर मरें। देश में कोरोना की महामारी तांडव मचा रही है और निजामुद्दीन काण्ड देश के सामने है जहां की जमात में शामिल तमाम लोगों की मौत हो चुकी है। सैकड़ों हॉस्पिटल में हैं। दर्जनों कोरोना पॉजिटिव हैं। ऐसे लोगों का डाक्टर इलाज कर रहे हैं और इलाज कर रहे कई डाक्टर भी इस महामारी की चपेट में आ गए हैं फिर भी देश के डाक्टर हिम्मत नहीं हार रहे हैं। जितने भी डाक्टर इस समय अस्पतालों में कोरोना के मरीजों का इलाज कर रहे हैं उनके बच्चे, परिजन रात दिन सो नहीं पा रहे हैं। उन्हें डर सता रहा है लेकिन ऐसे में इलाज कर रहे डाक्टरों पर कोई थूक दे तो शायद वो आत्मघाती बम ही होगा।

सोशल मीडिया पर थूक जिहाद के चर्चे कई दिनों से हैं और हाल में निजामुद्दीन मरकज से ले जाए कोरोना संदिग्धों ने बसों से थूका था तब सवाल उठ रहे थे। 24 कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए। अब दिल्ली के पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने एक ट्वीट कर सनसनी फैला दी है। मिश्रा ने लिखा है कि तबलीगी जमात के लोगों ने अब क्वारंटाइन केंद्रों के कर्मचारी और डॉक्टरों पर थूकना शुरु कर दिया, स्पष्ट हैं, इनका इरादा ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना करना और उन्हें मारना है, ये आतंकवादी हैं और इनका आतंकवादियों जैसा इलाज ही करना पड़ेगा, They should be treated like Terrorists, बड़ा सवाल फिर उठ रहा है कि क्या जमात में भारत को बर्बाद करने की कोई बात हुई थी। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: