Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हरियाणा इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केट गन्नौर में

India International Horticulture Market at Gannuar
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़, 9 मार्च- हरियाणा सरकार ने सोनीपत जिला के गन्नौर में हरियाणा इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केट को विकसित करने व उस पर तेजी से काम करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक संचालन-समिति का गठन किया है, हरियाणा के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री इस समिति के उपाध्यक्ष होंगे। जबकि इंडिया इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केट के चीफ आपरेटिंग ऑफिसर इस समिति के सदस्य सचिव और हरियाणा की मुख्य सचिव, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव, हरियाणा इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केटिंग कार्पोरेशन लिमिटेड  के प्रबंध निदेशक, हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक एवं  कृषि विभाग के महानिदेशक इस समिति के सदस्य होंगे।

        मुख्यमंत्री  मनोहर लाल की अध्यक्षता में आज हुई संचालन समिति की पहली बैठक में ट्रांजेक्शन एडवाइजर (टीए) के चयन के लिए ‘रिक्वेस्ट फॅार प्रपोजल’ को मंजूरी दे दी गई। बैठक में यह निर्णय लिया गया कि 5 मई, 2020 को ट्रांजेक्शन एडवाइजर के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए जाएंगे। ट्रांजेक्शन एडवाइजर को अगस्त 2020 तक इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन (ईपीसी) ठेकेदार की मंजूरी के लिए आरएफपी के ड्राफ्ट को अंतिम रूप देना होगा।

        इस बीच, एक अन्य बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री ने 78.33 एकड़ में पिंजौर में हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा स्थापित किए जाने वाले अल्ट्रा मॉडर्न एप्पल, फल और सब्जी मार्केट की अवधारणा-योजना को मंजूरी दी। मार्केट के आधारभूत बुनियादी ढांचे के विकास पर 80 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत खर्च होगी। इस अवसर पर यह बताया गया कि परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) 30 दिनों के अंदर तैयार कर ली जाएगी और 60 दिनों के भीतर निविदाएं आमंत्रित कर ली जाएंगी।

        यह भी जानकारी दी गई कि यह मार्केट मुख्य रूप से हिमाचल प्रदेश के सेब उत्पादकों और मार्केट के 150 किलोमीटर के दायरे में सब्जी उत्पादकों के लिए होगी। इसमें वातानुकूलित ‘फल और सब्जी’ हॉल के अलावा, एप्पल-शैड, टोमैटो-पोटैटो और ऑनियन शैड, किसान / खुदरा शैड, सैंपल डिस्पले गैलरी, जल्दी खराब होने वाले फल और सब्जी के लिए नीलामी हॉल, कम तापमान वाले कोल्ड स्टोर, फल पकाने वाले चैंबर और प्रोसेसिंग यूनिट की सुविधा होगी।

        बैठक में यह भी बताया गया कि हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा बनाई जाने वाली इस मार्केट में 210 दुकानों को निलामी के माध्यम से हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू और कश्मीर के व्यापारियों को आवंटित किया जाएगा। इनमें से 40 दुकानों का निर्माण और आवंटन पहले चरण में किया जाएगा। इसके अलावा, मार्केट में 50 बहुउद्देश्यीय दुकानों का भी निर्माण किया जाएगा। हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड इस मार्केट के संचालन और रखरखाव के लिए एक पेशेवर रूप से प्रबंधित निजी कंपनी के साथ एक संयुक्त उद्यम भी बनाएगा। संयुक्त उद्यम के बोर्ड में हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के अधिकारी, संयुक्त उद्यम के एक प्रतिनिधि और किसानों और व्यापारियों के एक-एक प्रतिनिधि शामिल होंगे।

        बैठक में कृषि और किसान कल्याण मंत्री श्री जय प्रकाश दलाल, मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनन्द अरोड़ा, कृषि और किसान कल्याण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल, वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री टीवीएसएन प्रसाद, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री वी. उमाशंकर, हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड के मुख्य प्रशासक श्री जे. गणेशन, इंडिया इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केट के चीफ आपरेटिंग ऑफिसर श्री टीएल सत्यप्रकाश, हरियाणा इंटरनेशनल हॉर्टिकल्चर मार्केटिंग कार्पोरेशन के प्रबंध निदेशक डॉ. जे.एस यादव और राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: