Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

NGT द्वारा गठित टीम में देखी फरीदाबाद में स्वच्छता की हकीकत 

NGT-Team-In-Faridabad
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद, 4 मार्च। एनजीटी की ओर से गठित स्टेट एग्जीक्यूटिव कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व न्यायाधीश प्रीतम पाल ने कहा कि शहर के प्रमुख स्थानों, बड़खल झील, कालोनियों में सीवर व्यवस्था व कूड़ा कचरा का प्रबंधन उचित ढंग से करना सुनिश्चित किया जाए। इसमें कंस्ट्रक्शन एवं डेमोलिशन वेस्ट, बायो मेडिकल वेस्ट  व अन्य सभी प्रकार के वेस्ट का निपटान भी सही प्रकार से हो। एनजीटी की ओर से जारी दिशा-निर्देशों व विभिन्न विभागों द्वारा इस संबंध में की जाने वाली कार्रवाई को भी तय समय पर पूरा किया जाए।

लघु सचिवालय के सभागार में आयोजित संबंधित विभागों के अधिकारियों की मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने कहा कि सबसे पहले प्रदूषण फैलाने वाली यूनिटों को चिन्हित किया जाए। जो भी यूनिट एनजीटी द्वारा जारी हिदायतों की अनुपालना नहीं कर रही, उनके खिलाफ आवश्यक कार्रवाई की जाए। संबंधित विभागों को भी सख्ती से काम करना होगा तभी इसके सार्थक परिणाम सामने आने शुरू होंगे।

 उन्होंने कहा कि प्रदूषण किसी भी प्रकार का क्यों न हो, पर्यावरण की दृष्टि से एक संवेदनशील विषय है। संबंधित विभागों के अधिकारी आपसी सामन्जस्य से  इसकी रोकथाम के लिए आवश्यक कार्रवाई करें।

उन्होंने कहा कि रेलवे ट्रैक, रूरल एरिया, हाईवे पर और अधिक काम किया जाए। उन्होंने कहा कि पार्षद अपने-अपने, संबंधित वार्डों में भी आम जन के सहयोग से स्वच्छता, कूड़ा निस्तारण जैसे अभियानो को सफल बनाएं। सभी अपने वार्डों को मॉडल वार्ड बनाने की दिशा में काम शुरू करें। इस कार्य में जो एनजीओ  आगे आना चाहते हैं, जिला प्रशासन उनकी मदद लें। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि प्रशासन अकेले ही  सफल नहीं हो सकता, सभी लोग मिलकर कार्य करेंगे  तो यह कार्य तेजी से हो जाएगा । 
उन्होंने बिजली विभाग को भी निर्देश दिए कि  एक कमेटी गठित करें और जिन अनऑथराइज्ड कंपनियों में बिजली के कनेक्शन लगे हुए हैं, उनके खिलाफ  उचित कार्यवाही करें। नगर निगम कमिश्नर यश गर्ग ने आश्वासन दिलाया कि  बहुत जल्द ही हम जिले को प्रदूषण से मुक्त करने की  कोशिश करेंगे। उन्होंने बताया कि  नगर निगम ने सेफ्टी टैंको के लिए  एक पैनल बनाया है, पैनल के अंदर  उनका कंट्रोल रूम बनाकर उनके रेट भी फिक्स कर देंगे। इसके साथ-साथ टैंकरो में जीपीआरएस भी लगाया जाएगा ताकि पता चल सके कि कौन सी जगह  खाली किए जा रहे हैं । 
उपायुक्त यशपाल ने  कमेटी को आश्वस्त किया कि 31 मार्च तक  लगभग सारे मामलों को निपटा दिया जाएगा। इस अवसर पर बैठक में उपस्थित विभिन्न समाज सेवी संस्था एवं प्रतिनिधिओं ने भी उनके अनुभवों पर चर्चा की।  बैठक के उपरांत प्रीतम पाल ने सम्बंधित अधिकारियों के साथ एसी नगर वार्ड नं 13, गौंछी ड्रेन का निरिक्षण कर सफाई बारे भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर उनके साथ डॉ उर्वशी गुलाटी पूर्व मुख्य सचिव, हरियाणा मेम्बर मॉनिटरिंग कमेटी एनजीटी, डॉ बाबूराम टेक्निकल एक्सपर्ट मॉनिटरिंग कमेटी एनजीटी, उपायुक्त फरीदाबाद यशपाल, सीईओ स्मार्ट सिटी फरीदाबाद डॉ गरिमा मित्तल, कमिश्नर नगर निगम डॉ यश गर्ग, एडमिनिस्ट्रेटर एचएसवीपी प्रदीप दहिया, एचएसवीपी के संपदा अधिकारी परमजीत चहल, नगराधीश बेलीना के अलावा अन्य विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: