Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

जैसे वर्जीनिया वाशिंगटन डी.सी के लिए है, वैसे ही हरियाणा दिल्ली के लिए- मनोहर लाल

Manohar Lal speaking during the ongoing Budget Session of Haryana Vidhan Sabha
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सतलज यमुना लिंक (एसवाईएल) नहर के माध्यम से हरियाणा को अपने पानी का हिस्सा मिलने से कोई भी नहीं रोक सकता है, क्योंकि सर्वोच्च न्यायालय (एससी) ने पहले ही हरियाणा के पक्ष में अपना फैसला दे दिया है कि नहर के पानी में राज्य की अपनी वैध हिस्सेदारी है।
 मनोहर लाल कल  हरियाणा विधानसभा के बजट सत्र के चौथे दिन की कार्यवाही के बाद पत्रकारों के साथ बातचीत कर रहे थे।

पत्रकारों द्वारा पंजाब के मुख्यमंत्री  अमरिंदर सिंह द्वारा एसवाईएल मुद्दे पर दिए गए एक बयान से संबंधित पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए श्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा को पानी मिलने के लिए एसवाईएल नहर के निर्माण से संबंधित एकमात्र मुद्दा सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष लंबित है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि सुप्रीम कोर्ट जल्द ही किसी एजेंसी को कार्यान्वयन आदेश जारी करेगा, जोकि शायद केंद्र सरकार की एजेंसी हो सकती है ताकि एसवाईएल नहर का निर्माण जल्द से जल्द शुरू किया जा सके।

एक अन्य प्रश्न के उत्तर में, मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके  नेतृत्व में एक सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल ने नई दिल्ली में तत्कालीन केंद्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात की थी और उनसे एसवाईएल नहर के जल्द पूरा करने का अनुरोध किया था। उन्होंने कहा कि राज्य के हित में पार्टी लाइनों से ऊपर उठकर सामूहिक प्रयास किए जा रहे हैं।

 मनोहर लाल ने कहा कि उन्होंने  ट्रम्प को सूचित किया कि जैसे वर्जीनिया वाशिंगटन डी.सी के लिए है, वैसे ही हरियाणा दिल्ली के लिए है। समानताओं का वर्णन करते हुए उन्होंने कहा कि जैसे हरियाणा तीन तरफ से दिल्ली को घेरता है, उसी तरह वर्जीनिया शहर वाशिंगटन को तीन तरफ से घेरे हुए है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्य देशों के साथ संबंधों को मजबूत करने के लिए हरियाणा सरकार ने विदेश सहयोग विभाग की स्थापना की है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: