Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

पापा पहले हमें नींद की गोली खिला सुला देना फिर हमारा गला दबा हमें मार डालना 

Very-Sad-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)

नई दिल्ली: देश में कभी-कभी कुछ घटनाएं ऐसी होती हैं कि उन घटनाओं पर कोई विश्वाश नहीं कर पाता। जिन बच्चों को माता-पिता पैदा करते हैं, पढ़ाते लिखाते हैं। उन्ही बच्चों को आखिर उनके माता पिता उन्ही के सामने उन्हें मारने की बात कैसे कर सकते हैं या उन बच्चों के सामने खुद की जान लेने की बात कैसे कर सकते हैं लेकिन दुनिया में सब कुछ संभव है और उत्तर प्रदेश के वाराणसी में एक ऐसी ही घटना हुई है जहां व्यापार में घाटे और कर्ज से परेशान एक कारोबारी ने पत्‍नी, बेटे और बेटी की जान लेने के बाद खुद आत्‍महत्‍या कर ली। ये कदम उठाने से ठीक पहले व्यापारी ने पुलिस के पास फोन किया कि मैं पूरे परिवार सहित आत्महत्या करने जा रहा हूँ। पुलिस किसी तरह मौके पर पहुँची तो परिवार ने अपनी जीवन लीला ख़त्म कर ली थी।

 मौके से दिल दहला  देने वाला सूइसाइड नोट बरामद हुआ है और ये नोट को पूरे परिवार ने 23 दिनों में तैयार किया था। 12 पेज का सूइसाइड  कारोबारी की पत्‍नी ने लिखा है। पुलिस के मुताबिक सूइसाइड नोट में कारोबार में घाटे के चलते आर्थिक तंगी बयां करने के साथ ऋतु ने लिखा है कि 20 साल पहले जब वह शादी करके वाराणसी आई तो लगा कि खुशहाल परिवार में शादी हो रही है। पता चला कि पति को कम दिखने की लाइलाज बीमारी है। परिवार के सदस्‍यों का भी जिस तरह सहयोग मिलना चाहिए था, कभी नहीं मिला। सूइसाइड नोट में बेटे-बेटी के हवाले से लिखा है कि ‘हमें नींद की दवा खिलाकर सुला देना पापा, इसके बाद गला दबा देना।

मामला वाराणसी शहर के आदमपुर इलाके के नचनी कुआं मोहल्‍ले का है जहाँ कारोबारी  चेतनु तुलस्‍यान (45) परिवार के साथ रहते थे। मकान के निचले तल पर माता-पिता और ऊपर चेतन पत्‍नी ऋतु (42), बेटे हर्ष (19) और बेटी हिमांशी (17) रहते थे। अब पूरा परिवार इस दुनिया में नहीं है। पुलिस का कहना है कि पूरे परिवार ने आपसी सहमति से आत्महत्या की है लेकिन अन्य एंगल से भी जांच की जा रही है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

India News

Post A Comment:

0 comments: