Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

राहुल ही नहीं, प्रियंका गांधी भी बिछा रही हैं कांग्रेस की राह में कांटे

Priyanka-Gandhi-Tweet
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: पुरानी कहावत है कि जैसा बोओगे वैसा काटोगे। अगर आपने बबूल बोये हैं तो आम कहाँ से खाने को मिलेगा। कांग्रेस हाईकमान वर्तमान में बुरे दौर से गुजर रहा है। कई राज्यों में कांग्रेस के अच्छे नेता हैं और अपनी मेहनत से उन्होंने भाजपा से कई राज्य छीन भी लिए हैं लेकिन केंद्र में कांग्रेस लटक जा रही है। शायद कांग्रेस के केंद्रीय नेता गलत दिशा में चल रहे हैं। दिल्ली में हाल में हिंसा हुई। अब तक 28 लोगों की जान जा चुकी है। 

दिल्ली में लगभग ढाई महीने से बहुत कुछ गड़बड़ चल रहा है। तमाम लोग एक मुख्य सड़क को अब भी बंद कर बैठे हैं। इसी दौरान किसी ने भारत को असम से अलग करने की बात की तो किसी ने फिर कश्मीर की आजादी के नारे लगाए। किसी ने पीएम की हत्या करने की बात की तो किसी ने कहा कि हम 15 करोड़ 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे। इस दौरान कांग्रेस के केंद्रीय नेता खामोश रहे लेकिन कल जज के तबादले के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी मैदान में उतर आई हैं। कहा जा रहा है कि सरकार ने जज का तबादला इसलिए किया क्यू कि उन्होंने दिल्ली पुलिस को कल फटकारा था। 

बुधवार को सुनवाई के दौरान उन्होंने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाईं थी।  हाईकोर्ट के जज जस्टिस एस. मुरलीधर का कल देर रात ट्रांसफर कर दिया गया। अब प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि आधी रात में जस्टिस मुरलीधर का तबादले से हैरानी हुई।  सरकार न्याय का मुंह बंद करना चाहती है। 
प्रियंका गांधी के ट्वीट पर लोग उन्हें घर रहे हैं  जिनका कहना है कि दिल्ली पुलिस ने थोड़ी सख्ती दिखाई तो उन सबके होश उड़ गए हैं जो चाहते थे कि दिल्ली की सड़कें हमेशा जाम रहें और लोग सरकार के खिलाफ आग उगलते रहें। राहुल गांधी हों या प्रियंका ये लोग जब भी कोई बयान दे रहे हैं ये कांग्रेस पर ही भारी पड़ रहा है। कहा जा रहा है कि ये भाई-बहन ही कांग्रेस की राह में कांटे बिछा रहे हैं और ऐसा ही रहा तो 2024 में भी कांग्रेस का केंद्र में हाल बेहाल होगा। ये लोग जनता की नब्ज टटोले बिना कुछ भी बोल देते हैं जिससे कांग्रेस की फजीहत शुरू हो जाती है। यही वजह है कि जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होते हैं वहां के स्थानीय नेता नहीं चाहते हैं कि ये भाई-बहन वहां कांग्रेस के लिए प्रचार करने जाएँ। ये बना बनाया खेल ख़राब कर देते हैं। 
प्रियंका गांधी के ट्वीट ने नीचे लोगों की प्रतिक्रियाएं पढ़ें, समझ जाएंगे कि लोग क्या चाहते हैं। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: