Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हरियाणा में 860 आंगनवाड़ी वर्कर्स और 1047 आंगनवाड़ी हैल्पर्स की भर्ती जल्द 

Haryana-Minister-Kamlesh-Dhandha-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़, 5 फरवरी- हरियाणा की महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री  कमलेश ढाण्डा ने कहा कि राज्य में 860 आंगनवाड़ी वर्कर्स और 1047 आंगनवाड़ी हैल्पर्स के रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया शीघ्र ही शुरू की जायेगी ताकि समेकित बाल विकास योजना के तहत महिलाओं व बच्चों के कल्याणर्थ चलाई जा रही योजनाओं के लाभ  पात्र लाभार्थियों तक समय पर पहुंच सकें।

राज्य मंत्री श्रीमती कमलेश ढाण्डा ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि  राज्य सरकार द्वारा विशेषरूप से महिलाओं व बच्चों के लिए चलाई जा रही योजनाओं को   जमीनी  स्तर पर आंगनवाड़ी  वर्कर्स  और आंगनवाड़ी हैल्पर्स के माध्यम से ही क्रियान्वित  किया जाता है, इसलिए इन पदों  को शीघ्र भरने का निर्णय लिया गया है । राज्य के सभी जिला उपायुक्तों  व अतिरिक्त  जिला उपायुक्तों को आंगनवाड़ी वर्कर्स और आंगनवाड़ी हैल्पर्स के रिक्त पदों को  भरने के किए शीघ्र ही लिखा जाएगा।

उन्होंने कहा कि समेकित बाल विकास योजना केन्द्र सरकार की एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है जिसके तहत शिशुओं स्तनपान कराने वाली  माताओं व गर्भवती  महिलाओं को आंगनवाड़ी केन्द्रों के माध्यम से पूरक पोषाहार दिया जाता है ताकि बच्चों व महिलाओं में प्रोटीन व कैलारी की प्रतिपूर्ति की जाती है।

मंत्री ने कहा कि महिलाएं परिवार की धुरी होती है जिसका स्वस्थ होना अति आवश्यक है। हाल ही में पोषण माह के दौरान लोगों को इस सम्बन्ध में जागरूक करने के लिए आंगनवाड़ी वर्कर, आंगनवाड़ी हैलपर, सुपरवाइजर, महिला एवं बाल विकास  परियोजना अधिकारी व जिला कार्यक्रम अधिकारियों के माध्यम से करोड़ों  लोगों तक सम्पर्क किया गया तथा उनको पोषण बारे जानकारी  दी गई ताकि रक्त अल्पता जैसी बीमारी हमारे राज्य में न पनपे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने महिलाओं एवं बच्चों के  सामाजिक आर्थिक उत्थान और उनके स्वास्थ्य में सुधार के लिए अन्य योजनाये क्रियान्वित की है जिसमें आपकी बेटी हमारी बेटी योजना, प्रधानमंत्री मातृवंदना योजना, पोषण अभियान, ग्रामीण महिलाओं के लिए खेल कूद प्रतियोगिता, दसवीं व बारहवीं कक्षा में खंड स्तर पर प्रथम, द्वितीय, तृतीय स्थान प्राप्त करने वाली किशोरियों के लिए पुरस्कार योजना, महिला विकास निगम के माध्यम से महिलाओं को सस्ती  दरों पर ऋण उपलब्ध करवाना आदि शामिल है।

उन्होंने कहा कि इन योजनाओं की जानकारी  समुदाय तक पहुंचाने की जिम्मेवारी गांव में कार्यरत आंगनवाड़ी वर्कर्स व आंगनवाड़ी हैल्पर्स  की  ही। उन्होंने कहा कि इन्हीं सभी तथ्यों को मद्देनजर रखते हुए राज्य में आंगनवाड़ी वर्कर्स व आंगनवाड़ी हैल्पर्स  के रिक्त पदों को भरने का निर्णय लिया गया है।

राज्य मंत्री ने महिलाओं का आह्वïान किया कि वे आंगनवाड़ी  केन्द्रों के माध्यम से मिलने वाला पौष्टिक आहार जरूर खाये जिससे बच्चों व माताओं में प्रोटीन व कैलोरी  की प्रतिपूर्ति होती है। उन्होंने कहा कि ऐसा आहार  लेने से  शरीर तंदुरूस्त, रोगों से मुक्त और मांसपेशियांं मजबूत होती हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिया गया नारा ‘सही पोषण तो देश रोशन’ को अमली जामा पहनाने में आम जन की भागीदारी की आवश्यकता है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: