Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

रामभक्त गोपाल को देश का दूसरा भगत सिंह बताने लगे लोग 

Bhagat-Singh-Gopal
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: जामिया में आज जो कुछ हुआ उसका कई पार्टियां विरोध कर रही हैं क्यू कि फायरिंग करने वाला रामभक्त था। एक हफ्ते के अंदर पश्छिम बंगाल सहित कई जगहों पर शांतिदूतों ने गैंग रेप किया। नागरिकता कानून का समर्थन करने वालों की हत्या की। किसी पार्टी के नेता ने आवाज नहीं उठाई। जहाँ आरोपी हिन्दू वहाँ प्रियंका गांधी भी मैदान में आ जाती हैं और उनके आज के ट्वीट पर 90 फीसदी लोग उन्हें घेर रहे हैं जिसे देख लग रहा है कि जब तक मोदी, शाह और योगी जिन्दा हैं तब तक केंद्र में कांग्रेस की सरकार नहीं बनेगी भले ही राहुल गांधी कितना बड़ा तिलक लगा लें। राहुल गांधी चुनावों के समय ही मंदिर जाते हैं जिस बात को अब देश के लोग समझ चुके हैं। उन्हें नकली पंडित कहा जाता है।

आज जामिया में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्र पर फायरिंग हुई। उसे गोली लगी, कांग्रेस भड़की लेकिन जहाँ जेहादियों ने कई लोगों की जान ली उस पर कांग्रेस कुछ नहीं बोली। देश के प्रधानमंत्री को मारने की बात करते हैं जेहादी तो शायद कांग्रेस खुश होती है और प्रियंका गांधी को लगता है कि मेरा भाई पीएम बनेगा और मेरे पति के जमीन घोटाले के सारे केस ख़त्म कर देना लेकिन हरियाणा अब तक अपने सोशल मीडिया के अनुभव की बात करे तो राहुल गांधी कभी भी देश के प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे। देश के हर राज्य में कांग्रेस की सर्कार बन जाये तब भी अगले 20 वर्षों तक केंद्र में मोदी-शाह-योगी का राज होगा।
जामिया फायरिंग के बाद रामभक्त गोपाल सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रहा है। टुकड़े गैंग उसे आतंकी बता रहा है जो अफजल जैसे आतंकी के साथ खड़ा था। अफजल सच में आतंकी था और संसद उड़ाने की प्लानिंग रचा था।

जेहादियों के ट्रेंड के बाद अब ट्विट्टर पर रामभक्त गोपाल के समर्थन में भी एक ट्रेंड शुरू हो गया है और गोपाल को भगत सिंह बताया जा रहा है। Aaj ka Bhagat Singh सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रहा है। उस युवक की अब जमकर तारीफ होने लगी है। शायद वजह बड़ी है। कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और वामपंथी जो बोलते हैं वही पाकिस्तान बोलता है। पप्पू, पिंकी कांग्रेस को ख़त्म कर रहे हैं वरना कांग्रेस इतनी ख़राब पार्टी नहीं थी। जबसे पप्पू या पिंकी को कांग्रेस की कमान मिली इन दोनों ने कांग्रेस का भट्ठा बैठा दिया। ये दोनों कश्मीर के गुलाम की बात को सच मानते हैं। देश के 20 से ज्यादा राज्यों के नेताओं की बात को दरकिनार करते हैं। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: