Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

इनेलो नेता अजय भड़ाना ने ठोका MCF के नायब तहसीलदार के खिलाफ मानहानि का मुकदमा

Ajay-Bhadana-INLD-Faridabad
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद, 15 जनवरी। युवा इनेलो के जिलाध्यक्ष एवं बडखल विधानसभा क्षेत्र के पूर्व प्रत्याशी अजय भड़ाना और नगर निगम के नायब तहसीलदार के बीच चल रहा विवाद अब अदालत तक पहुंच गया है। अजय भड़ाना ने निगम के नायब तहसीलदार जगत सिंह के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर उनसे एक करोड़ रुपये हर्जाने की मांग की है। वहीं उन्होंने उनके खिलाफ पुलिस में भी कानूनी कार्यवाही हेतु शिकायत भी दायर की है। अजय भड़ाना का कहना है कि नायब तहसीलदार ने द्वेष भावना के तहत उन पर झूठे आरोप लगाकर उनकी राजनैतिक व सामाजिक छवि को धूमिल करने का प्रयास किया है, जिसको लेकर उन्हें अदालत की शरण लेनी पड़ी है। 

उन्होंने यह भी बताया कि नायब तहसीलदार ने उनके व उनके दो सहयोगियों खिलाफ पुलिस में जो शिकायत दी थी, पुलिस जांच में उक्त शिकायत में कोई सच्चाई नहीं पाई गई। गौरतलब है कि गांव लक्कडपुर में एक जमीन को लेकर नगर निगम व अजय भड़ाना के परिजनों का एक मामला अदालत में विचाराधीन है। नायब तहसीलदार जगत सिंह ने आरोप लगाया था कि इस मामले को लेकर अजय भड़ाना व उसके भाई उसके कार्यालय में आए और जमीनी कार्यवाही में मदद बात कही थी अन्यथा अंजाम भुगतने व जान से मारने की धमकी दी, जिसकी शिकायत जगतसिंह ने थाना एसजीएम नगर व पुलिस आयुक्त को दी थी। पुलिस जांच में उक्त शिकायत पूरी तरह से निराधार पाई गई और अब इस मामले मेें अजय भड़ाना ने नायब तहसीलदार के खिलाफ अदालत में मानहानि का मामला दायर किया है। 

अजय भड़ाना का कहना है कि नायब तहसीलदार की झूठी शिकायत के चलते जहां उनका मान-सम्मान व समाजिक प्रतिष्ठता धूमिल हुई है वहीं नगर निगम की भी किरकिरी हुई है। एक तरफ मनोहर सरकार प्रदेश से भ्रष्टाचार समाप्त करने के बड़े-बड़े वायदे करती है, लेकिन नायब तहसीलदार जगत जैसे अधिकारी सरकार की छवि को पलीता लगाने का काम कर रहे है। ऐसे अधिकारियों पर सरकार को कड़ी कार्यवाही करते हुए उनकी कार्यशैली और उनकी संपत्ति की जांच करनी चाहिए इस अधिकारी की सच्चाई लोगों के सामने उजागर हो सके।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: