Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

पुलिसकर्मी अजय को पीट रही थी भीड़, फ़रिश्ते बन गए हाजी कादिर ने बचा ली जान 

Firozabad: Ajay Kumar, a police personnel was rescued from a violent mob by a local, Hajji Qadir
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आज भी इंटरनेट बंद किया गया है। पिछले जुमे को आज के दिन ही कई जिलों में हिंसा हुई थी। लगभग 19 लोगों की जान जा चुकी है। दर्जनों पुलिसकर्मी अब भी अस्पताल में हैं। उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद में भी हिंसक प्रदर्शन हुआ था जहाँ कई पुलिसकर्मी घायल हुए थे। भीड़ पुलिसकर्मियों की जान लेने पर उतारू थी। प्रदर्शनकारी और पुलिस आमने-सामने थी।  प्रदर्शनकारी पत्थर उछाल रहे थे तो पुलिस उन्हें काबू में करने के लिए लाठी और आंसू गैस का इस्तेमाल कर रही थी।  इस दौरान एक पुलिसकर्मी जिनका नाम अजय कुमार है, भीड़ के हत्थे चढ़ गए।  उपद्रवियों ने उन्हें जमकर पीटना शुरू किया।  उनके कपड़े फाड़ दिए।
हिंसक भीड़ अजय कुमार को इस कदर पीट रही थी कि आज उनकी जान लेने का इरादा कर घर से निकली हो। अजय को भी अहसास हो चला था कि अब भीड़ उन्हें जिंदा नहीं छोड़ेगी।  सांसें दम टूटने के अंतिम छोर पर खड़ी थीं कि तभी एक फरिश्ते ने उनकी सांसों की उम्र बढ़ा दी।  नमाज पढ़ रहे हाजी कादिर को इस बारे में पता चला तो वह झट से मौके की ओर दौड़े. किसी तरह भीड़ को खदेड़ते हुए उन्होंने अजय को उन उपद्रवियों से छुड़ाया और अपने घर ले आए।
अजय कुमार ने हाजी कादिर का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि वो मेरी जिंदगी में किसी फरिश्ते की तरह आए हैं।  अगर वो वहां नहीं आते तो भीड़ मुझे मार ही डालती।  हाजी कादिर ने इस बारे में कहा कि मैंने जो भी किया वो इंसानियत के नाते किया , मैं उनका नाम भी नहीं जानता था लेकिन उस दिन उन्हें भीड़ से बचाना मेरा फर्ज था.' फिलहाल अजय कुमार का इलाज चल रहा है। हाजी कादिर की सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: