Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

2019 की सबसे बड़ी बारदात- हत्यारे कौशल ने अचानक छीन लिया फरीदाबाद का विकास 

Vikas-Chaudhary-Murder-Update
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद: देश के संसद में, तमाम राज्यों के विधानसभाओं में ऐसे सांसद विधायक एक दो नहीं अधिकतर संख्या में हैं जिन पर संगीन अपराध के मामले दर्ज हैं। कल शहर सहित पूरे देश के लोग 2019 को अलविदा कहेंगे और 2019 में फरीदाबाद के अपराध की बात करें तो हरियाणा कांग्रेस प्रवक्ता विकास चौधरी मर्डर केस शहर का सबसे बड़ा अपराध माना जा रहा है। लगभग दो महीने से इस अपराध के खबरें लगातार सुर्ख़ियों में रहीं। 27 जून 2019 को मृतक विकास चौधरी अपने घर से सेक्टर 9 हुड्डा मार्केट स्थित जिम में कसरत करने के लिए अपनी पर्सनल फॉर्च्यूनर से करीब 9ः00 बजे पहुंचे थे तभी कुछ बदमाश उनके पीछे सफेद रंग की मारूति एस.एक्स.4 से आए और गोली मारकर विकास चौधरी की हत्या कर दी थी जिसके बाद शहर में सनसनी फ़ैल गई। 
उस समय हरियाणा के मुख्य्मंत्री ने बेतुका बयान दिया था जिसके कारण उन्हें जमकर घेरा भी गया था और सीएम खट्टर ऐसे बेतुके बयानों के कारण ही हरियाणा विधानसभा चुनावों में भाजपा के 75 पार को बड़ा झटका लगा और वैशाखी के सहारे भाजपा को प्रदेश में सरकार चलानी पड़ रही है। 

विकास चौधरी की बात करें तो उन पर ऐसे कोई संगीन अपराध के आरोप नहीं थे जैसे देश के तमाम सांसदों और विधायकों पर दर्ज हैं। उनका लेन देन का काम था और अगर कोई आपसे लेता है और समय पर नहीं देता है तो आपको भी गुस्सा लग सकता है। लेने के वक्त लोग हाँथ जोड़ने हैं। तमाम समस्याएं बताते हैं लेकिन देने की बात आती है तो इधर उधर के बहाने बनाते हैं। विकास की हत्या के बाद उनके कई दोस्तों ने कहा कि धंधा थोड़ा गन्दा था लेकिन वंदा बहुत अच्छा था। विकास अपने हर दोस्त के सुख-दुःख में पहुँचते थे। अपने कार्यकर्ताओं को कभी निराश नहीं करते थे। 
विकास चौधरी एक दशक से ज्यादा समय से राजनीति में सक्रिय थे। पहले इनेलो फिर उन्होंने कांग्रेस ज्वाइन किया और फरीदाबाद में हमेशा वो संघर्ष करते रहे। लोगों की समस्याओं को उठाते रहे इसलिए उनसे काफी लोग जुड़ते चले गए। फरीदाबाद विधानसभा क्षेत्र की स्लम बस्तियों के लोग तो उन्हें अपना सब कुछ मानते थे। विकास गरीबों की हमेशा सहायता करते थे। किसी को अपने दरवाजे से निराश होकर नहीं जाने देते थे। विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रहे थे लेकिन अचानक गैंगेस्टर कौशल ने उनकी हत्या करवा दी। 

फरीदाबाद पुलिस ने गैंगेस्टर कौशल सहित कई लोगों को इस मामले में दबोचा। विकास के दोस्त अब भी उन्हें नहीं भूल पा रहे हैं। उनके दोस्त उन्हें यारों का यार कहते हैं।  विकास चौधरी की दो बेटियां हैं। उनके पिता अब भी अपने विकास की याद में गुमसुम रहते हैं। 

विकास के छोटे भाई गौरव चौधरी अपने भाई के सपने को पूरा करने का प्रयास कर रहे हैं और विकास की राजनीतिक विरासत सँभालने का प्रयास कर रहे हैं साथ में जनसेवा कर रहे हैं। फरीदाबाद विधानसभा की बात करें तो उस दौरान विधानसभा क्षेत्र में हुए विकास में जितना योगदान उस समय के विधायक विपुल गोयल जो प्रदेश के केबिनेट मंत्री भी थे, उनका है उतना ही विकास चौधरी का भी था। विकास विपुल को आइना दिखाते थे और विपुल आइना देख क्षेत्र का विकास करवाते थे। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: