Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

फरीदाबाद की कई कंपनियों ने दबा रखे हैं नगर निगम के करोड़ों रूपये

Sonal-Goel-MCF-Faridaabad
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद 12 दिसम्बर। फरीदाबाद नगर निगम की आयुक्त सोनल गोयल के द्वारा निगम के बकाया को वसूल करने के लिए निरन्तर दिखाई जा रही गम्भीरता ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। निगमायुक्त के कड़े निर्देशों के तहत कार्यवाही करते हुए निगम की योजना शाखा ने आज 4 करोड़ रूपये से अधिक की वसूली करने में सफलता प्र्राप्त की है।
निग्मायुक्त ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि 22 सितम्बर 1986 को मै. एस्कोर्टस लिमिटेड (अब जे.सी.बी इन्डिया लिमिटेड) को तत्कालीन फरीदाबाद मिश्रित प्रशासन के द्वारा सी.एल.यू की अनुमति प्रदान की गई थी, लेकिन इस कम्पनी के द्वारा अभी तक ई.डी.सी. की बकाया राशि जमा नहीें की गई थी। बार-बार अनुरोध करने के बाद भी जब कम्पनी के द्वारा जब ई.डी.सी की बकाया 4,02,87,678 रूपये की राशि जमा नही की गई तो कम्पनी को गत 2 दिसम्बर को सीलिंग नोटिस जारी किया गया जिसके परिणामस्वरूप कम्पनी के द्वारा आज इस राशि का भुगतान कर दिया गया।

सोनल गोयल ने बताया कि ऐसे ही कुछ बड़े डिफाल्टर्स को चिन्हित किया गया है जिनके विरूद्ध ई.डी.सी की 46.78 करोड़ रूपये की राशि बकाया है जिसकी वसूली के लिए निगम प्रशासन के आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। उन्होने कहा कि यदि इन डिफाल्टर्स के द्वारा बकाया राशि का भुगतान नहीं किया गया तो इनके विरूद्ध भी सीलिंग की कार्यवाही की जाएगी। इन ईकाईयों में बोहरा इन्टरप्राईजेज सेक्टर 59 फरीदाबाद से   2.73 करोड़ रूपये, रवि टेक ग्लोबल प्राईवेट लिमिटेड से 4.28 करोड़ रूपये, बंगाल नेशनल टेक्सटाईलस मिल लिमिटेड से 11.54 करोड़ रूप्ये, हिमालय होजरी मैन्युफेक्चरिंग डाईंग एण्ड प्रिटिंग मिल्स से 2.57 करोड़ रूपये, संतोख सिंह निवासी 5 आर फरीदाबाद से 4.20 करोड़, कृष्णा गुप्ता नीलम बाटा रोड से 4.01 करोड़, दीपक इन्डस्टीªज से 7.48 करोड़, हर्लपुल आफ इन्डिया नीलम बाटा रोड फरीदाबाद 3.84 करोड, मधुवन इलैट्रिक्ल प्राईवेट लिमिटेड नई दिल्ली से 3.51 करोड़ और रिलायबल स्टीलस मथुरा रोड फरीदाबाद से 2.62 करोड़ रूपये की वसूूली की जानी है।

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: