Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

CAA के विरोध के नाम पर हुआ था जेहाद, सामने आया देश में हिंसा करवाने वालों का चेहरा 

Know-About-Shehla-Rashid
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: देश में हाल के दिनों में आग किसने लगवाई थी अब ऐसे लोगों की पोल खुलने लगी है। टुकड़े गैंग और जेहादियों की करतूतें सामने आने लगी हैं। कई राजनीतिक पार्टियां तो वोटों के लिए सिर्फ उस आग पर हाँथ सेंक रही हैं। इन पार्टियों को भी चाहिए कि वो थोड़ा देश से भी प्यार करें। देश रहेगा तभी वो कभी न कभी ऊंची वाली कुर्सी पर बैठ सकेंगे।
नागरिकता संशोधन क़ानून के विरोध के नाम पर सीमा पार के आतंकियों ने भारत में रह रहे जेहादियों से मिलकर ये आग लगवाई थी। टुकड़े गैंग की शेहला राशिद के कई ट्वीट अब वाइरल होने लगे हैं। शेहला जेएनयू से ताल्लुक रखती है। जिस जुमे पर देश के कई राज्यों में एक साथ आगजनी हुई थी उस जुमे के पहले इन लोगों ने बड़ा प्लान बनाया था। भाजपा शाषित कई राज्यों में आग लगवाने का प्लान था। कहीं-कहीं इनका प्लान कामयाब भी हो गया। उसी जुमे को इन लोगों ने हरियाणा के फरीदाबाद जिले में भी आग लगवाने का प्लान बनाया था लेकिन पुलिस की सतर्कता से यहाँ इनके मंसूबे कामयाब नहीं हो सके।
सोंचने वाले सोंच सकते हैं कि एक साथ-एक समय पर कई राज्यों के कई बड़े शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए थे। दिल्ली पुलिस ने पहले ही कह दिया था कि इंडियन मुजाहिद्दीन और सिमी के आतंकी देश में बड़ा बवाल करवाने का प्रयास कर रहे हैं। काफी हद तक वही हुआ। उत्तर प्रदेश के कई शहरों में एक साथ आग लगवाई गई। कई उपद्रवी मारे भी गए। मेजर सुरेंद्र पूनिया जो देश विदेश में सेना के कई बड़े पदों पर रह चुके हैं। एक खिलाड़ी के रूप में कई अंतर्राष्ट्रीय पकड़ जीत चुके हैं और उन्होंने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति के अंगरक्षक के साथ सेवा की है। अब उन्होंने लिखा है कि
मेजर ने शेहला राशिद के कई ट्वीट भी पोस्ट किये हैं। ट्विटर पर आज शेहला राशिद ट्रेंड हो रहा है और कई ऐसे पोस्ट आ रहे हैं जिसे देख लगता है कि देश में आग इन्ही लोगों ने लगवाई थी। कुर्सी जल्द मिले इसलिए कुछ पार्टियां आग लगाने वालों का साथ दे रही हैं। पढ़ें शेहला के ट्वीट्स


फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: