Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

UP में बच्चों की मौत तो BJP जिम्मेदार, राजस्थान में 77 बच्चों की मौत, राहुल प्रियंका पर उठे सवाल 

77-Kids-Death-in-Rajasthan
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: राजस्थान के कोटा के जेके लोन अस्पताल में बीते एक महीने में 77 बच्चों की मौत के मामले ने तूल पकड़ लिया है।  लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला भी इस पर चिंता व्यक्त कर चुके हैं।  भारतीय जनता पार्टी ने भी गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा है।  बच्चों की मौत पर सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चौकाने वाली बात कही है , उन्होंने कहा कि अन्य वर्षों के मुकाबले इस साल बच्चों की कम मौतें हुई हैं. ये कोई नई बात नहीं है।
लोकसभा स्पीकर ने  कोटा-बूंदी के जेकेलोन मातृ एवं शिशु चिकित्सालय एवं न्यू मेडिकल कॉलेज चिकित्सालय में पहुंचकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया और कहा कि 48 घंटे में 10 नवजात शिशुओं की असमय मृत्यु दुखद व पीड़ादायक है। घटना की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए पर्याप्त चिकित्सक इंतजाम करने के निर्देश दिए गए हैं।
उन्होंने कहा कि चिकित्सकीय उपकरणों व संसाधनों की कमी के कारण किसी भी शिशु की असमय मौत होना चिंताजनक है। चिकित्सकों की सलाह के अनुसार जनसहयोग से अगले 15 दिन में  आवश्यक जीवन रक्षक उपकरणों व संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी।
उन्होंने आगे कहा कि कोटा बूंदी संसदीय क्षेत्र के सबसे बड़े चिकित्सालय में 24 दिनों में 77 नवजात शिशुओं की असमय मृत्यु होना गंभीर चिंता का विषय है, राज्य सरकार  संवेदनशीलता के साथ कार्य करे जिससे भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं हो।
इस मुद्द्दे पर कांग्रेस को अब जमकर घेरा जा रहा है। सीएम ही नहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को भी घेरा जा रहा है। कहा जा रहा है कि लखनऊ में दंगाइयों की मौत पर आंसू बहाने पहुँची प्रियंका वाड्रा राजस्थान में 77 बच्चों की मौत पर समाधि पर कब बैठेंगी।
आपको बता दें कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है इसलिए प्रियंका ने 77 बच्चों की मौत पर एक भी ट्वीट नहीं किये न ही राहुल गांधी ने। 2017 में उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के मेडिकल कालेज में भी बच्चों की मौत हुई थी। उस समय  कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उस समय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने उत्तर प्रदेश के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के चलते 30 बच्चों की मौत पर गहरा दुख प्रकट किया था।  राहुल गांधी ने कहा था  कि भाजपा की अगुवाई वाली उत्तर प्रदेश सरकार इस त्रासदी के लिए जिम्मेदार है।
राहुल ने उस समय  ट्वीट किया था कि 'बहुत दुख हुआ। मेरी संवेदना ऐसे बच्चों के परिवारों के साथ है। भाजपा सरकार जिम्मेदार है और उसे लापरवाही करने वालों को दंडित करना चाहिए जिनकी वजह से यह त्रासदी हुई। इस घटना पर विपक्षी दलों ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की थी । समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री से इस्तीफा मांगा था। अब सोशल मीडिया पर राहुल गांधी पर सवाल उठने लगे हैं। देखें एक स्क्रीन शॉट 


फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: