Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

मुहम्मद और उसके साथी महिला डाक्टर को नोचते रहे, शिकायत करने गई बहन लगाती रही थानों का चक्कर 

Priyanka-Murder-Case-Telangna-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)

नई दिल्ली: देश के नियम क़ानून में कुछ न कुछ कमी जरूर है। कभी-कभी ऐसे मामले सामने आते हैं जिनमे कोई अपराध हो रहा होता है और पीड़ित पुलिस के पास शिकायत लेकर पहुँचता है लेकिन पुलिस का कहना होता है कि ये अपराध हमारे कार्यक्षेत्र में नहीं हो रहा है। पुलिस शिकायतकर्ता को दूसरे थाना क्षेत्र में भेज देती है और इधर उधर दौड़ने में शिकायतकर्ता का काफी समय बीत जाता है और अपराधी अपराध को अंजाम दे देते हैं। तेलांगना रेप और मर्डर केस में भी ऐसा ही कुछ सामने आ रहा है। जब डाक्टर प्रियंका ने अपनी छोटी बहन को फोन किया था और उसके कुछ देर बाद उनका फोन स्विच आफ हो गया था तब उनके परिजन सीधा पुलिस के पास पहुंचे थे। पुलिस ने उस समय कहा कि ये मामला मेरे क्षेत्र का नहीं है इसलिए जिस क्षेत्र का है वहां जाओ। 
मृतक डाक्टर की माँ का बयान आया है जिसमे उन्होंने कहा है कि घटना के बाद मेरी छोटी बेटी थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंची लेकिन उसे दूसरे थाने शमशाबाद भेज दिया गया। पुलिस ने कार्रवाई की बजाय कहा कि यह मामला उसके क्षेत्र में नहीं आता है। इसके बाद मेरी बेटी दूसरे थाने में गई और काफी वक्त लग गया। उन्होंने मांग की है कि दरिंदों को जिन्दा जला दिया जाये। उन्होंने कहा कि मेरी बेटी बहुत मासूम थी। दूसरे थाने में जाने के बाद  पीड़‍िता के परिवार के साथ कई सिपाही लगाए गए और सुबह 4 बजे तक तलाशी अभियान चलाया गया लेकिन उसका पता नहीं चल पाया।
पीड़‍िता की बहन ने  मीडिया से बताया कि  एक पुलिस स्‍टेशन से दूसरे पुलिस स्‍टेशन जाने में हमारा काफी समय बर्बाद हो गया। अगर पुलिस ने समय बर्बाद किए बिना कार्रवाई कर दी होती तो मेरी बहन आज जिंदा होती।' इस बीच हैदराबाद पुलिस ने कहा है कि इस हत्‍याकांड में शामिल मोहम्‍मद पाशा समेत अन्‍य आरोपियों को गिरफ्तार  कर लिया गया है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

India News

Post A Comment:

0 comments: