Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

सड़कें गड्ढा मुक्त की जाएँ, बिजली, पानी जैसे मुद्दों पर ध्यान दें अधिकारी- अनिल विज

Haryana-Minister-Anil-Vij-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़, 26 नवंबर- हरियाणा के गृह एवं शहरी स्थानीय निकाय मंत्री  अनिल विज ने राज्य के नागरिकों को बिजली, पानी, सडक़, नाली (गंदे पानी की निकासी) तथा सफाई सहित पांच मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति करवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए हैं।
 विज ने विभाग की समीक्षा बैठक में कहा कि शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अन्र्तगत आने वाले सभी क्षेत्रों, शहरों तथा कस्बों में तुरन्त प्रभाव से स्ट्रीट लाइट उपलब्ध करवाई जाए ताकि लोगों को रात्री के समय असुविधा न हो। इसके साथ ही पीने का पानी, गंदे पानी की समुचित निकासी तथा सम्पूर्ण सफाई व स्वच्छता की व्यवस्था करने के आदेश दिए हैं। इसके अलावा, आवागमन को सहज बनाने के लिए विभाग के नियंत्रण में आने वाले सभी शहरों एवं कस्बों में साफ-सुथरी एवं गड्ढा मुक्त सडक़े करने के आदेश दिए।

शहरी स्थानीय निकाय मंत्री ने कहा कि यह विभाग मनुष्यों की आधारभूत जरूरतों को पूरा करने वाला है। इसलिए इसके प्रत्येक कार्य में लोगों के उत्थान का लक्ष्य होना चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में एक मोबाइल ऐप बनाया जाएगा, जिसमें कोई भी व्यक्ति अपने आसपास के किसी स्थान की बदहाल सफाई व्यवस्था, खराब स्ट्रीट लाइट, खस्ताहाल सडक़ों, पीने के पानी रहित घरों तथा अव्यवस्थित गंदे पानी की निकासी की फोटो इस ऐप पर डाल सकेंगे। इसके बाद सफाई, पानी की आपूर्ति को 3 घंटों में ठीक करना होगा और स्ट्रीट लाइट को 3 दिन में ठीक करना अनिवार्य करना होगा। ऐसा नही करने पर ठेकेदार या संबंधित लोगों के खिलाफ जुर्माना लगाया जाएगा।
 विज ने कहा कि उनके विभाग में कर्मचारियों की नियमित एवं समय पर उपस्थिति के लिए सभी नियमित, अनुबंध एवं ठेके पर रखे कर्मचारियों की हाजरी बॉयोमिट्रिक प्रणाली से लगाई जाएगी। इतना ही नही इस हाजरी को कर्मचारियों की ई-सैलरी से लिंक भी किया जाएगा ताकि लेट लतीफी से आने वाले और गैर हाजिर रहने वाले कर्मचारियों पर अंकुश लगाया जा सके। उन्होनें कहा कि लोगों से आने वाली शिकायतों के निवारण के लिए ऑनलाईन सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके अलावा निर्माण स्थलों के मैटिरियल की जांच न्यूनतम दो लैब से करवाई जाएगी। इसमें जिन निर्माण कार्यों में मैटिरियल ठीक नही पाया जाएगा, उन ठेकेदारों को ब्लैकलिस्ट किया जाएगा।

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: