Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

खट्टर साहब इको ग्रीन वालों ने फरीदाबाद को भी बना दिया है नरक, इन पर भी ठोंको गुरुग्राम की तरह जुर्माना 

Haryana-CM-At-Gurugram-Update
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)

फरीदाबाद: गुरुग्राम में सीएम मनोहर लाल ने आज इको ग्रीन एनर्जी  प्राइवेट लिमिटेड पर 25 लाख रूपये का जुर्माना ठोंका जिसके बाद अब फरीदाबाद के लोग भी इको ग्रीन कंपनी पर सवाल उठा रहे हैं। सोशल मीडिया पर गुरुग्राम की खबर छपने के बाद फरीदाबाद की जनता की प्रतिक्रियाएं आने लगीं। लोगों का कहना है कि इको ग्रीन वाले घरों से तो कूड़ा उठाते हैं लेकिन कालोनियों से बाहर निकलते ही वो सड़क पर कूड़ा फेंक देते हैं और कूड़े की गाड़ी जहाँ खाली करनी चाहिए वहाँ खाली नहीं करते हैं। लोगों का कहना है कि शहर की किसी कालोनी या सेक्टर में चले जाओ। हर जगह का यही हाल है। 

सेक्टर के लोगों के निकासी द्वार के आस पास या कालोनी के निकासी द्वार वाली सड़क पर कूड़े का अम्बार लगा दिखेगा। कई-कई दिनों तक कूड़ा सड़क पर ही पड़ा रहता है। लोग इससे सम्बंधित कई वीडियो हरियाणा अब तक के पास भेज चुके हैं जहाँ इको ग्रीन की गाड़ी सड़क के किनारे कूड़ा डाल रही है। लोगों की सीएम से मांग है कि गुरुग्राम से ज्यादा इको ग्रीन कंपनी के लोग फरीदाबाद में लापरवाही कर रहे है और इन पर भी कार्यवाही की जाये। लोगों का कहना है कि जबसे शहर में इस कंपनी को लाया गया है तबसे शहर और नरक बनता जा रहा है। 


आपको बता दें कि  हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज  इको ग्रीन एनर्जी  प्राइवेट लिमिटेड द्वारा कूड़े का उठान व निपटान सही ढंग से ना करने पर हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से 25 लाख रुपए जुर्माना किया गया है।
  मुख्यमंत्री आज गुरुग्राम के ओल्ड जेल चौक स्थित डंपिंग ग्राउंड में सफाई व्यवस्था का जायजा लेेने के लिए पहुंचे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरुग्राम प्रदेश की आईकन सिटी है, इसमें साफ-सफाई सुनिश्चित करने के लिए एक व्यवस्था बनाई हुई है जिसके तहत कंपनी को डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन, डंपिंग प्वाइंट से प्रतिदिन कूड़ा उठाना व कूड़े का उचित निपटान सुनिश्चित करना शामिल है। उन्होंने कहा कि सफाई व्यवस्था को लेकर उन्हें पिछले कई दिनों से लगातार शिकायतें मिल रही थी। हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से एनजीटी के आदेशों की अनुपालना में इस कंपनी को पहले भी नोटिस जारी किए गए थे लेकिन कंपनी द्वारा ठीक से काम नहीं करने पर 25 लाख रुपए जुर्माना किया गया तथा 7 दिन के अंदर इस जुर्माना की राशि को जमा करने के निर्देश दिए गए हैं ।
मीडिया से मुखातिब होते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले काफी समय से शिकायत मिल रही थी कि ओल्ड जेल चैंक स्थित डपिंग ग्राउंड से कूड़ा का उठान प्रतिदिन नहीं होता, जिससे यहां गंदगी अधिक फैलती है। कंपनी को प्रतिदिन कूड़ा उठाने के निर्देश दिए गए हैं, अगर कंपनी प्रतिदिन सफाई की उचित व्यवस्था नहीं करती या फिर डपिंग ग्राउंड से कूड़ा नहीं उठाती तो भविष्य में भी जुर्माना किया जाएगा।
उन्होंने मौके पर ही नगर निगम आयुक्त अमित खत्री को निर्देश दिए कि वे सफाई कार्यों व डपिंग ग्राउंड से कूड़ा उठाने की व्यवस्था सुनिश्चित करें और इसके लिए अलग से कमेटी बनाएं। यह कमेटी डंपिंग प्वाइंट का निरीक्षण करेगी और यह सुनिश्चित करेगी कि जिला के डंपिंग प्वाइंटस से दिन में कम से कम एक बार कूड़ा अवश्य उठाया जाए। उन्होंने कहा कि यह कमेटी कंपनी द्वारा डंपिंग ग्राउंड से कूड़ा उठाने की व्यवस्था सुनिश्चित करेगी और यदि फिर भी कंपनी द्वारा कूड़ा नही उठाया जाता तो उसके बाद कंपनी पर दोबारा जुर्माना लगाया जाएगा। कंपनी द्वारा कूड़ा उठाने के बारे में समय समय पर समीक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि गुरुग्राम जिला में कंपनी को सफाई व्यवस्था बनाने का कान्ट्रैक्ट दिया गया है और इस बारे में किसी प्रकार की कोताही या लापरवाही बर्दाश्त नही की जाएगी।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: