Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

दिल्ली का एक नमूना UP में आकर ऊल-जुलूल बातें करता है, शर्मनाक - योगी

UP-CM-Yogi-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली- उत्तर प्रदेश विधानसभा में शनिवार को विपक्ष ने कानून-व्यवस्था के साथ ब्राह्मणों के उत्पीड़न के मुद्दे पर जमकर हंगामा किया।  विपक्ष के जोरदार हंगामे और नारेबाजी के बीच सरकार ने 27 विधेयक पास कराए। सदन को सम्बोधित करते हुए सीएम योगी ने विपक्ष पर जमकर हमला किया। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के बीच दिल्ली से जबरन उत्तर प्रदेश और बिहार के नागरिकों को भगा दिया जाता है।  यह उत्तर प्रदेश ही था, जिसने तत्परता के साथ 48 घंटे के भीतर 3.5 से 4 लाख प्रदेशवासियों और बिहारवासियों को सुरक्षित उनके गांव या क्वारंटीन सेंटर तक पहुंचाया।

उन्होंने कहा कि दिल्ली का एक 'नमूना' उत्तर प्रदेश आता है और कहता है कि यहां कोविड से लड़ने की कोई रणनीति नहीं है। यह वह लोग हैं जिन्होंने उत्तर प्रदेश और बिहार के नागरिकों के साथ दुर्व्यवहार किया। बेशर्मी का लबादा ओढ़े हुए यह लोग उत्तर प्रदेश में आकर ऊल-जुलूल बातें करते हैं। शर्मनाक ! योगी के इसी सम्बोधन पर आप नेता संजय सिंह खुद को नमूना बता रहे हैं। उन्होंने एक वीडियो भी पोस्ट किया जो आपने देखा होगा। 
योगी ने कहा कि जिस राज्य में 40 लाख प्रवासी जन आए हों, वहां कोरोना संक्रमण की स्थिति अन्य सम्पन्न राज्यों की तुलना में नियंत्रित है। हमने अपने एक-एक नागरिक की सुरक्षा सुनिश्चित की है।  यह सब इसलिए संभव हो सका क्योंकि यहां एक टीम काम कर रही थी। 

जो लोग उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर आज बहुत चिंता जता रहे हैं, दरअसल यही लोग कानून-व्यवस्था के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं। आंकड़े गवाह हैं कि वर्ष 2016 की तुलना में आज का उत्तर प्रदेश कहीं अधिक शांत है। राज्य में अपराध की दर में निरन्तर गिरावट दर्ज की जा रही है।आज जब मैं सदन में आ रहा था तब विपक्ष के एक सदस्य गले में तख्ती लगाए खड़े थे। उन्हें देखकर मुझे मेरठ का वह अपराधी याद हो आया, जो अपने अपराध के लिए क्षमा मांगते हुए इसी प्रकार तख्ती लगाए घूम रहा था।  उ.प्र.में विभाजनकारी मानसिकता वाले विपक्षी दलों से कोई उम्मीद की भी नहीं जा सकती।

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: