Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

सुबह घूमने निकले दिल्ली पुलिस कर्मी और पड़ौसी की गोली मारकर हत्या

Murder-In-Bahadurgarh-Haryana
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

अनूप कुमार सैनी की रिपोर्ट:  बहादुरगढ़ में सोमवार को लाइनपार लाइनपार क्षेत्र से गुजर रही मुंगेसपुर ड्रेन पर सोमवार की सुबह वत्स कॉलोनी निवासी दिल्ली पुलिस कर्मी और उसके पड़ौसी की गोलियां मार कर नृशंस हत्या कर दी गईं। रमेश की मौके पर ही मौत हो गई जबकि पुलिस कर्मी ने अस्पताल जाते समय बीच रास्ते में ही दम तोड़ दिया।
 कॉलोनियों में गोली की आवाज सुनने की चीख-पुकार मच गई। इस दौहरे हत्याकांड के पीछे क्या कारण हैं और मारने वाले कौन थे, इसका अभी पता नहीं चल पाया है। हत्याकांड को अंजाम देने के बाद हत्यारे फरार हो गए। पुलिस हत्यारों का सुराग नहीं लगा पाई है।
    सूचना मिलने पर डीएसपी अजायब सिंह, राहुल देव व लाइनपार थाना प्रभारी दलबल के साथ मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम को साक्ष्य जुटाने के लिए वारदात स्थल पर बुलाया गया है। पुलिस कई पहलुओं पर जांच कर रही है। कुछ व्यक्तियों को पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ भी शुरू कर दी है।

       जानकारी के अनुसार मूल रूप से गांव खांडा व हाल वत्स कॉलोनी निवासी लाइन पार की वत्स कॉलोनी में रहने वाले 35 वर्षीय मनोज अपने पड़ौस में रहने वाले 52 वर्षीय रमेश के साथ प्रतिदिन की तरह ही सोमवार को भी घूमने के लिए गया था। मनोज रमेश को चाचा कह कर बुलाता था। सुबह के समय करीब 7 बजे दोनों को मुंगेशपुर ड्रेन की पटरी पर अज्ञात बदमाशों द्वारा गोली मारने की सूचना मिली। सूचना मिलने पर दोनों के परिजन मौके पर पहुंचे और इसकी खबर पुलिस को भी दी।
          बताया गया है कि मनोज दिल्ली पुलिस में विकास पुरी में तैनात था जबकि रमेश लॉकडाऊन से पहले गलियों में घूमकर कपड़े बेचने का काम करता था। रमेश के सिर में गोली लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई जबकि दिल्ली पुलिस कर्मी मनोज के पेट के पास गोली लगी। वह जान बचाने के लिए मौके से भागा। बाद में उक्त पुलिस कर्मी ने अपने एक साथी को मदद के लिए भी बुलाया। वह उसे स्कूटी पर बैठा कर इलाज के लिए अस्पताल ले जा रहा था तो रास्ते में उसने दम तोड़ दिया।

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस
दोहरे हत्याकांड की सूचना मिलते ही पुलिस में भी हड़कंप मच गया। वारदात स्थल पर डीएसपी राहुल देव, डीएसपी अजायब सिंह, थाना लाइनपार प्रभारी देवेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने खेतों में काम करने वाले व अन्य लोगों से जानकारी भी जुटाई। 
        जानकारी के अनुसार हमलावर दो थे तो और बाइक पर सवार होकर आए थे। हालांकि पुलिस अधिकारी इस मामले को लेकर गहन छानबीन में जुटे हुए हैं। आसपास कहीं सीसीटीवी कैमरे तो नहीं लगे थे, इसकी भी जांच की जा रही है।

दोनों शादीशुदा थे मरने वाले
दिल्ली पुलिस कर्मी मनोज शादीशुदा था। वह दो बेटों का पिता था। उसका पड़ोसी रमेश भी शादीशुदा था। उसके पास एक बेटा व एक बेटी है। उसके एक बेटे की काफी दिनों पहले किसी बीमारी के चलते मौत हो चुकी है। रमेश के दोनों बच्चे अविवाहित हैं जबकि पुलिस कर्मी मनोज के बेटे किशोर हैं।

पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंपा
दोनों शवों को नागरिक अस्पताल में भिजवाया गया। सोमवार शाम तक तक शवों का पोस्टमार्टम नहीं हो पाया था। लाइनपार थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह का कहना है कि फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद ही एफआईआर दर्ज की जाएगी।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: