Info Link Ad

Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

लॉकडाउन में फरीदाबाद के गुरूद्वारा कमेटियों ने लाखों जरूरतमंदों तक पहुँचाया भोजन 

Faridabad-Gurudwara-News
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)

फरीदाबाद, 8 मई----कोविड-19 के मद्देनजर लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद व्यक्तियों के लिए पका भोजन के पैकेट्स तैयार करने में गुरूद्वारा कमेटियों की ओर से सहरानीय काम किया है। शहर में अलग-अलग वार्डों व स्थानों पर गुरूद्वारा कमेटियों द्वारा खाना पकाने के लिए बड़ी रसोई चलाई गई तथा पका भोजन तैयार किया। इसके बाद एचएसवीपी के प्रशासक व नोडल अधिकारी फूड वितरण प्रदीप दहिया की देखरेख में जिला प्रशासन के अधिकारियों व वालिंटियर्स की मदद से प्रतिदिन हजारों जरूरतमंदों तक खाना पहुंचाया गया।

इन गुरुद्वारों में मुख्य रूप से  सेक्टर-15 स्थित श्री गुरुद्वारा सिंह सभा में बड़े स्तर पर कार्य हुआ तथा इसके अलावा जवाहर कालोनी गुरूद्वारा, इंदिरा कालोनी गुरूद्वारा, सैनिक कालोनी गुरूद्वारा, सैक्टर-55 गुरूद्वारा, एनआईटी में गुरूग्रंथ गुरूद्वारा और संतो गुरूद्वारा में कमेटियों द्वारा रसोई चलाई गई तथा जरूरतमंद लोगों के लिए भोजन के पैकेट तैयार किए। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटियों का प्रयास रहा कि सुबह व शाम पका भोजन गरीब व साधनविहीन व्यक्तियों तक पहुंचे। इंदिरा कालोनी स्थित गुरूद्वारा के प्रधान तरसेम सिंह ने बताया कि यहां पर प्रतिदिन 450 से 500 पका खाना के पैकेट्स तैयार किए जा रहे हैं तथा कुछ परिवारों को सूखा राशन भी वितरित किया गया है। 
जवाहर कालोनी स्थित गुरूद्वारा के प्रधान रणजोत सिंह ने बताया कि यहां पर प्रतिदिन करीब 800 पैकेट्स पका खाना के तैयार किए जाते हैं। सेक्टर-55 स्थित गुरूद्वारा के प्रधान सर्वजीत सिंह ने बताया कि यहां पर करीब 250 खाने के पैकेट्स तैयार किए जा रहे हैं। एनआईटी-1 स्थित गुरूग्रंथ गुरूद्वारा के प्रधान गुरमिंद्र सिंह और संतो गुरूद्वारा के प्रधान बीरू तरड़ा ने बताया कि यहां पर करीब 150-150 पैकेट्स खाने के तैयार किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि गुरुद्वारों की सारी संगत गुरुनानक देव के दिखाये सत्संग के मार्ग पर चलकर कोरोना जैसी आपात परिस्थिति में गरीबों की मदद को तत्पर है। यह संगत सेवा करने के लिये दिन-रात जुटी हुई है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: