Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

फरीदाबाद : ₹49 लाख रूपए की ठगी, इन्स्पेक्टर संदीप मोर की टीम से बच नहीं पाए ठग 

Faridabad-Crime-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

फरीदाबाद: आज दिनांक 19 फरवरी 2020 को एसीपी क्राइम अनिल यादव ने अपने कार्यालय सेक्टर 30 में प्रेस वार्ता कर ₹49 लाख रुपए की ठगी करने वाले 8 आरोपियों की गिरफ्तारी का खुलासा किया है।

आपको बताते चलें कि साइबर अपराध शाखा फरीदाबाद ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है जो कि लोगो की लैप्स पालिशी का बकाया पैसा दिलाने व बाद मे इन्कम टैक्स अधिकारी बनकर लोगो से ठगी करते थे।

साइबर अपराध शाखा फरीदाबाद ने गिरोह के 8 आरोपियों को दिल्ली से गिरफतार करने में कामयाबी हासिल की है।

गिरफ्तार आरोपियानः-

1. मुकेश उर्फ गोलू पुत्र स्व केशव राम गुप्ता निवासी मकान नंबर त्2.22 रामा पार्क, थाना मोहन गार्डन, उत्तम नगर दिल्ली (काल सैन्टर संचालक)।

2. अविनाश उर्फ हिमांशू पुत्र राकेश शर्मा निवासी सती महोल्ला, ईटावा, उत्तरप्रदेश, हाल 53 राजीव नगर एक्सटेंशन बेगमपुर दिल्ली ( काल सैन्टर संचालक।

3. शंकर सिह असवाल पुत्र श्री चन्दन सिंह निवासी गांव नलाई थाना पौडी जिला पौडी गढवाल उत्तराखंड हाल किरायेदार भरत सिंह, बलजीत नगर, दिल्ली।

4. रोहित कुमार पुत्र अशोक कुमार निवासी गांव आरा, जिला भोजपुर, बिहार, हाल डी 566, मंगोलपुरी, दिल्ली।

इस केस में चार आरोपीयों को साइबर अपराध शाखा पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।

आपको बताते चलें कि आरोपियो ने पीडिता मोली राॅय निवासी सैनिक कालोनी फरीदाबाद से करीबन 49 लाख रूपये ठगे थे।

प्रेस वार्ता के दौरान अनिल यादव ने बताया कि आरोपियान से पूछताछ मे सामने आया कि वे इंश्योरेंस कम्पनियो मे काम कर रहे व्यक्तियो से किसी तरह लोगो का डाटा ले लेते थे।

जिसकी पालिशी किसी कारण से बंद हो गई हो या उपभोक्ता ने पैसे भरने बंद कर दिए हो या किसी ने अपने पेंडिग डयूस लेने बारे किसी कम्पनी मे आवेदन किया हो।

आरोपी उन लोगो से इंश्योरेंस कम्पनी के कर्मचारी बनकर काल करते थे और उनको उनका पैसा दिलाने, उस पर ज्यादा इन्टरेंस्ट दिलाने, पैसे का डबल करने, अन्य नई इंश्योरेंस पॉलिसी देने का झांसा देकर अपने अकांउटो मे पैसा डलवा लेते थे।

उसके कुछ दिन बाद वो उस उपभोक्त के पास इन्कम टैक्स और प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी बन उनके उपर रेंड की धमकी देकरकहते थे कि आप इतना पैसा कहां से लाए हो जो आपने इतनी मोटी रकम की पॉलिसी कराई है।

ऐसे कर पैसे अपने अकांउटो मे डलवाते थे। बाकयादा आरोपी फर्जी इन्कमटैक्स का आई. कार्ड व नोटिस का फर्जी लेटर लोगो को डराने के लिए उनके पास भेजते थे।

इसी तरह उन्होने पीडित मोली राॅय निवासी सैनिक कालोनी फरीदाबाद से भी तकरीबन 49 लाख रूपये ठग लिए थे। जिसके उपरान्त पीडित ने साईबर अपराध शाखा हाजिर आकर अपनी शिकायत दर्ज कराई थी।
जिस पर अभियोग संख्या 28 दिनांक 15.01.2020 धारा 406, 419, 420,467, 468, 471, 120बी भा.द.स. थाना डबुआ, फरीदाबाद अंकित किया गया।

पुलिस आयुक्त केके राव ने उपरोक्त मुकदमे की कार्यवाही के लिए अनिल यादव, ह.पु.से., सहायक पुलिस आयुक्त, अपराध की देखरेख मे निरीक्षक संदीप मोर, प्रभारी साईबर अपराध शाखा, फरीदाबाद के नेतृृत्व मे अनुसंधान अधिकारी उप निरीक्षक राजेश कुमार साथी, योगेश कुमार, बाबूराम, सत्यवीर, दिनेश कुमार, नरेन्द्र कुमार,  देवेन्द्र कुमार, सिपाही अंशुल की एक टीम का गठन किया।

जो उपरोक्त साईबर टीम ने साईबर तकनीक का प्रयोग करके, कडी मेहनत से पहले तीन अकाउंट प्रोवाईडर/होल्डर व एक काल सैन्टर संचालक को गिरफतार कर नीमका जेल भेजा जा चुका है।

अब इसी क्रम मे काल सैन्टर संचालको व कांलर पार्टी के सदस्यो को गिरफतार किया गया।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि उपरोक्त गिरफ्तार चारों आरोपियान से वारदात मे प्रयुक्त मोबाईल फोन, कांलिग के लिए प्रयोगशुदा फोन विभिन्न बैंको के डेबिट कार्ड व करीबन 18,50000/- रूप्ये बरामद हुए है व नीमका जेल मे बंद 4 आरोपियान से 3,10000/- जो कुल 21,60000/- रूपये बरामद हुए है।

मुकदमा की तफ्तीश लगातार जारी है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Faridabad News

Post A Comment:

0 comments: