Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

राहुल गांधी ने कहा RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता हैं, भड़की भाजपा

Rahul-Gandhi-Congress
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी के एक ट्वीट पर भाजपा भड़क गई है। आज सुबह असम में डिटेंशन सेंटर से जुड़ी एक खबर शेयर करते हुए गांधी ने ट्वीट किया कई आरएसएस का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलते है। इसके बाद भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया और उन्होंने राहुल गाँधी पर हमला बोलते हुए कहा कि आज राहुल गांधी जी ने कुछ ट्वीट किया है और जिस प्रकार की भाषा का प्रयोग किया है वो बहुत आपत्तिजनक है।उन्होंने कहा है की RSS का प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलता है। मुझे लगता है राहुल गांधी से भद्रता और अच्छी भाषा की अपेक्षा करना ही गलत है।

पात्रा ने कहा कि राफेल पर झूठ फैलाने के बाद सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी जी ने माफी मांगी थी। आज वो प्रधानमंत्री जी की बात को लेकर भ्रम फैला रहे हैं। 20 अक्टूबर 2012 को असम की कांग्रेस सरकार ने श्वेत पत्र जारी किया था। इसमें पेज 38 में लिखा है कि केंद्र सरकार ने असम सरकार को यह निर्देश दिया है कि आप डिटेंशन सेंटर सेट कीजिए। 13 दिसंबर 2011 को केंद्र सरकार के एक प्रेस रिलीज में कहा गया था कि 3 डिटेंशन कैंप असम में खोले गये हैं। 2011 में केंद्र में कांग्रेस सरकार थी। गुवाहटी हाईकोर्ट में हुए एक केस के अनुसार कोर्ट ने माना है कि 2009 में जो पत्रक उस समय के गृह मंत्रालय ने जारी किया था, उसके अंदर डिटेंशन सेंटर और उसमें लोगों को रखने के नियम हैं। कोर्ट स्पष्ट कहती है कि ये सब तब के गृह मंत्रालय के अनुसार हुआ था।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को जानना कुछ नहीं है, लेकिन बोलना सबकुछ है। किसी भी विषय पर राहुल गांधी जी को कोई ज्ञान नहीं है, मगर हर विषय पर बोलना है। इनका मकसद न तो NPR का है, न CAA का है।इनका मकसद एक है कि ये चाय वाला कैसे प्रधानमंत्री बन गया।संबित पात्रा ने कहा कि प्रधानमंत्री केवल आरएसएस के नहीं बल्कि पूरे देश के प्रधानमंत्री हैं। राहुल गांधी को झूठों का सरदार कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी। राहुल गांधी से अच्छी भाषा की उम्मीद नहीं है।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: