Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हरियाणा से गुरु दक्षिणा के रूप में झारखण्ड गया जुआड़, मोदी से मत टकराओ, रघुवर को धूल चटाओ

Neeraj-Sharma-MLA-Faridabad
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

नई दिल्ली: इस देश में जुआड़ से बड़े-बड़े काम हो जाते हैं। जुआड़ से अब कुछ नेता सीएम की कुर्सी तक पहुँच जा रहे हैं। हरियाणा विधानसभा चुनाव के दौरान भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने एक जुआड़ लगाया और बड़ी सफलता मिली उम्मीद से ज्यादा सीटें कांग्रेस की झोली में गईं। यही जुआड़ झारखंड में हेमंत सोरेन ने लगाया और वो सीएम बनने जा रहे हैं। अफवाहें हैं कि ये जुआड़ उन्हें हरियाणा के एक कांग्रेस के विधायक ने दिया था। ये विधायक हेमंत सोरेन के पिता पूर्व सीएम शिबू सोरेन के ओएसडी रह चुके हैं और उन्हें अपना राजनीति गुरु मानते हैं और जुआड़ से ही ये हरियाणा के विधायक बने वरना इनके आस पास के तीन जिलों में कांग्रेस का खाता नहीं नहीं खुल सका। 

इस जुआड़ के बारे में भारत करें तो हरियाणा के पूर्व मुख्य्मंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने विधानसभा चुनावों में पीएम मोदी पर हमला न कर सीएम खट्टर पर हमला किया था। हुड्डा ने उस समय पास हुए अनुच्छेद 370 का समर्थन का समर्थन भी किया था जबकि कांग्रेस हाईकमान के बड़े नेता 370 के खिलाफ थे। 
अब बात करें झारखण्ड की तो हेमंत सोरेन ने भी पीएम मोदी पर हमला नहीं किया और सीएम रघुबर दास पर ही हमलावर रहे और बात बन गई। हरियाणा में हुड्डा को पता था कि जनता खट्टर से नाराज है, और हुड्डा हरियाणा सरकार पर ही बरसते रहे और 31 सीटें मिल गईं।  झारखण्ड में हेमंत सोरेन ने भी यही फार्मूला अपनाया और उन्हें बड़ा फायदा मिला और यही नहीं महाराष्ट्र में शरद पवार ने भी क्षेत्रीय अस्मिता के जरिए मराठा कार्ड खेला था और पूरे चुनाव को देवेंद्र फडणवीस के इर्द-गिर्द समेट कर रखा है। 

 हेमंत सोरेन ने झारखंड में इसी रणनीति को अपनाया और दिल्ली के सियासी रण में अरविंद केजरीवाल भी इसी रास्ते पर चलते हुए नजर आ रहे हैं। केजरीवाल मोदी पर पहले की तरह कोई हमला नहीं कर रहे हैं। वो अपनी सरकार द्वारा कराये गए विकास कार्यों को जनता तक पहुंचा रहे हैं। उन्हें भी इसका फायदा मिल सकता है। हरियाणा के कांग्रेसी विधायक और शिबू सोरेन के चेले की बात करें तो उन्होंने चुनाव के दौरा एक बार भी ऐसी कोई बात नहीं की जो पीएम मोदी के खिलाफ हो और यहाँ तक कि उन्होंने अपने जिले के सांसद तक के खिलाफ कोई बात नहीं की जबकि अन्य कांग्रेसी उम्मीदवार चुनावों के दौरान मोदी को घेरते रहे और हार गए। 
आपको बता दें कि एनआईटी के कांग्रेस के विधायक नीरज शर्मा कई बार झारखंड गए थे। शायद उन्होंने अपने गुरु पूर्व सीएम शिबू सोरेन को गुरु दक्षिणा दे दी है। ये जुआड़ ही गुरु दक्षिणा के रूप में उन्होंने दिया था। ऐसी अफवाहें हैं। हेमत सोरेन के शपथ ग्रहण के समय नीरज शर्मा झारखण्ड जा सकते हैं। 
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: