Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

दिल्ली-हरियाणा का मोस्ट वांटेड कुख्यात चिटानिया गैंग का बदमाश दबोचा गया 

Haryana-Police-Arrest-Criminal
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ, 24 दिसम्बर- हरियाणा पुलिस की अपराध जांच शाखा ने एक बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए दिल्ली और हरियाणा पुलिस के इनामी मोस्ट वांटेड शातिर अपराधी को सोनीपत से काबू करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने एक पिस्टल, मैगजीन तथा 6 जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं।
पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गए मोस्टवांटेड अपराधी की पहचान कपिल के रुप में हुई है जो कुख्यात चिटानिया गैंग के लिए काम करता था। अभी तक की गई प्रारंभिक पूछताछ में कपिल ने आधा दर्जन से अधिक गाडिय़ां लूटने और हत्या जैसी वारदातों को अंजाम देने की बात कबूल की है। सीआईए टीम अब आरोपी से पूछताछ कर उसके बाकी बदमाश साथियों को पकडऩे की कोशिश में है।
     सीआईए की टीम को एक सीक्रेट इंफॉर्मेशन मिली थी जिसके आधार पर 75 हजार के इनामी बदमाश कपिल को काबू किया गया। आरोपी कपिल कुख्यात संदीप चिटानिया गिरोह का शातिर बदमाश है। कपिल को 2014 में अंजाम दिए गए कत्ल के एक मामले में उम्र कैद की सजा हो चुकी है लेकिन साल 2018 में पैरोल हासिल करके यह जींद जेल से बाहर निकल आया था और उसके बाद फरार हो गया। कपिल पर सोनीपत पुलिस द्वारा 25 हजार का जबकि दिल्ली पुलिस द्वारा भी 50 हजार का अलग से इनाम घोषित किया हुआ है। आरोपी ने पूछताछ में बताया है कि उसने यह पिस्टल और कारतूस करीब 3 महीने पहले लखनऊ में किसी साथी बदमाश के जरिए खरीदे थे।
        कपिल ने प्रारंभिक पूछताछ में खुलासा किया है कि वह चिटानिया गैंग के साथ मिलकर महंगी गाडिय़ों को गन पॉइंट पर छीन कर फर्जी कागजात तैयार करवा कर अपने गिरोह की मदद से उनको नागालैंड भेज कर बेच देते थे। आरोपी ने करीब आधा दर्जन वारदातें दिल्ली के अलग-अलग जगहों पर अंजाम देने की बात भी कबूल की है जिन्हें दिल्ली पुलिस की मदद से वेरीफाई किया जा रहा है। आरोपी ने अपने ही गिरोह के एक साथी बदमाश की हत्या किए जाने की वारदात का भी खुलासा किया है और इस गिरोह से जुड़े अन्य बदमाशों के नामों के बारे में भी बताया है।
        आरोपी ने खुलासा किया है कि फरारी के दौरान वह चिटानिया गैंग के संपर्क में आया और इस गिरोह के लिए काम करने लग गया। कई साल पहले हुए पुलिस एनकाउंटर में इस गिरोह का सरगना संदीप चिटाना मारा गया था। गिरफतार आरोपी को न्यायालय मे पेशकर तीन दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया है। मामले की गहनता से विवेचना जारी है।  
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: