Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के शिल्प और सरस मेले का शुभारम्भ

International Gita Mahotsav-2019
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़,  23 नवम्बर- हरियाणा की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा ने कहा कि हरियाणा की पावन धरा धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र से एक बार फिर पवित्र ग्रन्थ गीता के उपदेश पूरे विश्व में गुंजेंगा। इन संदेशों में ही पूरे विश्व का सार समाहित है। इन पवित्र उपदेशों को पूरी दुनिया तक पहुंचाने के लिए वैश्विक गीता पाठ का आयोजन फिर से अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव में किया जा रहा है।
मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा आज कुरुक्षेत्र के ब्रहमसरोवर के पावन तट पर अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के शिल्प और सरस मेले का शुभारम्भ करने के उपरांत बोल रही थी। इससे पहले अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2019 के शिल्प और सरस मेले का आगाज आचार्य नरेश कौशिक व 21 ब्राहमणों द्वारा किए गए मंत्रौच्चारण और शंख की सुरीली गूंज के साथ मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा, उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, पुलिस अधीक्षक आस्था मोदी, एडीसी पार्थ गुप्ता, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक एवं सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह ने किया।  मुख्य सचिव ने जैसे ही सरस व शिल्प मेले का शुभारम्भ किया, उसी समय विभिन्न राज्यों के कलाकारों ने अपने-अपने प्रदेश के संगीत और वाद्य यंत्रों से निकली सुर और ताल ने ब्रहमसरोवर की फिजा ही बदल दी।
मुख्य सचिव ने अपने सम्बोधन में कहा कि राज्य सरकार के प्रयासों से चौथी बार गीता जयंती को अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के रुप में मनाया जा रहा है। इस महोत्सव का प्रचार-प्रसार विश्वस्तर पर किया गया है और विदेशी सैलानी भी इस महोत्सव का आनंद लेने के लिए पहुंचेंगे।
उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार के प्रयासों से महोत्सव को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाने की शुरुआत की गई है। इस महोत्सव के साथ हरियाणा का गौरव पूरे विश्व में बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि इस शिल्प मेले में विभिन्न राज्यों से शिल्पकार अपने-अपने प्रदेश की बेहद खुबसूरत शिल्पकला के साथ पहुंचे है। इस शिल्पकला से ब्रहमसरोवर पर भारत की शिल्पकला को एक साथ देखा जा सकता है। इस प्रकार के सुनहरी अवसर राज्य सरकार के प्रयासों से ही देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को मिल पाएंगे। उन्होंने उतर क्षेत्र सांस्कृतिक कला केन्द्र पटियाला और कुरुक्षेत्र विकास बोर्ड की अनुमती से पहुंचे शिल्पकारों की कला को निहारा। उन्होंने कई शिल्पकारों से सीधा संवाद करते हुए शिल्पकला के बारे में जानकारी हासिल की और राज्य तथा प्रशासन की तरफ से उपलब्ध करवाई गई तमाम सुविधाओं के बारे में भी फीडबैक ली। इस मेले में आए सभी शिल्पकारों ने सरस और शिल्प मेले की व्यवस्थाओं को खुब सराहा है।

मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा, उपायुक्त डा. एसएस फुलिया, केडीबी के मानद सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के संयुक्त निदेशक एवं सीईओ केडीबी गगनदीप सिंह ने ओपन जीप में सवार होकर ब्रहमसरोवर के उत्तरी छोर से लेकर पूर्वी छोर तक शिल्पकारों के स्टालों का अवलोकन किया।
उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने क्राफ्ट व सरस मेले में पहुंचे सभी शिल्पकारों और मेहमानों का स्वागत करते हुए कहा कि राज्य सरकार के प्रयासों से गीता जयंती महोत्सव को चौथी बार अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव के रुप में मनाया जा रहा हैं। है। इसके लिए कुरुक्षेत्र के नागरिक हमेशा मुख्यमंत्री मनोहर लाल के आभारी रहेंगे।
उन्होंने कहा कि इस क्राफ्ट मेले में विभिन्न राज्यों से करीब 700 से ज्यादा शिल्पकार पहुंचेंगे और इन शिल्पकारों का आना अभी तक जारी है। इन शिल्पकारों में राष्ट्रीय स्तर के शिल्पकार, संत कबीर आवार्ड और स्टेट आवार्डी शामिल है।
इस कार्यक्रम में उपायुक्त डा. एसएस फुलिया व एडीसी पार्थ गुप्ता ने मुख्यातिथि केशनी आनंद अरोड़ा को स्मृति चिन्ह भेंट किया।
फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

Haryana News

Post A Comment:

0 comments: