Faridabad Assembly

Palwal Assembly

Faridabad Info

हरियाणा की मंडियों में  18,14,405 मीट्रिक टन धान आया, 18,13,805 मीट्रिक टन खरीदा गया 

Haryana-Mandi-news
हमें ख़बरें Email: psrajput75@gmail. WhatsApp: 9810788060 पर भेजें (Pushpendra Singh Rajput)
loading...

चंडीगढ़, 13 अक्तूबर- हरियाणा की मंडियों में चल रही खरीफ फसलों की खरीद प्रक्रिया के दौरान 13 अक्तूबर, 2020 सांय 5 बजे तक मंडियों में 18,14,405 मीट्रिक टन धान की आवक हुई, जिसमें से 18,13,805 मीट्रिक टन की खरीद हुई है और मंडियों से 12 अक्तूबर, 2020 तक 12,48,108 मीट्रिक टन धान का उठान हो चुका है।

खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पी के दास ने आज यहां इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि हरियाणा की मंडियों में धान की आवक जल्द होने के कारण प्रदेश सरकार ने केंद्र सरकार से धान की खरीद 25 सितंबर, 2020 से शुरू करने का अनुरोध किया था। केंद्र सरकार की अनुमति पर प्रदेश सरकार द्वारा 27 सितंबर, 2020 से अंबाला, करनाल, कैथल और कुरुक्षेत्र जिलों में तथा शेष जिलों में 29 सितंबर, 2020 से धान की खरीद शुरू कर दी गई। न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान की खरीद करने के लिए 198 मंडियां खोली गई।

उन्होंने बताया कि खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग द्वारा 10,09,105 मीट्रिक टन, हैफेड द्वारा 6,06,776 मीट्रिक टन, भारतीय खाद्य निगम द्वारा 12,375 मीट्रिक टन और हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा 1,85,549 मीट्रिक टन धान की खरीद की गई है। खरीद एजेंसियों द्वारा धान की खरीद सरकार द्वारा निर्धारित कॉमन किस्म के लिए 1868 रुपये प्रति क्विंटल और ग्रेड-ए के लिए 1888 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की गई है।  उन्होंने बताया कि धान के किसानों के पंजीकरण के लिए के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल खुला हुआ है।

दास ने बताया कि प्रदेश में 132 मंडियों में 1 अक्तूबर, 2020 से आरंभ हुई बाजरे की खरीद हैफेड और हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा 2150 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जा रही है। 12 अक्तूबर, 2020 तक 70,060.40 मीट्रिक टन बाजरे की खरीद हुई है और 53,804.35 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है।

उन्होंने बताया कि मंडी की क्षमता के आधार पर बाजरा किसानों की रोजाना शेडयूलिंग को 150 से बढ़ाकर 450 किसान प्रतिदिन कर दी है। इसके अलावा, 13 अक्तूबर, 2020 से पड़ोसी राज्यों के पंजीकृत धान किसानों की शेडयूलिंग भी आरंभ हो गई है।

दास ने बताया कि हरियाणा में मक्का की खरीद 1850 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करने के लिए 19 मंडियां खोली गई हैं और हैफेड को इसके लिए नोडल एजेंसी बनाया गया है। 12 अक्तूबर, 2020 तक 807.65 मीट्रिक टन मक्का की खरीद हुई है और मंडियों से 524.30 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है।

 उन्होंने यह भी बताया कि राज्य में मूंग की खरीद 7196 रुपये प्रति क्विंटल के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर करने के लिए 23 मंडियां खोली गई हैं और हैफेड तथा हरियाणा स्टेट वेयरहाउसिंग कॉर्पोरेशन द्वारा मूंग की खरीद की जा रही है। 12 अक्तूबर, 2020 तक 480.02 मीट्रिक टन मूंग की खरीद हुई है और मंडियों से 381.55 मीट्रिक टन का उठान हो चुका है।

फेसबुक, WhatsApp, ट्विटर पर शेयर करें

loading...

India News

Post A Comment:

0 comments: